Search

इंजीनियरिंग या मेडिकल: एक छात्र के लिए बेहतर करियर विकल्प क्या है?

May 16, 2018 18:52 IST
career option as a doctor or an engineer

छात्रों के जीवन में करियर का एक सही मार्गदर्शन होना बहुत ज़रूरी है. सभी बोर्ड्स के एग्जाम अब ख़तम हो चुके हैं तथा जिन  छात्रों ने इस साल कक्षा 12वीं की परीक्षा दी है उनके लिए अभी सबसे बड़ा प्रश्न है कि उन्हें किस क्षेत्र में अपना करियर आगे बढ़ाना चाहिए. वहीँ दूसरी ओर जिन छात्रों ने कक्षा 10वीं की परीक्षा दी है उन्हें भी अपने कक्षा 11वीं के स्ट्रीम से पहले यह जानना बहुत आवश्यक है कि उन्हें आगे चल कर अपना करियर किस तरह बनाना है. आज इस आर्टिकल में हम दो ऐसे अहम करियर विकल्प के विषय में बात करेंगे जोकि इंडिया में ही नहीं वर्ल्डवाइड छात्रों के अहम विकल्प में से एक माना जाता है.

दरअसल कई छात्रों को यह दुविधा खास तौर पर होती है कि उनके लिए सही करियर विकल्प मेडिकल होगा या इंजीनियरिंग? तो आज हम छात्रों की इस प्रकार की दुविधा पर उठने वाले प्रश्न के उपर बात करेंगे ताकि वह आसानी से इन दोनों विकल्प में से कौन सा विकल्प उनके लिए बेहतर है उसे चुन सकें.

इस विषय में आगे बढ़ने से पहले एक बात हम सुनिश्चित कर दें की दोनों में से कोई ऐसा विकल्प नहीं जो आपके करियर में सफलता के नज़रिए से खराब हो बस ज़रूरत है तो इतनी की आप अपने रूचि को सही तरीके से पहचान कर आगे बढ़ें.

सबसे पहले हम बात करते हैं इंजीनियरिंग विकल्प के विषय में:

सबसे पहला सवाल खुद से पूछें की आप इंजिनियर क्यू बनना चाहते है या फिर आप इंजीनियरिंग करना चाहते है भी या नहीं?

 

इस विषय में कई छात्रों के पास स्पष्ट उत्तर होते हैं लेकिन कई छात्रों के पास कुछ इस तरह के उत्तर होते हैं:

1. मेरे काफी दोस्त इंजीनियरिंग करने का प्लान कर रहे हैं तो मैंने भी यह विकल्प चुना है.

2. मैंने कक्षा 12वीं PCM से किया है तो आगे चल कर इंजीनियरिंग बेस्ट करियर विकल्प है.

3. मेरे पेरेंट्स ने पहले ही तय कर लिया था की मुझे इंजिनियर ही बनना है.

4. मुझे काफी लोगों ने इसके कई अच्छे करियर विकल्प बताए इसलिए मैंने इंजीनियरिंग का विकल्प चुना है.

ऐसे कई जवाब आम तौर पर छात्रों से सुनने मिलते हैं जिससे यह साफ़ प्रतीत होता है कि वह अब भी अपनी रूचि नहीं समझ सके हैं  कि उनका इंटरेस्ट किस ओर है तथा कई छात्र तो इस तरह के उत्तर भी नहीं कर पाते है क्यूंकि वह अब भी इस दुविधा में होते हैं कि उनका इंटरेस्ट  मेडिकल या इंजीनियरिंग में से किस में ज्यादा है........

इस विषय में समझने के लिए छात्रों का यह जानना ज़रूरी है कि क्या उन्हें टेक्निकल चीजों को जानना पसंद है?

क्या हो सकती है JEE Main 2018 की कट-ऑफ? जानें इस लेख में

यदि आप research, इन्वेंट, किसी प्रकार की खोज इस तरह की चीजों में रूचि रखते हैं, तो इंजीनियरिंग आपके लिए अच्छा विकल्प साबित हो सकता है.

लेकिन इसके लिए अकादमिक स्तर पर भी आपको यह जानना अति आवश्यक है कि आपकी रूचि गणित, भौतिक विज्ञान तथा रसायन विज्ञान में कितनी है. क्यूंकि आपका इन विषयों में अच्छा होना भी बहुत ज़रूरी है यदि आप आगे चलकर अपना भविष्य एक सफल इंजिनियर के रूप में देखना चाहते हैं.

आप अपनी रूचि को सही तरीके से समझने के लिए counsellor से भी मदद ले सकते हैं जोकि आपके रुचियों के आधार पर आपसे कुछ प्रश्न पूछेंगे जिससे आपको अपना मार्गदर्शन चुनने में काफी मदद मिलेगी.

ठीक इस प्रकार यदि हम बात करें मेडिकल की तो इस विषय में भी छात्रों में इसी तरह की दुविधा होती है जिसे दूर करने के लिए छात्रों को सबसे पहले ये जानना ज़रूरी है कि क्या उन्हें मेडिसिन तथा मेडिकल से जुड़ी चीजों में दिलचस्पी सही माईने में है? बस यह सोच कर इस प्रोफेशन में यदि आप जाना चाहते हैं कि एक डोक्टर का जीवन यापन अच्छा होता है और आपकी इनकम का श्रोत भी बेहतर होगा तो यह आपकी रूचि के अनुरूप तो बिलकुल नहीं होगा.

किसी प्रोफेशन का सोसाइटी में अच्छा विकल्प साबित होने से ज़रूरी नहीं की वह विकल्प आपको भी कामयाबी की ऊँचाइयों तक ले जाए. इसलिए बेहतर यह है कि आप पहले यह समझें की आपके लिए मेडिकल चुनने का विकल्प कितना बेहतर है? क्या आप एक डॉक्टर के रूप में अपने जीवन को भविष्य में देख कर खुश हैं? क्या आपको यह प्रतीत होता है कि आपमें लोगों की केयर तथा उनके लिए एक डॉक्टर के रूप में मदद करने की भावना है?

डॉक्टर बनने के लिए उससे जुड़े स्ट्रीम का चयन जितना ज़रूरी है उससे भी ज्यादा यह ज़रूरी है कि क्या आपको उन विषयों को पढ़ने में असलियत में रूचि है? क्या आपको जीवविज्ञान या उससे जुड़े टॉपिक्स को पढ़ना असल माईने में पसंद है? इन बातों को ठीक तरीके से सुनिश्चित कर लें तथा जब आपको लगता है आपकी रूचि इन मानदंड को पूरा करती है तभी आप इस विकल्प का चयन करें.

निष्कर्ष: यदि आपने अपने रूचि को सही माईने में समझ लिया तो आपके लिए आपका करियर विकल्प चुनना भी आसान हो जायेगा. तो सबसे पहले खुद से ये सवाल करें की आपकी रूचि किस तरफ है. इसमें आपसे बेहतर आपकी मदद कोई नहीं कर सकता. आशा है कि हमारे बताए सुझाव आपको आपके करियर मार्गदर्शन में सहायक साबित होंगे.

आप भी ला सकते हैं JEE Advanced में अच्छी रैंक, अगर JEE Main 2018 की परीक्षा के बाद करते हैं यह काम