Search

सीबीएसई 12th 2014: कैमिस्ट्री की तैयारी

सीबीएसई 12वींक्लास के स्टूडेंट्स अगर अब कॉम्पिटिशंस छोडकर केवल बोर्ड एग्जाम पर फोकस करेंगे, तो अच्छे मा‌र्क्स लाने से उन्हें कोई नहीं रोक सकता.

Feb 6, 2014 16:32 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

सीबीएसई 12वींक्लास के स्टूडेंट्स अगर अब कॉम्पिटिशंस छोडकर केवल बोर्ड एग्जाम पर फोकस करेंगे, तो अच्छे मा‌र्क्स लाने से उन्हें कोई नहीं रोक सकता।

स्मार्ट आंसर से बेस्ट स्कोर

अगर स्टूडेंट एक नंबर के क्वैश्चंस का आंसर एक शब्द या एक लाइन में देंगे, तो परीक्षक पर अच्छा असर पडेगा। दो नंबर के क्वैश्चंस का आंसर 30 शब्दों में देना चाहिए। तीन नंबर के क्वैश्चंस का आंसर 40 शब्दों में और पांच नंबर के क्वैश्चंस का आंसर 70 शब्दों में सटीक देंगे, तो बेस्ट स्कोर हासिल कर सकते हैं। वर्ड लिमिट का पालन करें।

इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री

पी ब्लॉक एलीमेंट्स पर बेस्ड 200 रिएक्शन तैयार कर लें। पोटैशियम डाइक्रोमेट और पोटैशियम डाइमैग्नेट की अच्छे से प्रैक्टिस कर लें। पैरा मॉलिक्यूलर और मेटलर्जी पर कमांड रखने के लिए एनसीईआरटी बुक की मदद से क्वैश्चंस की प्रैक्टिस जरूर करें।

ऑर्गेनिक केमिस्ट्री

इसमें एल्केन्स, एल्डिहाइड, कीटोन और एमिन्स चार इंपॉर्र्टेट चैप्टर्स हैं। साइंटिस्ट के नाम पर आधारित 30 इक्वैशंस याद कर लें। कम्पाउंड्स के बीच डिफरेंस के 30 क्वैश्चंस और कॉन्सेप्ट बेस्ड 20 क्वैश्चंस तैयार कर लें, तो 18 में से 15 नंबर हासिल कर सकते हैं।

फिजिकल ऐंड जनरल केमिस्ट्री

लगभग 33 नंबर के क्वैश्चंस में 22 से 23 नंबर के क्वैश्चंस न्यूमेरिकल बेस्ड हो सकते हैं। न्यूमेरिकल की प्रैक्टिस जरूर करनी चाहिए। सॉलिड स्टेट, सॉल्यूशंस, इलेक्ट्रोकेमिस्ट्री, केमिकल काइनेटिक्स, सरफेस केमिस्ट्री को ध्यान से पढें। एनसीईआरटी बुक में दिए सारे क्वैश्चंस सॉल्व करके प्रैक्टिस करें। ज्यादातर क्वैश्चंस एनसीईआरटी बुक से ही पूछे जाते हैं।

पर्सनैलिटी की परीक्षा

इस एग्जाम में रिटेन टेस्ट के दो पा‌र्ट्स हैं, पहले में शॉर्ट एसे, प्रेसाइज राइटिंग, लेटर राइटिंग से जुडे क्वैश्चंस पूछे जाते हैं, जबकि दूसरे में जनरल अवेयरनेस व इंग्लिश ग्रामर के ऑब्जेक्टिव टाइप करीब 30 क्वैश्चंस होंगे।

सक्सेस टिप्स


-एक क्रममें सटीक और सही बातें हों।

-भाषा, सरल, सहज, सटीक होनी चाहिए।

-समसामयिक मुद्दों पर विजन डेवलप करें।

-हर रोज लिखकर इंग्लिश की प्रैक्टिस करें।

-प्रैक्टिस वर्क अपने मेंटर को दिखाएं।

-अखबारों के एडिटोरियल पेज जरूर पढें।

इंटरव्यू

इंटरव्यू में आपकी पर्सनैलिटी की परख की जाती है। आपकी क्या स्ट्रेंथ है, क्या कमजोरियां हैं, देश के डिफेंस सिस्टम के बारे में क्या जानते हैं? टेरिटोरियल आर्मी के बारे में आप क्या जानते हैं? रिटेन टेस्ट और इंटरव्यू दोनों ही क्वॉलिफाइंग होते हैं, उसके बाद आपको एसएसबी इंटरव्यू में भेज दिया जाता है।

प्रैक्टिस दिलाएगी सक्सेस

अगर सही दिशा में सुनियोजित तरीके से तैयारी की जाए, तो यह एग्जाम पास करना आसान है। इसके लिए आप प्लान करके करेंट अफेयर्स और डिफेंस से जुडी जानकारियों की अच्छी तैयारी करें। अपनी पर्सनैलिटी से जुडी चीजों को एनालाइज करके उनसे जुडे क्वैश्चंस के आंसर तैयार रखें।

Related Categories

    Related Stories