Search

जानें सेक्शन ऑफिसर बनने के लिए क्या है योग्यता, चयन प्रक्रिया, सैलरी और कहां मिलेगी नौकरी?

सेक्शन ऑफिसर का पद केंद्र और राज्य सरकार के विभिन्न मंत्रालयों एवं विभागों, विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों, आदि के अंतर्गत किसी उप-विभाग में प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर होता है.

Dec 7, 2018 15:46 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

सेक्शन ऑफिसर का पद केंद्र और राज्य सरकार के विभिन्न मंत्रालयों एवं विभागों, विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों, आदि के अंतर्गत किसी उप-विभाग में प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर होता है. सेक्शन ऑफिसर का पद संबंधित विभाग की रिक्ति के अनुसार द्वितीय श्रेणी के कर्मचारी के रूप में होता है. सेक्शन ऑफिसर का कार्य होता है कि वह संबंधित विभाग या उप-विभाग में प्रशासनिक कार्यों (जैसे – फाइलों का रख-रखाव एवं एक्शन, नोटिंग, ड्राफ्टिंग, नियमों का क्रियान्वयन एवं पालन, आदि) का निष्पादन सभी अधीनस्थ कर्मचारियों के माध्यम से सुनिश्चित करे. संगठन या संस्थान मंr प्रशासनिक मामलों, नियमों के पालन के संबंध में सभी प्रकार के निर्णय वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा निर्देशित गाइडलाइंस के सुनिश्चित करे.

सेक्शन ऑफिसर की भूमिका संबंधित विभाग में प्रशासनिक कार्यों के संचालन के संदर्भ में बहुत महत्वपूर्ण होती है. इसलिए सेक्शन ऑफिसर बनने के लिए आवश्यक स्किल्स में से जरूरी है कि आपको सरकारी नियमों एवं प्रावधानों, फाइलिंग, नोटिंग, ड्राफ्टिंग और अन्य ऑफिशियल कार्यों एवं दायित्वों का पूरी जानकारी हो. संगठन के निदेशक, आदि अधिकारियों के निर्देश पर कार्यों को तय-सीमा में निपटाने में पारंगत होना चाहिए और संबंधित कंप्यूटर सॉफ्टवेयर को चलाने में सक्षम होना चाहिए.

सेक्शन ऑफिसर के लिए कितनी होनी चाहिए योग्यता?
सेक्शन ऑफिसर बनने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से किसी भी विषय में स्नातक डिग्री उत्तीर्ण होना चाहिए और किसी सरकारी संगठन या विभाग में पे-बैंड 2 के स्तर पर कम से कम पांच वर्ष का अनुभव होना चाहिए. इसके अतिरिक्त परा-स्नातक उत्तीर्ण और संबंधित क्षेत्र में अनुभव रखने वाले उम्मीदवारों का वरीयता दी जाती है. इसके साथ ही, कंप्यूटर अप्लीकेशन में डिप्लोमा उत्तीर्ण होना चाहिए और कंप्यूटर पर व्यवहारिक रूप से कार्य करने में पारंगत होना चाहिए.

सेक्शन ऑफिसर के लिए कितनी है आयु सीमा?
सेक्शन ऑफिसर बनने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार की आयु 21 वर्ष से 35 वर्ष के बीच हो. हालांकि, कुछ संस्थानों में अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष या अधिक भी हो सकती है. आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को अधिकतम आयु सीमा सरकार के नियमानुसार छूट दी जाती है.

सेक्शन ऑफिसर के लिए चयन प्रक्रिया
सेक्शन ऑफिसर के पद पर उम्मीदवारों का चयन आमतौर पर शैक्षणिक रिकॉर्ड, लिखित परीक्षा और स्किल टेस्ट के आधार पर किया जाता है. लिखित परीक्षा में सामान्य अंग्रेजी, गणित, रीजनिंग, सामान्य ज्ञान, सामान्य अभिरूचि और सर्विस रूल्स से संबंधित प्रश्न होते हैं. जबकि स्किल टेस्ट में एमएस-वर्ड, एमएस-एक्सेल, एमएस-पॉवर प्वाइंट, आदि से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं.

कितनी मिलती है सेक्शन ऑफिसर को सैलरी?
सेक्शन ऑफिसर के पद पर सातवें वेतन आयोग के पे-मैट्रिक्स के लेवल-8 के अनुरूप रु. 47600/- की सैलरी दी जाती है. इसके अतिरिक्त गृह किराया भत्ता (एच.आर.ए.), परिवहन भत्ता, आदि देय होता है. वहीं, राज्य सरकारों के विभागों एवं संस्थानों में वेतनमान संबंधित राज्य के समकक्ष स्तर पर निर्धारित वेतनमान के अनुसार दिया जाता है जो कि राज्य के अनुसार अलग-अलग होता है.

सेक्शन ऑफिसर की कहां मिलेगी सरकारी नौकरी?
सेक्शन ऑफिसर का पद केंद्र और राज्य सरकार के विभिन्न मंत्रालयों एवं विभागों, विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों,  आदि में होने के कारण इस पद के लिए रिक्तियां समय-समय पर इन्हीं संस्थानों में समय-समय पर निकलती रहती हैं. इन सभी रिक्तियों के बारे में भारत सरकार के प्रकाशन विभाग से प्रकाशित होने वाले रोजगार समाचार, दैनिक समाचार पत्रों एवं सरकारी नौकरी की जानकारी देने वाले पोर्टल्स या मोबाइल अप्लीकेशन के माध्यम से अपडेट रहा जा सकता है.

Related Stories