Search

अगर आप हैं motivated तो जान लें की सफलता आपके बिलकुल करीब है

अक्सर हम किसी कम को करने के दौरान ये महसूस करते है की ये काम मेरे लिए बड़ा मुश्किल है और अब आगे मुझसे नही हो पाएगा और इसका नतीजा ये होता है कि हम उस काम में फेल हो जाते है. इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताएंगे जिसको आप अगर प्रयोग करें तो आप इस कठिनाई से बाहर निकल सकते है और अपने goal को आसानी से प्राप्त कर सकते हैं.

Feb 23, 2018 16:23 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Seven Simple Ways to Motivate Yourself
Seven Simple Ways to Motivate Yourself

आज इस लेख में हम आपसे कुछ अहम बातों पर चर्चा करेंगे जोकि आपके मोटिवेशन को बढ़ाने में काफी हद तक मददगार साबित होगी. तो आइये जानते हैं खुद को मोटीवेट रखने के लिए किन बिन्दुओं पर हमें खास ध्यान देना चाहिए:

1. छोटे-छोटे लक्ष्य बनायें: सबसे पहले अपना आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए आप अपने किसी भी बड़े लक्ष्य को छोटे-छोटे लक्ष्य में विभाजित करें. ऐसा करने से जब आपका एक छोटा लक्ष्य पूरा हो जायेगा तो आपका खुद ही कॉन्फिडेंस बढ़ने लगेगा और इसके बाद आप अपने दुसरे लक्ष्य को पूरा करने के लिए और प्रेरित हो जायेंगे. जैसे-जैसे आप अपने जीवन में छोटे-छोटे लक्ष्यों को पूरा करते जायेंगे वैसे-वैसे आपका आत्मविश्वास भी बढ़ता चला जायेगा. खुद को मोटीवेट करने के लिए या खुद को प्रेरित करने के लिए अपने गोल्स को पूरा करना बहुत ज़रूरी है और अपने बनाए गोल तक पहुँचने के लिए छोटे-छोटे लक्ष्य बनाना बहुत अहम है. इन छोटे लक्ष्यों के पुरे होने पर ही आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलती है और हम मोटीवेट भी होते रहते हैं.

2. सोच में बदलाव लाएं: जो विचार आपको डीमोटीवेट कर रहे हैं उन्हें पहचानिये या जो विचार आपको आगे बढ़ने नहीं दे रहे उन विचारों में बदलाव लाएं.  उन नकारात्मक विचारों या नकारात्मक चीजों को अपने अंदर से निकालकर उनको सकारात्मक विचारों से बदलने की कोशिश कीजिए. कुछ ऐसे नकारात्मक सोंच जैसे- यह काम करना मुश्किल है, या ये मुझसे तो नही होगा, कैसे हो सकता है ये मुझसे ??? इन्हें सकारात्मक विचारों जैसे – ” ये उतना भी मुश्किल नहीं”  ” ये मैं कर सकती/ सकता हूँ ” आदि से बदल दीजिये. अपने किसी ऐसे आदर्श या उस क्षेत्र के सफल व्यक्ति के बारे में सोचें की उन्होंने खुद को कैसे मोटीवेट किया होगा या कैसे इतने सफल हुए तो आपको खुद महसूस होगा कि” जब ये कर सकते हैं तो मैं क्यों नहीं “. दरअसल ऐसा करना थोड़ा मुश्किल हैं पर यकीन मानिये ये सच में काम करता है आपके मोटिवेशन को बढ़ाने में और आपको सही दिशा में ले जाने में, बस ज़रूरत है तो खुद पर भरोसा रखने की और आगे बढ़ने की चाह रखने की.

3. अपने पिछली उपलब्धियों को याद करें: खुद का मोटिवेशन बढ़ाने का यह एक बहुत अच्छा तरीका है कि आपने अपने पास्ट में जो भी अच्छी उपलब्धियां हासिल की हैं, उनके बारे में ज़रूर सोचा करें इससे आपको मोटिवेशन मिलेगा की आपकी उन उपलब्धियों के लिए खुद को किस प्रकार तैयार किया था और कैसे आपने उन उपलब्धियों को हासिल किया. ऐसा करने से आप अपने कॉन्फिडेंस लेवल को बढ़ा सकते हैं.  आप अपनी पुरानी उपलब्धियों को एक जगह लिख सकते हैं और जब भी आपका आत्मविश्वास कम हो तो तुरंत देखा करें. आपका आत्मविश्वास बढ़ जायेगा.

 

4. आत्मविश्वास को हमेशा अपने अंदर महसूस किया करें: आप कहीं भी हों या किसी भी परिस्थिति में हों, आत्मविश्वास का साथ न छोड़ें. खुद को मोटीवेट रखना बहुत ज़रूरी है. तो खुद को मोटीवेट रखने के लिए अपने आत्मविश्वास को कभी टूटने न दें.  सेल्फ कॉन्फिडेंस होना एक इन्सान के लिए बहुत मायने रखता है. यहाँ यह कहने का मतलब है कि खुद को कमज़ोर न समझे कभी ये नहीं सोंचे की आपसे कुछ नहीं हो सकता.  खुद का सेल्फ कॉन्फिडेंस हमेशा बनाये रखें लेकिन ध्यान रखें की ये सेल्फ कॉन्फिडेंस ओवर कॉन्फिडेंस में न बदले. ऐसा करने से आप कभी भी आत्मविश्वास की कमी महसूस नहीं करेंगे. अगर कोई ऐसा काम भी आता है जिसे करने से आपको डर लगता है तब आत्मविश्वास को महसूस करने की आदत ही आपके उस डर को दूर करने में मददगार साबित हो सकती है.

5. गलती करने से नहीं डरें : बहुत से छात्र गलतियां करने से डरते हैं. उन्हें यह पता नहीं होता कि ऐसा करना एक सफलतापूर्वक जीवन के लिए बहुत ज़रूरी है. दुनिया का कोई भी ऐसा सफल इंसान नहीं है जिसने कभी कोई गलती नहीं की हो. गलतियां तो होंगी लेकिन उन गलतियों से सीखना बहुत ज़रूरी है. यदि आपने अपनी गलतियों से सीखना शुरू कर दिया तो गलतियां आपको आपके आगे की राह के लिए सही सीख देंगी और आपका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा. दुनिया में ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्होंने अपने जीवन की सबसे बड़ी गलती के बाद ही अपने जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि प्राप्त की है.

6. किसी भी काम को टालने की आदत बदलें: कोई भी काम हो चाहे छोटा या बड़ा, उसे समय रहते पूरा करें. अगर आप काम को टालते हैं तो वह काम आपके ऊपर एक नेगेटिव दबाव बना देता है. जिससे आपका कॉन्फिडेंस लेवल कम हो जाता है और अगर आप अपने काम को समय रहते पूरा करते हैं तो आपका आत्मविश्वास बढ़ता जाता है. यदि आपके पास कइ काम एक साथ आए और आपको समझ नही आ रहा कैसे करे तो सबसे पहले वह काम करे जो आपके लिए ज्यादा आवश्यक है और उसके बाद काम की प्रायोरिटी के साथ सभी काम को पूरा करें. इससे आपका काम भी समय पर पूरा होगा जिससे आत्मविश्वास बढ़ेगा और आप खुद को मोटीवेट रख सकेंगे.

7. रिस्क लेने से डरे नहीं: रिस्क लेना भी जीवन में सफल होने के लिए बहुत जरूरी है. बिना रिस्क के कोई सफलता प्राप्त नहीं कर सकता. रिस्क ज़रूर लीजिये मगर नाप तौलकर. यदि सफल हुए तो आत्मविश्वास बढ़ेगा और यदि असफल हुए तो सीख या सबक मिलेगा और जब भी हम कुछ सीखते हैं तो हमारा आत्मविश्वास बढ़ता है. कुछ लोग तो कहते हैं कि जितना बड़ा रिस्क होगा, सफलता भी उतनी ही बड़ी होगी और सफलता जितनी बड़ी होगी, आपका आत्मविश्वास भी उतना ही बढ़ जायेगा.

निष्कर्ष : इस लेख में हमने आपको कुछ ऐसी बातें बताईं हैं जिससे आपको ये स्पष्ट रूप से पता चल गया होगा की खुद को मोटीवेट रखने के लिए किन चीजों पर ध्यान देना चाहिए. खुद पर आत्मविश्वास बनाये रखना कितना आवश्यक है. आशा है कि इस लेख से आपको अपने जीवन में आगे बढ़ने तथा खुद को सफल बनाने के लिए मोटिवेशनल स्किल्स बढ़ाने की काफी सिख मिली होगी जिसे यदि आप अपने दिनचर्या में अपनाये तो आपको खुद बदलाव महसूस होगा.

Related Categories

    Related Stories