कैट में चयनित होकर भविष्य बेहतर बनाएं

एक बार फिर कैट (कॉमन एडमिशन टेस्ट) की रणभेरी बज चुकी है. प्रबधंन कॅरियर में युवाओं के लिए ख्वाब सरीखी इस परीक्षा में जोर आजमाइश का दौर भी शुरू हो गया है.

Created On: Aug 14, 2012 11:33 IST
Modified On: Nov 30, 2012 17:00 IST

एक बार फिर कैट (कॉमन एडमिशन टेस्ट) की रणभेरी बज चुकी है। प्रबधंन कॅरियर में युवाओं के लिए ख्वाब सरीखी इस परीक्षा में जोर आजमाइश का दौर भी शुरू हो गया है। ऐसा हो भी क्यों न आखिर यही तो है देश के शीर्ष बी कॉलेजों में जाने का रास्ता। यदि आप भी कैट के जरिए अपने कॅरियर को रौशन करना चाहते हैं तो कमर कस लीजिए क्योंकि आगामी कैट-2012 की तिथि घोषित हो गई हैं।

उच्च शिक्षा के बाजार में आज बीटेक,एमबीए जैसे कोर्स आम हो चले हैं। ज्यादातर छात्र इन कोर्सोकी मदद से अपना सितारा बुलंद करने की चाहत रखते हैं, लेकिन कम ही लोगों को उम्मीदों के मुताबिक डगर मिलती है। हां, यदि आपका संस्थान उम्दा है, वह देश केटॉप इंस्टीट्यूट्स में शुमार है तो जरूर कॅरियर की मंजिल आसान हो सकती है।

ऐसे में कैट एग्जाम आपको भारत के कुछ सबसे बेहतरीन प्रबंधन संस्थानों में दाखिले का मौका देता है। इन दिनों देश के सभी 13 आईआईएम के साथ आईआईटी, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ सांइस (आईआईसी), फैकल्टी ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज(एफएमएस)भी अपने प्रबंधन क ोर्सो में कैट स्कोर को मान्यता देते हैं। इस बार कैट परीक्षा के आयोजन की जिम्मेदारी आईआईएम,कोझीकोड को दी गई है।

 

कैट 2012 महत्वपूर्ण तिथियां
फार्म बिक्री प्रारंभ  - 30 जुलाई 2012 से
फार्म बिक्री बंद  - 17 सितंबर 2012
रजिस्ट्रेशन प्रारंभ - 30 जुलाई 2012 से
रजिस्ट्रेशन बंद - 19 सितंबर 2012 से

परीक्षा की तिथि - 11 अक्टूबर 2012-

                   6 नवंबर 2012

परिणाम घोषणा - 9 जनवरी 2012

कैसे पार करें कैट की मंजिल

कै ट में हिस्सा लेने के लिए अभ्यर्थी की न्यूनतम शक्षिक योग्यता मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी स्ट्रीम में न्यूनतम 50 फीसदी अंकों के साथ ग्रेजुएशन होती है। कैट परीक्षा में प्राय: दो स्टेज से गुजरना पडता है। पहले ऑनलाइन परीक्षा होती है। इसमें उत्तीर्ण स्टूडेंट्स को संस्थान अपने इलिजिबिलिटी क्राइटेरिया व परसेंटाइल के आधार पर ग्रुप डिस्कशन या इंटरव्यू के लिए आमंत्रित करते हैं। इसमें सफल होने के बाद ही छात्र को आईआईएम में प्रवेश मिलता है। कैट परीक्षा अन्य परीक्षाओं से काफी अलग होती है, क्योंकि यह एक दिन में न होकर महीनों तक चलती है। इस संबंध में विशेषज्ञों का मानना है कि स्टूडेंट्स के लिए बेहतर यही होगा कि वह पहले सप्ताह में ही कैट एग्जाम देने की स्ट्रेटेजी बनाएं। हालांकि कोशिश करें कि शुरू के एक-दो दिन परीक्षा में न बैठें। पहले की भांति इसका फ‌र्स्ट सेक्शन क्वांटिटेटिव एबिलिटी एंड डाटा इंटरप्रिटेशन व दूसरा सेक्शन वर्बल एबिलिटी एंड लॉजिकल रीजनिंग का होगा। परीक्षा में दोनों सेक्शन से कुल 60 प्रश्न आएंगे, जिन्हें सॉल्व करने के लिए कुल 140 मिनट मिलेंगे। एक दिन में दो टेस्टों का प्रावधान है। पहला मॉर्निग और दूसरा ऑफ्टर नून सेशन। आप इनमें से किसी भी समय का चुनाव कर सकते हैं। पहले कैट परीक्षा में तीन सेक्शन होते थे व प्रत्येक से 60-60 प्रश्न आते थे।

लॉजिक से पढें तो बनेगी बात

कैट एग्जाम की तारीख घोषित हो चुकी है, परीक्षा की तैयारी में लगे प्रतिभागी नए सिरे से अपनी तैयारियों का खाका खींच रहे हैं। इस बावत हमने बात की कॅरियर लॉन्चर के निदेशक नीरज प्रसाद से। उनका मानना है कि एमबीए कोई कोर्स नहीं बल्कि कैंडीडेट्स की थिंकिं ग डेवलेपमेंट करने का प्रोसेस है। इसलिए बाकी प्रतियोगी परीक्षाओं की तरह किताबों, एक बंधे बंधाए पैटर्न?से पढ यहां पर्सेटाइल तो लाए जा सकते हैं लेकिन आगे नहीं बढ सकते। लिहाजा इस कॅरियर में ग्रोथ के लिए आवश्यक है कि कैंडीडेट्स अपनी सोच क ो तर्कपूर्ण बनाएं व लॉजिक से पढें। आगामी कैट परीक्षा की तैयारी के बारे में उनका कहना है कि बचे हुए 3-4 महीनों में डीप स्टडी नहीं की जा सकती। ऐसे में सर्वश्रेष्ठ यही होगा कि आप पिछले सालों में आए कैट प्रश्न पत्रों की प्रैक्टिस करें, उनका रीवीजन करें, ऑन लाइन मॉक टेस्ट का सहारा लें।

नीरज प्रसाद, कॅरियर लॉन्चर

Cat Percentile Predictor 2021

Related Categories

Comment (0)

Post Comment

0 + 9 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.