IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 23 मई 2017

सिविल परीक्षा की तैयारी करने के लिए IAS उम्मीदवारों की ओर से एक स्थिर और गंभीर प्रयास की जरूरत है, खासकर जब करंट अफेयर्स की तैयारी करते हैं। यहां, इस लेख में हमने इस महीने में घटित घटनाओं के आधार पर करंट अफेयर्स क्विज तैयार किये हैं जो कि IAS प्रीलिम्स परीक्षा 2017 के लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकता है।

Created On: May 23, 2017 12:57 IST
Modified On: May 23, 2017 19:26 IST

Current Affairs Quiz 17 May

ऑनलाइन IAS की तैयारी, IAS उम्मीदवारों के बीच एक आम बात हो गई है। IAS उम्मीदवार जो अधिक तकनीकी-अनुकूल हैं और IAS परीक्षा के लिए ऑनलाइन अध्ययन करना पसंद करते हैं, हम उनके लिए IAS अध्ययन सामग्री लगातार प्रदान कर रहे हैं। यहां, इस लेख में, हमने करंट अफेयर्स प्रश्नों के सेट प्रदान किए हैं जो पूरी तरह से वर्तमान घटनाओं पर आधारित है।

अंग्रेजी मे पढ़ें- Current Affairs for IAS Prelims Exam 2017- 23 May 2017

1. हाल ही में, दो एकतरफा अग्रिम मूल्य निर्धारण समझौते (एपीए) पर हस्ताक्षर किए गए हैं। एपीए स्कीम के बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
I. एपीए योजना मूल्य निर्धारण के तरीके को निर्दिष्ट करके और भविष्य में अधिकतम अग्रिम पाँच वर्षों के लिए अंतरराष्ट्रीय लेनदेन की पहुंच का निर्धारण करके अंतरण मूल्य के क्षेत्र में करदाताओं के लिए निश्चितता प्रदान करने का प्रयास करता है।
II. दो एपीए हस्ताक्षर से अर्थव्यवस्था के एम्बेडेड सॉफ्टवेयर और सूचना प्रौद्योगिकी (सॉफ्टवेयर विकास) क्षेत्रों के चिप डिजाइन / विकास के संबंध में हस्ताक्षर किए गए हैं जो कि अब मौजूदा वित्त वर्ष में 4 एपीए की घोषणा की गई है।
III. एपीए योजना की प्रगति गैर-प्रतिकूल कर व्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को मजबूत करती है

निम्न में से कौन सा कथन सही है?
a. केवल I
b. I और II
c. II और III
d. उपरोक्त सभी

उत्तर: d

व्याख्या:

एपीए योजना मूल्य निर्धारण के तरीके को निर्दिष्ट करके और अधिकतम पांच भविष्य के वर्षों के लिए अग्रिम में अंतरराष्ट्रीय लेनदेन की बांह की लंबाई मूल्य का निर्धारण करके अंतरण मूल्य के क्षेत्र में करदाताओं के लिए निश्चित प्रदान करने का प्रयास करता है। इसके अलावा, करदाता को चार पूर्ववर्ती वर्षों के लिए एपीए को वापस रोल करने का विकल्प होता है, जिसके परिणामस्वरूप कर की निश्चित अवधि नौ साल की है। इसकी स्थापना के बाद से, एपीए स्कीम ने मल्टी-नेशनल एंटरप्राइजेज (एमएनई) के बीच जबरदस्त रुचि को आकर्षित किया है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 10 मई 2017

2. हाल ही में, निम्नलिखित में से किस अंतरिक्ष संगठनों के वैज्ञानिकों ने उनके द्वारा खोजा एक नया जीव नाम ए.पी.जे. अब्दुल कलाम के नाम पर दिया है?
a. इसरो
b. नासा
c. भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र
d. विक्रम साराभाई स्पेस सेंटर

उत्तर: b

व्याख्या:

नासा के वैज्ञानिकों ने उनके द्वारा खोजे गए एक नए जीव को भारत के पूर्व राष्ट्रपति और अंतरिक्ष वैज्ञानिक एपीजे अब्दुल कलाम का नाम दिया है। अभी तक यह नया जीव- बैक्टीरिया की एक किस्म- सिर्फ अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) में ही मिलता था। यह पृथ्वी पर नहीं पाया जाता था। नासा की जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी ने अंतरग्रही यात्रा पर काम करते हुए अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के फिल्टरों में इस नए बैक्टीरिया को खोजा और भारत के पूर्व राष्ट्रपति कलाम के सम्मान में इसे सोलीबैकिलस कलामी नाम दिया।

कलाम का शुरूआती प्रशिक्षण वर्ष 1963 में नासा में हुआ था। इसके बाद उन्होंने केरल के थुंबा में मछुआरों के गांव में भारत का पहला रॉकेट प्रक्षेपण केंद्र स्थापित किया था। जेपीएल में जैव प्रौद्योगिकी एवं ग्रह सुरक्षा समूह के वरिष्ठ अनुसंधान वैज्ञानिक डॉ कस्तूरी वैंकटस्वर्ण ने कहा, बैक्टीरिया का नाम सोलीबैकिलस कलामी है।

इस प्रजाति के जीन का नाम सोलीबैकिलस है। यह बैक्टीरिया एक ऐसे फिल्टर पर पाया गया है, जो आईएसएस में 40 माह तक रहा था।
यह फिल्टर अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेश्न की स्वच्छता प्रणाली का हिस्सा है। इस फिल्टर का जेपीएल में विश्लेषण किया गया और इसी साल वेंकटस्वर्ण ने इंटरनेशनल जर्नल ऑफ सिस्टमेटिक एंड एवोल्यूशनरी माइक्रोबायोलॉजी में इस खोज को प्रकाशित किया।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 8 मई 2017

3. हाल ही में, ‘हिलेरी स्टेप’ खबरों में थी। हिलेरी स्टेप के बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
I. हिलेरी स्टेप यूरोप में आल्प्स माउंटेन के दक्षिण-पूर्वी रिज पर स्थित 12 मीटर लंबी पहाड़ी पर थी।
II. हिलेरी स्टेप का नाम एडमंड हिलेरी के नाम पर रखा गया था जो 1953 में एवरेस्ट पर फतह पाने वालों में पहला स्थान था।

निम्न से से कौन सा विकल्प सही है ?
a. केवल I
b. केवल II
c. I और II
d. न तो I और न ही II

उत्तर : c

व्याख्या:

1953 में एवरेस्ट् पर पहली बार फतह हासिल करने वाले शेरपा तेंजिंग नॉर्गे के साथ सर एडमंड हिलेरी पहले व्यक्ति थे। उनके वहां पहुंचने के बाद चोटी के एक चट्टान का नाम ‘हिलेरी स्टेकप’ रखा गया था जिसका 2015 के नेपाल भूकंप के बाद अंत हो गया। इस बात की पुष्टि पर्वतारोही ने किया है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 4 मई 2017

4. हाल ही में, जमे हुए जीवाश्म ईंधन के विश्व के विशाल भंडार के वाणिज्यिक विकास "ज्वलनशील बर्फ" के रूप में जाना जाता है जो कि वास्तविकता के करीब पहुंच गया है जापान और चीन ने सफलतापूर्वक दक्षिणी चीन सागर के अपने तट रेखाओं पर निकाला है। ज्वलनशील बर्फ के बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
I. ज्वलनशील बर्फ पानी का एक जमे हुए मिश्रण और केंद्रित प्राकृतिक गैस है तकनीकी तौर पर जिसे मीथेन हाइड्रेट के रूप में जाना जाता है।
II. मीथेन हाइड्रेट समुद्र तल के नीचे और आर्कटिक परमफ्रॉस्ट में तथा अंटार्कटिक बर्फ के नीचे दबा हुआ पाया गया है।
III. ज्वलनशील बर्फ को अपने जमे हुए अवस्था में आग लगा दिया जा सकता है और माना जाता है कि यह दुनिया के सबसे प्रचलित जीवाश्म ईंधन में से एक है।

निम्न में से कौन सा कथन सही है?
a. केवल I
b. I और II
c. II और III
d. उपरोक्त सभी

उत्तर: d

व्याख्या:

दुनिया भर में ऊर्जा के नए-नए स्त्रोतों की खोज की जा रही है ताकि भविष्य में ऊर्जा की जरूरत को पूरा किया जा सके। पिछले सालों में इस संबंध में कई स्तर पर खोज की गई है।
चीनी न्यूज एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक ज्वलनशील बर्फ का एक घनमीटर करीब 164 घनमीटर नेचुरल गैस के बराबर असरदार है। इस पदार्थ का रंग सामान्य पानी से बनी बर्फ जैसा है। चीनी सरकार ने गुरुवार को इस बात की घोषणा की कि वह इस बड़ी खोज में सफल रहे हैं। यह खोज दक्षिणी चीन सागर के झुहाई शहर से 320 किमी दूरी पर समुद्र के गहरे पानी में की गई है। 28 मार्च को पहली बार जब इस गैस का उत्खनन किया गया तो उस वक्त उस गैस को 4,153 फीट पर निकाला गया था। इस तरह हर दिन 16,000 घनमीटर गैस निकाली गई।

• ज्वलनशील बर्फ पानी का एक जमे हुए मिश्रण और केंद्रित प्राकृतिक गैस है तकनीकी तौर पर जिसे मीथेन हाइड्रेट के रूप में जाना जाता है।

• मीथेन हाइड्रेट समुद्र तल के नीचे और आर्कटिक परमफ्रॉस्ट में तथा अंटार्कटिक बर्फ के नीचे दबा हुआ पाया गया है।

• ज्वलनशील बर्फ को अपने जमे हुए अवस्था में आग लगा दिया जा सकता है और माना जाता है कि यह दुनिया के सबसे प्रचलित जीवाश्म ईंधन में से एक है।

अच्छी बात ये है क धरती पर मौजूदा फॉसिल फ्यूल जैसे कोयला,तेल और प्राकृतिक गैस के भंडार से ज्यादा इस गैस का भंडार समुद्र तल पर मौजूद है। वहीं अच्छी बात ये है कि यह पेट्रोलियम से बने पदार्थों के मुकाबले पर्यावरण के लिए बेहतर हैं।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 5 मई 2017

5. हाल ही में, नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने निम्न नदियों में से किस क्षेत्र के बाढ़ के मैदानों पर खुली मलबे और कचरे का डंपिंग प्रतिबंधित कर दिया है?
a. गंगा
b. यमुना
c. ब्रह्मपुत्र
d. कोसी

उत्तर: b

व्याख्या:

यमुना को प्रदूषित होने से बचाने और पवित्र नदी की सफाई को ध्यान में रखते हुए नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने कड़े आदेश जारी किए हैं। जिसके तहत यमुना में किसी भी प्रकार की गंदगी और खुले में शौच करना बैन होगा। इस आदेश को ना मानने वालों के पांच हजार रुपए का जुर्माना लगेगा।

यमुना की सफाई से जुड़े एक मामले की सुनवाई करते हुए एनजीटी ने आदेश दिया कि अगर यमुना के बाढ़ क्षेत्र में किसी भी प्रकार का अपशिष्ट बहाया गया तो यह एक अपराध माना जाएगा और यमुना के किनारे मल-मूत्र करने पर भी बैन लगा दिया गया है।

यमुना में गंदगी का मामला दिल्ली और यूपी के लिए काफी अहम हो गया है। यमुना के किनारे बसे इन शहरों की गंदगी नदी के पानी इतनी ज्यादा भर गई है कि यमुना अब पवित्र नदी नहीं बल्कि अब एक गंदा नाले जैसी हो गई है। गंदगी से प्रदूषण इतना ज्यादा बढ़ गया है कि इसका असर आस-पास के रहने वाले लोगों पर पड़ रहा है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 24 अप्रैल 2017

Comment ()

Post Comment

1 + 8 =
Post

Comments