Search

पहले प्रयास में ही MBA जॉब इंटरव्यू क्रैक करने के 13 प्रभावी टिप्स

एमबीए उम्मीदवार के लिए, प्लेसमेंट सीजन और जॉब इंटरव्यू हमेशा चिंताजनक और घबराहट भरा होता है. कैम्पस सेलेक्शन हेतु कॉलेज कैम्पस के लिए आने वाली बहुत सारी कंपनियां बहुत अच्छे पैकेज पर उम्मीदवारों का सेलेक्शन करती हैं. इस दौरान अक्सर छात्र अपने करियर को लेकर डाइलेमा की स्थिति में होते हैं तथा सही निर्णय ही नहीं ले पाते हैं.

Jun 7, 2017 13:05 IST

एमबीए उम्मीदवार के लिए, प्लेसमेंट सीजन और जॉब इंटरव्यू हमेशा चिंताजनक और घबराहट भरा होता है. कैम्पस सेलेक्शन हेतु कॉलेज कैम्पस के लिए आने वाली बहुत सारी कंपनियां बहुत अच्छे पैकेज पर उम्मीदवारों का सेलेक्शन करती हैं. इस दौरान अक्सर छात्र अपने करियर को लेकर डाइलेमा की स्थिति में होते हैं तथा सही निर्णय ही नहीं ले पाते हैं.

इसके साथ-साथ, अन्य कारक भी हैं जो उन्हें अक्सर परेशान करते हैं,उनमें से कुछ हैं :

  • क्या यह सही कंपनी है जिसमें मैं इस वक्त इंटरव्यू दे रहा हूँ ?
  • मुझे कितनी सैलरी मिलेगी ?
  • क्या सैलरी से मेरी शिक्षा में निवेश किये गए पैसों की भरपाई हो पाएगी ?
  • वेतन पैकेज मेरी शिक्षा में निवेश किए गए आरओआई के लिए पर्याप्त होगा?
  • क्या मेरा रिज्यूमे इंटरव्यूअर को प्रभावित करेगा या फिर दूसरा बनाना पड़ेगा?
  • मैं उनके साथ कैसे इंटरैक्ट करूंगा ?
  • पहली नज़र में उन्हें प्रभावित करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए ?
  • मैं अपने एक्सीलेंट स्किल्स को इंटरव्यूर के सामने कैसे दिखाऊं ?

ये कुछ ऐसे सवाल हैं जो अक्सर छात्रों के मन में उठते हैं और इसके सही उत्तर की तलाश में उहापोह की स्थिति में होते हैं.

 

mba interview, job interview

हमारा मानना ​​है कि एक उत्कृष्ट प्रोफ़ाइल और ग्रेड के साथ, यदि आप कुछ बुनियादी इंटरव्यू नियमों का ख्याल रखते हैं तो यकीन मानिए शत प्रतिशत आपका सेलेक्शन होना संभव है.

बी-स्कूल में कैम्पस सेलेक्शन के लिए आई कम्पनियों द्वारा सेलेक्ट होने के लिए आप नीचे दिए गए कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं पर गौर कर सकते हैं

इंटरव्यू से पहले

  • कंपनी के विषय में पूर्ण जानकारी प्राप्त करें -: एमबीए जॉब इंटरव्यू एमबीए उम्मीदवार के लिए जीवन का एक महत्वपूर्ण फेज होता है क्योंकि इसी समय छात्र अपने करियर का निर्णय लेते हैं. यदि कैम्पस में आने वाली सभी कंपनियों के विषय में जानना संभव न हो तो कम से कम जिस कंपनी में आप इंटरव्यू देने जा रहे हैं उसके विषय में ए से लेकर जेड तक सारी जानकारी इकठ्ठा करें.कंपनी और उसके इतिहास की पृष्ठभूमि, नए प्रोडक्ट या सेवाओं को जिन्हें लॉन्च किया जा रहा है, उनके टारगेट ग्रुप्स,मिशनऔर विजन जैसे महत्वपूर्ण पहलुओं को जानें. ये कुछ ऐसे फैक्ट्स हैं जिन्हें आपकी टिप्स पर होना चाहिए क्योंकि इंटरव्यूअर किसी भी ऑर्गनाइजेशन में शामिल होने के पीछे की प्रेरणा और भावी नौकरी के बारे में जागरुकता आदि विषयों को जानने के लिए आपसे कई सवाल कर सकते हैं.
  • सैलरी के विषय में पता करें : जब यदि आप अपने कैम्पस से बाहर कोई इंटरव्यू देने जा रहे हैं तो आप पोस्टग्रेजुएशन लेवल पर फ्रेशर्स को दी जाने वाली सैलरी के विषय में पता करें. आपको पता होना चाहिए कि हर कंपनी का सैलरी स्लैब अलग अलग होता है. जब कैम्पस सेलेक्शन के तहत इंटरव्यू देते हैं तो रिक्रूटर्स आम तौर पर अपेक्षित सैलरी बैंड की घोषणा करते हैं,जिसे क्वालीफाई करने के बाद आप पाने के हकदार होते हैं.लेकिन अगर आपको पहले से सैलरी बैंड नहीं बताया जा रहा है तो संबंधित इंडस्ट्री के सैलरी रुझानों के बारे में छानबीन करें और सही जानकारी प्राप्त करें.
  • अपने रिज्यूमे को व्यवस्थित करें : हाँ, अपने रिज्यूमे को पुनः व्यवस्थित करें. कहते हैं फर्स्ट इम्प्रेशन इज  लास्ट इम्प्रेशन और फर्स्ट इम्प्रेशन आपके रिज्यूमे से ही पड़ता है. वे आपकी एकेडमिक खूबियों तथा एक्स्ट्रा करिकुलर एक्टिविटीज, अनुभव तथा आपके कमजोर और सुदृढ़ पक्षों को दर्शाते हैं. इसलिए इसमें अपने स्किल्स का अच्छे तरीके से वर्णन करना चाहिए.अपने अनुभव(यदि कोई हो),ताकत,प्रोजेक्ट्स या इंटर्नशिप तथा पर्सनल जानकारी को हाइलाइट करें. अपना रिज्यूमे इस तरह बनायें कि यह इंटरव्यूएर को अपील कर सके. नीचे एक रिज्यूमे का उदाहरण दिया गया है. इसे देखकर आप समझ सकते हैं.

 

job interview tips, interview techniques

 

4.  समय मायने रखता है  : किसी ने समय के महत्व को समझाते हुए लिखा है “एक महान दिन की शुरुआत एक रात पहले से ही शुरू होती है" यदि आप दिए गए किसी काम को समय पर पूरा करते हैं या फिर ऑफिस निर्धारित समय से 10-15 मिनट पहले ही पहुँचते हैं तो इससे लोग तथा एम्प्लॉयर आपसे प्रभावित होते हैं तथा इससे आपकी अच्छी छवि बनती है. यदि आप जॉब इंटरव्यू में इंटरव्यू के स्थान पर कुछ समय पूर्व ही पहुँच जाते हैं तो इससे आपकी सकारात्मक छवि बनती है तथा आपके सेलेक्ट होने की संभावना बढ़ जाती है.

इंटरव्यू के दौरान

यहां कुछ युक्तियां दी गई हैं जिन्हें आपको इंटरव्यू में जाने से पहले अवश्य अपने ध्यान में रखना चाहिए और इंटरव्यू पैनल द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब देना चाहिए.

5.पैनल को ग्रेस करें : इलिनोइस यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि हैंडशेक उम्मीदवार में आशावाद, क्षमता और भरोसेमंदता को प्रोत्साहित करता है, तो, अपनी हैंडशेक फर्म रखें, हथेली को हथेली से पकड़ कर हाँथ मिलाएं रिक्रूटर्स या इंटरव्यूअर का सभ्यता के साथ अभीवादन करें. चेहरे पर एक हल्की मुस्कान रखें और उनसे आंखे मिलाकर बातें करें. बहुत लम्बे समय तक हाँथ मिलाते नहीं रहें. इससे ऐसा लग सकता है कि आप इंटरव्यू के बारे में परेशान हैं या फिर असंवेदनशील हैं.       

6.  बॉडी पोस्चर को मेंटेन रखें : जब आप इन्टरव्यू के लिए बैठते हैं तो इन्टरव्यूअर्स द्वारा आपके बॉडी पोश्चर पर बहुत ध्यान दिया जाता है. एक्सपर्ट की राय है कि इस समय कुर्सी को खींचें नहीं और उस पर आत्मविश्वास के साथ रीढ़ की हड्डी सीधी रखते हुए बैठें. कुर्सी पर बैठकर पैरों के बीच क्रॉस नहीं बनाएं. सामान्य और स्वाभाविक पोश्चर में बैठें. बातचीत करते समय अपने सिर को सीधे रखें क्योंकि यह आपके आत्मविश्वास को दर्शाता है और आपको शांत और रिलैक्स दिखाता है.

7. आई कॉन्टेक्ट बनाये रखें : आई कॉन्टेक्ट एक और महत्वपूर्ण पहलू है जो आपके दिमाग की स्थिति को प्रदर्शित करता है. इन्टरव्यू के दौरान आई कॉन्टेक्ट बनाए रखना आवश्यक होता है. इससे आप इन्टरव्यूअर के सामने अपनी मानसिक सुदृढ़ता का परिचय दे पाएंगे. यदि आप ऐसा नहीं कर पाते तो इससे आपमें आत्मविश्वास की कमी झलकती है.

8. विनम्र रहें - :  इन्टरव्यूर के साथ आपकी बातचीत का यह एक बहुत महत्वपूर्ण पहलू है. वे आपको सुनने के लिए हैं और अपने व्यक्तित्व की विभिन्न बारीकियों का पता लगाते हैं. आपका शिष्टाचार ही आपके सच्चे व्यक्तित्व को प्रतिबिंबित करेगा. उत्तर देने के दौरान विनम्र रहें और रुचि रखने वाले विषय पर अपने विचार व्यक्त करते समय बोर्ड पर हावी न हों.अगर आपके विचार से इन्टरव्यूअर सहमत नहीं हैं तो उनके साथ बहस न करें.

इन्टरव्यूअर से बात करते समय अनौपचारिक न हों.यह आपके आस-पास की स्थिति के प्रति आपके आकस्मिक दृष्टिकोण को इंगित कर सकता है. इन्टरव्यू देने से पहले प्रश्नों की एक सूची तैयार करें और उनका पूरी तरह से अभ्यास करें. आप जिस कंपनी में अप्लाई करते हैं उसके आधार पर जवाबों का उत्तर दें या विचारपूर्वक जवाब दें. 'सेवज चिकन' कॉमिक स्ट्रिप में नीचे दी गई स्थिति में आपका इन्टरव्यू समाप्त नहीं होना चाहिए.

job interview tips, interview techniques

 

बातचीत के दौरान प्लीज तथा थैंक्यू कहना न भूलें.

9. काम को लेकर ईमानदार रहें : अपनी उपलब्धियों और काम के बारे में ईमानदार होना बहुत ही जरुरी है.इन्टरव्यूअर से उस काम के बारे में कभी भी झूठ मत बोलिए जिसे आप नहीं कर रहें हैं.यदि आप किसी प्रोजेक्ट के लिए टीम के काम में शामिल थे तो उसके सिर्फ उसी हिस्से का बयान कीजिये जिसमें आपने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है. टीम वर्क की हमेशा सराहना की जाती है. पूरे काम की क्रेडिट खुद ही लेने की कोशिश मत कीजिये. जिस विषय में आपकी पकड़ मजबूत है तथा आप उसमें पूरी तरह से सहज हैं तो इन्टरव्यूअर के मार्गदर्शन के लिए अपनी रूचि वाले क्षेत्रों के बारे में ही बातचीत करें. इससे आपको इन्टरव्यूअर को इम्प्रेस करने में बहुत मदद मिलेगी.

10. अगर जरुरत पड़े तो इन्टरव्यूअर से प्रश्न पूछें : जिज्ञासा हमेशा गलत नहीं होती है.आवश्यकता पड़ने पर पर उत्सुक होना अच्छा होता है. इन दिनों, रिक्रूटर्स  उम्मीदवार को प्रश्न पूछने या आवश्यकता पड़ने पर स्पष्टीकरण देने का मौका भी देते हैं.आप कुछ सामान्य प्रश्न पूछ सकते हैं जैसे कि "क्या आप मुझे मेरे प्रोफाइल पर काम करने वाले किसी एम्पलॉयी से मिला सकते हैं? इसके अतिरिक्त आप अपने प्रोफाइल से जुड़े कार्यों तथा जिम्मेदारियों के विषय में जान सकते हैं. आप अपनी इस प्रोफाइल की विकास संभावनाओं के बारे में भी पूछ सकते हैं.

इन्टरव्यू के बाद

11. एचआर पर्सनल्स के साथ फॉलो-अप करें : इन्टरव्यूअर या एचआर पर्सनल्स के साथ फॉलो-अप कॉल उस जॉब में आपकी रूचि को प्रदर्शित करता है. अकाउंटम्प्स के एक सर्वे स्टडी के अनुसार एचआर पर्सनल्स निम्नांकित माध्यमों से संपर्क करना पसंद करते हैं.

  • ईमेल - 87%
  • फोन कॉल - 81%
  • हैण्डरिटेन नोट - 38%
  • सोशल मीडिया - 27%
  • टेक्स्ट मैसेज- 10%

किसी भी एचआर मैनेजर को अप्रोच करने के लिए इन आंकड़ों पर विचार करना उचित है. इसलिए, हम अनुशंसा करते हैं कि आप एचआर पर्सनल्स से संपर्क करने के लिए ईमेल, फोन कॉल या हैण्डरिटेन नोट का चयन करें.

 

 

job interview tips, interview techniques

 

कॉल करते समय आप निम्नांकित तरीके से बातचीत कर सकते हैं तथा वार्तालाप को सुचारू रूप से जारी रखने के लिए नीचे दिए गए नमूने का उपयोग कर सकते हैं-

हाय श्री XYZ! मैं श्वेता सामंत बोल रही हूँ. कल मैंने कंटेंट राईटर के लिए इन्टरव्यू दिया था और मुझसे मिलने के लिए समय देने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद. जॉब प्रोफाइल से जुड़े विषयों में पूर्ण जानकारी देने के लिए आपको और पैनल के मेम्बर्स को भी धन्यवाद. मुझे आपलोगों से मिलकर खुशी हुई. अगर मेरे विषय में कोई भी जानकारी मुझे देनी हो तो कृपया मेरे मोबाइल नंबर पर देने की कोशिश करें (अपना मोबाइल नंबर दें). एक बार फिर से धन्यवाद. आशा करती हूँ आपकी तरफ से पोजिटिव खबर मिलेगी.

12. सोशल मीडिया पर प्रचार न करें: कभी भी अपने इन्टरव्यू के बारे में कुछ भी सोशल मीडिया पर शेयर नहीं करें. हो सकता है कि इंटरव्यूअर आपके सोशल मीडिया प्रोफाइल के माध्यम से अपने व्यक्तित्व को समझने की कोशिश करे.संभावित रिक्रूटमेंट मैनेजर या एचआर प्रोफेशनल्स को फ्रेंड रिक्वेस्ट भी न भेजें. भावावेश में आकर किये गए ये सभी कार्य आपकी गलत छवि बना सकते हैं.

13. फॉलो-अप इन्टरव्यू के लिए तैयार रहें : फॉलो-अप इन्टरव्यू अपनी पहली मीटिंग में छोड़े गए छाप को समझने के लिए एक पहल हो सकता है. फॉलो-अप इन्टरव्यू में आप व्यक्तिगत और व्यावसायिक दोनों स्तरों पर अपने विषय में सहजता से जान सकते हैं क्योंकि इन्टरव्यूअर से इस समय आराम से बातचीत करने की उम्मीद होती है.आखिरकार, संभावित एम्प्लॉयर आपको ऑन-बोर्ड पर भर्ती के अपने निर्णय की पुष्टि करना चाहता है.

इसके लिए आप अपने स्किल्स के विषय में गहराई से तैयारी करें. इस दौरान इन्टरव्यूअर आपसे यह पूछ सकता है कि यदि आपको किसी काम से 6 महीने के लिए बाहर भेजा जाय तो आप जाने को राजी होंगे या नहीं. यह इन्टरव्यू आपका मनोवैज्ञानिक परीक्षण होगा और यह निर्धारित करेगा कि आप कंपनी के लिए उपयुक्त हैं या नहीं.

ऊपर वर्णित सभी उक्तियां एमबीए जॉब इन्टरव्यू की तैयारी में मददगार साबित होंगी. आशा है छात्र इनका सही तरीके से इस्तेमाल कर लाभान्वित होंगे.