Search

Akshat Jain IAS Topper 2019 Rank 2 ने बताई IAS Exam के लिए रणनीति

Apr 8, 2019 12:46 IST
Akshat Jain IAS Topper 2019 Rank 2 Shares his IAS Strategy

Akshat Jain के पिता, श्री D C Jain, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI), नई दिल्ली में Joint Director हैं और माता श्रीमती Simmi Jain, एक Indian Revenue Service (IRS) officer हैं तथा जयपुर में National Academy of Customs, Indirect Taxes and Narcotics (NACIN) में ADG हैं।

Watch Kanishak Katariya IAS Topper Rank 1

Akshat Jain ने Samsung R&D Institute, Banglore में भी काम किया है । Akshat Jain ने अपनी माध्यमिक शिक्षा India International School Jaipur से प्राप्त की। वह अपने स्नातक और स्कूल के दिनों में extracurricular activities में बहुत रुचि से participate करते रहें हैं।

Watch Srushti IAS Topper among Women

Jagranjosh से इंटरव्यू में Akshat Jain ने IAS परीक्षा 2018 में शानदार सफलता के लिए अपने परिवार,दोस्तों तथा भगवान का धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि UPSC IAS की तैयारी के कठिन समय में व्यक्ति को अपने परिवार तथा दोस्तों के साथ तथा समर्थन की बहुत आवश्यकता पड़ती है। IAS की तैयारी के दौरान बहुत से ऐसे मौके आते हैं जब धर्य तथा विश्वास की ज़रुरत पड़ती है और ऐसे कठिन समय में परिवार तथा दोस्त बहुत मददगार साबित होते हैं.

Watch Junaid Ahmad IAS Topper Rank 3

उन्होंने IAS तैयारी के लिए एक बहुत ही संतुलित रणनीति का पालन किया। उन्होंने अपनी पढ़ाई और शौक के बीच संतुलन बनाया। उन्होंने नोट्स बनाने के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने कम किताबें पढ़ीं, लेकिन उन्हें पूरी तरह से समझ लिया ताकि अवधारणाएँ स्पष्ट हो जाएँ। इसके अलावा, उन्होंने Answer writing  के अभ्यास पर जोर दिया।

उन्होंने कहा कि IAS की तैयारी की दिशा का पता केवल विभिन्न टेस्ट पेपर्स , मॉक पेपर और पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों के अभ्यास से ही लगाया जा सकता है। उनके पिता हमेशा उनकी IAS तैयारी के बारे में हमेशा पूछते रहते थे । उन्होंने कहा किसी की भी stratagey का अनुसरण नहीं करना चाहिए बल्कि अपनी Strengths तथा weaknesses को समझ के अपना Study Plan बनाना चाहिए. उन्होंने कहा कि पहले खुद का आकलन करें और आईएएस की तैयारी के लिए खुद की योजना तैयार करें।

Akshat Jain IAS Topper 2019 Rank 2 Shares his IAS Strategy

Conclusion

उनकी मेहनत ने उन्हें समाज के लोगों की सेवा करने का मौका दिया।