Jagran Josh Logo

सृजनात्मक सोच में आगे बढ़ें

May 22, 2013 17:12 IST

    प्रिय मित्रो,

    कहते हैं आदम और हव्वा से इस धरती पर मानव जाति की शुरुआत हुई थी। क्या था उस समय? प्रकृति एवं संसाधनों का भंडार। मानव ने उसका अपने अनुरूप उपयोग करते हुए जीवन को आगे बढाया और निरंतर बढा रहा है। प्रभु ने मानव को Creativityका अमूल्य गिफ्ट दिया है जिसे उसने जीवन के हर हिस्से में प्रयोग किया है। जरा थोडी देर के लिए इस स्तंभ से नजर हटाकर अपने इर्द गिर्द देखें। आपको हर वस्तु में मानवीय Creativity की झलक नजर आएगी। एक उदाहरण देना चाहूंगा। सदियों पहले किसी मनुष्य ने एक लुढकता हुआ पत्थर देखा था। उसे पहिया बनाने की प्रेरणा मिली। तब से अब तक पहिये की गोलाई में तो कोई फर्क नहीं आया परन्तु पहिये के आकार, प्रकार और उपयोग में लगातार परिवर्तन आ रहे हैं। है न यह मानवीय Creativity की सदैव उन्नति की ओर अग्रसर यात्रा? अब जरा अपनी बात लेते हैं? आप कितने Creativity हैं? क्या कहा कोर्स की रटंत विद्या और आफिस की रूटीन जिंदगी में होने या बनने का कोई स्कोप नहीं है? scientist कहते हैं कि Installed capacity of the  Brain is17 trillion thoughts  per seconds जब प्रभु ने हम सब को यह अमूल्य तोहफा दिया है तो CreativeThinking की Capacity भी हम सब में है। यदि हम इसका सही प्रयोग न करें तो गलती किसकी? कुछ समय के लिए सिर्फ कोर्स और Office की लक्ष्मण रेखा से ऊपर उठकर अपने जीवन को पूरी तरह से देखें व सोचें। हम कहां और कैसे Creative बन सकते हैं? मैं इस विषय पर बहुत कुछ कह सकता हूं पर इस स्तंभ की सीमा को ध्यान में रखते हुए आज आपको अपने भीतर की तीनAbilities (क्षमताओं) को पहचानने की सलाह दूंगा।

    Synthetic Ability : यह हमारे नए, निराले और Interesting Ideas पैदा करने की क्षमता है। यह किसी भी क्षेत्र में हो सकती है। हो सकता है कि जब भी आप कोई ऐसी बात करें तो लोग उसे न मानें या आप पर हंसे। लोगों की वजह से अपनी इस क्षमता को कम या नष्ट न होने दें। लोग तो बिजली भी नहीं चाहते थे और Mobile फोन भी नहीं चाहते थे, लोग तो यह भी नहीं मानते थे कि मानवीय अंग Transplant भी हो सकते हैं, लेकिन किसी ने तो सोचा और यह सब संभव हो सका। हमारे समक्ष ऐसे लाखों उदाहरण हैं। जरूरी नहीं कि आप कुछ बहुत बडा सोचें। अपनी Curiosity को बढावा देंगे तो रोजमर्रा के जीवन में, आपकी पढाई में या काम में आपको अपनी इस Ability का इस्तेमाल करने के असंख्य अवसर मिलते रहेंगे।

    Analytical Ability :विचार अच्छा या बुरा हो सकता है, दमदार या कमजोर हो सकता है परंतु इसका निर्धारण कैसे हो? Creativeव्यक्ति Ideas का Analyse  और Evaluate करके उससे लाभान्वित होने की संभावनाओं को देखता है। अपने कोर्स की पढाई को भी आप इस प्रकार से देख सकते हैं। जैसे, खाने-पीने में Chemistrye के ज्ञान से न्Awalysis मम्मी के लिए shopping करते हुए Commerce की पढाई द्वारा Evaluation इत्यादि।

    Practical Ability : कोई भी नया आइडिया अपने आप ही दूसरों के द्वारा स्वीकृत नहीं होता है। Idea की खूबियों को दूसरों से Sell करना पडता है। वह तभी हो पाएगा जब आप अपने Idea को Practical  स्वरूप देकर दूसरों को उसके द्वारा लाभ मिलने की झलक दिखा सकें। हो सकता है कि ये बातें अभी आपको अजीब या समय से पहले लगें।

    खुद को पहचान कर इस ओर चलेंगे तो यकीनन भविष्य में अपनी अच्छी पहचान बना पाएंगे और एक सफल इंसान बन जाएंगे.

    Commented

      Latest Videos

      Register to get FREE updates

        All Fields Mandatory
      • (Ex:9123456789)
      • Please Select Your Interest
      • Please specify

      • By clicking on Submit button, you agree to our terms of use
        ajax-loader
      • A verifcation code has been sent to
        your mobile number

        Please enter the verification code below

      Newsletter Signup
      Follow us on
      X

      Register to view Complete PDF