Search

प्रोडक्टिव ऑफिस लाइफ हेतु खाने की इन खास आदतों का रखें ध्यान

प्रोफेशनल लाइफ में प्रोडक्टिविटी सबसे महत्वपूर्ण चीज है.

Sep 9, 2019 17:40 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Healthy Eating Habits for a Productive Day at Work
Healthy Eating Habits for a Productive Day at Work

प्रोफेशनल लाइफ में प्रोडक्टिविटी सबसे महत्वपूर्ण चीज है. अच्छी तरह नींद पूरी करने के बाद, जब आप नई शुरुआत करने के लिए जागते हैं लेकिन, अगर आप काम पर अक्सर नींद या थकान महसूस करते हैं तो यह आपकी ईटिंग हैबिट चेक करने का समय है. ईटिंग हैबिट प्रोडक्टिविटी में निर्णायक भूमिका निभाती हैं. पूअर ईटिंग हैबिट आपकी प्रोडक्टिविटी को कम कर सकती है. इस लेख में, हमने अच्छी ईटिंग हैबिट के लिए कुछ सुझाव दिया है जो आपको अपनी अच्छी ईटिंग हैबिट विकसित करने और काम पर प्रोडक्टिविटी बढाने में सहायक हैं.

भूख महसूस होने पर कुछ खाएं

काम को प्राथमिकता दें लेकिन भूख को बर्दास्त करते हुए नहीं. अपनी ईटिंग हैबिट को लेकर सजग रहें. भूख से बचने के लिए हर दो घंटे पर कुछ न कुछ खाते रहें. प्रोडक्टिविटी के लिए कैलोरी की उचित मात्रा का सेवन आवश्यक है. कम खाने की आदत अंततः आपकी प्रोडक्टिविटी को प्रभावित करेगी.

सुबह का नाश्ता अवश्य करें

संतुलित और पर्याप्त मात्रा में सुबह का नाश्ता प्रोडक्टिविटी को बनाये रखने का आसान तरीका है. सुनिश्चित करें कि आपने अच्छी तरह सुबह का नाश्ता किया है क्योंकि यह पूरे दिन भूख से लड़ने में मदद करने के साथ साथ आपके वजन को संतुलित रखेगा. यदि आप ठीक तरह से नाश्ता नहीं करते तो यह आपके शरीर को कमजोर कर सकता है. इसलिए, अपने नाश्ते में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट की प्रचुर मात्र लें. नाश्ते में आप अपने पसंदीदा जूस को शामिल कर सकते है.

समय पर लंच करें

खुद को ऊर्जावान बनाये रखने के लिए, थोड़ी थोड़ी मात्रा में खाते रहना अनिवार्य है. एक बार में भोजन की बड़ी मात्रा प्रोडक्टिविटी को काम कर सकती है. इसलिए, लंच करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आपको अभी काम भी करना है. साथ ही दोपहर के भोजन को छोड़ने का विचार न करें क्योंकि इससे काम पर केंद्रित करना कठिन हो सकता है. संतुलित लंच काम पर नींद और आलस्य से बचने में मदद कर सकता है. लंच में हरी सब्जियां और सलाद ज़रूर शामिल करें.

पानी की कमी न होने दें

पानी, सक्रिय और सचेत रहने के लिए बहुत ज़रूरी है. खासकर तब जब आपको लगातार 7-8 घंटे कंप्यूटर के सामने काम करना हो. लम्बे समय तब काम करते रहने से मानसिक थकान होती है. ऐसी स्थिति में, पानी हाइड्रेटेड रहने में आपकी मदद करेगा और आपके मन और शरीर को स्वस्थ रखेगा. शरीर में पानी की पर्याप्त मात्रा आपके ऊर्जा के स्तर को बनाये रखेगा और शरीर में रक्त प्रवाह को सुनिश्चित करेगा. इसलिए, अपनी डेस्क पर पानी की बोतल रखें और उसे समय समय पर पर्याप्त मात्रामें पानी पीते रहें. इसे खाली न होने दें क्योंकि इसका निरंतर उपयोग आपको तारो-ताज़ा रखेगा.

संतुलित कैफीन कैलोरी का सेवन करें

प्रायः दो तरह के लोग होते हैं. एक जो कॉफ़ी बहुत पसंद करते और पीते हैं. दूसरे, वो जो न तो इसे पसंद करते हैं न ही पीते हैं. अक्सर यह देखा जाता है कि जो लोग कॉफी बहुत पीते हैं वे न पीने वालों की तुलना में जल्दी उत्तेजित होते हैं. हालांकि कॉफी का सेवन सामान्यता भूख को नियंत्रित करता है लेकिन अधिक सेवन आपकी पाचन क्रिया को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है. लेकिन संतुलित सेवन से आप इसके दुष्प्रभाव से बच सकते हैं.

जंक फ़ूड से बचें

बर्गर, फ्रेंच फ्राइज़, नूडल्स और पिज्जा, हर किसी की प्राथमिकता होती है. खासकर तब, जब स्पाइसी और टेस्टी खाने की बात हो . फ़ास्ट फ़ूड पसंद करने वालों में यूथ की तादाद ज्यादा है. अमेरिकी जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रिशन में प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार, फ़ास्ट फ़ूड के सेवन से कंसंट्रेशन, प्रोडक्टिविटी, स्पीडऔर मूड दुष्प्रभावित होता है. एक अन्य स्टडी के अनुसार, फास्ट फूड को रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट के साथ पैक किया जाता है और यह ब्लड प्रेशर के तेजी से उतार चढ़ाव का कारण होता है. ब्लड प्रेशर में अनियमित उतार-चढ़ाव चिंता,भ्रम और थकान पैदा कर सकता है. हमें विश्वास है कि काम परआप उपरोक्त किसी भी दुष्प्रभाव का शिकार नहीं बनना चाहेंगे. इसलिए, जंक फूड से बचें. खासकर तब, हमें उम्मीद है कि इन हेल्दी ईटिंग हैबिट का पालन करने के बाद, आप अपने वर्क स्टाइल और प्रोडक्टिविटी में काफी बदलाव देखेंगे.

Related Stories