Jagran Josh Logo

General Knowledge

General Knowledge for Competitive Exams

Read: General Knowledge | General Knowledge Lists | Overview of India | Countries of World

सामान्य-ज्ञान-तथ्य

फलों में पोषक तत्वों की कमी से होने वाले रोग

फलों में विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व प्रचूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो स्वास्थय तथा वृद्धि के लिए आवश्यक होते हैं| संतुलित आहार की दृष्टि से एक व्यक्ति को प्रतिदिन 92 ग्राम फल का सेवन करने की सलाह दी जाती है| वर्तमान समय में भारत फलों के उत्पादन के मामले में विश्व में दूसरे स्थान पर है| कई बार विभिन्न फलों में कई प्रकार के रोग लग जाते है जिसका प्रमुख कारण फलों में पोषक तत्वों की कमी होना है| इस लेख में हम विभिन्न फलों में पोषक तत्वों की कमी से होने वाले रोगों का विवरण दे रहे है जो विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टिकोण से बहुत उपयोगी है|

सामान्य ज्ञान क्विज

भारतीय फिल्मों पर आधारित सामान्य ज्ञान क्विज (सेट-1)

इस लेख में जागरण जोश आपको भारतीय फिल्मों से संबंधित 10 प्रश्नों का एक सेट दे रहा है| प्रतिभागियों की सुविधा के लिए इस सेट में प्रश्नों के साथ-साथ उनके उत्तर भी दिए गए हैं| ये प्रश्न IAS/PCS/SSC/Banking और अन्य परीक्षाओं के साथ-साथ सामान्य जानकारी के लिए बहुत ही उपयोगी हैं|

इतिहास

चोल काल में निर्मित मंदिरों की सूची

चोलकालीन मंदिरों का निर्माण चोल साम्राज्य के महान राजाओं द्वारा किया गया था| ये मंदिर सम्पूर्ण दक्षिण भारत के अलावा भारत के पड़ोसी द्वीपों पर भी फैले हुए हैं। इन मंदिरों में 11वीं और 12वीं शताब्दी में निर्मित तीन मंदिर दरासुरम का एरावतेश्वर मंदिर, गांगेयकोंडचोलपुरम के मंदिर और तंजौर का बृहदेश्वर मंदिर प्रमुख हैं|

भूगोल

मुख्य अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखाएं

प्रत्येक देश अपने देश की सीमा की रक्षा करने के लिए एक निश्चित सीमा का निर्धारण करता है | इस सीमा को पार करना देश की सीमा में घुसपैठ माना जाता है | इन सीमाओं के निर्धारण का एक फायदा यह भी है कि देशों को यह बात पता होती है कि उन्हें कहां तक अपने राज्य की सीमा का विस्तार करना है | कुछ प्रमुख सीमाओं का वर्णन इस लेख में किया गया है |

विज्ञान

क्या होगा यदि धरती पर 5 सेकेंड के लिए ऑक्सीजन न रहे?

जीवन के लिए ऑक्सीजन सबसे अनिवार्य आवश्यकताओं में से एक है। जिस प्रकार धरती के जीव बिना भोजन और पानी के जीवित नहीं रह सकते हैं, उसी प्रकार ऑक्सीजन के बिना भी वे जीवित नहीं रह सकते हैं| ऑक्सीजन कई प्रकार से उपयोगी होता है। जैसे- उद्योगों में इसका प्रयोग सल्फ्यूरिक एसिड एवं नाइट्रिक एसिड आदि बनाने में किया जाता है। व्यवसायिक स्तर पर, इस्पात उद्योग में वात्य–भट्ठी में लौह-इस्पात तैयार करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। यदि हमारे वायुमंडल से ऑक्सीजन समाप्त हो जाए तो इसका नतीजा विनाशकारी होगा।

भारतीय राजव्यवस्था

सरकार की संसदीय व्यवस्था एवं अध्यक्षीय व्यवस्था का तुलनात्मक अध्ययन:

भारतीय संविधान के अंतर्गत केंद्र और राज्य दोनों स्तरों पर संसदीय प्रणाली पर आधारित शासन की व्यवस्था की गई है| संविधान के अनुच्छेद 74 और 75 के तहत केंद्र में जबकि अनुच्छेद 163 और 164 के तहत राज्यों में संसदीय प्रणाली की व्यवस्था की गई है| भारत में राष्ट्रपति नाममात्र का शासक है जबकि प्रधानमंत्री वास्तविक शासक है।

अर्थव्यवस्था

भारत में रोजगार और विकास के विभिन्न कार्यक्रमों की सूची

हर सरकार अपने नागरिकों को विभिन्न प्रकार की सुविधाएं प्रदान करने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों की शुरूआत करती है| ये कार्यक्रम शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, रोजगार और सभी नागरिकों के सामाजिक उत्थान से संबंधित हो सकते हैं| कुछ कार्यक्रम जैसे प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) और डिजिटल भारत कार्यक्रम आदि समाज के कमजोर वर्गों की मदद करने के लिए शुरू किये गए हैं|

पर्यावरण और पारिस्थितिकीय

याक "ग्रूटिंग ऑक्स": एक नजर तथ्यों पर

याक दो प्रकार के होते हैं: घरेलू और जंगली। घरेलू याक छोटे होते हैं और इनके शरीर पर घने बाल होते हैं और शायद इनकी उत्पत्ति जंगली तिब्बती याक से हुई थी। घरेलू याक का इस्तेमाल यात्रा और समान ढोने वाले जानवरों के रूप में किया जाता है। याक को उसके दूध, मांस, ऊन और गोबर के लिए मूल्यवान माना जाता है। जंगली याक को सबसे ज्यादा खतरा और नुकसान शिकारियों से रहता है। उनकी वर्तमान स्थिति "असुरक्षित" (vulnerable) है। जंगली नर याक का वजन 2200 पाउंड तक होता है और इसकी ऊंचाई 6.5 फुट होती है। मादा याक की ऊंचाई नर याक की तुलना में एक-तिहाई होती है।

सामान्य ज्ञान सूची

भारत के लोकसभा अध्यक्षों की सूची

भारत में लोकसभा का अध्यक्ष संसद के निम्न सदन (लोक सभा) का सभापति होता है। लोकसभा-अध्यक्ष का चुनाव लोकसभा चुनावों के बाद, लोकसभा की सर्वप्रथम बैठक में ही कर लिया जाता है, जो कि संसद के सदस्यों में से ही पाँच साल के लिए चुना जाता है। श्री जी.वी. मावलंकर लोकसभा के पहले लोकसभा अध्यक्ष (स्पीकर) थे। मौजूदा लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन हैं।

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • By clicking on Submit button, you agree to our terms of use
    ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Latest

Newsletter Signup
Follow us on