Jagran Josh Logo
  1. Home
  2.  |  
  3. अर्थव्यवस्था

अर्थव्यवस्था

General Knowledge for Competitive Exams

Read: General Knowledge | General Knowledge Lists | Overview of India | Countries of World

Evolution of coins in India

भारत में सिक्कों का आकार क्यों घटता जा रहा है?

14 hrs ago

भारत में सिक्के बनाने का काम वित्त मंत्रालय 4 टकसालों के माध्यम से करता है. भारत सरकार कोशिश करती है कि किसी भी सिक्के की मेटलिक वैल्यू उसकी फेस वैल्यू से कम ही रहे क्योंकि यदि ऐसा नही होगा तो लोग सिक्के को पिघलाकर उसकी धातु को बाजार में बेच देंगे जिसके कारण भारत के बाजर से सिक्के गायब हो जायेंगे. सिक्कों की मेटलिक वैल्यू घटाने के लिए सरकार उनका आकार छोटा कर रही है.

Soiled Notes in India

RBI के नियमों के अनुसार फटे पुराने नोट कैसे और कहाँ बदलें?

2 days ago

यदि आपके पास पुराने और फटे हुए कागज के नोट रखे हुए हैं तो आप इन नोटों को किसी भी वाणिज्यिक बैंक में जाकर बदल सकते हैं. सबसे सुविधाजनक बात यह है कि जिस बैंक में आप ये नोट बदलने जा रहे हैं उसमे आपका बचत खाता या कोई और खाता होना जरूरी नही है. रिज़र्व बैंक (RBI) के नियमों के कारण कोई भी बैंक आपके फटे-पुराने नोट बदलने से इनकार नहीं कर सकता है.

CSR Activity in India

कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी किसे कहते हैं और भारत में इस पर कितना खर्च होता है?

Nov 20, 2017

कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी का सीधा मतलब कंपनियों को उनकी सामाजिक जिम्मेदारी के बारे में बताना है. भारत में कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी (CSR) के नियम अप्रैल 1, 2014 से लागू हैं. इसके अनुसार, जिन कम्पनियाँ की सालाना नेटवर्थ 500 करोड़ रुपये या सालाना आय 1000 करोड़ की या सालाना लाभ 5 करोड़ का हो तो उनको CSR पर खर्च करना जरूरी होता है. यह खर्च तीन साल के औसत लाभ का कम से कम 2% होना चाहिए.

consumer court India

जानें उपभोक्ता अदालत में केस दर्ज करने की प्रक्रिया क्या है?

Nov 15, 2017

वर्तमान उपभोक्तावाद के युग में कम्पनियाँ और दुकानदार उपभोक्ताओं के हितों का ध्यान नही रख रहीं हैं. हर तरह की चीटिंग आये दिन किसी न किसी उपभोक्ता के साथ होती ही रहती है. इसलिए सरकार ने उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा के लिए उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम,1986बनाया है.इस लेख में आप यह जानेंगे कि कैसे उपभोक्ता अदालत में केस दर्ज किया जाये.

बीएसई सेंसेक्स में सूचीबद्ध शीर्ष 30 कंपनियों की सूची

Nov 14, 2017

बीएसई सेंसेक्स में शामिल 30 कंपनियों को 1986 में शामिल किया गया था. ये सभी बहुत अच्छी बड़ी और वित्तीय रूप से मजबूत कम्पनियाँ हैं. इनके शेयरों की माग बाजार में हमेशा बनी रहती है. अर्थशास्त्र की भाषा में ऐसी कंपनियों को "ब्लू चिप" कम्पनियाँ कहा जाता है.13 नवंबर 2017 तक, बीएसई सेंसेक्स में 31 कंपनियां शामिल थी. इस लेख में आप इन कंपनियों के नाम और उनके शेयरों के मूल्य भी जानेंगे.

Income tax deduction list

किन किन खर्चों के माध्यम से आयकर में छूट प्राप्त की जा सकती है?

Nov 14, 2017

वित्त वर्ष 2017-18 के लिए सामान्य श्रेणी के लिए आयकर में छूट की सीमा 2.5 लाख रूपये तक है. रुपये 2.5 लाख से 5 लाख तक की आय के लिए 5% की दर से कर देना होगा. ज्ञातव्य है कि सबसे ज्यादा करदाता 5 लाख तक की आय सीमा के लोग हैं. इस लेख के माध्यम से आप यह जान सकते हैं कि मध्य वर्ग के लोग किन-किन खर्चों के माध्यम से आयकर में छूट पा सकते हैं.

Hunger Problem India

भारत में भूख की समस्या: कुछ रोचक तथ्य

Nov 14, 2017

जनगणना 2011 के अनुसार भारत की 22% जनसंख्या गरीबी रेखा से नीचे रह रही है. भारतीय आबादी का एक बड़ा हिस्सा ( 190 मिलियन लोग) रोज खाली पेट सोता हैं. यह लेख भारत में भूख की स्थिति से संबंधित कुछ चौकाने वाले तथ्य बता रहा है. अभी हाल में जारी की गयी वैश्विक भूख सूचकांक रिपोर्ट 2017 में भारत 3 स्थान नीचे खिसककर 100 वें स्थान पर आ गया है.

इस्लामिक बैंकिंग क्या होती है और यह कैसे काम करती है?

Nov 13, 2017

इस्लामिक बैंकिंग, समान्य बैंकिंग व्यवस्था से अलग एक ऐसी बैंकिंग प्रणाली होती है जिसमें ब्याज लेना और देना दोनों ही शरियत के खिलाफ माने जाते हैं, क्योंकि इस्लाम में सूदखोरी को “हराम” माना जाता हैl विश्व में सबसे पहला इस्लामिक बैंक 1974 में मिश्र में खोला गया था l भारत में पहला इस्लामिक बैंक कोच्चि में खुला था जिसमे राज्य की हिस्सेदारी 11% हैl

BSE Mumbai office

सेंसेक्स क्या होता है और इसकी गणना कैसे की जाती है?

Nov 8, 2017

सेंसेक्स में 30 कम्पनियों के शेयर मूल्यों में उतार चढ़ाव का मूल्यांकन किया जाता है.यदि सेंसेक्स बढ़ रहा होता है, तो यह दर्शाता है कि "बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज" (BSE) की ज्यादातर कंपनियों का स्टॉक मूल्य बढ़ गया है और यदि सेंसेक्स में कमी आई तो यह दर्शाता है कि BSE की ज्यादातर कंपनियों का शेयर मूल्य नीचे गिरा है. सेंसेक्स में उतार चढ़ाव का मुख्य कारण इन 30 कंपनियों के मूल्यों में उतार चढ़ाव होता है.

Demonetisation in India

नोटबंदी का एक साल: फायदे और नुकसान का विस्तृत आकलन

Nov 7, 2017

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 नवम्बर 2016 को पूरे देश में 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों को चलन से बाहर कर दिया था. इस नोटबंदी के बाद पूरे देश में अफरातफरी मच गयी थी. इस लेख में हमने इस नोटबंदी के देश को हुए फायदे और नुकसान के बारे में बताया है.

Ease of Doing Business Ranking India 2017

ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नस सहित अन्य इंडेक्स में भारत की रैंकिंग का विश्लेषण

Nov 2, 2017

भारत अभी हाल ही में विश्व बैंक की ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नस की रैंकिंग में 30 पायदान की छलांग लगाकर पिछले साल के130 वें स्थान से ऊपर खिसककर 100 वें स्थान पर आ गया है. इस रैंकिंग के आने के बाद राजनीतिक दलों के बीच बयानबाजी के साथ भारत के सेंसेक्स में भी बाढ़ सी आ गयी है. इस लेख में हम भारत की पिछले 3 सालों में विभिन्न रैंकों का विश्लेषण दे रहे हैं.

Carbon trading

कार्बन ट्रेडिंग किसे कहते हैं और इसका व्यापार कैसे किया जाता है?

Oct 26, 2017

कार्बन क्रेडिट अंतर्राष्ट्रीय उद्योग में कार्बन उत्सर्जन नियंत्रण की योजना है. कार्बन क्रेडिट सही मायने में किसी देश द्वारा किये गये कार्बन उत्सर्जन को नियंत्रित करने का प्रयास है जिसे प्रोत्साहित करने के लिए मुद्रा से जोड़ दिया गया है. अर्थात कार्बन ट्रेडिंग से सीधा मतलब है कार्बन डाइऑक्साइड का व्यापार.

GST के फायदे और नुकसान: एक विश्लेषण

Oct 24, 2017

वर्तमान में भारत में बिक्री कर, उत्पाद कर, सीमा शुल्क, मनोरंजन शुल्क, चुंगी कर और वैट जैसे अप्रत्यक्ष कर लगते हैं लेकिन 1 जुलाई से इन सभी अप्रत्यक्ष करों के स्थान पर सिर्फ एक कर “वस्तु एवं सेवा कर” लगाया जायेगा. ऐसा करने के बाद भारत दुनिया में GSTलागू करने वाला 166 वां देश बन जायेगा. आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि पाकिस्तान में भी GST लागू है.

विश्व के किन देशों में सबसे ज्यादा टैक्स लगता है?

Oct 24, 2017

हर देश अपनी अर्थव्यवस्था को चलाने के लिए अपने नागरिकों की आय पर, उत्पादन क्रियाओं और सेवाओं पर कर लगाता है. जब सरकार के पास कर इकठ्ठा हो जाता है तो वह इसका प्रयोग देश में आधारभूत सुविधाओं जैसे बिजली, पानी, शिक्षा, अस्पताल और सड़क बनाने में करता है ताकि लोगों के कल्याण में वृद्धि की जा सके.

NEFT और RTGS के बीच क्या अंतर है

Oct 24, 2017

भारत में भुगतान प्रणाली का नियमन (regulation) भुगतान और निपटान प्रणाली अधिनियम, 2007 (PSS अधिनियम), के अनुसार किया जा रहा है, जो कि दिसंबर 2007 में संसद द्वारा पास हुआ था| वर्तमान में देश में तीन मुख्य भुगतान प्रणालियाँ प्रचलित हैं: राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक निधि अंतरण (NEFT), तत्काल सकल निपटान (RTGS) और तत्काल भुगतान सेवा (IMPS)l

जानें किन देशों में GST की दर भारत से ज्यादा या कम हैं

Oct 24, 2017

जीएसटी (GST) को गुड्स एंड सर्विस टैक्स भी कहते है. यह 1 जुलाई से पूरे देश में लागू हो चुका है. इसके लागु होने से अब हर समान और हर सेवा पर सिर्फ एक टैक्स लगेगा यानी वैट, एक्साइज और सर्विस टैक्स की जगह एक ही टैक्स लगेगा. इस लेख के माध्यम से जीएसटी किन देशों में लागू किया गया है और वह भारत से ज्यादा है या कम के बारे में अध्ययन करेंगे.

भारत में GST के लागू होने से चीन को क्या नुकसान होगा

Oct 24, 2017

चीन की सस्ती वस्तुएं भारत में बहुत बड़ी मात्रा में बेचीं जातीं हैं. ये वस्तुएं इतनी सस्ती होतीं हैं कि भारत के निर्माता इन चीनी निर्माताओं का मुकाबला नही कर पाते हैं. लेकिन GST लागू होने के बाद चीन के लिए मुसीबत पैदा होने वाली है क्योंकि अभी चीनी वस्तुएं एक प्रदेश से दूसरे प्रदेश में बिना किसी कर को चुकाए और रजिस्ट्रेशन किये भेजी जा सकतीं हैं लेकिन GST लागू होने के बाद ऐसा नही हो पायेगा.

हीरा कैसे बनता है और असली हीरे को कैसे पहचानें?

Oct 23, 2017

हीरा एक पारदर्शी रत्न होता है। यह रासायनिक रूप से कार्बन का शुद्धतम रूप है इसमें बिल्कुल मिलावट नहीं होती है, यदि हीरे को ओवन में 763 डिग्री सेल्सियस पर गरम किया जाये, तो यह जलकर कार्बन डाइ-आक्साइड बना लेता है तथा बिलकुल भी राख नहीं बचती है, इस प्रकार हीरे 100% कार्बन से बनते हैं।

Personal loan

व्यावसायिक बैंकों द्वारा ऋण का सर्जन किस प्रकार किया जाता है?

Oct 17, 2017

इस लेख में माध्यम से आप यह जानेंगे कि किस प्रकार व्यावसायिक बैंक छोटी छोटी बचतों के माध्यम से एक बहुत बड़ी राशि जमा कर लेते हैं और इस जमा को अन्य लोगों को उधार देकर बहुत सा लाभ कमाते हैं. यह लेख बैंकों की उधार देने की प्रक्रिया को भी बताता है.

Chairman of 14 Finance Commission Mr. Y.v. Reddy

14वें वित्त आयोग की क्या सिफरिशें हैं और इसका गठन क्यों किया जाता है?

Oct 9, 2017

भारतीय संविधान के अनुच्छेद 280 में वित्त आयोग की स्थपाना की व्यवस्था की गयी है. इसका गठन 5 वर्षों के लिए भारत के राष्ट्रपति द्वारा किया जाता है. अब तक 13 वित्त आयोग गठित किया चुके हैं और वर्तमान में 14 वें वित्त आयोग का कार्यकाल (2015-2020) चल रहा है. 14 वें वित्त आयोग का गठन रिज़र्व बैंक के पूर्व गवर्नर Y.V. रेड्डी की अध्यक्षता में किया गया है.

Most debt ridden country

जानें दुनिया के इन देशों में प्रति व्यक्ति कितना कर्ज है?

Oct 6, 2017

अब यह लेख इस बात की जानकारी करेगा कि यदि किसी देश का पूरा कर्ज चुकाना है तो उस देश के प्रति नागरिक को कितना धन देना होगा. OECD (एक संगठन) के सदस्य देशों में प्रति व्यक्ति ऋण 2007 के बाद से 2017 तक 5.9% की औसत वार्षिक दर से बढ़ गया है. जापान को अपना कर्ज चुकाने के लिए प्रति नागरिक 90,345 डॉलर की जरुरत है जो कि पूरे दुनिया में सबसे ज्यादा है. भारत को अपना पूरा कर्ज चुकाने के लिए हर भारतीय को 26000 रुपये देने होंगे.

banking throgh finger print

दुनिया का एकमात्र ऐसा बैंक जो बिना किसी डॉक्यूमेंट के लोन देता है

Oct 6, 2017

सामान्यतः बैंकों से लोन लेने के लिए नागरिकों को कई प्रकार के डॉक्यूमेंट जमा करने पड़ते हैं और उन डॉक्यूमेंटों की बारीकी से जाँच पड़ताल के बाद ही नागरिकों को लोन दिया जाता है. लेकिन आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि दुनिया में एक ऐसा भी बैंक है, जो अपने ग्राहकों को बिना किसी डॉक्यूमेंट के लोन देता है. इस लेख में हम उस बैंक के बारे में विस्तृत विवरण दे रहे हैं जो बिना किसी डॉक्यूमेंट के अपने ग्राहकों को लोन देता है.

Guarantee-vs-warranty

गारंटी और वारंटी में क्या अंतर होता है?

Oct 4, 2017

यदि वारंटी वाला उत्पाद ख़राब हो जाता है तो दुकानदार या कम्पनी द्वारा उसी उत्पाद को ठीक कराकर ग्राहक को लौटा दिया जाता है जबकि गारंटी वाले उत्पाद को खराब होने की स्थिति या ठीक से काम ना करने की स्थिति में दुकानदार के पास ले जाने पर ग्राहक को नया उत्पाद मिलता है.

Developed vs developing country

विकसित और विकासशील देशों के बीच क्या अंतर होता है?

Sep 27, 2017

संयुक्त राष्ट्र द्वारा देशों को दो प्रमुख श्रेणियों में बांटा गया है; विकसित देश और विकासशील देश. देशों का वर्गीकरण आर्थिक कारकों जैसे सकल घरेलू उत्पाद, प्रति व्यक्ति आय, औद्योगिकीकरण, जीवन स्तर, शिक्षा का स्तर, जीवन प्रत्याशा आदि पर आधारित होता है. जिन देशों में लोगों की प्रति व्यक्ति आय अधिक होती है वहां के लोगों का जीवन स्तर अच्छा होता है और आधारभूत संरचना का अच्छा विकास हुआ होता है उन्हें विकसित देश कहते हैं. विकासशील देशों में ये विशेषताएं नही पायीं जातीं हैं.

Difference between economic growth and economic development

आर्थिक संवृद्धि और आर्थिक विकास में क्या अंतर होता है?

Sep 11, 2017

सामान्यतः आर्थिक संवृद्धि और आर्थिक विकास को समान अर्थ के रूप में इस्तेमाल किया जाता है लेकिन बारीकी से अध्ययन करने के बाद पता चलता है कि इन दोनों में बहुत अंतर है. आर्थिक संवृद्धि में सामान्य रूप से किसी देश की प्रति व्यक्ति आय और सकल घरेलू उत्पाद में वृद्धि को गिना जाता है जबकि आर्थिक विकास में देश में कुपोषण बीमारी, निरक्षरता और बेरोजगारी की दशा को देखा जाता है.

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नरों की सूची

Sep 6, 2017

ब्रिटिश औपनिवेशिक सरकार द्वारा 1935 में अपनी स्थापना के बाद से अब तक 24 लोगों ने भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर के रूप में काम किया है. भारतीय रिजर्व बैंक के पहले गवर्नर ब्रिटिश बैंकर ओस्बोर्न स्मिथ थे, जबकि सी. डी. देशमुख भारतीय रिजर्व बैंक के पहले भारतीय गवर्नर थे. वर्तमान में भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल हैं, जिन्होंने 4 सितम्बर, 2016 को पदभार ग्रहण किया था. इस लेख में हम भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नरों की सूची दे रहे हैं जो विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों के लिए काफी उपयोगी है.

Types of unemployment

बेरोजगारी कितने प्रकार की होती है और भारत में कैसी बेरोजगारी पायी जाती है?

Sep 6, 2017

बेरोजगारी की परिभाषा हर देश में अलग अलग होती है जैसे अमेरिका में यदि किसी व्यक्ति को उसकी योग्यता /क्वालिफिकेशन के हिसाब से नौकरी नही मिलती है तो उसे बेरोजगार माना जाता है. सामान्य तौर पर बेरोजगार उस व्यक्ति को कहा जाता है जो कि बाजार में प्रचलित मजदूरी दर पर काम तो करना चाहता है लेकिन उसे काम नही मिल पा रहा है.

Private company vs.Public-company

प्राइवेट लिमिटेड कंपनी और पब्लिक लिमिटेड कंपनी में क्या मुख्य अंतर होता है?

Sep 4, 2017

प्राइवेट लिमिटेड कंपनी निजी लोगों के स्वामित्व वाली कंपनी होती है; जिसकी स्थापना करने के लिए कम से कम 2 लोगों की जरुरत होती है. पब्लिक लिमिटेड कंपनी के ऊपर सरकार और शेयरधारकों का कब्ज़ा होता है और इसकी स्थापना के लिए कम से कम 7 सदस्यों की जरुरत होती है. यह लेख प्राइवेट लिमिटेड कंपनी और पब्लिक लिमिटेड कंपनी के बारे में 11 ऐसे अंतर बता रहा है जो कि किसी भी सामान्य मनुष्य के लिए जानना बहुत ही जरूरी हैं.

Patent stamp

पेटेंट किसे कहते हैं और यह कैसे प्राप्त किया जाता है?

Aug 30, 2017

पेटेंट एक अधिकार है जो किसी व्यक्ति या संस्था को किसी बिल्कुल नई सेवा,तकनीकी, प्रक्रिया, उत्पाद या डिज़ाइन के लिए प्रदान किया जाता है ताकि कोई उनकी नक़ल नहीं तैयार कर सके. दूसरे शब्दों में पेटेंट एक ऐसा कानूनी अधिकार है जिसके मिलने के बाद यदि कोई व्यक्ति या संस्था किसी उत्पाद को खोजती या बनाती है तो उस उत्पाद को बनाने का एकाधिकार प्राप्त कर लेती है.

PAN नंबर

पैन नंबर और टैन नंबर के बीच क्या अंतर होता है?

Aug 29, 2017

स्थायी खाता संख्या (Permanent Account Number )को शोर्ट फॉर्म में PAN के नाम से जाना जाता है. यह एक अक्षरांकीय कोड है, इसमें दस अक्षर शामिल होते हैं या दस अक्षरों से मिलकर बनता है जबकि TAN का फुल फॉर्म Tax deduction and collection Account Number है. ये दोनों ही नम्बर 10 अक्षरों के होते हैं और इनको आयकर विभाग द्वारा जारी किया जाता है.

Latest Videos

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • By clicking on Submit button, you agree to our terms of use
    ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Newsletter Signup
Follow us on