]}
Search

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 24 मई 2017

करंट अफेयर्स क्विज़ का अभ्यास करना IAS उम्मीदवारों के लिए एक अतिरिक्त ऊर्जा प्रदान करेगा। अभ्यास के लिए, यहां हमने IAS प्रीलिम्स परिक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स क्विज़ उपलब्ध कर रहै हैं जो कि काफी उपयोगी होगी।

May 24, 2017 12:54 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

Current Affairs Quiz 17 May

करंट अफेयर्स IAS परिक्षा का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुका है और इसे दैनिक आधार पर कवर किया जाना चाहिए। IAS प्रीलिम्स परीक्षा की तैयारी के लिए वर्तमान मामलों की क्विज़ का अभ्यास बहुत महत्वपूर्ण है और आईएएस उम्मीदवारों के लिए यह आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद करता है। यहां, इस लेख में, हमने IAS प्रीलिम्स परीक्षा की तैयारी के लिए मौजूदा मामलों की एक सेट प्रदान की है जो काफी महत्वपूर्ण है।

अंग्रेजी मे पढ़ें- Current Affairs for IAS Prelims Exam 2017- 24 May 2017

1. डिजिटल इंडिया कॉर्पोरेशन हाल ही में खबरों में है। डिजिटल इंडिया कॉरपोरेशन के बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
I. डिजिटल इंडिया कॉरपोरेशन (डीआईसी) डिजिटल इंडिया कार्यक्रम की दृष्टि, उद्देश्यों और लक्ष्यों को साकार करने में नेतृत्व और मार्गदर्शन करेगी।
II. संगठन की स्वायत्तता और व्यवहार्यता सुनिश्चित करने के लिए, लंबे समय में, डीआईसी, सेवा वितरण के लिए राजस्व आधारित मॉडल तैयार करने के लिए, उद्योग के साथ साझेदारी को सहयोग करेगा और जुड़ाएगा।
III. प्रतिभा का विवेकपूर्ण मिश्रण यह सुनिश्चित करेगा कि सरकार डिजिटल इंडिया से संबंधित परियोजनाओं के सफल डिजाइन के लिए संसाधनों के एक व्यापक स्पेक्ट्रम से लैस है।

निम्न में से कौन सा कथन सही है?
a. केवल I
b. I और II
c. II और III
d. उपरोक्त सभी

उत्तर: d

व्याख्या:

डिजिटल इंडिया कॉरपोरेशन (डीआईसी) डिजिटल इंडिया कार्यक्रम की दृष्टि, उद्देश्यों और लक्ष्यों को साकार करने में नेतृत्व और मार्गदर्शन करेगी। यह ई-गवर्नेंस परियोजनाओं के लिए क्षमता निर्माण के माध्यम से डिजिटल भारत के मिशन को आगे बढ़ाने के लिए मंत्रालयों/विभागों/केन्द्रों/राज्यों को रणनितिक सहायता प्रदान करेगा, सर्वोत्तम प्रथाओं को बढ़ावा देने, सार्वजनिक-निजी भागीदारी (पीपीपी) को बढ़ावा देने, नवाचार और प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न डोमेन में संगठन की स्वायत्तता और व्यवहार्यता सुनिश्चित करने के लिए, लंबे समय में, डीआईसी, सेवा वितरण के लिए राजस्व आधारित मॉडल तैयार करने के लिए, उद्योग के साथ साझेदारी को सहयोग करेगा और एक दूसरे के साथ समन्वय स्थापित करेगा।

इन कार्यों को पूरा करने के लिए, डिजिटल इंडिया कॉर्पोरेशन सरकार और बाजार दोनों में प्रतिभा और संसाधनों को आकर्षित करेगा। प्रतिभा का विवेकपूर्ण मिश्रण यह सुनिश्चित करेगा कि सरकार डिजिटल इंडिया से संबंधित परियोजनाओं के सफल डिजाइन के लिए संसाधनों के एक व्यापक स्पेक्ट्रम से लैस है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 23 मई 2017

2. हाल ही में वित्त मंत्रालय के अधीन आर्थिक मामलों के विभाग ने अपनी उपलब्धियों पर प्रकाश डाला है। पिछले 3 वर्षों में पहल की वजह से भारत की माइक्रो-इकोनोमिक स्टेबिलिटि में सुधार के बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
I. भारत ने 2015-16 में 7.9 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई जो कि 2014-15 में 7.2 प्रतिशत और 2013-14 में 6.5 प्रतिशत थी।
II. विश्व आर्थिक मंच द्वारा 138 देशों के लिए तैयार वैश्विक प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक (जीसीआई) के संदर्भ में भारत 2013-14 के 60वें रैंकिंग की तुलना में 2016-17 में 39वें स्थान पर आ चुका है।

निम्न से से कौन सा विकल्प सही है ?
a. केवल I
b. केवल II
c. I और II
d. न तो I और न ही II

उत्तर : c

व्याख्या:

वित्त मंत्रालय के अधीन आर्थिक मामलों के विभाग द्वारा पिछले 3 वर्षों में किया गया पहल भारत की व्यापक आर्थिक स्थिरता में सुधार लाने का नेतृत्व किया है।

आज भारत कमजोर वैश्विक आर्थिक संदर्भ में प्रमुख देशों में से एक उज्ज्वल स्थान है। 2015-16 में भारत में 7.9 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई जो कि 2014-15 में 7.2 प्रतिशत और 2013-14 में 6.5 प्रतिशत थी। विशेषज्ञ एजेंसियों की भविष्यवाणियों का सुझाव है कि भारत की वृद्धि दर 2017-18 में आगे सुधार करने के लिए तैयार है।

विश्व आर्थिक मंच द्वारा 138 देशों के लिए तैयार वैश्विक प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक (जीसीआई) के संदर्भ में भारत 2013-14 के 60वें रैंकिंग (148 देशों में) की तुलना में 2016-17 में 39वें स्थान पर आ चुका है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 10 मई 2017

3. हाल ही में, कृषि मंत्रालय ने पिछले तीन वर्षों में किसानों और कृषि क्षेत्र के कल्याण के लिए सरकार द्वारा उठाए गए प्रयासों पर प्रकाश डाला है। इस बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
I. प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अन्तबर्गत  वर्ष 2016-17 में 8 लाख 40 हजार हेक्टेलयर का रिकार्ड कवरेज सूक्ष्मक सिंचाई के अधीन लाया गया है।
II. राष्ट्रीसय कृषि बीमा योजना अन्त र्गत सिर्फ खरीफ सीजन में 2011-14 के तीन साल में 6 करोड किसानों ने बीमा कराया।
III. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के आकर्षण के कारण खरीफ फसल में गैर ऋणी किसानों की संख्याि में 238.96% की वृद्धि हुई है तथा इसी तीन वर्ष में इसके पूर्व के तीन वर्षों की तुलना में रवी फसलों में भी गैर ऋणी किसानों की संख्या में 128.50% की वृद्धि हुई है।

निम्न में से कौन सा कथन सही है?
a. केवल I
b. I और II
c. II और III
d. उपरोक्त सभी

उत्तर: d

व्याख्या:

पिछले तीन वर्षों में किसानों और कृषि क्षेत्र के कल्याण के लिए सरकार की कुछ प्रमुख उपलब्धियां:

• वर्ष 2016-17 में खादायान्न उत्पादन के पिछले सारे रिकार्ड टूट गये हैं। इस वर्ष  कृषि और उससे संबंधित क्षेत्रों की वृद्धि दर लगभग 4.4 प्रतिशत रही है।

• 2016-17 के दौरान तृतीय अग्रिम अनुमान के अनुसार देश में कुल खाद्यान्न  का उत्पाीदन लगभग 273.38 मीलियन टन अनुमानित है जो वर्ष 2015-16 की तुलना में 8.67% अधिक है।

• यहां यह भी उल्ले3खनीय है कि खाद्यान्नज का यह उत्पाशदन पिछले 5 वर्षों के औसत उत्पाषदन से भी 6.37% अधिक है।

• 2016-17 के दौरान दलहनों का कुल उत्पानदन 22.40 मिलियन टन अनुमानित है जो अब तक का रिकार्ड उत्पाेदन होगा जो पिछले वर्ष 2015-16 से 37% अधिक है।

• प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अन्त र्गत  वर्ष 2016-17 में 8 लाख 40 हजार हेक्टेकयर का रिकार्ड कवरेज सूक्ष्म  सिंचाई के अधीन लाया गया है।

राष्ट्री य कृषि बीमा योजना अन्तेर्गत सिर्फ खरीफ सीजन में 2011-14 के तीन साल में 6 करोड किसानों ने बीमा कराया। जिसमें 77 लाख गैर ऋणी किसान थे। जबकि 2014-17 के बीच 3 वर्ष में सिर्फ खरीफ सीजन में 9 करोड 47 लाख किसानों ने बीमा कराया जिसमें 2 करोड 61 लाख गैर ऋणी किसान है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के आकर्षण के कारण खरीफ फसल में गैर ऋणी किसानों की संख्याध में 238.96% की वृद्धि हुई है तथा इसी तीन वर्ष में इसके पूर्व के तीन वर्षों की तुलना में रवी फसलों में भी गैर ऋणी किसानों की संख्या में 128.50% की वृद्धि हुई है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 8 मई 2017

4. पिछले तीन वर्षों में औद्योगिक क्षेत्र के प्रदर्शन के बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
I. आठ प्रमुख उद्योगों (कच्चे तेल, प्राकृतिक गैस, पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्पाद, कोयला, बिजली, सीमेंट, स्टील और उर्वरक) के सूचकांक में वर्ष 2016-17 (अप्रैल-जनवरी) में 4.8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई, जबकि यह 2014-16 में 3.4 प्रतिशत और 4.5 प्रतिशत थी।
II. औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) भारत का एक सूचकांक है जो कि खनन, बिजली, सूचना प्रौद्योगिकी, बुनियादी ढांचा और विनिर्माण जैसी अर्थव्यवस्था में विभिन्न क्षेत्रों के विकास का विवरण देता है।
III. अखिल भारतीय आईआईपी एक समग्र सूचक है जो कि किसी चयनित अवधि के दौरान औद्योगिक उत्पादों की एक टोकरी के उत्पादन की मात्रा में अल्पावधि परिवर्तन को निर्धारित अवधि के दौरान सम्मानित करता है।

निम्न में से कौन सा कथन सही है?
a. केवल I
b. I और III
c. II और III
d. उपरोक्त सभी

उत्तर: b

व्याख्या:

28 फरवरी 2017 को सीएसओ द्वारा जारी राष्ट्रीय आय 2016-17 के द्वितीय अग्रिम अनुमानों के मुताबिक, 2016-17 में सकल वैल्यू एडेड (जीवीए) में वृद्धि दर 2016-17 में 5.8 प्रतिशत थी जो कि 2015-16 में 8.2 प्रतिशत और 2014-15 में 6.9 प्रतिशत थी।

आठ प्रमुख उद्योगों (कच्चे तेल, प्राकृतिक गैस, पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्पाद, कोयला, बिजली, सीमेंट, स्टील और उर्वरक) के सूचकांक में वर्ष 2016-17 (अप्रैल-जनवरी) में 4.8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई, जबकि यह 2014-16 में 3.4 प्रतिशत और 4.5 प्रतिशत थी।

औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) भारत का सूचकांक है जो कि खनन, बिजली और विनिर्माण जैसी अर्थव्यवस्था में विभिन्न क्षेत्रों की वृद्धि का विवरण देता है। अखिल भारतीय आईआईपी एक समग्र सूचक है जो कि किसी चयनित अवधि के दौरान औद्योगिक उत्पादों की एक टोकरी के उत्पादन की मात्रा में अल्पावधि परिवर्तन को निर्धारित अवधि के दौरान सम्मानित करता है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 4 मई 2017

5. हाल ही में, भारत के राष्ट्रीय राजधानी में‘ऑस्ट्रेलिया से भारत आई तीन प्रतिमाओं’पर प्रदर्शनी आयोजित किया गया। ऑस्ट्रेलिया से भारत आई तीन निम्न में से किन प्रतिमाओं की सुरक्षित वापसी को चिह्नित करने के लिए यह आयोजन किया गया था?
a. बैठे हुए बुद्ध
b. बुद्ध के उपासक
c. देवी प्रत्यांगिरा
d. ऊपरोक्त के सभी

उत्तर: d

व्याख्या:

केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री महेश शर्मा  ने राष्ट्रीय संग्रहालय, जनपथ, नई दिल्ली में "ऑस्ट्रेलिया से तीन प्रतिमाओं की वापसी" प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। इस प्रदर्शनी का आयोजन ऑस्ट्रेलिया से भारत में  पत्थर की तीन प्रतिमाओं (बैठे हुए बुद्ध, बुद्ध के भक्तो पूजा करने वाले और देवी  प्रत्यंेगिरा) की सुरक्षित वापसी की सुरक्षित वापसी के अवसर पर किया गया। इन प्रतिमाओं को ऑस्ट्रेलिया कला संग्रहालय ने वर्ष 2007 में नैन्सी वीनर से न्यूयॉर्क में और वर्ष 2005 में आर्ट ऑफ़ द पास्ट से  न्यूयॉर्क  में खरीदा था।

महेश शर्मा को ऑस्ट्रेलिया के कैनबरा में ऑस्ट्रेलिया कला संग्रहालय (एनजीए) में आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में भारत से चोरी की गई और बाद में तस्कारी कर भारत से बाहर भेजी गई इन तीन प्राचीन कलाकृतियों को सीनेटर मिच फिफ्ल्ड द्वारा औपचारिक रूप से सौंपा गया था। इन तीनों प्राचीन कलाकृतियों को ऑस्ट्रेलिया कला संग्रहालय द्वारा अनजाने में अधिग्रहित किया गया।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए करंट अफेयर्स: 24 अप्रैल 2017

Related Stories