Jagran Josh Logo
  1. Home
  2.  |  
  3. भारत दर्शन

भारत दर्शन

General Knowledge for Competitive Exams

Read: General Knowledge | General Knowledge Lists | Overview of India | Countries of World

चन्द्रशेखर आज़ाद से सम्बंधित 9 अनजाने एवं रोचक तथ्य

2 days ago

चन्द्रशेखर आज़ाद को कौन नहीं जानता, वे किसी परिचय के मोहताज नहीं है लेकिन उनके जीवन के बारे में जानना अपने आप में रोचक तथा ज्ञानवर्धक जानकारी है| चन्द्रशेखर आज़ाद का जन्म 23 जुलाई 1906 को मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले के भाबरा में हुआ था जबकि उनकी मृत्यु 27 फरवरी 1931 को इलाहबाद के अल्फ्रेड पार्क में हुई थी| इस लेख में हम चन्द्रशेखर आज़ाद की पुण्यतिथि के अवसर पर उनसे सम्बंधित 9 अनजाने एवं रोचक तथ्यों का विवरण दे रहें हैं|

10 ऐसे क्षेत्र जिसमें भारत विकसित देशों को पीछे छोड़ चुका है

3 days ago

एक अरब से अधिक जनसंख्या वाला देश भारत अपने अकल्पनीय कामों और कीर्तिमानों के कारण हमेशा चर्चा के केन्द्र में बना रहता है| यूँ तो भारत अभी भी विकासशील देशों की श्रेणी में शामिल है लेकिन कुछ ऐसे क्षेत्र भी हैं जहां यह विकसित देशों के भी आगे निकल चूका है| इस लेख में हम भारत की उन 10 विशेषताओं का विवरण दे रहे हैं जिसके कारण भारत को विकसित देशों से भी बेहतर माना जा सकता है|

ताजमहल के बारे में 13 रोचक तथ्य

Feb 21, 2017

ताजमहल का निर्माण मुग़ल बादशाह शाहजहाँ ने अपनी बेगम मुमताज महल की याद में 32 मिलियन रुपये खर्च करके बनवाया था| इसका निर्माण 1632–53 के बीच हुआ था| इस लेख में ताजमहल के उन अनजाने तथ्यों के बारे में बताया गया है जो कि बहुत कम लोगों को पता हैं|

भारत बनाम चीन: तुलनात्मक अध्ययन

Feb 21, 2017

भारत की अर्थव्यवस्था ने 7.6% की आर्थिक विकास दर हासिल करने के साथ ही पूरी दुनिया में सबसे तेजी बढती हुई अर्थव्यवस्था का ख़िताब अपने नाम कर लिया है| इस समय भारतीय अर्थव्यवस्था का आकार $ 4.99 खरब और चीन की अर्थव्यवस्था का आकार $13.39 खरब है| इस लेख में भारत और चीन की अर्थव्यवस्था को बढ़ने में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले क्षेत्रों का तथ्यात्मक अध्ययन किया गया है|

भारत के 7 प्रधानमंत्री और उनकी अद्भुत कारें

Feb 21, 2017

प्रधानमंत्री देश का प्रतिनिधि और भारत सरकार का मुख्य कार्यकारी अधिकारी होता है। प्रधानमंत्री वाजपेयी ने प्रधानमंत्री के काफिले से एम्बेसडर कार "सेडान" को हटाकर आलीशान बीएमडब्ल्यू 7 सीरीज की बुलेट प्रूफ लक्जरी सैलून को शामिल किया| तब से भारत के सभी प्रधानमंत्री बीएमडब्ल्यू सीरीज के वाहन से ही यात्रा करते हैं| आइए प्रधानमंत्रियों की कारों के बारे मे और जानकारी प्राप्त करते हैं|

9 रोचक तथ्य छत्रपति शिवाजी महाराज के बारे में

Feb 18, 2017

छत्रपति शिवाजी महाराज को शिवाजी या शिवाजी राजे भोसले के नाम से भी जाना जाता है | उनका जन्म 11 February 1630 में शिवनेरी दुर्ग जो कि पुणे जुन्नर नगर में शाहजी भोंसले की पत्नी जीजाबाई (राजमाता जिजाऊ) की कोख से हुआ था| वह भारत के महान योद्धा एवं रणनीतिकार थे| इस लेख में छत्रपति शिवाजी महाराज के बारे में कुछ रोचक तथ्यों के बारे में जानेंगे |

बैलगाड़ी एवं साइकिल द्वारा रॉकेट ढ़ोने से लेकर इसरो का अबतक का सफरनामा

Feb 17, 2017

इसरो (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) का अब तक का सफर काबिल-ए-तारीफ है। एक समय ऐसा भी था जब संसाधनों की कमी की वजह से रॉकेटों को बैलगाड़ी से जाया गया था। इसके अलावा भारत के पहले रॉकेट के लांच के समय भारतीय वैज्ञानिक हर रोज तिरूवंतपूरम से बसों में आते थे और रेलवे स्टेशन से दोपहर का खाना खाते थे। साथ ही पहले रॉकेट के कुछ हिस्सों को साइकिल पर भी ले जाया गया था। इस लेख में हम इसरो के सफरनामा और उपलब्धियों का विस्तृत विवरण दे रहे हैं|

8 ऐसे वित्तीय अधिकार जो सबको जानने चाहिए

Feb 17, 2017

जैसे-जैसे देश आर्थिक रूप से आगे बढ़ रहा है सभी लोगों की जिंदगी में आर्थिक गतिविधियों की बाढ़ आ गयी है| इसी क्रम में लोगों के वित्तीय अधिकारों के उल्लंघन की घटनाएं भी सामने आने लगी हैं| इसलिए इस लेख में हमने आपके वित्तीय अधिकारों को बताया है ताकि कोई आपका शोषण न कर सके|

जाने भारत के 20 सबसे ईमानदार शहर कौन से हैं

Feb 16, 2017

ट्रान्सपैरेंसी इंटरनेशनल की तर्ज पर ही भारत के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संसद में 2016-17 का आर्थिक सर्वेक्षण पेश करते हुए देश के टॉप 20 ईमानदार शहरों की लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में देश की आर्थिक राजनधानी मुंबई पहले नंबर पर है और इसको 10 में से 8 नंबर मिले हैं|सबसे ज्यादा नंबर मुंबई-हैदराबाद के हैं और सबसे कम नंबर चंडीगढ़ और देहरादून को मिले हैं।

भारत की अर्थव्यवस्था के बारे में 11 रोचक तथ्य

Feb 16, 2017

इस समय भारत की अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर पूरी दुनिया में सबसे अधिक है और अब यह दुनिया की 7वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है इसमें सबसे बड़ा योगदान सेवा क्षेत्र का है जबकि कृषि क्षेत्र का योगदान हर साल घटता जा रहा है| वर्तमान में भारत की प्रति व्यक्ति आय 92,231 रुपये प्रति वर्ष हो गई है |

इसरो द्वारा प्रक्षेपित पीएसएलवी C37 से होने वाले लाभ

Feb 15, 2017

इसरो 15 फरवरी 2017 को एकसाथ 104 उपग्रहों को प्रक्षेपित कर इतिहास रचने जा रहा है| यह प्रक्षेपण आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केन्द्र से “ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (PSLV)” के द्वारा किया जाएगा| इस प्रक्षेपण के माध्यम से भारत पहली बार “शुक्र ग्रह” पर अपना अंतरिक्षयान भेज रहा है| इस लेख में हम पीएसएलवी-C37 के प्रक्षेपण से भारत को होने वाले लाभ का विवरण दे रहे हैं|

इसरो द्वारा एक साथ 104 उपग्रहों को प्रक्षेपित कर रिकॉर्ड बनाने की तैयारी

Feb 14, 2017

अब तक इसरो द्वारा एक बार में अधिकतम 20 उपग्रहों का प्रक्षेपण किया गया है| यह प्रक्षेपण 22 जून, 2016 को “ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान” PSLV-C34 के द्वारा किया गया था| लेकिन अब इसरो 15 फरवरी 2017 को एकसाथ 104 उपग्रहों को प्रक्षेपित कर इतिहास रचने जा रहा है| यह प्रक्षेपण आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केन्द्र से “ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (PSLV)” के द्वारा किया जाएगा| इस लेख में हम इसरो द्वारा प्रक्षेपित किए जाने वाले विभिन्न उपग्रहों का विवरण दे रहे हैं|

भारत की जनसंख्या से संबंधित 9 रोचक तथ्य

Feb 13, 2017

2011 की जनगणना के अनुसार भारत की जनसंख्या 1.221 बिलियन है और जनसंख्या के मामले में यह चीन के बाद दूसरे स्थान पर है| ऐसा माना जा रहा है कि यदि भारत की जनसंख्या इसी प्रकार बढ़ती रही तो 2050 तक भारत विश्व की सर्वाधिक जनसंख्या वाला देश बन जाएगा। इस लेख में हम भारत की जनसंख्या से संबंधित 9 ऐसे रोचक आँकड़ों का विवरण दे रहे हैं जिसके बारे में आप शायद ही जानते होंगें|

भारतीय राज्यों के राजकीय फूल और राजकीय वृक्ष

Feb 13, 2017

भारत को "राज्यों के संघ" के रूप में जाना जाता है। भारत के प्रत्येक राज्य की जलवायु, कला और संस्कृति, पहनावा और खान-पान एक-दूसरे से भिन्न है। यही कारण है कि सभी भारतीय राज्य अपनी पहचान के लिए अलग-अलग प्रतीकों का प्रयोग करते हैं। इस लेख में हम भारत के सभी राज्यों के राजकीय फूल और राजकीय वृक्षों का विवरण दे रहे हैं|

बुद्ध की विभिन्न मुद्राएं एवं हस्त संकेत और उनके अर्थ

Feb 13, 2017

बुद्ध के अनुयायी, बौद्ध ध्यान या अनुष्ठान के दौरान शास्त्र के माध्यम से विशेष विचारों को पैदा करने के लिए बुद्ध की छवि को प्रतीकात्मक संकेत के रूप में इस्तेमाल करते हैं। भारतीय मूर्तिकला में, मूर्तियाँ देवत्व का प्रतीकात्मक प्रतिनिधित्व करती है, जिसका मूल और अंत धार्मिक और आध्यात्मिक मान्यताओं के माध्यम से व्यक्त किया जाता है।

गणतंत्र दिवसः भारतीय गणतंत्र की यात्रा

Jan 24, 2017

भारत 15 अगस्त 1947 को ब्रिटिश शासन से स्वतंत्र हुआ था और तब हमारे देश के पास संविधान नहीं था | 26 जनवरी 1950 को संविधान को अंगीकार किया गया था और उस दिन के बाद से प्रत्येक वर्ष पूरे देश में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में बहुत गर्व और खुशी के साथ मनाया जाता है। यह लेख भारतीय गणतंत्र दिवस के इतिहास, उत्पत्ति और पृष्ठभूमि से संबंधित है।

26 जनवरी की परेड से संबंधित 13 रोचक तथ्य

Jan 24, 2017

हर साल आप 26 जनवरी के अवसर पर राजपथ पर आयोजित परेड को दूरदर्शन के माध्यम से देखते हैं| लेकिन क्या आपको पता है कि 26 जनवरी की परेड के आयोजन की जम्मेवारी किसकी है एवं इसके आयोजन में कितना खर्च होता है? इस लेख में हम 26 जनवरी की परेड से जुड़े 13 रोचक तथ्यों का विवरण दे रहें हैं|

मकर संक्रान्ति 2017: इतिहास, अर्थ एवं महत्व

Jan 12, 2017

मकर संक्रान्ति हिन्दुओं का प्रमुख त्योहार है। यह त्योहार भगवान सूर्य को समर्पित है| यह त्योहार जनवरी महीने की 14वीं या 15वीं तिथि को ही मनाया जाता है क्योंकि इसी दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश करते हैं। मकर संक्रान्ति के दिन से ही सूर्य की उत्तरायण गति भी प्रारम्भ होती है। इसलिये इस पर्व को उत्तरायणी भी कहा जाता है|

शिवाजी स्मारक के बारे में 9 रोचक तथ्य

Dec 26, 2016

पूना में 1630 में जन्मे शिवा जी को मराठा साम्राज्य की स्थापना और मराठों के विरुद्ध छापामार युद्ध के लिए जाना जाता है| उनकी वीरता को यादगार बनाने के लिए प्रधाममंत्री मोदी ने अरब सागर में शिवाजी की 192 मीटर ऊंची प्रतिमा वाले स्मारक की स्थापना की आधारशिला 24 दिसम्बर 2016 को रखी है | 15 एकड़ के द्वीप पर प्रस्तावित इस स्मारक की कुल लागत 3600 करोड़ रूपये है |

जैन धर्म, महावीर की शिक्षाएं और जैन धर्म के प्रसार के कारणों का संक्षिप्त विवरण

Dec 15, 2016

जैन धर्म ने गैर-धार्मिक विचारधारा के माध्यम से रूढ़िवादी धार्मिक प्रथाओं पर जबरदस्त प्रहार किया| जैन धर्म लोगों की सुविधा हेतु मोक्ष के एक सरल, लघु और सुगम रास्ते की वकालत करता है| यहाँ हम जैन धर्म, महावीर की शिक्षाएं और जैन धर्म के प्रसार के कारणों का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत कर रहे हैं जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है|

सिंधु घाटी सभ्यता की अर्थव्यवस्था का संक्षिप्त विवरण

Dec 14, 2016

सिंधु घाटी सभ्यता (हड़प्पा सभ्यता) की अर्थव्यवस्था कृषि और व्यापार पर आधारित थी| कृषि कार्य हड़प्पाकालीन शहरों के आसपास के दूरस्थ और अविकसित क्षेत्र में किया जाता था, जहाँ से शासक वर्ग भविष्य में उपयोग हेतु कृषि अधिशेष को लाकर धान्यकोठारों में जमा करते थे| यहाँ हम सिंधु घाटी सभ्यता की अर्थव्यवस्था का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत कर रहे हैं जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है|

बौद्ध धर्म, बुद्ध की शिक्षा, बौद्ध संगीति और बौद्ध धर्म में गिरावट के कारणों का संक्षिप्त विवरण

Dec 12, 2016

बौद्ध धर्म स्वभावतः नास्तिक है और वह लौकिक उन्नति और अवनति में विश्वास करता है| यहाँ हम बौद्ध धर्म का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत कर रहे हैं जिससे छात्रों एवं बौद्ध धर्म के बारे में जानने को इच्छुक व्यक्तियों को बौद्ध धर्म, बुद्ध की शिक्षा, बौद्ध धर्म के प्रसार और भारतीय संस्कृति पर इसके योगदान के बारे में जानकारी प्राप्त होगी|

बिहार का प्राचीन इतिहास

Dec 8, 2016

बिहार का प्राचीन इतिहास का विस्तार मानव सभ्यता के आरंभ तक है। साथ ही यह सनातन धर्म के आगमन संबंधी मिथकों और किंवदंतियों से भी संबद्ध है। यहां, हम 'प्राचीन बिहार के इतिहास' पर पूर्ण अध्ययन सामग्री दे रहे हैं जो उम्मीदवारों को बीपीएससी और अन्य राज्य स्तर की परीक्षाओं जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल होने की राह को आसान कर देगा।

बिहार में हुए आदिवासी विद्रोहों की सूची

Dec 7, 2016

बिहार के आदिवासी विद्रोह ज्यादातर असंगठित, स्थानीय और समय– समय पर होने वाले विद्रोह थे। ये विद्रोह मुख्य रूप से ब्रिटिश सरकार द्वारा आदिवासियों और आदिवासियों की जमीन के शोषण से संबंधित और बाहरी लोगों को उनकी जमीन देने से जुड़े थे। यहां, हम 'बिहार के आदिवासी विद्रोहों' की सूची दे रहे हैं। इसमें तारीख, इससे जुड़े लोगों के साथ– साथ विद्रोह की प्रकृति और उद्देश्य भी दिए जा रहे हैं।

बिहार के महत्वपूर्ण बौद्ध तीर्थस्थलों का संक्षिप्त विवरण

Dec 5, 2016

प्राचीन काल के भारतीय इतिहास के दौरान 1000 वर्षों से भी अधिक समय से बिहार तो भारत में सत्ता, शिक्षण और संस्कृति के केंद्र के रूप में जाना जाता रहा है।  प्राचीन भारत के ज्यादातर शक्तिशाली साम्राज्य इसी इलाके में उदित हुए। यहां हम,  'बिहार के महत्वपूर्ण बौद्ध तीर्थस्थलों का संक्षिप्त विवरण' दे रहे हैं जो बिहार पीएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों के अलावा अन्य राज्यों की पीएससी परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए भी मददगार होंगे।

ऋग्वैदिक कालीन देवी एवं देवताओं की सूची

Nov 11, 2016

वैदिक लोग प्राकृतिक शक्तियों को साकार रूप में मानते थे और उन्हें “मनुष्य” और “पशु” का सृजन कर्ता के रूप में देखते थे| यहाँ हम ऋग्वैदिक कालीन देवी एवं देवताओं की सूची दे रहे हैं जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है|

2011 की जनगणना के अंतर्गत भारतीय राज्यों एवं केन्द्रशासित प्रदेशों की जनसंख्या

Oct 17, 2016

भारत 29 राज्यों और 7 केंद्र शासित प्रदेशों का एक संघ है। 2011 की जनगणना के अनुसार भारत की कुल आबादी 1.2 अरब थी। भारत का क्षेत्रफल पूरी दुनिया के कुल क्षेत्रफल का 2.4 प्रतिशत है जिसमे पूरी दुनिया की कुल आबादी का 17.5 प्रतिशत निवास करती है। उत्तर प्रदेश भारत का सबसे अधिक आबादी वाला राज्य है। यहाँ पूरे भारत की कुल आबादी का 16.5 प्रतिशत निवास करती है|

भारत की करेंसी नोटों का इतिहास और उसका विकास |

Aug 31, 2016

"रुपए" शब्द की उत्पत्ति संस्कृत के शब्द रुपिया से हुई है जिसका अर्थ है सही आकार एवं मुहर लगा हुआ मुद्रित सिक्का। इसकी उत्पत्ति संस्कृत शब्द "रुपया" से भी हुई है जिसका अर्थ चांदी होता है। भारत में रुपये के संदर्भ में संघर्ष, खोज और संपत्ति का बहुत लंबा इतिहास रहा है, जो प्राचीन भारत के 6ठी सदी ईसा पूर्व से चला आ रहा है। पेपर करेंसी कानून 1861 ने सरकार को ब्रिटिश भारत के विशाल क्षेत्र में नोट जारी करने का एकाधिकार दिया था ।

राजस्थान के पहाड़ी किले: एक नजर इन विश्व विरासत स्थलों के तथ्यों पर

Aug 26, 2016

राजस्थान के पहाड़ी किले जिसमें चित्तौड़गढ़, कुंभलगढ़, सवाई माधोपुर, झालावाड़, जयपुर और जैसलमेर के 6 राजसी किले शामिल हैं, लगभग बीस किलोमीटर के क्षेत्र में फैले हुए हैं। इन किलों में 8वीं शताब्दी से 18 वीं शताब्दी तक की राजपूताना साम्राज्य की विरासत को देखा जा सकता है।

भारत की पर्वतीय रेलवे: एक नजर तथ्यों पर

Aug 26, 2016

दार्जिलिंग हिमालयी रेलवे, नीलगिरि पर्वतीय रेलवे, और कालका-शिमला रेलवे को क्रमशः  1999, 2005 एवं 2008 में यूनेस्को द्वारा वैश्विक धरोहर स्थल का दर्जा प्रदान किया गया था । दार्जिलिंग हिमालयी रेलवे (पश्चिम बंगाल) को 1881 में शुरू किया गया था। 46 किलोमीटर की लंबाई और सिंगल रेलवे ट्रैक वाले नीलगिरि पर्वतीय रेलवे को 1908 में शुरू किया गया था। 96 किलोमीटर की सिंगल रेलवे ट्रैक वाले कालका शिमला रेलवे को 9 नवंबर, 1903 को यातायात के लिए शुरू किया गया था।

Latest Videos

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • By clicking on Submit button, you agree to our terms of use
    ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Newsletter Signup
Follow us on