Search

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 30 जून 2017

करंट अफेर्यस IAS परीक्षा का एक अभिन्न हिस्सा बन गया हैं और IAS प्रिलिम्स परीक्षा के लिए इसकी अच्छी तैयारी होना चाहिए। यहाँ हमने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की हालिया घटनाओं से सम्बंधित मौजूदा मामलों की जानकारी क्विज़ के रुप में दे रहे हैं।

 

Jun 30, 2017 19:18 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

Current Affairs Quiz 17 May

इस लेख में वर्तमान मामलों पर आधारित करंट अफेर्यस प्रश्नोत्तरी दे रहे हैं जो कि IAS परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण चल रहे मुद्दों को दर्शाता है और यह IAS की तैयारी के दौरान उम्मीदवारों को गति प्राप्त करने में मदद करेगा।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 29 जून 2017

1. हाल ही में, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने भारत के निम्नलिखित प्रख्यात हस्तियों में से किस की जन्मदिन की सालगिरह को चिह्नित करने के लिए विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) की ‘निर्यात प्रोत्साकहन योजना 2017 पर एमआईएस रिपोर्ट’ जारी की जारी की है?
a. महात्मा गांधी
b. पीसी महालनोबिस
c. सरदार वल्लभ भाई पटेल
d. लाला लाजपत राय

उत्तर: b

स्पष्टीकरण:

सांख्यिकी और आर्थि क योजना के क्षेत्र में बहुमूल्य् योगदान को मान्यीता देने के लिए भारतीय सांख्यिकी के जनक दिवंगत प्रोफेसर प्रशांत चंद्र महालनोबिस की जयंती के अवसर पर 29 जून, 2017 को 11वें सांख्यिकीय दिवस के अवसर पर वाणिज्य् और उद्योग मंत्रालय में वाणिज्यग सचिव श्रीमती रीता तेवतिया ने ‘निर्यात प्रोत्सागहन योजना 2017 पर एमआईएस रिपोर्ट’ जारी की। यह रिपोर्ट विदेश व्यायपार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने तैयार की है।

यह रिपोर्ट विदेश व्यायपार नीति की निगरानी और आकलन के एक भाग के रूप में डीजीएफटी के सांख्यिकी प्रभाग द्वारा की गई एक पहल है। इस प्रकाशन में डाटा सारणियों, दृश्यव प्रदर्शनों और डाटा विश्लेाषण के रूप में विभिन्नर निर्यात प्रोत्सांहन योजनाओं के अधीन मुख्यर मापदंडों पर नवीनतम जानकारी दी गई है। यह रिपोर्ट जारी की गई आयात-निर्यात संहिता (ईईसी), प्राधिकार/जारी स्क्रिप्सा और 2014-15 से 2016-17 तक की अवधि के लिए विभिन्नत निर्यात प्रोत्सा(हन योजनाओं के तहत उनके सीआईएफ/एफओबी मूल्यों् के बारे में अखिल भारतीय, संभागीय स्तिर और क्षेत्रीय प्राधिकरणवार जानकारी उपलब्धप कराती है। यह रिपोर्ट जारी प्राधिकारों की संख्यान, एफओबी और अग्रिम प्राधिकार के अधीन बचाई गई डयूटी और सीआईएफ मूल्य। तथा एफटीपी की ईपीसीजी योजनाओं के बारे में आरए और सेक्ट रवार (उत्पााद समूह) जानकारी उपलब्ध  कराती है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 27 जून 2017

2. हाल ही में, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय ने राज्य सरकार के अधिकारियों के लिए नए प्रशिक्षण कार्यक्रम 'कॉममिट' की शुरुआत की है। इस बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
I. इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य सार्वजनिक सेवा वितरण तंत्र में सुधार करना है और नागरिकों को क्षमता के माध्यम से नागरिक केंद्रित प्रशासन प्रदान करना है जो नागरिकों से रोज़गार के साथ संवाद करते हैं।
II. वर्तमान वित्तीय वर्ष 2017-18 में पायलट आधार पर असम, हरियाणा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, तेलंगाना और पश्चिम बंगाल के 6 राज्यों में कॉममिट शुरू किया जाएगा।

निम्न से से कौन सा विकल्प सही है ?
a. केवल I
b. केवल II
c. I और II
d. न तो I और न ही II

उत्तर: म

स्पष्टीकरण:

पूर्वोत्तर क्षेत्र (आई/सी), प्रधान मंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष के विकास के लिए राज्य मंत्री ने राज्य सरकार के लिए एक नया प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रक्षेपण प्रशिक्षण (कॉममिट) पर व्यापक ऑनलाइन संशोधित मॉड्यूल लॉन्च किया है। अधिकारियों, यहाँ आज। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य सार्वजनिक सेवा वितरण तंत्र में सुधार करना है और नागरिकों को क्षमता के माध्यम से नागरिक केंद्रित प्रशासन प्रदान करना है जो नागरिकों से रोज़गार के साथ संवाद करते हैं।

चालू वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान पायलट आधार पर शुरूआत में असम, हरियाणा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, तेलंगाना और पश्चिम बंगाल के छह राज्यों में कॉममिट शुरू किया जाएगा और अगले वर्ष के भीतर यह सभी भारत स्तर को कवर करने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि COMMIT इस तरह से डिजाइन किया गया है कि वह स्थानीय/क्षेत्रीय भाषाओं में सामग्री का अनुवाद करने की अनुमति देता है।

3. ऊर्जा मंत्रालय के प्रशासन के तहत ऊर्जा दक्षता सेवा लिमिटेड (ईईएसएल) ने सऊदी अरब साम्राज्य की राष्ट्रीय ऊर्जा सेवा कंपनी, के साथ ऊर्जा दक्षता कार्यक्रमों को लागू करने और खाड़ी देशों में मांग बढ़ाने के उपायों को लागू करने के लिए एक सहमति ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। ईईएसएल के बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
I. ईईएसएल सभी क्षेत्रों में ऊर्जा दक्षता को प्रोत्साहन देने तथा विश्व के सबसे बड़े ऊर्जा सक्षम फोर्टफोलियो (तीन वर्ष के लिए  5.6 बिलियन £) लागू करने का काम कर रहा है।
II. ईईएसएल देश में 23 करोड़ एलईडी बल्ब तथा 20 करोड़ स्मार्ट एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाने में सफल हुआ है।
III. ईईएसएल का उद्देश्य इस कार्यान्वयन के अनुभव का लाभ उठाने और अपने पोर्टफोलियो में विविधता लाने के लिए विदेशी अवसरों का फायदा उठाना है।

निम्न में से कौन सा कथन सही है।
a. केवल I
b. I और II
c. II और III
d. उपरोक्त सभी

उत्तर : d
स्पष्टीकरण:

ऊर्जा मंत्रालय के प्रशासन के तहत ऊर्जा दक्षता सेवा लिमिटेड (ईईएसएल) ने सऊदी अरब साम्राज्य की राष्ट्रीय ऊर्जा सेवा कंपनी, के साथ ऊर्जा दक्षता कार्यक्रमों को लागू करने और खाड़ी देशों में मांग बढ़ाने के उपायों को लागू करने के लिए एक सहमति ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।

एमओयू के अनुसार, ईईएसएल सऊदी अरब द्वारा स्थापित राष्ट्रीय ऊर्जा सेवा कंपनी को परामर्श देगी और उसकी क्षमता का विस्तार किया जाएगा। यह कदम सउदी अरब साम्राज्य द्वारा बिजली सब्सिडी में कमी और ऊर्जा सक्षम कार्यक्रम शुरू करने के परिदृश्य में उठाया गया है। बढ़ती आबादी और ऊर्जा की कीमतों के बढ़ने के बीच सउदी अरब में बिजली की मांग तेज गति से बढ़ रही है। विश्व बैंक के अनुसार सउदी अरब में पैदा बिजली का आधार तेल, गैस तथा कोयला जैसे अनवीकरणीय स्रोतों हैं।

इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय सेवा कंपनी ने ईईएसएल के साथ समझौता किया है ताकि ईईएसएल के स्ट्रीट लाइट कार्यक्रम की सफलता को दोहराया जा सके।

ईईएसएल सउदी अरब में ऊर्जा सक्षम परियोजनाओं के लिए तकनीकी और वित्तीय परामर्श तथा निगरानी के लिए अपने अधिकारियों को सउदी अरब भेजने पर सहमत हैं। ईईएसएल सभी क्षेत्रों में ऊर्जा दक्षता को प्रोत्साहन देने तथा विश्व के सबसे बड़े ऊर्जा सक्षम फोर्टफोलियो (तीन वर्ष के लिए  5.6 बिलियन £) लागू करने का काम कर रहा है। ईईएसएल देश में 23 करोड़ एलईडी बल्ब तथा 20 करोड़ स्मार्ट एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाने में सफल हुआ है।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 23 जून 2017

4. सरकार ने हाल ही में चुनाव आयुक्त अचिल कुमार ज्योति को मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) के रूप में नियुक्त किया है। सीईसी कार्यकाल और हटाने के बारे में निम्नलिखित बयानों पर विचार करें:
1. मुख्य चुनाव आयुक्त को अपने कार्यालय से उसी तरीके को छोड़कर और सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में उसी आधार पर नहीं हटाया जा सकता है।
2. साबित दुर्व्यवहार या अक्षमता के आधार पर हटाया जा सकता है
3. वह 5 साल की अवधि के लिए कार्यालय रखता है।

निम्नलिखित में से कौन से कथन सत्य हैं?
a. 1 और 2
b. 2 और 3
c. 1 और 3
d. 1, 2 और 3

उत्तर: a

स्पष्टीकरण:

चुनाव आयोग मुख्य चुनाव आयुक्त और अन्य चुनाव आयुक्तों की संख्या, यदि कोई हो, के रूप में राष्ट्रपति समय समय पर तय हो सकता है। मुख्य चुनाव आयुक्त और अन्य चुनाव आयुक्तों की नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा की जाएगी। वे छह साल की अवधि के लिए या जब तक वे 65 साल की उम्र तक पहुंचने तक, जो भी पहले हो, पद धारण करते हैं।

मुख्य चुनाव आयुक्त को निश्चित कार्यकाल दिया जाता है। उसे अपने कार्यालय से उसी तरह और सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश के समान आधार पर हटाया नहीं जा सकता। दूसरे शब्दों में उन्हें राष्ट्रपति द्वारा संसद के दोनों सदनों द्वारा विशेष बहुमत के साथ उस प्रभाव को पारित किया गया प्रस्ताव के आधार पर हटाया जा सकता है या तो साबित दुर्व्यवहार या अक्षमता के आधार पर।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए करंट अफेयर्स: 22 जून 2017

5. निम्नलिखित में से कौनसा कथन हाल ही आरंभ किए कॉमिट कार्यक्रम के उद्देश्य का सटीक वर्णन करता है?
a. सार्वजनिक सेवा को ई-गवर्नेंस का भाग बनाने के लिए
b. सरकारी सर्विस डिलीवरी तंत्र में सुधार करने और अधिकारियों के क्षमता निर्माण के माध्यम से नागरिक केंद्रित प्रशासन प्रदान करना
c. सिविल सेवकों के चयन की प्रक्रिया में सुधार करने के लिए
d. उपरोक्त सभी

उत्तर: b

स्पष्टीकरण:

पूर्वोत्तर क्षेत्र (आई/सी), प्रधान मंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष के विकास के लिए राज्य मंत्री ने राज्य सरकार के लिए एक नया प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रक्षेपण प्रशिक्षण (कॉममिट) पर व्यापक ऑनलाइन संशोधित मॉड्यूल लॉन्च किया है। अधिकारियों, यहाँ आज। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य सार्वजनिक सेवा वितरण तंत्र में सुधार करना है और नागरिकों को क्षमता के माध्यम से नागरिक केंद्रित प्रशासन प्रदान करना है जो नागरिकों से रोज़गार के साथ संवाद करते हैं।

चालू वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान पायलट आधार पर शुरूआत में असम, हरियाणा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, तेलंगाना और पश्चिम बंगाल के छह राज्यों में कॉममिट शुरू किया जाएगा और अगले वर्ष के भीतर यह सभी भारत स्तर को कवर करने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि COMMIT इस तरह से डिजाइन किया गया है कि वह स्थानीय/क्षेत्रीय भाषाओं में सामग्री का अनुवाद करने की अनुमति देता है।

IAS Prelims 2017 Expected Cutoff and Paper Analysis in Hindi

Related Stories