Search

यूपीएससी द्वारा आईएएस प्रारंभिक परीक्षा परिणाम 2016 घोषित, upsc.gov.in पर देखें परिणाम

यूपीएससी ने अपनी वेबसाइट upsc.gov.in. पर सिविल सेवा प्रारंभिक परिणाम घोषित कर दिया है.जो उम्मीदवार यूपीएससी प्रारंभिक परिणाम में उत्तीर्ण हुए हैं

Sep 19, 2016 10:35 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

यूपीएससी ने अपनी वेबसाइट upsc.gov.in. पर सिविल सेवा प्रारंभिक परिणाम घोषित कर दिया है.

जो उम्मीदवार यूपीएससी प्रारंभिक परिणाम में उत्तीर्ण हुए हैं अब वे सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा 2016 देने के लिए योग्य हैं.

यूपीएससी ने सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2016 का आयोजन 07 अगस्त, 2016 को दो सत्रों में किया था. पहला सत्र सुबह 09.30 बजे से 11.30 बजे तक आयोजित किया गया था और दूसरा सत्र दोपहर  02.30 बजे से 04.30 तक आयोजित किया गया था.

सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा 03 दिसंबर, 2016 को आयोजित की जायेगी. योग्य उम्मीदवार मुख्य परीक्षा के लिए विस्तृत आवेदन पत्र (डीएएफ) भरकर फिर से आवेदन करें. डीएएफ 07 अक्टूबर, 2016 से 20 अक्टूबर, 2016 तक भरा जा सकता है.

इसी तरह भारतीय वन सेवा (मुख्य) परीक्षा 12 नवंबर 2016 को आयोजित की जायेगी. इस परीक्षा के लिए डीएएफ 21 सितंबर से 06 अक्टूबर तक उपलब्ध रहेगा.

डीएएफ भरने के महत्वपूर्ण दिशानिर्देश और अनुदेश यूपीएससी के आधिकारिक पोर्टल पर उपलब्ध कराये जायेंगे. उम्मीदवारों को यह भी सूचित किया जाता है कि सिविल सेवा परीक्षा, 2016 के अंतिम परिणाम की घोषणा के बाद ही मार्क्स, कट ऑफ़ मार्क्स और आंसर की आदि आयोग की वेबसाइट www.upsc.gov.in पर अपलोड किये जायेंगे.

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के बारे में: संघ लोक सेवा आयोग देश के प्रशासनिक तंत्र में नई प्रतिभाओं को शामिल करने के लिए हर साल सिविल सेवा परीक्षा आयोजित करता है. इस परीक्षा को सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है और प्रत्येक वर्ष लाखों उम्मीदवार यह परीक्षा देने के लिए अपने आवेदन प्रस्तुत करते हैं. आयोग प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार के स्तर पर उम्मीदवारों का चयन करता है.

सीएसई (पी) परिणाम 2016 के लिए क्लिक करें

यहां भारतीय विदेश सेवा के लिए सीएसई (पी) हेतु क्लिक करें

विशिष्ट अध्ययन सामग्री सहित इस परीक्षा की तैयारी करें.

यहां क्लिक करें.

ऑनलाइन प्रश्नों को हल कर अपनी तैयारी का मूल्यांकन करें.  

यहां क्लिक करें.

इस अधिसूचना के बारे में कोई प्रश्न है? चर्चा करने के लिये यहां क्लिक करें.

यहां क्लिक करें.

 

Related Stories