Search

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 14 जुलाई 2017

इस लेख में दी गई करंट अफेयर्स IAS परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे महत्वपुर्ण है। वर्तमान मामलों के संदर्भ में जुलाई 2017 के महीने में घटित घटनाओं पर आधारित दिए गए करंट अफेयर्स प्रश्न आईएएस प्रीलिम्स 2018 के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

Jul 14, 2017 12:47 IST

Current Affairs Quiz 17 May

IAS परीक्षा में करंट अफेयर्स की भूमिका महत्वपूर्ण है और इसे अधिक गहराई के साथ तैयार किया जाना चाहिए। यहां इस लेख में हमने IAS प्रीलिम्स परीक्षा 2018 के लिए इस महीने में हुई घटनाओं पर आधारित मौजूदा मामलों की क्विज़ दे रहे हैं जो कि बहुत उपयोगी साबित होगा।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 7 जुलाई 2017

1. वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय का औद्योगिक नीति संवर्धन विभाग देश का पहला प्रौद्योगिकी और नवाचार केंद्र (टीआईएससी) किस राज्य में स्थापित करने वाले हैं?
a. पंजाब
b. गुजरात
c. महाराष्ट्र
d. हरयाणा

उत्तर : a

स्पष्टीकरण:

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय का औद्योगिक नीति संवर्धन विभाग देश का पहला प्रौद्योगिकी और नवाचार केंद्र (टीआईएससी) स्थापित करने के लिए आज नई दिल्ली में पंजाब राज्य विज्ञान और प्रौद्योगिकी परिषद के साथ संस्थागत समझौते पर हस्ताक्षर किया।  यह केंद्र पंजाब के पेटेंट सूचना केंद्र में विश्व बौद्धिक संपदा संगठन(डब्ल्यूआईपीओ) के टीआईएससी कार्यक्रम के अंतर्गत स्थापित किया जाएगा।

टीआईएससी का उद्देश्य गतिशील, जीवंत और संतुलित बौद्धिक संपदा अधिकार प्रणाली को सक्रिय करना है ताकि  सृजनात्मकता और नवाचार को प्रोत्साहन मिले और सामाजिक-आर्थिक तथा सांस्कृकित विकास हो सके।
आईपीआर संवर्धन और प्रबंधन सेल (सीआईपीएएम) को टीआईएससी राष्ट्रीय नेटवर्क के लिए फोकल प्वाइंट बनाया गया है। नेशनल फोकल प्वाइंट के रूप में सीआईपीएएम संभावित मेजबान संस्थानों की पहचान करेगा, उनकी क्षमताओं का मूल्यांकन करेगा और टीआईएससी कार्यक्रम में शामिल होने में समर्थन देगा।

पूरे विश्व में 500 से अधिक टीआईएससी कार्यरत हैं। भारत में इसकी स्थापना से संस्थानों को विश्व नेटवर्क से जुड़ने में मदद मिलेगी।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 5 जुलाई 2017

2. हाल ही में, आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने मणिपुर में एनएच -39 के 65-किलोमीटर इम्फाल-मोरे खंड के उन्नयन और विस्तार के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। इस बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:
1. यह परियोजना दक्षिण एशियाई उप-क्षेत्रीय आर्थिक सहयोग (एसएएसईसी) रोड कनेक्टिविटी इनवेस्टमेंट प्रोग्राम (ट्रांच 2) के तहत एडीबी की ऋण सहायता के साथ विकसित की जा रही है जिसका उद्देश्य BBIN राष्ट्रों के बीच क्षेत्रीय संपर्क को बेहतर बनाने के लिए बांग्लादेश, भूटान, नेपाल और भारत (बीबीआईएन) में सड़क बुनियादी ढांचे के क्रम में सुधार करना है।
2. परियोजना का गलियारा भी एशियाई राजमार्ग संख्या 01 (एएच 01) का हिस्सा है और पूर्व के भारत के गेटवे के रूप में कार्य करता है।
3. सामाजिक-आर्थिक विकास के अलावा, इस परियोजना से परियोजना सड़क पर लगभग 40% तक की औसत यात्रा के समय में भी कमी आएगी।

निम्न में से कौन सा कथन सही है।
a. 1 और 2
b. 2 और 3
c. 1 और 3
d. 1, 2 और 3

उत्तर : d

स्पष्टीकरण:

हाल ही में, आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने मणिपुर में एनएच -39 के 65-किलोमीटर इम्फाल-मोरे खंड के उन्नयन और विस्तार के लिए अपनी मंजूरी दे दी है जिसकी लागत कुल 1630.29 करोड़ रुपये है।

मणिपुर एक लैंडलोक राज्य है जिसके तहत लगभग 90% क्षेत्र कठिन इलाके में स्थित है जो कि वर्तमान में राज्य के भीतर बड़े पैमाने पर परिवहन व्यवस्था के साधन के रूप में केवल सड़क परिवहन ही है। इसलिए सड़क संरचना का विकास राज्य की कनेक्टिविटी और प्रगति को बेहतर बनाने के लिए बहुत जरुरी है और यह सुनिश्चित करने के लिए कि प्रशासनिक सेट अलग और दूरस्थ निवास स्थान तक पहुंचता है। यह परियोजना राज्य के पूर्वी भाग के साथ इंफाल के बीच कनेक्टिविटी में सुधार करेगी। विद्यमान और अनुमानित यातायात आवश्यकताओं के आधार पर एनएच -39 को लीलोंग गांव तथा वांगिंज गांव के बीच 4 लेनों तक चौड़ा किया जाएगा, जबकि वांगिंज गांव से खोंगखांग के बीच के फैलाव को पक्के आधार के साथ दो लेन में बढ़ाया जाएगा।

यह परियोजना दक्षिण एशियाई उप-क्षेत्रीय आर्थिक सहयोग (एसएएसईसी) रोड कनेक्टिविटी निवेश कार्यक्रम के तहत एडीबी की ऋण सहायता के साथ विकसित की जा रही है जिसका उद्देश्य क्षेत्रीय सुधार के लिए बांग्लादेश, भूटान, नेपाल और भारत (बीबीआईएन) में सड़क बुनियादी ढांचे को उन्नत करना है। BBIN राष्ट्रों के बीच कनेक्टिविटी परियोजना का गलियारा भी एशियाई राजमार्ग संख्या 01 (एएच 01) का हिस्सा है और पूरब में भारत के गेटवे के रूप में कार्य करता है। इस प्रकार इस क्षेत्र में व्यापार, वाणिज्य और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 29 जून 2017

3. हाल ही में भारतीय खगोलविदों ने आकाशगंगाओं (Galaxies) के एक सुपर समूह को खोजा है, जिन्हें उन्होंने नाम दिया है:
a. कास्मोस
b. सरस्वती
c. एंड्रोमेडा
d. गंगा

उत्तर: b

स्पष्टीकरण:

पुणे स्थित भारतीय अंतरिक्ष वैज्ञानिकों के एक दल ने आकाशगंगाओं का एक बहुत बड़ा समूह (सुपरक्लस्टर) खोजा है जिसका आकार अरबों सूर्यों के बराबर है। इसका नाम सरस्वती रखा गया है।

ऐसा कहा जा रहा है कि यह सबसे बड़े ज्ञात ढांचों में से एक है जो पृथ्वी से 400 लाख प्रकाश वर्ष दूर है और करीब 10 अरब वर्ष से अधिक पुराना है। इसी संस्थान के वैज्ञानिकों ने पिछले वर्ष गुरुत्वाकर्षीय तरंगों की बड़ी खोज में भी शामिल थे।
आकाशगंगाओं के इस समूह की खोज पुणे के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च के पीएचडी छात्र शिशिर संख्यायन, आईयूसीएसएस के रिसर्च फेलो प्रतीक दभाड़े, केरल में न्यूमेन कॉलेज के जो जैकब और जमशेदपुर में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के प्रकाश सरकार ने की है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 27 जून 2017

4. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने हाल ही में दक्षिण एशिया उपमवासी आर्थिक सहयोग (एसएएसईसी) निवेश कार्यक्रम को मंजूरी दी है। SASEC के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:
1. दक्षिण एशिया उपमहागत आर्थिक सहयोग (एसएएसईसी) कार्यक्रम बांग्लादेश, भूटान, भारत, मालदीव, म्यांमार, नेपाल और श्रीलंका को एक साथ लाता है।
2. एशियाई विकास बैंक (एडीबी) एसएएसईसी के सदस्य देशों के सचिवालय के रूप में कार्य करता है।

निम्न से से कौन सा विकल्प सही है ?
a. केवल 1
b. 1 और 2
c. केवल II
d. न तो 1 और न ही 2

उत्तर : b

स्पष्टीकरण:

दक्षिण एशिया उपमहाद्वीपीय आर्थिक सहयोग (एसएएसईसी) कार्यक्रम का गठन 2001 में बांग्लादेश, भूटान, भारत, मालदीव, म्यांमार, नेपाल और श्रीलंका को परियोजना पर आधारित पारस्परिक सीमा बढ़ाने के लिए एंव क्षेत्रीय समृद्धि को बढ़ावा देने के लिए इन देशों को साझेदारी में एक साथ लाने के लिए किया गया था ताकि सदस्य देशों के बीच व्यापार और क्षेत्रीय आर्थिक सहयोग को मजबूत किया जा सके।

2001 के बाद से एसएएसईसी देशों ने ऊर्जा, परिवहन, व्यापार सुविधा, आर्थिक गलियारे विकास तथा सूचना और संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी) क्षेत्रों में क्षेत्रीय परियोजनाओं को भलिभांति लागू किया है। मनीला, फिलीपींस स्थित एशियन डेवलपमेंट बैंक (एडीबी) एसएएसईसी के सदस्य देशों के सचिवालय के रूप में कार्य करता है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 22 जून 2017

5. क्रिप्टोकरेंसीज के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:
1. बिटक्वाइन पहली विकेन्द्रीकृत क्रिप्टोकरेंसी है।
2. भारत में पहले से ही 3 प्रमुख बिटक्वाइन एक्सचेंज हैं जैसे कि ज़ेब्पे, क्वाइनसेक्योर और यूनोक्वाइन।

निम्न से से कौन सा विकल्प सही है ?
a. केवल I
b. केवल II
c. I और II
d. न तो I और न ही II

उत्तर : c

स्पष्टीकरण:

क्रिप्टोकरेंसीज एक डिजिटल संपत्ति है जो क्रिप्टोग्राफी के माध्यम से लेन-देन सुरक्षित करने के लिए एक्सचेंज के माध्यम के रूप में काम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है तथा मुद्रा की अतिरिक्त इकाइयों के निर्माण को नियंत्रित करने के लिए बनाया गया है। बिटकॉइन 2009 में पहली विकेन्द्रीकृत क्रिप्टोकुरेंसी बने और तब से कई क्रिप्टोकरेंसीज का निर्माण किया जा चुका है। इन्हें अक्सर वैकल्पिक रूप में तथा बिटक्वाइन के विकल्प के मिश्रण के रूप में जाना जाता है ।

क्रिप्टोकरेंसीज और विशेष रूप से बिटकॉइन भारत में एक नयी खोज के रुप नहीं माना जाता है बल्कि पहले से ही 3 प्रमुख बिटकॉइन एक्सचेंजेस हैं: ज़ेब्पे, क्वाइनसेक्योर और यूनोक्वाइन। भारत में क्रिप्टोकरेंसी का विकास पिछले साल के अंत तक दुनिया के अधिकांश हिस्सों की तरह निरंतर बढ़ता जा रहा है।

IAS Prelims 2017 Expected Cutoff and Paper Analysis in Hindi