कॉमन इंडियन्स इन विशेष इन्वेस्टमेंट स्ट्रेटेजीज़ से जरुर उठायें पूरा लाभ

आप अपने भविष्य के लिए अभी से इन्वेस्टमेंट शुरू करके, खुद को आजीवन आर्थिक तौर पर स्वाबलंबी बना सकते हैं. आइये इस आर्टिकल को पढ़कर जानते और समझते हैं.

Created On: Aug 9, 2021 21:19 IST
Best Investment Strategies for Common Indians
Best Investment Strategies for Common Indians

निस्संदेह! वित्तीय स्थिरता का हमारे जीवन में अत्यंत महत्त्व है और बिना किसी रुकावट के अपने वित्त का प्रबंधन और अपने भविष्य के आर्थिक लक्ष्यों को पूरा करने के लिए हरेक मनुष्य के लिए बचत करना अति महत्वपूर्ण है. इसमें कोई आश्चर्य नहीं है और निरंतर बचत करने के महत्त्व के बारे में हम सभी अच्छी तरह जानते और समझते हैं. जब तक आप 40 वर्ष के नहीं हो जाते हैं, इन्वेस्टमेंट और बचत के बारे में आप सोचते तक नहीं हैं. जाहिर है, आप अपने करियर के शुरू के वर्षों में वित्त जैसे तनावपूर्ण शब्दों पर कम ध्यान केंद्रित करते हैं और काफी धन बस यूं ही खर्च देते हैं.

हालांकि, हमारे जीवन की प्रत्येक स्थिति और प्रकृति सिर्फ हमारे मुताबिक ही काम नहीं करती है और समय बदलता रहता है. इसलिए, वैसे तो ‘जब जागे, तभी सवेरा’ अर्थात आप किसी भी उम्र में सूटेबल इन्वेस्टमेंट शुरू कर सकते हैं लेकिन, आप अपने करियर के शुरुआती 20 वर्षों में ही अपनी वित्तीय योजनायें बनाना शुरू करें और फिर, नियमित रूप से इन्वेस्टमेंट करना सुनिश्चित करें और मासिक आधार पर बचत जरुर करें ताकि आप अपने भविष्य को सुरक्षित कर सकें. आइये इस आर्टिकल को आगे पढ़कर इस बारे में और अधिक जानकारी और समझ हासिल करें.

टैक्स सेविंग इन्वेस्टमेंट के लिए टिप्स

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप काम कर रहे हैं या फिर, किसी कंपनी को ज्वाइन करने वाले हैं, आप जरुर अपनी कर देयता को समझना और जानना सुनिश्चित करें. इस तरह आप आयकर अधिनियम की धारा 80C के तहत उपलब्ध कर कटौती का लाभ उठा सकते हैं. वर्किंग प्रोफेशनल्स न केवल अपने कर शुल्क को कम कर सकते हैं बल्कि, उचित कर योजना के माध्यम से भविष्य के लक्ष्यों के लिए भी इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं. इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम टैक्स बचाने के सबसे अच्छे तरीकों में से एक है, जिसमें कोई इन्वेस्टर किसी भी वित्तीय वर्ष के लिए टैक्स में 1.50 लाख रुपये की कटौती का लाभ उठा सकता है.

अपनी लाइफ में एमरजेंसीज़ के लिए जरुर करें इन्वेस्टमेंट

आप कभी भी समय से पूर्व, अपने जीवन की दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं को नहीं देख सकते हैं. हालांकि, आपको अपने जीवन में हरेक स्थिति के लिए तैयार रहना चाहिए. ऐसे मामलों में, आपकी कमाई में बाधा आ सकती है और भारी आर्थिक नुकसान भी हो सकता है. ऐसी स्थितियों से उबरने के लिए आपको समय रहते ही सूटेबल इन्वेस्टमेंट करना चाहिए और भविष्य के लिए नियमित रूप से बचत करनी चाहिए. एक आकस्मिक कोष (एमरजेंसी इन्वेस्टमेंट) की योजना बनाने की स्पष्ट तौर पर आपको राय दी  जाती है, जोकि कम से कम 06 महीने के गुजारे के लिए जरुरी खर्च को कवर कर सके. इससे आपके बुरे समय में आपको खुद से ही काफी आर्थिक मदद मिल सकती है. याद रखें कि कम समय में आसान एक्सेस के लिए आपका एमरजेंसी फंड सुरक्षित और नकदी-किस्म का होना चाहिए जिसके लिए आप अल्ट्रा-शॉर्ट म्यूचुअल फंड का विकल्प भी चुन सकते हैं.

लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट गोल्स

आपके लिए घर खरीदना, शादी करना, नई कंपनी शुरू करना, रिटायरमेंट, चिल्ड्रन एजुकेशन जैसे कारकों को ध्यान में रखते हुए लंबी अवधि/ लॉन्ग टर्म के इन्वेस्टमेंट बहुत महत्वपूर्ण हैं. इन सभी कार्यों के लिए  आपको अग्रिम योजना और वित्तीय स्थिरता की आवश्यकता होती है. इसलिए, अपनी बचत की योजना बनाना सुनिश्चित करें और म्यूचुअल फंड में SIP (सिस्टमिक इन्वेस्टमेंट प्लान) शुरू करें. लेकिन, चक्रवृद्धि ब्याज/ कंपाउंड इंटरेस्ट का लाभ प्राप्त करने के लिए आप अवश्य ही बहुत जल्दी इन्वेस्टमेंट शुरू करना सुनिश्चित करें. इक्विटी म्यूचुअल फंड्स, जो विकास की ओर झुकाव रखते हैं, लंबी अवधि के इन्वेस्टमेंट के लिए आदर्श होते हैं. 1000 या 2000 रुपये मासिक इन्वेस्टमेंट शुरू करने के लिए आप पर प्रत्येक माह ज्यादा आर्थिक बोझ नहीं पड़ेगा और फिर, कुछ वर्षों के बाद आप अपने भविष्य के इन्वेस्टमेंट गोल्स को आसानी से पूरा कर सकेंगे.

शॉर्ट टर्म इन्वेस्टमेंट प्लान

अगर कभी आपन एक नई कार खरीदने या लंबी छुट्टी पर जाने का फैसला करते हैं, तो आपको ऐसे मामलों में निरंतर अल्पकालिक/ शॉर्ट टर्म इन्वेस्टमेंट पर ध्यान देना चाहिए. इसलिए, आप अपने फंड को लिक्विड या आर्बिट्रेज म्यूचुअल फंड में इन्वेस्टमेंट करना शुरू करें. बचत खाते को चुनने से बचना चाहिए क्योंकि वे म्यूचुअल फंड की तरह फायदेमंद नहीं हैं. म्युचुअल फंड स्वस्थ रिटर्न की गारंटी देते हैं और टैक्स-सेवि हैं. इसलिए, अल्ट्रा-शॉर्ट टर्म फंड से शुरु करें, जिसे जरूरत पड़ने पर कम समय में निकाला जा सकता है.

स्वास्थ्य और जीवन बीमा इन्वेस्टमेंट

स्वास्थ्य और जीवन बीमा इन्वेस्टमेंट आपके लिए केवल एक ठीक-ठीक इन्वेस्टमेंट नहीं हैं क्योंकि वे आपके लिए एक अनिवार्यता हैं. हम जिस तरह का मॉडर्न जीवन जी रहे हैं, उसके लिए आपको अवश्य ही स्वास्थ्य और जीवन बीमा इन्वेस्टमेंट की जरुरत है. इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि, आप लंबे समय तक फिट और स्वस्थ ही रहेंगे. इसलिए, देश में चल रही विभिन्न स्वास्थ्य योजनायें जोखिम को कवर करने के लिए भी बेहतर हैं जब आपको इसकी सबसे अधिक आवश्यकता हो. इसलिए, विभिन्न स्वास्थ्य योजनाओं के बारे में सटीक जानकारी हासिल करना शुरु करें और अपनी प्राथमिकताओं के अनुसार वह स्वास्थ्य और जीवन बीमा चुनें जो आपके लिए सबसे बेहतर हो.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

जानिये इंडियन स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट के लिए ये हैं कुछ कारगर टिप्स

भारत में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में इन्वेस्टमेंट करने से पहले यहां जरुर पढ़ें सारी अहम जानकारी

भारत की कमोडिटी मार्केट में इन्वेस्टमेंट करने से पहले यहां पढ़ें जरुरी जानकारी

Comment (0)

Post Comment

0 + 8 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.