Search

SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2019 की तैयारी कैसे करें?

कुछ दिनों में SBI PO 2019 प्रीलिम्स परीक्षा आयोजित होगी। इस लेख में हम SBI PO Prelims परीक्षा 2019 की तैयारी के लिए कुछ उपयोगी टिप्स बता रहें है।

May 28, 2019 12:47 IST
SBI PO Prelims 2019: Tips and Strategies

SBI PO 2019 परीक्षा की तैयारी कैसे करें?" या "एसबीआई क्लर्क 2019 के लिए तैयार कैसे करें", आजकल इंटरनेट पर ऐसे प्रश्न बहुत खोजे जा रहें हैं। प्रश्न और उत्तर वेबसाइट 'Quora.com' पर भी अभ्यर्थियों द्वारा ऐसे प्रश्न पूछे जा रहे है। जैसे "मैं कोचिंग के बिना SBI PO परीक्षा 2019 की तैयारी कैसे करूं?" या "9 दिनों में SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा की तैयारी कैसे करें और इसे क्रैक करें?"
इस लेख में, हमने SBI PO परीक्षा 2019 की तैयारी के लिए कुछ उपयोगी टिप्स के साथ उपरोक्त सभी प्रश्नों के उत्तर देने का प्रयास किया है।
हो सकता है, आपने विभिन्न कोचिंग सेंटरों के शिक्षकों से यह सुना हो कि SBI PO भर्ती परीक्षा की तैयारी के लिए 3 महीने पर्याप्त हैं। लेकिन, इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है कि आप 1 महीने की तैयारी के साथ SBI PO 2019 की प्रीलिम्स परीक्षा क्रैक नहीं कर सकते है। यदि सही योजना के साथ इस परीक्षा की तैयारी की जाये तो अवश्य की यह संभव है।
प्रतिष्ठित कोचिंग केंद्रों के शिक्षकों और विषय विशेषज्ञों के साथ विचार-विमर्श करने के बाद, हम यहं परीक्षा की तैयारी के लिए कुछ उपयोगी टिप्स प्रदान कर रहें हैं जिसकी मदद से औसत उम्मीदवार (average candidate) 30 दिनों से कम समय में भी SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2019 क्रैक कर सकता है।

SBI PO 2019 के लेटेस्ट सिलेबस से सभी टॉपिक्स का विश्लेषण करें:

30 दिनों से कम समय में SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2019 की तैयारी के लिए उम्मीदवारों को सर्वप्रथम SBI PO परीक्षा के पूर्ण पाठ्यक्रम का विस्तृत विश्लेषण करना चाहिए।

उदाहरण के लिए:

क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड सेक्शन में विभिन्न टॉपिक जैसे संख्या श्रृंखला, द्विघात समीकरण (Quadratic equation), प्रतिशत, अनुपात और समानुपात, औसत, लाभ और हानि, पाइप और टंकी, समय और दूरी, समय और कार्य, ऊंचाई और दूरी, सरल और चक्रवृद्धि ब्याज इत्यादि टॉपिक से प्रश्न पूछे जाते हैं।

पिछले वर्षो के प्रश्न पत्रों में यह देखा गया है कि SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2019 प्रत्येक टॉपिक से कुछ   विशिष्ट प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं।

यहां हम अनुपात और समानुपात चैप्टर से टॉपिक रेश्यो (topic Ratio) का उदाहरण लेते हैं, तो SBI PO प्रीलिम्स की पिछले वर्षों की परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के प्रकार निम्नानुसार हैं:

टाइप 1:

प्रश्न: एक स्कूल में, 990 लड़के और 540 लड़कियां हैं, उस स्कूल में लड़कों की संख्या का लड़कियों की संख्या से क्या अनुपात है?

प्रश्न: संख्या 4200 को 3: 4 के अनुपात में दो भागों में विभाजित किया गया है। संख्या का पहला और दूसरा भाग क्या है?

टाइप 2:

प्रश्न: एक आदमी 25000 प्रति रुपये प्रति माह कमाता है। जिसमें से वह 5000 रुपये बचाता है। उस व्यक्ति के व्यय का उसकी बचत से अनुपात, उसकी आय का उसकी बचत से अनुपात और उसकी आय का व्यय से क्या अनुपात है?

प्रश्न: तीन संख्याए 1/2: 1/3: 1/4 के अनुपात में हैं। यदि उनका योग 455 है, तो वह संख्याएं ज्ञात करिए।

टाइप 3:

प्रश्न: ए बी व सी का मासिक वेतन 4: 5: 7 के अनुपात में है। यदि सी का मासिक वेतन ए की तुलना में 309 रुपए अधिक है, तो बी का वार्षिक वेतन क्या है?

प्रश्न: ए और बी की वार्षिक आय 7: 6 के अनुपात में है और उनके वार्षिक व्यय 6: 5 का अनुपात है। अगर उनमें से प्रत्येक 9,000 प्रति माह रुपये बचाता है। तो ए की वार्षिक आय क्या है?

नोट: यह सिर्फ एक उदाहरण है (और इस कारण से हमने इन प्रश्नों के विकल्प और उत्तर प्रदान नहीं किए हैं)

इस तरह से आपको हर टॉपिक तथा उस टॉपिक से पूछे जाने वाले प्रश्नों के व्यापक विश्लेषण की आवश्यकता है। लेकिन एक बार जब आप यह विश्लेषण कर लेंगे तो आप यह जान जायेंगे कि पूरे सिलेबस को कवर करने के लिए आपको दैनिक आधार पर कितना समय देना होगा।

SBI PO परीक्षा की तैयारी के लिए सर्वश्रेष्ठ समाचार चैनल

2 # दैनिक आधार पर मॉक टेस्ट दे  और परिणाम का विश्लेषण करें:

चाहे आपने एक दिन में टॉपिक पढ़ा हो या उससे अधिक परन्तु  यदि आप SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा को क्रैक करना चाहते हैं तो आपको दैनिक आधार पर एक मॉक टेस्ट हल करने का प्रयास करना चाहिए।

दैनिक आधार पर मॉक टेस्ट हल करने के कई फायदे हैं। यदि आप दैनिक आधार पर 1 से 2 फुल-लेंथ मॉक टेस्ट हल करते है तो आप निम्न चीज़े सीखते है:

  • समय-प्रबंधन (time management)
  • प्रत्येक सेक्शन और टॉपिक के लिए अपनी तैयारी के स्तर के बारे में (your level of preparation for each section and topic for the exam)
  • आप कहाँ स्टैंड करते है
  • कुछ महत्वपूर्ण कॉन्सेप्ट्स जिनसे प्रश्न पूछे जा सकते हैं

यदि आप मॉक टेस्ट के परिणामों का विश्लेषण नहीं करते हैं तो सिर्फ मॉक टेस्ट देने से आपकी तैयारी पूरी नहीं होगी। मॉक टेस्ट का विश्लेषण करते समय इन कारकों को ध्यान में रखें:

हल किये गये प्रश्न (Attempted questions)

छोड़े गये अर्थात् बिना प्रयास किये गये प्रश्न (Unattempted questions)

 गलत हल किये गये प्रश्न (Wrong questions)

समय लेने वाले अर्थात् लम्बे प्रश्न (Time consuming questions)

समय लेने वाले सेक्शन (Time consuming sections)

 प्रत्येक मॉक टेस्ट के बाद अपने कमजोर विषयों/टॉपिक्स जानें और उनकी विषयों/टॉपिक्स की और प्रैक्टिस करें। कुछ दिनों के बाद आप पाएंगे कि प्रत्येक मॉक टेस्ट के बाद आपकी परफॉरमेंस में दिन-प्रतिदिन सुधर आ रहा है।

3 # रिवीजन अत्यंत महत्वपूर्ण है

किसी भी विषय को पढने के बाद रिवीजन करना बहुत महत्वपूर्ण है। यदि आप SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा को क्रैक करना चाहते हैं तो कम समय की तैयारी के साथ क्रैक करना चाहते है, तो आपको दैनिक आधार पर पढ़े हुए प्रत्येक टॉपिक को रिवाइज करना चाहिए।

आपको शॉर्ट और पॉइंट वाइज नोट्स बनाना चाहिए जिसके सहायता से आप आसानी से रिवीजन कर सकें।

आपको हर रोज़ सभी बेसिक सूत्रों अर्थात् फ़ॉर्मूला, महत्वापूर्ण  प्रश्नों, उदाहरणों और कॉन्सेप्ट्स को रिवाइज करना चाहिए। इससे परीक्षा के समय आप पर एक साथ रिवाइज करने का दबाव नहीं पड़ेगा।

4 # SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2019 के नवीनतम परीक्षा पैटर्न से परिचित हो

SBI PO भर्ती परीक्षा 2019 की नवीनतम अधिसूचना के अनुसार, SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा में 100 अंकों का ऑब्जेक्टिव टाइप टेस्ट ऑनलाइन आयोजित किया जाएगा।

SBI PO 2019: प्रीलिम्स परीक्षा का पैटर्न:

प्रीलिम्स परीक्षा ऑनलाइन आयोजित करायी जाएगी जिसमें तीन खंड शामिल होंगे:

विषय का नाम

प्रश्नों की संख्या

अधिकतम अंक

 कुल अवधि

अंग्रेजी भाषा

30

 

 

100

20 मिनट

क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड

35

20 मिनट

तर्क क्षमता       

35

20 मिनट

कुल

100

60 मिनट

आपको प्रत्येक सेक्शन में कट ऑफ क्लियर करना होगा। अतः प्रत्येक सेक्शन में प्रश्नों को हल करने के लिए आपके पास एक निश्चित समय है ; तदनुसार प्रत्येक सेक्शन के लिए आपको स्वयं की रणनीति तैयार करनी चाहिए।

5 # पिछले वर्ष की परीक्षा के विश्लेषण से सीखें

पिछले वर्ष SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा का विश्लेषण आपको परीक्षा के कठिनाई स्तर और प्रश्नों के पैटर्न के बारे में समझने में मदद करेगा। विश्लेषण के माध्यम से आप परीक्षा के लिए सबसे महत्वपूर्ण टॉपिक्स  के बारे में भी जान पायेगे।

उदाहरण के लिए:

SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2017 में 100 प्रश्न पूछे गए थे। खंडानुसार विवरण निम्नानुसार हैं:

विषय का नाम

अधिकतम अंक

कठिनाई का स्तर

तर्क क्षमता       

35

इजी टू मॉडरेट

क्वांटिटेटिव एप्टीटुड

35

इजी टू मॉडरेट

अंग्रेजी भाषा

30

इजी

अभ्यर्थी उपरोक्त जानकारी के सहायता से SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2019 के लिए अपनी रणनीति बना सकते है।

SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2017 में क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड सेक्शन का टॉपिक-वाइज विवरण निम्नलिखित है। जैसा कि अपेक्षित था, अधिकतर प्रश्न डेटा इंटरप्रिटेशन टॉपिक से पूछे गये थेI

SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2017: क्वेश्चन ब्रेक-अप क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड सेक्शन

यह सिर्फ एक उदाहरण है और उम्मीदवारों को सेक्शन-वाइज विश्लेषण को समझने की आवश्यकता है। विश्लेषण के माध्यम से आप परीक्षा के लिए सबसे महत्वपूर्ण  टॉपिक्स के बारे में जान पाएंगे। जैसे  क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड सेक्शन के लिए सबसे महत्वपूर्ण टॉपिक डेटा इंटरप्रिटेशन है।

आप नीचे दिए गए लिंक से SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2017 का पूरा विश्लेषण देख सकते हैं:

SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2017: विस्तृत परीक्षा विश्लेषण और समीक्षा

SBI PO Prelims 2018: Exam analysis

SBI PO प्रीलिम्स परीक्षा 2019 की एक महीने से भी कम समय में तैयारी के लिए ये कुछ महत्वपूर्ण सुझाव हैं। कड़ी मेहनत के साथ कोई भी औसत उम्मीदवार परीक्षा को क्रैक कर सकता है।

SBI PO Syllabus 2019: Detailed Syllabus for Prelims & Mains Exam