अपने मेटाबोलिज्म को सक्रिय रखने के लिए रोजाना करें इन 5 खाद्य पदार्थों का सेवन

मेटाबोलिज्म मनुष्य के स्वास्थ्य का एक अहम् हिस्सा है. यहाँ हमने इसको दुरुस्त रखने के लिए 5 खाद्य पदार्थों का जिक्र किया है.

Created On: Feb 12, 2018 11:50 IST
Metabolism-boosting foods
Metabolism-boosting foods

आपका शरीर विभिन्न खनिजों और विटामिनों का मंदिर है और आपको इसे अच्छे आकार में रखने  के लिए इसकी  पूजा करनी चाहिए. आपके सुबह के नाश्ते से ले कर रात के डिनर तक शरीर को मेटाबोलिज्म की मदद की जरुरत होती है जो खाना पचाने की प्रक्रिया को संचालित करता है. लेकिन अगर आपकी जीवन-शैलीगतिहीन हैं तो आपको मेटाबोलिज्म से संबंधी समस्याएं होने के ज्यादा चांसज   हैं. इससे पहले कि आपकी निष्क्रिय जीवनशैली आपके सक्रिय मेटाबोलिज्म को ज्यादा नुक्सान पहुंचाए  इन खाद्य पदार्थों पर एक नज़र डालें जो आपको स्वस्थ रहने में मदद करेंगे.

 1. चॉकलेट

चॉकलेट प्रेमी के लिए, इस इस चीज का नाम ही एक खुशी की बात होती है. डार्क चॉकलेट को मैग्नीशियम का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता. मैगनीशियम वसा को गलाने वाले  हार्मोन को उत्तेजित करता है जो शरीर में भोजन को पचने की प्रक्रिया को गति देता है. तो अगली बार जब आपके सहकर्मी आपको चॉकलेट खाने से करेंगे तब आप उन्हें भी चॉकलेट का यह फायदा बताएं. और नजदीकी दुकान से उन्हें चॉकलेट खरीद के खिलाएं.

2. कॉफी                                     

कॉफी ऑफिस कैफेटेरिया में एक आसानी से उपलब्ध पेय है. सामान्यतया, एक पेशेवर अपनी सुबेह काफी के साथ शुरू करता है. कॉफ़ी में पाया जाने वाला कैफीन न केवल मन को ताज़ा करता है बल्कि यह मेटाबोलिज्म को  भी बढ़ाता है. डॉक्टरों के मुताबिक कैफीन ऊर्जा के रूप में काम करता है जो शरीर के मेटाबोलिज्म की दर को लगातार बढ़ाता है. यही कारण है कि आपको हर कार्यालय में कॉफी मिलती है. इसलिए अगली बार जब आप अपनी डेस्क पर नींद महसूस करते हैं  तो एक कप कॉफी लें और अपने आस-पास के आलस को अलविदा कहें.

 3. ग्रीन टी

स्वास्थ्य की जागरूकता के दौर में, हरी चाय ने कार्यालय जाने वालों के बीच ऊर्जा बढ़ा दी है. दूध की चाय के विकल्प के बारे में चिंतित लोग अब ग्रीन टी पी रहें हैं. उन्हें दूध की चाय का एक स्वास्थ्यवर्धक  विकल्प ग्रीन टी के रूप में मिला है. ग्रीन टी में एपिगॉलॉटेक्चिन गैलेट वसा गलाने की प्रक्रिया को बढ़ाता है. क्लिनिकल न्यूट्रिशन से सम्बंधित एक  अमेरिकन जर्नल ने यह खुलासा किया है कि हरी चाय-अर्क 24 घंटे की अवधि के दौरान 4 प्रतिशत तक मेटाबोलिज्म को बढ़ा देती है.

4. फलियाँ और दालें

अपने लंच बॉक्स को फलियों, दाल और भूरे चावल से पैक करें. यह आपके मेटाबोलिज्म को स्वतः ही ठीक कर देगा. दालों में, फलियों में, बीन्स में प्रोटीन की मात्र अधिक होती है. फलियों में मौजूद फाइबर एक ऐसा बैक्टीरिया बनाता है  जो आपकी आतों के लिए अच्छा होता है. गतिहीन जीवन शैली वाले लोगों के लिए फलियाँ और दाल बहुत फायदेजनक खाद्य पदार्थ हैं.

 5. पानी

पृथ्वी एकमात्र ऐसा ग्रह है जहां पानी और ऑक्सीजन पाया जाता है. यह मानव जीवन के अस्तित्व का जिम्मेदार भी है, एक तरफ जहां अत्यधिक प्रदूषण के कारण ऑक्सीजन अशुद्ध हो रहा है और दूसरी ओर पानी भी दूषित हो रहा है. तो साफ़ पानी पीने की कोशिश करें. पानी आपके सक्रिय मेटाबोलिज्म को सही रखनेका सबसे अच्छा स्रोत है. जल के साथ हाइड्रेटेड रहने से मेटाबोलिज्म की दर में 30 प्रतिशत की वृद्धि होने की संभावना  रहती   है. लेकिन एक सवाल यह भी उठता है कि शरीर के मेटाबोलिज्म की दर को दुरुस्त रखने के लिए कितने पानी की खपत की जानी चाहिए? आम तौर पर डॉक्टरों का कहना है कि हर दिन 8 गिलास पानी पीने से बहुत सी बीमारियों से बचा जा सकता है.

अपने प्रियजनों के साथ इस लेख को साझा करें और उन्हें एक सक्रिय मेटाबोलिज्म बनाए रखने में मदद करें. हमारे साथ अपने वो अनुभव भी साझा करें जो आपको कार्यालय में स्वस्थ रहने में मदद करता है.

 

Related Categories

Related Stories

Comment (0)

Post Comment

7 + 4 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.