बोर्ड एग्जाम 2018: लाना है 90% के ऊपर मार्क्स तो जानें ये फुल प्रूफ स्टडी प्लान

हो सकता है 12वीं और 10वीं की परीक्षा इस बार 15 फरवरी से शुरू हो सकती है, अगर अपने अभी तक आपने कोई स्टडी प्लान नहीं बनाया है तो हम आपके लिए लाए है ऐसा प्लान जिसे अपने फॉलो किया तो हो सकता है आपके 90% से भी ज़्यादा मार्क्स आए l

Oct 10, 2017 09:16 IST
CBSE Class 12: Complete Study Plan or Study Time Table
CBSE Class 12: Complete Study Plan or Study Time Table

कक्षा 12वीं का हर छात्र बोर्ड 2018 की परीक्षा में 90% से ज्यादा अंक हासिल करना चाहता है l एक सामान्य छात्र परीक्षा की तैयार करने के अलावा अन्य गतिविधियों (जैसे खेल, यात्रा आदि) का भी आनंद लेना चाहता है । लेकिन पढ़ाई और अन्य गतिविधियों के बीच बैलेंस बनाना बच्चों का खेल नहीं l

पढ़ाई और अन्य गतिविधियों में बैलेंस बनाने के लिए एक छात्र को बेस्ट स्टडी मटीरीअल के आलावा उचित मार्गदर्शन और पूरे साल का एक कम्पलीट स्टडी प्लान भी चाहिए l यहाँ हमने विद्यार्थियों की मदद के लिए हर महीने के अनुसार स्टडी प्लान दिया है जिसका अनुसरण करके छात्र आसानी से 90%  के ऊपर मार्क्स ला सकते हैं l

CBSE 12वीं की ऑल इंडिया टॉपर रक्षा गोपाल से इंटरव्यू; जानिए उनकी सफलता का राज

याद करने के इन तरीकों को अपनाएं, किसी भी विषय को एक बार पढ़ेंगे तो फिर कभी नहीं भूलेंगे

जुलाई: छुट्टियां खत्म –  नए सत्र (2017 – 2018) की शुरुआत

हालाँकि ज़्यादातर स्कूलों में अप्रैल से नया सत्र शुरू हो जाता है पर एडमिशन, रजिस्ट्रेशन इत्यादि में समय लग जाता है और असली पढ़ाई जुलाई से शुरू होती है l सत्र शुरू होते ही सबसे महत्वपूर्ण यह बात है की बोर्ड एग्जाम देने वाले हर छात्र के पास नवीनतम सिलेबस ज़रूर हो क्यूँकि पढ़ाई शुरू होने से पहले छात्र को यह ज़रूर पता होना चाहिए की उन्हें क्या पढ़ना है, कितना पढ़ना और कितना समय उनके पास है l इससे वह अपनी पढ़ाई को बेहतर तरीक़े से प्लान कर सकते हैं l CBSE 12वीं का सिलेबस छात्र इस लिंक से प्राप्त कर सकते हैं l

Board Exam का महत्त्व जान लें, हो सकता है आपकी सोच पूरी तरह बदल जाए

अगस्त: पूरे सिलेबस का 1/3 भाग पढ़ा जा चुका हो

Image Source: peoplemanagement.in

जितने भी नामी गिरामी स्कूल (जैसे केंद्रीय विद्यालय, दिल्ली पब्लिक स्कूल) हैं वह अगस्त महीने तक पूरे कोर्स का 1/3 भाग छात्रों को ज़रूर पढ़ा देते हैं और टेस्ट लेना भी शुरू कर देते हैं l

यहाँ कोर्स के 1/3 भाग का मतलब एक उदाहरण से समझते हैं: अगर CBSE बोर्ड में 12वीं की भौतकी का उदाहरण ले तो ज़्यादातर स्कूल करंट एलेक्ट्रीसिटी, रे-ऑप्टिक्स और वेव ऑप्टिक्स जैसे महत्वपूर्ण चैप्टर्स खत्म कर लेते है l इन चैप्टर्स से CBSE 12वीं एग्जाम में लगभग 32 मार्क्स के प्रश्न आते हैं (कुल 70 मार्क्स में) l इसी तरह विद्यार्थियों को रसायन विज्ञान में शुरआती चैप्टर्स अच्छे से तैयार कर लेने चाहिए तथा गणित में बीजगणित और कैलकुलस अच्छे से तैयार कर लेने चाहिए l

पढ़ते समय आने वाली नींद को कैसे भगाएं दूर: यह 8 उपाए करेंगे आपकी मदद

सितम्बर: पढ़ाई की रफ़्तार बढ़ानी पड़ेगी, और ज़्यादा मेहनत की भी ज़रूरत पड़ेगी

Image Source: emaze.com

यह ऐसा समय होता है जब शिक्षकों पर कोर्स पूरा करने का प्रेशर होता है और छात्रों को नए चैप्टर्स पढ़ने के साथ-साथ पुराने चैप्टर्स को दोहराना भी पड़ता है l इस समय थोड़ा सी भी लापरवाही भारी भूल (क्लास बंक करना, होम-वर्क समय से न करना) साबित हो सकती है l जैसा की हम जानते हैं की भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित के चैप्टर्स आपसे में रिलेटेड होते है, इसलिए हो सकता है क्लास मिस हो जाने से आपको अगली क्लास में कुछ समझ न आए l तो इस समय विद्यार्थियों को ज्यादा मेहनत करने की ज़रूरत होती है l

अक्टूबर: त्योहारों का आनंद लेने के साथ - साथ सैंपल पेपर हल करना शुरू कर दें

Image Source: onedio.com

दशहरा इस बार 30 सितम्बर को मनाया जाएग और दिवाली 19 अक्टूबर l इस छुट्टियों का सदुपयोग करें, सुबह आप तैयारी कर सकते हैं, और शाम को त्यौहारों का मज़ा भी ले सकते हैं l आप चाहे तो सुबह दोस्तों के साथ ग्रुप स्टडी भी कर सकते है या अपने शिक्षकों से एक्स्ट्रा क्लास के लिए भी निवेदन कर सकते हैं l बोर्ड की तैयारी कर रहे छात्रों को यह भी सुझाव दिया जाता है की वो सैंपल पेपर हल करना शुरू कर दें l

नवंबर # सबसे तनावपूर्ण समय और सबसे ज़्यादा मेहनत की अवश्यकता

Image Source: poinila.com

यह समय सबसे ज़्यादा तनावपूर्ण माह होगा क्यूँकि इस माह में ही शिक्षकों पर कोर्स खत्म करने का दबाव रहता है इसलिए वो छात्रों को एक्स्ट्रा क्लास के लिए भी बुला सकते हैं l इस माह छात्रों पर भी पुराने चैप्टर्स को दोहराने के साथ - साथ नया नए चैप्टर्स भी पढ़ने होते हैं l इस दौरान अगर आप बिमार पड़ता हैं या आपकी कोई क्लास मिस हो जाती तो ये आपके लिए बहुत नुकसान दायक होगा l इसलिए आपको ज़्यादा मेहनत के साथ-साथ अपनी सेहत का भी ध्यान रखना होगा और पढ़ाई के खेल कूद जैसे दूसरे कार्य भी कम करने होंगे l

दिसंबर # प्री-रिहर्सल का का समय, प्री-बोर्ड परीक्षा के लिए रहें तैयार

Image Source: dailymail.co.uk

कक्षा 12वीं के छात्रों प्री-बोर्ड परीक्षा को गंभीरता से लेना चाहिए l हालांकि इन परीक्षाओं के अंक नहीं जुड़ते लेकिन उन्हें पूरी ईमानदारी से देना चाहिए क्यूँकि इससे आप आसानी से अपनी कमजोरियों को पहचान सकेंगे l

इन पेपर को देने से आपको 12वीं की बोर्ड परीक्षा का नवीनतम एग्जाम पैटर्न और ब्लू प्रिंट से भी अवगत हो जाएंगे आप चाहे तो सीबीएसई 2वीं की बोर्ड परीक्षा का नवीनतम एग्जाम पैटर्न अंग्रेज़ी में नीचे दिए गए लिंक से भी समझ सकते हैं l इन परीक्षाओं को देने से आपको यह भी पता चलेगा की आखिरी दिन आपको क्या पढ़ना चाहिए और कितना पढ़ना चाहिए l इसी महीनें में बोर्ड एग्जाम की डेट शीट भी रिलीज़ होती है, विद्यार्थियों को अपनी पढ़ाई उसी के अनुरूप प्लान करनी चाहिए l

जनवरी # बोर्ड एग्जाम की डेट शीट रिलीज़ होने का समय

Image Source:Winshuttle

दिसम्बर के अंत तक ज्यादातर स्कूलों में पूरा सिलेबस पढ़ा दिया जाता है और ज़्यादातर छात्र सिलेबस तैयार भी कर चुके होते हैं l ऐसे छात्रों को अब जरूरत होती है अभ्यास की, आप जितना ज़्यादा हो सके सैंपल पेपर्स और पुराने साल के पेपर्स लगाए l 5 से 10 के पुराने पेपर्स लगाना सफलता की कुंजी है, क्यूँकि ऐसे बहुत से प्रश्न है जो बोर्ड परीक्षा में बार - बार पूछें जाते हैं l सीबीएसई तो हर साल बोर्ड परीक्षा से पहले सैंपल पेपर्स रिलीज़ करता है l आप तो गेस पेपर्स भी लगा सकते हैं जागरण जोश भी हर वर्ष बोर्ड परीक्षा के लिए गेस पेपर्स और सैंपल पेपर्स उपलब्ध कराता है और यह परीक्षा की तैयारी को फाइनल टच देने में बहुत मददगार होते हैं l

फरवरी # फ़्लैश-बैक का समय

Image Source: topshoping.bg

बोर्ड परीक्षा की तैयारी करने वालों के लिए यह फ़्लैश-बैक का समय है, इस समय विद्यार्थियों को कुछ भी नया पढ़ने से बचना चाहिए l नया पढ़ने के चक्कर में पुराना दोहरा न पाएं इसलिए आपको रिस्क नहीं लेना चाहिए, जितना अपने पढ़ा है उसे ही दोहराए तथा स्मार्ट फ़ोन, सोशल मीडिया इत्यादि तो कुछ दिनों के लिए गुड बाय कह दे l  मीडिया में ख़बरें आ रहीं हैं की हो सकता है इस बार सीबीएसई 12वीं की बोर्ड परीक्षा 15 फरवरी से शुरू हो जाए, इसलिए आपको इसके लिए तैयार रहना चाहिए क्यूँकि अगर एग्जाम में काम नंबर आए तो कोई यह बहाना नहीं सुनेगा की परीक्षा जल्दी शुरू हो गयी थी l  

मार्च और अप्रैल # लगन से परीक्षा दें

Image Source: overtbuzz.com

हो सकता हैं बोर्ड परीक्षा फरवरी से शुरू हो और यह भी हो सकता है की यह मार्च से शुरू हो,  पर जब भी शुरू हो आपको हर हाल के लिए तैयार रहना चाहिए l परीक्षा के दौरान कुछ भी नया पढ़ने की गलती कभी न करें जो अपने पढ़ा है उसे ही दोहराएं व सैंपल पेपर्स और गेस पेपर्स वगैरह लगाएं l चैप्टर्स की समरी और जो अपने पढ़ाई के दौरान हाई लाइट किया हो उसे ही पढ़े, पूरी किताब की हर एक लाइन पढ़ने की कोशिश न करें क्यूँकि यह परीक्षा से एक दिन पहले संभव नहीं l किसी भी समस्या में आपकी सहायता के लिए जागरण जोश हमेशा आपके साथ है आप चाहे तो अपने प्रश्न यहाँ पोस्ट कर सकते हैँ l

इंजीनियरिंग और चिकित्सा के अलावा विज्ञान के छात्रों के लिए अन्य करियर विकल्प

Loading...

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Loading...