आईबीपीएस आरआरबी 2018: जानें कितना जा सकता है इस बार का कट-ऑफ

Sep 7, 2018 17:55 IST
  • Read in English
Official IBPS RRB Cut off 2018
Official IBPS RRB Cut off 2018

आईबीपीएस आरआरबी 2018 की परीक्षाएं आरंभ हो चुकी है और इस समय उम्मीदवार आईबीपीएस आरआरबी 2018 की कट-ऑफ को लेकर अक्सर चर्चा कर रहे हैं. इस बात का ध्यान रखते हुए हमने इस आर्टिकल में IBPS RRB 2018 की Expected Cut–off (ऑफिस असिस्टेंट और ऑफिसर स्केल I) के बारे में बात की है.

इसके आलावा, इस आर्टिकल में हमने पिछली बार हुई IBPS RRB परीक्षा की Cut–off  के बारे में भी जानकारी दी है. इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद उम्मीदवारों को एक आईडिया लग जाएगा कि इस बार सेलेक्ट होने के लिए उन्हें लगभग कितने सवाल हल करने चाहिए.

बैंक में भर्ती (या किसी भी रिक्रूटमेंट) के लिए आयोजित होने वाली परीक्षाओं का कट-ऑफ तीन मुख्य बातों पर सबसे ज़्यादा निर्भर करता है:

• पदों की संख्या (Number of Vacancies)

• आवेदनों की संख्या (Number of Applications)

• परीक्षा की कठिनाई का स्तर (Difficulty level of the exam)

अब हम एक-एक करके हर एक बिंदु पर विस्तार से चर्चा करेंगे

IBPS RRB PO 2018: Prelims Exam Analysis & Review (11th & 12th August): Check Here

आइये अब जानते है कि पिछली बार की तुलना में इस बार क्या-क्या चीजें बदली हैं

पदों की संख्या कम हुई है:

पिछले साल, रिक्तियों की संख्या लगभग 15,000 के आस पास थी [Office Assistant (Multipurpose) पदों के लिए 8000+ रिक्तियों, Officer Scale I पदों के लिए 5000+ रिक्तियों, और बाकी अन्य पदों के लिए].

लेकिन, इस साल रिक्तियों की संख्या लगभग 10,000 के आस पास है [Office Assistant (Multipurpose) के लिए 5000+ रिक्तियों, Officer Scale I के लिए 3000+ रिक्तियों, और अन्य पदों के लिए बाकी हैं]. यानी इस बार रिक्तियां की संख्या में भारी कमी देखने को मिली है और इस वजह से इस बार का कटऑफ पिछले वर्ष की तुलना में ज़्यादा हो सकता है.

ज्यादा आवेदनों की उम्मीद:

IBPS द्वारा कराई जा रही परीक्षाओं के लिए आवेदनों की संख्या हर साल हर बढ़ रही है. इस बार भी यह माना जा रहा है कि पिछले साल के मुक़ाबले इस साल आवेदनों की संख्या ज़्यादा होगी और यह दूसरी बड़ी वजह है जिसकी वजह से इस बार का कटऑफ पिछले वर्ष की तुलना में ज़्यादा हो सकता है.

परीक्षा की कठिनाई का स्तर:

हल ही में हुई SBI Clerk, SBI PO और BOB PO एग्ज़ाम्स की कठिनाई स्तर तो इस बार कोई खास बदलाव देखने को नहीं मिले और इसे देखते हुए एक्सपर्ट्स ये मान रहे हैं कि इस बार की IBPS RRB परीक्षा में भी कोई खास बदलाव देखने को शायद न मिले.
लेकिन, कभी-कभी परीक्षा में बहुत कठिन प्रश्न पूछ लिए जाते हैं और कभी-कभी बहुत आसान. जब परीक्षा में बहुत ज़्यादा कठिन प्रश्न पूछे जाते हैं तो कटऑफ कम जाता है और जब परीक्षा में बहुत सरल प्रश्न पूछे जाते हैं तो कटऑफ हाई जाता है. अगर पिछले साल की तुलना में इस साल प्रश्नों की कठिनाई के स्तर में कोई ख़ास बदलाव नहीं हुआ तो इस साल की Cut-off ज़्यादा रहने की पूरी उम्मीद है.

कितना जा सकता है इस बार आईबीपीएस आरआरबी 2018 कट-ऑफ

ऊपर दी गई बातों के ध्यान में रखते हुए हम ये कह सकते हैं कि इस बार IBPS RRB 2018 का कटऑफ पिछले वर्ष की तुलना में 10% से 20% ज़्यादा होगा.

इस बात को हम एक उदाहरण के द्वारा समझते है:

मान लीजिये, पिछले साल, IBPS RRB Prelims में Office Assistant की पोस्ट के लिए Quantitative Aptitude सेक्शन का कटऑफ 10.75 अंक था और Reasoning Ability सेक्शन के लिए 12.75 अंक था.

तो इस पोस्ट के लिए इस बार का सेक्शनल कट-ऑफ इतना हो सकता है

Quantitative Aptitude – 11.83 to 12.9

Reasoning – 14.03 to 15.30

इसी प्रकार, अगर IBPS RRB Office Assistant पोस्ट (उत्तर प्रदेश) की ओवरआल कटऑफ की बात करें तो ये  62.42 से 68.10 अंक हो सकती है. इसी तरह हम किसी भी राज्य के लिए IBPS RRB 2018 की Expected कटऑफ निकाल सकते हैं (पिछले साल के कट ऑफ में बस 10% से 20% अंक बढ़ाएं).

अगर आप पिछले वर्ष की कटऑफ जानना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए लिंक के द्वारा जान सकते हैं

IBPS RRB Cut–off 2018: Expected & Previous Year

DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

Commented

    Latest Videos

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK
    X

    Register to view Complete PDF