Search

दुनिया में 10 सबसे पुराने सेंट्रल बैंक

देश में आर्थिक स्थिरता बनाए रखने के लिए देश के केंद्रीय बैंक की एक महत्वपूर्ण भूमिका होती है। आइए दुनिया के सबसे पुराने केंद्रीय बैंको के बारे में जाने।

May 16, 2017 17:05 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

Oldest Central Banks

देश की अर्थव्यवस्था के विकास में देश का सेंट्रल बैंक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। देश के केंद्रीय बैंक देश में वित्तीय स्थिरता को बनाये रकने के साथ-साथ अन्य विकासशील भूमिकाये निभाता है । यहां दुनिया के कुछ सबसे पुराने केंद्रीय बैंकों की सूची दी गई है।

1. स्वेरेगेस रिक्शबैंक, या रिक्सबैंक: स्वेरिगेस रिक्स्बैंक, या रिक्सबैंक स्वीडन का केंद्रीय बैंक हैं। यह दुनिया का पहला या सबसे पुराना केंद्रीय बैंक है । यह बैंक वर्ष 1668 में 20 कर्मचारियों के साथ स्थापित किया गया था। मुद्रा जारी करने के अलावा यह बैंक देश में मौद्रिक नीति की घोषणा करता है और यह सुनिश्चित करता है कि अर्थव्यवस्था में भुगतान सुरक्षित और कुशलतापूर्वक किया जा रहा है।

2. बैंक ऑफ इंग्लैंड: बैंक ऑफ़ इंग्लैंड यूनाइटेड किंगडम का सेंट्रल बैंक है। बैंक को वर्ष 1694 में स्थापित किया गया था। वर्ष 1946 में यूनाइटेड किंगडम सरकार द्वारा बैंक का राष्ट्रीयकरण 1946 कर दिया गया था । देश की संसद ने मौद्रिक और वित्तीय स्थिरता बनाए रखने के लिए, कानून के माध्यम से बैंक को शक्तियां प्रदान की हैं।

3. बैंक ऑफ स्कॉटलैंड: स्कॉटलैंड का पहला और सबसे पुराना बैंक, बैंक ऑफ़ स्कॉटलैंड की स्थापना वर्ष 1695 में स्कॉटिश संसद के एक अधिनियम द्वारा की गई थी। मुख्य रूप से यह बैंक इंग्लैंड और अन्य देशों के साथ व्यापार करने के लिए स्थापित किया गया था। बाद में इसे स्कॉटिश संसद द्वारा देश में मुद्रा जारी करने तथा अन्य अधिकार दिए गए ।

4. बैंको डी एस्पना: बैंको डी एस्पना (Banco de España) स्पेन का राष्ट्रीय केंद्रीय बैंक है। यह रॉयल वारंट किंग कार्लोस III द्वारा वर्ष 1782 में स्थापित किया गया था। बैंक 1994 में यूरोपीय सेंट्रल बैंकिंग सिस्टम में शामिल हो गया ।

5. बैंक्य डी फ्रांस: फ्रांस के सेंट्रल बैंक, बैंक्य डी फ्रांस (Banque de France)की स्थापना वर्ष 1800 में की गयी। बैंक यूरोसिस्टम का सबसे मजबूत स्तंभ है। बैंक्य डी फ्रांस यूरो बैंक नोटों का सबसे बड़ा प्रिंटर है और यूरोपीय सेंट्रल बैंक (ईसीबी) के हर फैसले को कार्यान्वित करने के लिए भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

6. बैंक ऑफ़ फिनलैंड: बैंक ऑफ़ फिनलैंड देश का मौद्रिक प्राधिकारी और फ़िनलैंड का केंद्रीय बैंक है। यह दुनिया का चौथा सबसे पुराना राष्ट्रीय केंद्रीय बैंक है । यह बैंक वर्ष 1819 में स्थापित किया गया था।

1995 में, एक जनमत संग्रह के बाद, फिनलैंड यूरोपीय संघ का सदस्य बन गया। बैंक यूरो प्रणाली का भी हिस्सा है । यूरो प्रणाली , यूरो क्षेत्र में मौद्रिक नीति और अन्य केंद्रीय बैंक कार्यों के लिए जिम्मेदार है और दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी मुद्रा – ‘यूरो’ का प्रबंध करता है। बैंक का मुख्य उद्देश्य " देश की वित्तीय प्रणाली को स्थिर और सुरक्षित रखना" है।

7. डी नीदरलैंडशे बैंक (डीएनबी): नीदरलैंड के केंद्रीय बैंक, डी नीदरलैंडशे बैंक(De Nederlandsche Bank) देश में वित्तीय स्थिरता के लिए जिम्मेदार है। बैंक वर्ष 1884 में किंग विलियम I द्वारा जारी किए गए चार्टर द्वारा स्थापित किया गया था। अब, डीएनबी 1998 के बैंक अधिनियम, वित्तीय पर्यवेक्षण अधिनियम, डच नागरिक संहिता, डीएनबी के एसोसिएशन के लेख और प्रक्रिया के नियमों के प्रावधानों के तहत चल रहा है। यह पर्यवेक्षण, संकल्प और जमा गारंटी योजना के लिए एक राष्ट्रीय जनादेश के साथ एक स्वतंत्र सार्वजनिक निकाय है।

बैंक केंद्रीय बैंकों की यूरोपीय प्रणाली और यूरोसिस्टम का हिस्सा है, और मौद्रिक नीति, विदेशी मुद्रा संचालन आदि के क्षेत्रों में अपने यूरोपीय समकक्षों के साथ सहयोग करता है।

8. नोर्गेस बैंक: नोर्गेस बैंक नॉर्वे का केंद्रीय बैंक है, जो कि वर्ष 1816 में स्थापित हुआ था। नोर्गेस बैंक की गतिविधियों को 24 मई 1985 के नोर्गेस बैंक और मौद्रिक प्रणाली अधिनियम द्वारा नियंत्रित जाता है। बैंक देश में आर्थिक स्थिरता के लिए उत्तरदायी है।

9। ओस्टररेचिस नेशनलबैंक (ओएएनबी): ऑस्ट्रिया गणराज्य के केंद्रीय बैंक ओस्टररेचिस नेशनल बैंक (Oesterreichische Nationalbank) वर्ष 1816 में स्थापित किया था। अब बैंक सेंट्रल बैंकों (European System of Central Banks, ESCB) की यूरोपीय प्रणाली का एक अभिन्न अंग है। ओएएनबी ऑस्ट्रिया और यूरो क्षेत्र में मौद्रिक और आर्थिक नीति निर्णय लेने के लिए योगदान देता है।

10. डेनमार्क नेशनल बैंक: बैंक 1818 में स्थापित किया गया था। हालांकि, बैंक 1936 से एक स्वतंत्र निकाय के रूप में कार्य कर रहा है ।  बैंक देश में मौद्रिक नीति का निर्धारण करने के लिए पूरी तरह जिम्मेदार है। स्थिर मूल्य, सुरक्षित भुगतान और एक स्थिर वित्तीय प्रणाली सुनिश्चित करने के लिए बैंक के तीन मुख्य उद्देश्य है।

2017 में होने वाली 7 टॉप बैंकिंग परीक्षाएं !

Related Stories