Search

मेधावी विद्यार्थियों को कॉलेज बोर्ड दे रहा है छात्रवृत्ति

मेधावी मगर आर्थिक रूप से कमजोर बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को भारत के जानी-मानी यूनिवर्सिटी से शैक्षिक सत्र 2019-20 में ग्रेजुएशन डिग्री प्रोग्राम करने के लिए कॉलेज बोर्ड छात्रवृत्ति दे रहा है. इस छात्रवृत्ति को पाने के लिए आपको तय मानदंडों को पूरा करने के अलावा आपकी पारिवारिक आय 0-4 लाख रूपए प्रतिवर्ष से कम होनी चाहिए.

Oct 25, 2018 12:45 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Scholarship for class 12 poor students
Scholarship for class 12 poor students

मेधावी मगर आर्थिक रूप से कमजोर बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को भारत के जानी-मानी यूनिवर्सिटी से शैक्षिक सत्र 2019-20 में ग्रेजुएशन डिग्री प्रोग्राम करने के लिए कॉलेज बोर्ड छात्रवृत्ति दे रहा है. भारत के 10 बेहतरीन कॉलेज, यूनिवर्सिटीज जैसे - अहमदाबाद यूनिवर्सिटी, अशोका यूनिवर्सिटी, अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी, बैनेट यूनिवर्सिटी, बीएमएल मुंजाल यूनिवर्सिटी, फ्लेम यूनिवर्सिटी, मानव रचना यूनिवर्सिटी, मनिपाल यूनिवर्सिटी, एसआरएम इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी, एसवीकेएमएस  एनएमआईएमएस में ग्रेजुएशन डिग्री पूरी करने के लिए आपको छात्रवृत्ति प्राप्त होगी. केवल भारत में रहने वाले विद्यार्थी जो किसी भी अन्य देश के मूल नागरिक हों वे भी कॉलेज बोर्ड इंडिया स्कॉलर्स प्रोग्राम में भाग ले सकते हैं। इस छात्रवृत्ति को पाने के लिए आपको तय मानदंडों को पूरा करने के अलावा आपकी पारिवारिक आय 0-4 लाख रूपए प्रतिवर्ष से कम होनी चाहिए. इस स्कॉलर प्रोग्राम में भाग लेने के लिए विद्यार्थियों को दिसंबर 2018, एसएटी (SAT) परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करना होगा. इच्छुक सभी विद्यार्थी “कॉलेज बोर्ड इंडिया स्कॉलर्स प्रोग्राम 2019” के लिए आवेदन कर अपनी शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता प्राप्त कर सकते हैं.

मानदंड

एसएटी (SAT) परीक्षा शुल्क में छूट हेतु:

  • विद्यार्थी जो शैक्षिक सत्र 2018-19 में 12वीं की शिक्षा (रैगुलर या डिसटेंस) प्राप्त कर रहा हों व पारिवारिक वार्षिक आय 6 लाख रूपए से कम हो, उन सभी विद्यार्थियों को सैट परीक्षा की 7000 रुपये की फीस अदा नहीं करनी होगी, अर्थात वे इस परीक्षा में निशुल्क भाग ले सकते हैं।

फुल कॉलेज ट्यूशन स्कॉलरशिप हेतु:

  • शैक्षिक सत्र 2018-19 में 12वीं की शिक्षा प्राप्त कर रहे भारत में रहने वाले विद्यार्थी जिनकी पारिवारिक वार्षिक आय 4 लाख रुपये से कम हो व (SAT) परीक्षा में 1600 में से न्यूनतम 1350 स्कोर प्राप्त करेंगे वे विद्यार्थी कॉलेज बोर्ड की 10 पार्टनर यूनिवर्सिटी से ग्रैजुएशन डिग्री पूरी करने के लिए स्कॉलरशिप प्राप्त होगी।

 अन्य मानदंड इस प्रकार हैः-

  • विद्यार्थी भारत के किसी भी राज्य में रह रहे हों व रैगुलर या डिस्टैंस लर्निंग के द्वारा बारहवीं की पढ़ाई कर रहे हों।
  • निशुल्क सैट की परीक्षा देने के लिए विद्यार्थी की पारिवारिक आय 0-4, 0-6 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • कॉलेज बोर्ड सैट परीक्षा में बेहतरीन रैंकिंग प्राप्त करने वाले विद्यार्थी जिनकी वार्षिक  पारिवारिक आय 0-4 लाख रुपये से कम होगी उन विद्यार्थियों को पार्टनर 10 यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन डिग्री प्रोग्राम करने के लिए 100 फीसदी स्कॉलरशिप प्राप्त होगा।  

लाभ/ईनाम

इस प्रोग्राम के तहत ऐसे छात्र, जिनकी पारिवारिक आय 6 लाख रुपये से कम है, उनके लिए एसएटी(सेट)  परीक्षा की फीस (लगभग 7000 रुपये) माफ़ कर दी गई है। साथ ही, ऐसे छात्र जिनकी पारिवारिक आय 4 लाख रुपये से कम है, उनकी कॉलेज बोर्ड पार्टनर यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की पूरी पढ़ाई का खर्च छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान किया जा रहा है। 

अन्य जानकारी

इस स्कॉलरशिप के लिए विद्यार्थियों को निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी।

  1. पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ
  2. भारत में रहने का वैद्य प्रमाण-पत्र (एड्रेस प्रूफ)
  3. पहचान पत्र
  4. आय प्रमाण-पत्र
  5. ग्यारहवीं की अंकसूची

अंतिम तिथि

02 नवम्बर, 2018 तक आवेदन किया जा सकता है।

आवेदन कैसे करें

इच्छुक विद्यार्थियों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

ऑनलाइन आवेदन हेतु महत्वपूर्ण लिंक

Courtesy: www.buddy4study.com

Related Stories