UP में UPSC, PCS, CDS व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की मुफ्त कोचिंग के लिए पंजीकरण शुरू - 97,000 उम्मीदवार कर चुके हैं अब तक रजिस्टर

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में 'यूपी दिवस' के अवसर पर, घोषित किया कि सरकार NEET, JEE (मेन्स एंड एडवांस्ड), CDS, NDA, UPSC और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए 'अभ्युदय' कोचिंग सेंटर’ स्थापित करेगी। 

Created On: Feb 12, 2021 10:13 IST
UP में UPSC, PCS, CDS व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की मुफ्त कोचिंग के लिए राज्य सरकार खोलेगी अभ्युदय कोचिंग सेंटर
UP में UPSC, PCS, CDS व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की मुफ्त कोचिंग के लिए राज्य सरकार खोलेगी अभ्युदय कोचिंग सेंटर

यूपी के 71वें स्थापना दिवस के अवसर पर अवध शिल्पग्राम में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 18 मंडल मुख्यालयों में निशुल्क अभ्युदय कोचिंग सेंटर शुरू करने की घोषणा की थी। 'मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना' के तहत सिविल सेवा और एनडीए जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों को प्रदेश के IAS, IPS, और PCS अधिकारी मुफ्त में कोचिंग देंगे। इस योजना की तैयारी सीएम योगी आदित्यनाथ की देख-रेख में की जा रही है। ऑनलाइन पोर्टल शुरू होने के 20 घंटे के भीतर यूपी सीएम अभ्युदय योजना के लिए लगभग 97,000 उम्मीदवार पहले ही पंजीकरण कर चुके हैं। पंजीकरण प्रक्रिया 10 फरवरी, 2021 से शुरू हुई थी। कक्षाओं के लिए कोचिंग 16 फरवरी से शुरू होगी।

'वन स्कूल, वन IAS’ प्रोग्राम के तहत केरल के गरीब छात्र अब ले सकेंगे सिविल सेवा परीक्षा के लिए मुफ्त कोचिंग

पहले चरण में 18 मंडल मुख्यालयों पर शुरू किये जाएंगे अभ्युदय कोचिंग सेंटर

मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान प्रयागराज और कोटा में प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग कर रहे 30 हजार युवाओं को सुरक्षित उनके घर पहुंचाया गया था। इसी दौरान उन्होंने यह तय किया था कि भविष्य में प्रदेश के युवाओं को कोचिंग के लिए अपने जिले या प्रदेश से बाहर नहीं जाना पड़े इसके लिए वह महत्वपूर्ण कदम उठाएंगे। उन्होंने कहा कि बसंत पंचमी के दिन से सरकार पहले चरण में प्रदेश के 18 मंडल मुख्यालयों पर अभ्युदय कोचिंग सेंटर शुरू करने जा रही है। IIT-JEE, NDA, CDS और UPSC की सभी प्रतियोगी परीक्षा की निशुल्क कोचिंग दी जाएगी। उन्होंने कहा कि अभ्युदय में देश की सबसे अच्छी कोचिंग व्यवस्था होगी जहां पर प्रदेश के IAS, IPS व अन्य अधिकारी युवाओं का मार्गदर्शन करेंगे। कोचिंग शुरुआती दौर में भारतीय प्रशासनिक सेवा, पुलिस सेवा के लिए कोचिंग दी जाएगी। उसके बाद अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग शुरू की जाएगी।

ऑनलाइन भी ली जा सकेगी मुफ्त कोचिंग 

सेंटर के लिए विषय विशेषज्ञों का पैनल तैयार किया जा रहा है। विद्यार्थी कोचिंग सेंटर में उपस्थित होने के साथ घर बैठे वर्चुअल भी कोचिंग प्राप्त कर सकेंगे। योगी आदित्यनाथ ने जानकारी देते हुए बताया कि निशुल्क कोचिंग देने की व्यवस्था के तहत एक सॉफ्टवेयर तैयार करवाया जा रहा है जिसे विशेषज्ञों की निगरानी में डेवलेप किया जा रहा है।इस सॉफ्टवेयर के जरिए प्रदेश के युवा अपने घर पर रह कर ही वर्ल्ड क्लास कोचिंग का फ़ायदा उठा सकेंगे। 

इस योजना के साथ ही मुख्यमंत्री ने देश-दुनिया में प्रदेश का नाम रोशन कर रहे तीन से पांच प्रतिभाओं को हर वर्ष यूपी गौरव सम्मान से सम्मानित करने, प्रत्येक जिले में स्थापना दिवस जैसे महोत्सव मनाने, प्रदेश के कामगारों और श्रमिकों को आर्थिक और सामाजिक सुरक्षा देने का एलान भी किया।

UPSC (IAS) Prelims 2021 की तैयारी के लिए पढ़ें यह महत्वपूर्ण NCERT पुस्तकें







Comment ()

Related Stories

Post Comment

6 + 9 =
Post

Comments