]}
Search

ये 7 बेहतरीन टिप्स आपको हर हाल में रखेंगी मानसिक रूप से मजबूत

सफलता बोर्ड एग्जाम में अच्छे मार्क्स लाने पर मिले या क्लास में हमेशा अच्छे प्रदर्शन पर मिले या अपने करियर के लक्ष्य को एक-एक कर पूरा करने पर मिले| इन सभी बातों में जो चीज़ सबसे ज्यादा महत्त्व रखती हैं वह यह है कि आपको मानसिक रूप से खुद को हमेशा तैयार रखना चाहिए|आज इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहें हैं जिनकी मदद से आप आसानी से सफलता की ऊँचाइयों तक पहुँच सकते हैं|

Feb 25, 2019 16:42 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
critical habits of mentally strong people
critical habits of mentally strong people

परीक्षा का समय काफी करीब है, छात्र एग्जाम की तैयारी में लगे हैं......यह एक ऐसा समय होता है जब तैयारी के साथ-साथ आपको अपने परीक्षा के लिए मानसिक रूप से भी तैयार होना अति आवश्यक है. क्यूंकि कई बार ऐसा होता है कि आप परीक्षा की तैयारी तो अच्छी तरह कर लेते हैं लेकिन परीक्षा को लेकर छात्रों में जो डर बना होता है वह उससे बहर नहीं निकल पाते हैं जिस कारण अच्छी तैयारी होने के बाद भी छात्र परीक्षा में अच्छी तरह पेर्फिर्म नहीं कर पाते हैं.   मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति ही सफलता की ओर आसानी से कदम बढ़ा सकता है क्यूंकि हर एक वयक्ति अपने लक्ष्य में सफल होना चाहता है, चाहे वह सफलता बोर्ड एग्जाम में अच्छे मार्क्स लाने पर मिले या क्लास में हमेशा अच्छे प्रदर्शन पर मिले या अपने करियर के लक्ष्य को एक-एक कर पूरा करने पर मिले| इन सभी बातों में जो चीज़ सबसे ज्यादा महत्त्व रखती हैं वह यह है कि आपको मानसिक रूप से खुद को हमेशा तैयार रखना चाहिए| आज इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहें हैं जिनकी मदद से आप आसानी से सफलता की ऊँचाइयों तक पहुँच सकते हैं|

1. सकारात्मक सोच है ज़रूरी :

सकारात्मक सोच आपके जीवनशैली को काफी प्रभावित करती है| खुद को मानसिक रूप से मजबूत करने के लिए अपने अन्दर की सभी नकारात्मक सोच को ख़तम करें| किसी भी काम को शुरू करने से पहले ये नही सोचें की ये काम मुझसे हो ही नही सकता या फिर ये की, क्या ये मुझसे हो पायेगा?..... इस तरह के दुविधा से बाहर निकल कर आगे बढ़ने की कोशिश करें| हमेशा अपने अचीवमेंट्स को याद करें और खुद को मोटीवेट कर अपने गोल के प्रति आगे बढ़ते रहें| आपकी सकारात्मक सोच आपकी सफलता में काफी अहम भूमिका रखती है और आपके लक्ष्य को पूरा करने में काफी सहायक भी साबित होती है|

2. अपने निर्णय के प्रति मानसिक स्तर से रहें मजबूत :

मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति बनना कभी-कभी खुद को लोगों की नज़र में अलग और बुरा भी बना देता है लेकिन आपको अपने लक्ष्यों को पूरा करने के लिए अपने कार्यों को पहले प्राथमिकता देना ज़रूरी है| कभी-कभी अपने कार्यों को प्राथमिकता देने के कारण मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति अपने लोगों को निराश भी करते हैं जिसके कारण कुछ समय के लिए आपको तनाव भी महसूस हो सकता है| जैसे ऐसा कई बार हो सकता है कि आपने अपने लक्ष्य के अनुसार जो अपना समय-सरणी तैयार किया है उसमें आप अपने दोस्तों को समय नही दे रहें, या कई गतिविधियों में कम समय देना पड़ रहा है या यह भी हो सकता है कि आपके लक्ष्य की प्राथमिकता के अनुसार आपको कई बार दो कार्यों में से एक चुनना पड़ेl ऐसी सभी चुनौतियों के लिए आपको तैयार रहना होगा| क्यूंकि इसका सामना आपको ही अकेले करना है|

3. अपनी गलतियों से सीखने के लिए तैयार रहें :

गलती करना अच्छी बात है लेकिन ही गलती को बार-बार दोहराना बहुत बड़ी गलती है l हमेशा अपनी पुरानी गलतियों से सीखने की कोशिश करें और उन गलतियों को जीवन में और कभी नहीं दोहराएँ जैसे की पिछली कक्षा में हो सकता है आपने अपने पढाई करने की रणनीति अच्छी बनाई हो और आपने अच्छे नंबर भी प्राप्त किए हों लेकिन किसी एक विषय में आपकी रणनीति उतनी अच्छी नहीं रही हो और उस कारण आप उस विषय में जितना अच्छा कर सकते थे नहीं कर पायें हों, तो उस गलती को आप अब सुधार सकते हैंl  

ये 7 आसान तरीकों से बनाइए अपनी कार्यक्षमता बेहतर

4. कभी हार नही मानें  :

तू खुद की खोज में निकल, तू किस लिए हताश है,

तू चल, तेरे वजूद की समय को भी तलाश हैl

कभी भी जीवन में निराश और हताश होकर हार न मानेl तब तक कोशिश करते रहें जब तक सफलता प्राप्त ना कर लेंl हमेशा जब भी हम किसी काम को शुरू करते हैं तो उसमें आने वाले मुश्किलों के लिए भी खुद को तैयार रखना चाहिए| हो सकता है कि पिछली कक्षा में आपका परिणाम उपेक्षा के अनुसार अच्छा नही हुवा हो, तो उस कारण तनाव में आकर हार मानने के बजाय ये सोंचे की अब आगे अच्छा करने के लिए क्या सही रणनीति अपनानी चाहिएl

5. अपने भीतर बदलाव लाने से डरें नहीं :

अपने भीतर अच्छे बदलाव के लिए हमेशा तैयार रहेंl  एक मोटीवेटेड व्यक्ति अपने अन्दर के बुरे स्वभावों को निकाल कर अपने अन्दर एक नया बदलाव लाने के लिए हमेशा प्रेरित रहता है और ऐसा करने के लिए शरमाने या कतराते की आवश्यकता नहींl यदि आपको अपने अन्दर अच्छे बदलाव के लिए दूसरों की मदद लेनी पड़े तो उसमें घबराएँ नहीं| नकारात्मक सोच जीवन में असफलता के अलावा कुछ नहीं देती इसलिए जीवन में हमेशा अच्छी सोच रखें और अपने भीतर अच्छे नए बदलाव लायेंl उदाहरण के लिए अगर आप एक शर्मीले स्वभाव के छात्र हैं और आपको अपनी कक्षा में प्रश्न पूछने में दिक्कत होती है तो इससे आपका ही नुकसान है और बहुत अधिक निक्सन हैl ऐसा करने से आपके सरे डाउट एकत्र होते रहेंगे और एक दिन आपके लिए बड़ी दिक्कत बन जाएँगेl इस स्वभाव को बदल डालें चाहे इसके लिए आपको कुछ भी करना पड़ेl

6. दूसरों की सफलता से खुश होना सीखें:

दूसरों के सफलता को हमेशा सम्मान दें और साथ ही उनकी सफलता पर खुशियाँ भी मनाएं| एक मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति दूसरों की सफलता से कभी नहीं जलते क्योंकि उनको अच्छी तरह पता होता है कि सफल होने के लिए कड़ी मेहनत की जरूरत होती है और हर एक सफल इंसान को उसी की मेहनत और लगन का फल मिलता है| जैसे की आपने भी अपने पढ़ने की रणनीति अच्छी बनाई होगी लेकिन परिणाम के समय आपका कोई दोस्त आपसे आगे निकल गया, इसका ये मतलब नहीं की आपने मेहनत नहीं की या आप उतने मेहनती नहीं हैं| बस आपके दोस्त की पढाई को लेकर जो रणनीति होगी वह उसके अनुसार उसे आगे बढ़ाने में ज्यादा मददगार साबित हुई होगी| तो ऐसे समय में उसकी ख़ुशी में खुश हों और अपनी चुक को भी साथ ही साथ सुधारें|

7. हमेशा शोर्ट कट रास्तें नही चुने :

धीरे-धीरे हर व्यक्ति अपने लक्ष्य के विषय में जितना ज्ञान एकत्र करते जाता है उतना ही वह अपने लक्ष्य के पास पहुँचते जाता है| इस बात का हमेशा ध्यान रखें की आप जो भी रास्ता अपने लक्ष्य में आगे बढ़ने के लिए अपना रहें है वो सही मार्गदर्शन दिखा रहा है या नहींl  जैसे आपको किसी विषय को समझने में यदि परेशानी आ रही है और आप उसमें ज्यादा समय नहीं दे कर उसे रट्टा लगाने की सोच रहें है तो ये आपके एग्जाम के समय आपको परेशानी में डाल सकता है|

शुभकामनायें !!

करियर के लक्ष्य तथा इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें

Related Stories