भारत में प्रोफेशनल्स के लिए क्लाउड कंप्यूटिंग में उपलब्ध है शानदार करियर स्कोप

भारत में कंप्यूटर और IT एक्सपर्ट्स एक क्लाउड आर्किटेक्ट के तौर पर अपना बेहतरीन करियर शुरू कर सकते हैं. फिर आप अपनी करियर लाइन के माध्यम से क्लाउड कंप्यूटिंग में अपना महत्त्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं.

Created On: Mar 11, 2020 18:40 IST
Modified On: Oct 12, 2021 16:19 IST
Best Courses and Career Scope in Cloud Architect in India
Best Courses and Career Scope in Cloud Architect in India

भारत में वर्ष 2022 तक क्लाउड कंप्यूटिंग की विभिन्न फ़ील्ड्स में 01 मिलियन से ज्यादा जॉब्स जनरेट होंगी. क्लाउड कंप्यूटिंग की विभिन्न फ़ील्ड्स में एक्सपर्ट प्रोफेशनल्स की मांग में निरंतर बढ़ेगी क्योंकि आजकल पूरी दुनिया की अनेक कंपनियां इस टेक्नोलॉजी को अपना रही है. अगर आप एक IT और सॉफ्टवेयर एक्सपर्ट हैं तो आप क्लाउड कंप्यूटिंग में क्लाउड आर्किटेक्ट के तौर पर अपना करियर शुरू कर सकते हैं. क्लाउड आर्किटेक्ट संबद्ध प्रोजेक्ट्स की तकनीकी आवश्यकताओं को आर्किटेक्चर और डिजाइन में परिवर्तित करने के लिए जिम्मेदार होता है. ये प्रोफेशनल्स क्लाउड में जटिल व्यावसायिक समस्याओं और समाधानों के बीच अंतराल को कम करने के लिए भी जिम्मेदार होते हैं. पूरी दुनिया में क्लाउड कंप्यूटिंग में एक्सपर्ट प्रोफेशनल्स को बेहतरीन सैलरी पैकेज ऑफर किये जाते हैं.

क्लाउड कंप्यूटिंग के बारे में जानकारी

क्लाउड कंप्यूटिंग में सभी संबद्ध कंप्यूटर रिसोर्सेज को शेयर किया जाता है और इसमें प्रोसेसिंग के लिए लोकल सर्वर्स या अन्य डिवाइसेस का इस्तेमाल किया जाता है. दूसरे शब्दों में, क्लाउड कंप्यूटिंग एक ऐसी प्रोसेस है जिसके तहत बार-बार इस्तेमाल किये जाने वाले डाटा को मल्टीप्ल सर्वर्स पर स्टोर किया जाता है और इंटरनेट के माध्यम से क्लाउड कंप्यूटिंग के सभी कार्य किए जाते हैं. आसान शब्दों में,  इंटरनेट के जरिये ही यूजर्स के कंप्यूटर सिस्टम को सर्वर्स, स्टोरेज फैसिलिटी और अन्य जरुरी एप्लीकेशन्स प्रदान किए जाते हैं. ड्रापबॉक्स और गूगल अपने यूजर्स को ये सुविधायें उपलब्ध करवाते हैं.

क्लाउड कंप्यूटिंग से मिलते हैं अनेक लाभ

देश-दुनिया में क्लाउड कंप्यूटिंग का प्रचलन बढ़ता ही जा रहा है क्योंकि इससे कंप्यूटर और इंटरनेट यूजर्स को निम्नलिखित फायदे मिलते हैं:

  • विभिन्न ज्योग्राफिकल लोकेशन्स के बावजूद क्लाउड कंप्यूटिंग के इस्तेमाल से यूजर्स के कंप्यूटर से जुड़े विभिन्न कामकाज की परफॉरमेंस भरोसेमंद और बेहतरीन होती है.
  • क्लाउड कंप्यूटिंग में सभी सर्विसेज और एप्लीकेशन्स समय-समय पर अपने-आप अपडेटेड हो जाती हैं.
  • क्लाउड कंप्यूटिंग आपके डाटा को खोने या गलत तरीके से एक्सेस और मॉडिफाई किये जाने से पूरी तरह सुरक्षित रखती है.
  • क्लाउड कंप्यूटिंग में किसी हिस्से में खराबी आ जाने पर भी अन्य हिस्से अपना काम सुचारु तरीके से करते रहते हैं.
  • क्लाउड कंप्यूटिंग की सुविधा लेने वाली कंपनी को अपने काम के बैकअप. टेक्निकल प्रॉब्लम्स और स्टोरेज की चिंता नहीं रहती है और वह अपने कारोबार पर पूरा ध्यान दे सकती है.
  • क्लाउड कंप्यूटिंग ‘कॉस्ट-इफेक्टिव’ है क्योंकि संबद्ध कंपनी को हार्डवेयर और सर्वर्स खरीदने के लिए अपना पैसा खर्च नहीं करना पड़ता है.

क्लाउड आर्किटेक्ट कौन होते हैं?

ये पेशेवर IT की फील्ड के एक्सपर्ट्स होते हैं और आमतौर पर संबद्ध कंपनी के क्लाउड कंप्यूटिंग सिस्टम की देख-भाल करते हैं. ये पेशेवर मुख्य रूप से अपनी कंपनी या संस्थान के लिए क्लाउड एप्लीकेशन डिज़ाइन्स तैयार करते हैं और क्लाउड कंप्यूटिंग से संबद्ध प्लान्स को अप्रूव करने के साथ-साथ क्लाउड स्टोरेज की समुचित व्यवस्था भी करते हैं. इन पेशेवरों को क्लाउड डेवलपर या क्लाउड सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर के नाम से भी जाना जाता है.

क्लाउड आर्किटेक्ट्स के लिए जरुरी स्किल सेट

इन पेशेवरों के पास एजुकेशनल क्वालिफिकेशन के अलावा निम्नलिखित वर्क-स्किल्स जरुर होने चाहिए:

  • टेक्निकल स्किल्स HTML, क्लाउड कंप्यूटिंग बेसिक्स, OOPS, जावा, C++,.नेट.
  • सिक्यूरिटी इंटरनेट, एन्क्रिप्शन, ऑथराइज़ेशन और सिक्यूरिटी प्रोटोकॉलस.
  • डाटा इंटीग्रेशन और डाटा एनालिसिस -डाटा माइनिंग, ERP सिस्टम.
  • प्रोजेक्ट मैनेजमेंट स्किल्स रिस्क एनालिटिक्स, सर्विस अग्रीमेंट्स और कंपनी पॉलिसीज़.
  • बिजनेस और फाइनेंस बिजनेस केस, ऑनलाइन मार्केटिंग स्ट्रेटेजीज़ और फाइनेंस से संबद्ध जरुरी जानकारी.

भारत में क्लाउड आर्किटेक्ट के लिए एलिजिबिलिटी और एजुकेशनल क्वालिफिकेशन

देश-दुनिया में क्लाउड कम्प्यूटिंग की फील्ड से जुड़ी विभिन्न जॉब्स के लिए विशेष डिग्री की जरूरत नहीं होती है. लेकिन इंजीनिरंग और/ या कम्प्यूटर सांइस की डिग्री रखने वाले स्टूडेंट्स को आसानी से जॉब मिलती है. आईटी और कम्प्यूटर बैकग्राउंड वाले स्टूडेंट्स को इस फील्ड में प्राथमिकता दी जाती है. इसके अलावा, कम्प्यूटर और प्रोगामिंग अच्छी जानकारी इस फील्ड में करियर शुरू करने के लिए बेहद जरुरी है  क्योंकि क्लाउड कम्प्यूटिंग में पूरा काम कम्प्यूटर पर इंटरनेट के माध्यम से ही होता है.

क्लाउड कंप्यूटिंग के सर्टिफिकेट्स

आप निम्नलिखित सर्टिफिकेट्स हासिल करने के बाद भारत में किसी क्लाउड कंप्यूटिंग एक्सपर्ट या क्लाउड आर्किटेक्ट के तौर पर कार्य कर सकते हैं:

  • सर्टिफिकेट – क्लाउड सिक्यूरिटी नॉलेज
  • IBM सर्टिफाइड सॉल्यूशन आर्किटेक्ट
  • Hp ExpertONE क्लाउड सर्टिफिकेशन
  • सर्टिफिकेट – VMware क्लाउड
  • EMC क्लाउड आर्किटेक्ट/ क्लाउड इन्फ्रास्ट्रक्चर एंड सर्विसेज सर्टिफिकेट (एसोसिएट लेवल)
  • EMC वर्चुअलाइज्ड डाटा सेंटर एंड क्लाउड इन्फ्रास्ट्रक्चर सर्टिफिकेट (स्पेशलिस्ट लेवल)
  • अमेज़न AWS सर्टिफिकेट
  • माइक्रोसॉफ्ट एज्योर
  • गूगल क्लाउड सर्टिफिकेट
  • ओपन स्टैक सर्टिफिकेट

भारत में इन टॉप एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन्स क्लाउड कंप्यूटिंग के विभिन्न कोर्सेज

भारत में स्टूडेंट्स निम्नलिखित प्रमुख इंस्टीट्यूशन्स से क्लाउड कंप्यूटिंग से संबद्ध विभिन्न कोर्सेज कर सकते हैं:

  • इंस्टीट्यूट ऑफ़ इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, दिल्ली
  • NIIT, दिल्ली
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ जॉब ट्रेनिंग, बैंगलोर
  • फोकस्ड आईटी एकेडमी, चेन्नई
  • पूर्णिमा यूनिवर्सिटी, जयपुर
  • क्वांटम स्कूल ऑफ़ टेक्नोलॉजी, देहरादून
  • SGT यूनिवर्सिटी, गुड़गांव, हरियाणा

भारत में उपलब्ध प्रमुख क्लाउड कंप्यूटिंग जॉब्स और करियर्स

देश-दुनिया में इंटरनेट और डाटा के लगातार बढ़ते हुए इस्तेमाल के कारण आजकल क्लाउड कंप्यूटिंग की फील्ड में क्लाउड आर्किटेक्ट्स या क्लाउड पेशेवरों के लिए कई किस्म की जॉब्स या करियर विकल्प मौजूद हैं लेकिन हरेक जॉब प्रोफाइल के लिए क्लाउड कंप्यूटिंग की बेसिक जानकारी के साथ-साथ संबद्ध फील्ड की विशेष जानकारी इन पेशेवरों को जरुर होनी चाहिए. हमारे देश सहित पूरी दुनिया में क्लाउड कंप्यूटिंग से जुड़ी प्रमुख जॉब प्रोफाइल्स या करियर विकल्प निम्नलिखित हैं:

  • क्लाउड कंसलटेंट
  • क्लाउड सिस्टम इंजीनियर/ एडमिनिस्ट्रेटर
  • क्लाउड सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • क्लाउड नेटवर्क इंजीनियर
  • क्लाउड नेटवर्क आर्किटेक्ट/ प्लानर
  • क्लाउड आर्किटेक्ट/ डेवलपर/ प्रोग्रामर
  • क्लाउड प्रोडक्ट मैनेजर
  • क्लाउड सेल्स एग्जीक्यूटिव
  • क्लाउड बिजनेस एनालिस्ट

भारत में क्लाउड आर्किटेक्ट का सैलरी पैकेज

अगर हम अपने देश  में क्लाउड कंप्यूटिंग की फील्ड से संबद्ध विभिन्न पेशेवरों के आकर्षक सैलरी पैकेज की चर्चा करें तो, करियर शुरू करते ही इन पेशेवरों को कम से कम 5 – 7 लाख रूपये सालाना का सैलरी पैकेज ऑफर किया जाता है और कुछ वर्षों के वर्क-एक्सपीरियंस के बाद ये पेशेवर एवरेज 10 – 12 लाख रूपये सालाना कमाने लगते हैं. आपको यह जानकर ख़ुशी होगी कि हमारे देश में बड़े ब्रांड्स और मल्टी नेशनल कंपनियां 15-20 साल का वर्क एक्सपीरियंस रखने वाले हाईली क्वालिफाइड और टैलेंटेड सीनियर क्लाउड पेशेवरों को 1 करोड़ रुपये सालाना का सैलरी पैकेज भी ऑफर कर रही हैं. जॉब, करियर, इंटरव्यू, एजुकेशनल कोर्सेज, प्रोफेशनल कोर्सेज, कॉलेज और यूनिवर्सिटीज़ के बारे में लेटेस्ट अपडेट्स के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर नियमित तौर पर विजिट करते रहें.  

 

अन्य महत्तवपूर्ण लिंक

जानिए आर्किटेक्ट बनने के लिए कुछ कारगर टिप्स

माइनिंग इंजीनियरिंग का कोर्स और करियर स्कोप

सिटी या टाउन प्लानर बनकर सवारें अपना करियर

 

Comment (0)

Post Comment

7 + 3 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.