Search
Breaking

CBSE 10th हिंदी कोर्स (B) बोर्ड परीक्षा 2020: संचयन (भाग 2) के महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर

CBSE 10th Hindi कोर्स (B) board exam 2020 के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न हमने यहाँ पर उपलब्ध कराये हैं | ये प्रश्न और उत्तर ‘संचयन भाग 2’ के पाठों से लिए गए हैं और CBSE class 10 की हिंदी  बोर्ड  परीक्षा की तैयारी के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं |  

Feb 28, 2020 10:05 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Class 10 Hindi 'B'
Class 10 Hindi 'B'

CBSE class 10 Hindi course B का पेपर 29th फ़रवरी को होने वाला है | जो विद्यार्थी यह एग्जाम देने वाले हैं, वह नीचे दिए हुए जरूरी प्रश्नों और उनके उत्तरों  को ज़रूर पढ़ें | यह महत्वपूर्ण प्रश्न किताब ‘संचयन भाग 2’ से हैं और यह CBSE कक्षा 10 की हिंदी बोर्ड परीक्षा में आ सकते हैं |

Chapter1- (हरिहर काका )

 Q1- कथावाचक और हरिहर काका के बीच क्या संबंध है और इसके क्या कारण हैं?

Ans- कथावाचक जब छोटा था हरिहर काका तब से ही उसे बहुत प्यार करते थे। जब वह बड़े हो गया तो वह हरिहर काका के मित्र बन गया । उसकी गाँव में इतनी गहरी दोस्ती और किसी से नहीं हुई। हरिहर काका कथावाचक से खुल कर बातें करता था । शायद अपना काका उसे अपना मित्र बनाना चाहते थे, इसीलिए उन्होंने स्वयं ही उसे प्यार से बड़ा किया और इतंजार किया। 

CBSE 10th हिंदी कोर्स (B) बोर्ड परीक्षा 2020: स्पर्श (भाग 2) के महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर

Q2- हरिहर काका के गाँव में यदि मीडिया की पहुँच होती तो उनकी क्या स्थिति होतीइसका उत्तर अपने शब्दों में लिखें |

Ans- यदि गाँव में मीडिया पहुँच जाती तो सबकी पोल खुल जाती और मंहत व भाइयों का पर्दाफाश हो जाता। उन्हें अपहरण और जबरन अँगूठा लगवाने के अपराध में जेल हो जाती।

Q3- हरिहर काका को जबरन उठा ले जाने वाले कौन थे? उन्होंने काका के साथ कैसा व्यवहार किया?

Ans- मंहत ने छल और बल से रात के समय अकेले सोते हुए हरिहर काका को उठवा लिया | मंहत ने अपने चेलों के साथ मिलकर काका के हाथ पैर बांध दिए, उनके मुहँ में कपड़ा ठूँस दिया और जबरदस्ती उनके अँगूठे के निशान लिए और उन्हें एक कमरे में बंद कर दिया |

Q4- ठाकुरबारी के प्रति गाँव वालों के मन में अपार श्रद्धा के जो भाव हैं उससे उनकी किस मनोवृत्ति का पता चलता है?

Ans- गाँव के लोग अंधविश्वासी होते हैं। मंदिर जैसे स्थान को पवित्र और ज्ञान का प्रतीक मानते हैं | यही कारण था की ठाकुरबारी के प्रति गाँव वालों की अपार श्रद्धा थी।

CBSE 10th हिंदी (A) बोर्ड परीक्षा 2020: कृतिका पुस्तक के महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर

Chapter 2- (सपनों के- से दिन)

Q1- कोई भी भाषा आपसी व्यवहार में बाधा नहीं बनतीपाठ के किस अंश से यह बात सिद्ध होता हैं?

Ans- सब बच्चे जब मिलकर खेलते हैं तो उनका व्यवहार, उनकी भाषा, सब अलग होते हुए भी एक ही लगती है | इस पाठ में भी लेखक ने बचपन की घटना को बताया है, जहाँ कोई बच्चा हरियाणा से है और कोई राजस्थान से |

Q2- नयी श्रेणी में जाने और नयी कापियों और पुरानी किताबों से आती विशेष प्रकार की गंध से लेखक का बालमन क्यों उदास हो उठता था?

Ans- आगे की श्रेणी की कठिन पढ़ाई तथा नए शिक्षकों द्वारा होने वाली मार-पीट के भय से लेखक का बालमन पुरानी किताबों और नयी कापियों की गंध से उदास हो जाता था ।

Q3- हेडमास्टर शर्मा जी ने पीटी साहब को क्यों मुअतल कर दिया?

Ans- जब बच्चो ने मास्टर प्रीतमचंद के दिए हुए फ़ारसी शब्द को याद नहीं किया तो उन्होनें बच्चों को मुर्गा बना दिया | बच्चों की ये हालत हेडमास्टर जी से नहीं देखी गयी और उन्होनें पीटी साहब से मुअतल कर दिया |

Q4- बचपन की यादें मन को गुदगुदाने वाली होती हैं विशेषकर स्कूली दिनों की। अपने अब तक के स्कूली जीवन की खट्टी-मीठी यादों को लिखिए ।

Ans- इस प्रश्न का उत्तर आप अपने अनुभव से लिखें |

CBSE Class 10 Hindi Course B Syllabus for Board Exam 2020

Chapter 3- (टोपी शुक्ला)

 Q1- इफ़्फ़न की दादी अपने पीहर क्यों जाना चाहती थीं?

Ans- इफ़्फ़न की दादी मौलवी की बेटी नहीं पर एक ज़मीदार की बेटी थीं। वहाँ वह दूध, घी, दही खाती थीं। लखनऊ आकर वह यह सब खाने के लिए तरस गईं थीं, क्योंकि यहाँ उन्हें मौलविन बन कर रहना पड़ता था। इसलिए उन्हें अपने पीहर जाना अच्छा लगता था।

 Q2- इफ़्फ़न की दादी अपने बेटे की शादी में गाने-बजाने की इच्छा को पूरा क्यों नहीं कर पाईं?

Ans- मौलवी परिवार में गाना बजाना पसंद नहीं किया जाता था, इसलिए उनकी यह इच्छा पूरी नहीं हो पायी |

Q3- इफ़्फ़न की दादी के देहान्त के बाद टोपी को उसका घर खाली सा क्यों लगा?

Ans- टोपी और दादी में बहुत लगाव था इसलिए दादी के देहान्त के बाद उसे घर खाली लगने लगा |

Q4- इफ़्फ़न की दादी के मायके का घर कस्टोडियन में किस कारण से चला गया?

Ans- दादी के पीहर वाले सब जब पाकिस्तान में रहने लगे तो भारत में उनके घर की देखभाल करने के लिए कोई नहीं रहा | कस्टोडियन पर जाने का मतलब है  सरकारी कब्जा होना, इसलिए दादी का घर सरकारी कब्ज़े में चला गया |

Related Stories