Search

HTET 2018 परीक्षा हेतु टिप्स और स्ट्रैटेजी

 क्योंकि इस परीक्षा में हर साल लाखों उम्मीदवारों उपस्थित होते हैं जिसके कारण HTET परीक्षा में प्रतिस्पर्धा का स्तर काफी अधिक होता जा रहा हैंहाल ही की अधिसूचना के अनुसार, हरियाणा TET परीक्षा को 5 जनवरी 2019 और 06 जनवरी 2019 तक आयोजित किया जाएगा. अत: आपको इस परीक्षा हेतु कठिन परिश्रम करना शुरू कर देना चाहिए.

Jan 4, 2019 17:54 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
HTET preparation tips
HTET preparation tips

Haryana TET 2018: HTET परीक्षा 2018 की तैयारी कैसे करें? यह प्रश्न सभी HTET उम्मीदवारों के मस्तिष्क में अवश्य आता होगा क्योंकि इस परीक्षा में हर साल लाखों उम्मीदवारों उपस्थित होते हैं जिसके कारण HTET परीक्षा में प्रतिस्पर्धा का स्तर काफी अधिक होता जा रहा हैं. अत: इस महत्वपूर्ण प्रश्न का उत्तर देने के लिए हमने HTET परीक्षा 2018 हेतु कुछ उपयोगी टिप्स और स्ट्रैटेजीस को तैयार किया हैं.

हाल ही की अधिसूचना के अनुसार, हरियाणा TET परीक्षा को 5 जनवरी 2019 और 06 जनवरी 2019 तक आयोजित किया जाएगा. अत: आपको इस परीक्षा हेतु कठिन परिश्रम करना शुरू कर देना चाहिए और तैयारी के किसी भी पहलू को नज़रंदाज़ नहीं करना चाहिए.

HTET परीक्षा 2018 के लिए कुछ उपयोगी और आवश्यक टिप्स निम्नलिखित हैं-

परीक्षा पैटर्न और सिलेबस को गंभीरता से समझें

परीक्षा पैटर्न और सिलेबस की पूर्ण जानकारी, किसी भी प्रतिस्पर्धी परीक्षा में उच्च स्कोर करने की मुख्य कुंजी हैं. परीक्षा पैटर्न से आपको सभी विषयों और HTET परीक्षा में पूछे गए प्रश्नों की संख्या के बारे में एक आईडिया मिलता हैं जिससे आप तैयारी के दौरान विषयों के अध्ययन हेतु प्राथमिकतायें सुनिश्चित कर सकते हैं. इसके साथ, सिलेबस के विस्तृत विश्लेषण से आपको प्रासंगिक टॉपिक्स के बारे में सही जानकारी मिलेगी. अत: परीक्षा पैटर्न और सिलेबस की पूर्ण जानकारी से आपको इस परीक्षा की कम समय में और अधिक सक्षमता से तैयारी करने में काफी मदद मिलेगी.

समय प्रबंधन

समय प्रबंधन न केवल परीक्षा की तैयारी के लिए महत्वपूर्ण हैं बल्कि इसकी जीवन के हर एक पहलू में एक विशेष महत्वता होती हैं. सभी के पास दिन में 24 घंटे होते हैं. क्या आपने कभी सोचा हैं? क्यों कुछ ही लोग अपने उद्देश्यों में कामयाब हो पाते हैं जबकि अन्य ऐसा नहीं कर पाते? इसका सही उत्तर हैं- समय प्रबंधन शैली का होना.  

HTET परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए, आपको अध्ययन और फिर पुन: रिविजन के लिए टाइम टेबल को तैयार करना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि प्रत्येक विषय और टॉपिक के लिए पर्याप्त समय को आवंटित किया गया हैं या नहीं. टाइमटेबल को इस तरह से डिज़ाइन किया जाना चाहिए कि आप इसे अन्य दैनिक कार्यों को रोकें बिना आसानी से क्रियान्वित कर सकें. रिविजन करना, HTET परीक्षा सहित सभी परीक्षाओं की तैयारी में एक अहम चरण होता हैं. अत: प्रत्येक टॉपिक का रिविजन कम से कम दो बार अवश्य करें ताकि आपको परीक्षा में प्रश्नों को हल करते समय कोई शक या भ्रान्ति न हो.  

HTET 2018: परीक्षा पैटर्न और सिलेबस

प्रासंगिक व स्टैण्डर्ड पुस्तकों को ही रेफ़र करें

परीक्षा की तैयारी में पुस्तकों की अहम भूमिका होती हैं. कॉन्सेप्ट्स और थियोरिज की स्पष्ट समझ के लिए आपको सभी जानकारियां एक जगह व्यवस्थित रूप में चाहिये होंगी. पुस्तकें सभी प्रासंगिक जानकारियों को एक जगह रखने वाला एक बहुत ही महत्वपूर्ण संसाधन हैं. अत: हम आपको केवल आपके शिक्षक और सफल उम्मीदवारों द्वारा सुझायी गयी स्टैण्डर्ड पुस्तकों को ही रेफ़र करने की सलाह देते हैं. इस पैरामीटर को ध्यान में रखते हुए ही आपको पुस्तकों को खरीदना चाहिए.  

अपने नोट्स बनायें

महत्वपूर्ण कॉन्सेप्ट्स और थियोरीज पर अपने नोट्स तैयार करना, एक अच्छी प्रैक्टिस हैं जिससे आप सभी जानकारियों को आवश्यकतानुसार दोहरा सकते हैं. पुस्तकों से कंटेंट को अपने नोट्स में सीधे कॉपी करने का प्रयास बिलकुल न करें. नोट्स को सदैव अपनी भाषा और तरीकों से ही तैयार करना चाहिए ताकि आप सभी जानकारियों को आवश्यकतानुसार तेजी से दोहरा सकें.

पिछले वर्षों के प्रश्न-पत्रों का अधिक से अधिक प्रयास करें

पिछले 5 वर्षों के HTET परीक्षा के प्रश्न-पत्रों को एकत्र करें और सभी प्रश्नों का अभ्यास करें. ऐसा करने से आपको प्रश्नों के प्रकार, प्रश्नों की संख्या और उनके कठिनाई स्तर के बारे में क्लैरिटी प्राप्त होगी. इसके अतिरिक्त, अधिकतर शिक्षक परीक्षाओं में कुछ प्रश्नों को पिछले वर्षों के प्रश्न-पत्रों से दोबारा पूछ लिया जाता हैं. ऐसा आपको अधिकाँशत: बाल विकास व शिक्षाशास्त्र अनुभाग में देखने को मिलेगा. अत: इस स्ट्रैटेजी के जरिये आप परीक्षा में कम मेहनत करके की कुछ अधिक अंको को प्राप्त कर सकते हैं.

ऑनलाइन टेस्ट सीरीज या मॉक टेस्ट्स का अभ्यास करें

पूरा सिलेबस पढने के बाद, आपको ऑनलाइन टेस्ट सीरीज और मॉक टेस्ट्स का अभ्यास अवश्य करना चाहिए. कई वेबसाइट्स पर, ये  ऑनलाइन टेस्ट सीरीज और मॉक टेस्ट्स उचित दाम पर और मुफ्त में भी उपलब्ध हैं. ऑनलाइन टेस्ट सीरीज का अभ्यास करने से आप समस्याओं को समझने और तीव्र गणनाओं को करने की स्किल में निपुण हो जायेंगे.

आत्मविश्वास रखें 

स्वयं पर विश्वास करने से आपके कार्यों में शक्ति और तीव्रता आती है। यह आपके व्यक्तिगत विकास के लिए भी बहुत ज़रूरी हैं. एक शिक्षक के रूप में, आप इसका अर्थ अच्छे से समझ सकते हैं.

"It is not the mountain we conquer, but ourselves." --Sir Edmund Hillary

Related Stories