SRMU के विशेषज्ञों से जाने प्रोफेशनल कोर्स और यूनिवर्सिटी चुनते समय कैसे बरतें समझदारी

स्कूल और कॉलेज में सही करियर का चुनाव भविष्य में छात्र की दशा और दिशा तय करता है। इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि छात्र ऐसे कोर्स को चुनें जो उनकी नौकरी की संभावनाओं को बढ़ा सके।

Created On: Oct 6, 2021 13:02 IST
SRMU के विशेषज्ञों से जाने प्रोफेशनल कोर्स और यूनिवर्सिटी चुनते समय कैसे बरतें समझदारी
SRMU के विशेषज्ञों से जाने प्रोफेशनल कोर्स और यूनिवर्सिटी चुनते समय कैसे बरतें समझदारी

स्कूल और कॉलेज में सही करियर का चुनाव भविष्य में छात्र की दशा और दिशा तय करता है। इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि छात्र ऐसे कोर्स को चुनें जो उनकी नौकरी की संभावनाओं को बढ़ा सके। वर्तमान में लगभग सभी सरकारी एवं निजी शिक्षण संस्थाओं में विभिन्न स्नातक, परास्नातक तथा डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। देश के विभिन्न संस्थान अपने यहां संचालित कोर्सो को विज्ञापनों के माध्यम से प्रचारित कर रहे हैं। लेकिन छात्रों के सामने यह चुनौती है कि वो इन अलग-अलग कोर्स में से अपने लिए सही कोर्स कैसे चुनें। इसमें आपकी Shri Ramswaroop Memorial University (SRMU) के विशेषज्ञों की राय जरूर काम आ सकती है।  

श्री राम स्वरूप मेमोरियल विश्वविद्यालय (SRMU) के विशेषज्ञों से जानें सही कोर्स एवं संस्थान का चयन कैसे करें

प्रोफेशनल कोर्स चुनते समय बरतें समझदारी

अपना कोर्स चुनते समय आपको सबसे महत्वपूर्ण सवाल अपने आप से पूछना है कि आप उक्त कोर्स को क्यों पढ़ना चाहते हैं। क्या इसमें आपकी रूचि है, क्योंकि यह जानना वास्तव में महत्वपूर्ण है कि आप किसमें रुचि रखते हैं। ऐसा देखा गया है कि मां-बाप के दबाव और लाभ के चक्कर में छात्र कोर्स को तो चुन लेते हैं, लेकिन रूचि न होने की वजह से जॉब में इसे बरकरार नहीं रख पाते। रूचि अनुसार चुना गया साधारण कोर्स भी आपको सफल बना सकता है, जबकि गलत तरीके से चुना गया प्रोफेशनल कोर्स भीआपको अपेक्षित परिणाम नहीं देगा।

कोर्स के भविष्य के बारे में जानें 

कोर्स चुनते समय इस बात का ध्यान रखें कि इसका भविष्य क्या है। क्या उसमें आगे भी ग्रोथ रहेगी। आपको जांच करनी चाहिए कि निकट भविष्य में आपके कोर्स का रुझान कैसा रहने वाला है। आप जो कोर्स कर रहे हैं क्या वह आगे भी काम आएगा। वेतन क्षमता या नौकरी के अवसर जैसे कारकों की अवहेलना न करें, क्योंकि ये आपके भविष्य को प्रभावित करेंगे।  

कोर्स के बारे में जानकारों की राय है जरूरी  

किसी भी संस्थान अथवा कोर्स का चयन अपने मित्रों आदि की देखा देखी न करें। आप जो कोर्स करना चाहते हैं उसके बारे में जानकरों से राय जरूर लें। अर्थात उन लोगों से बात करें जिन्होंने यह कोर्स किया है। इससे आपको कोर्स के बारे में कई महत्वपूर्ण जानकारी मिलेगी और आप जान पाएंगे कि आपने जो कोर्स चुना है, वह आपके लिए आवश्यक है भी या नहीं।  

संस्थान का चुनाव करते समय अच्छे से जॉच पड़ताल करें 

आपने कोर्स के बारे में पता कर लिया। अब आपको यह जानना है कि आपके कोर्स से संबंधित सही शिक्षा कहां मिलेगी। इसलिए संस्थान या यूनिवर्सिटी चुनते समय आपको कई बातों पर ध्यान देना चाहिए जैसे - यूनिवर्सिटी का इंफ्रास्ट्रक्चर और फैकल्टी कैसी है? आपने जो कोर्स चुना है, उसकी पढ़ाई वहां कैसे होती है? यूनिवर्सिटी का माहौल कैसा है? और सबसे महत्वपूर्ण प्लेसमेंट रिकॉर्ड कैसा है? इस संबंध में आप संस्थान का चुनाव करते समय अच्छे से जांच पड़ताल करें। मान्यता, शिक्षा प्रणाली, शिक्षकों का विवरण, इंडस्ट्री इंटरफेस और प्लेसमेंट आदि के बारे में पुख्ता जानकारी हासिल करें।

बात जब सही कोर्स की हो तो  Shri Ramswaroop Memorial University (SRMU) ने अल्प समय में ही इंजीनियरिंग, कम्प्यूटर एप्लीकेशन, आर्किटेक्चर, बायोटेक्नोलॉजी, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, लॉ, जर्नलिज्म, एग्रीकल्चर, बी.एड., आर्ट्स, साइंस, कॉमर्स, मैनेजमेंट एवं पॉलीटेक्निक आदि क्षेत्रों में सफलता के नये सोपान स्थापित किये हैं।

विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों के अनुसार सफलता का आधार निम्न बिंदुओं पर किया जाने वाला सतत कार्य है -

सर्वश्रेष्ठ शिक्षकों का चुनाव  

करियर और व्यवसाय में सफल होने के लिए शिक्षक हमारे जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। SRMU के संस्थापकों का यह दृढ़ विश्वास है कि श्रेष्ठ शिक्षक ही एक छात्र के उत्तम भविष्य का निर्माण करते हैं। उनकी सोच विश्वविद्यालय में कार्यरत शिक्षकों के रूप में परिलक्षित होती है। विभिन्न संकायों में कार्यरत यह शिक्षक IIT, NIT, IIM, NLU आदि देश के सर्वश्रेष्ठ संस्थानों से संबंध रखते हैं।

इंडस्ट्री आधारित पाठ्यक्रम

इंडस्ट्री आधारित पाठ्यक्रम आज पहले से कहीं अधिक आवश्यक हैं। श्री रामस्वरूप मेमोरियल विश्वविद्यालय (SRMU) एकमात्र ऐसा संस्थान है जहां Cognizant, TCS, Wipro, SAP, IBM, JBM आदि दिग्गज कंपनियों के साथ शिक्षा, अनुसंधान एवं छात्रों के प्लेसमेंट हेतु मिलकर कार्य किया जा रहा है। यहां का इंडस्ट्री इंटरफेस विद्यार्थियों को नवीनतम तकनीक को सिखाने का अवसर देता है। इतना ही नहीं, यहां आयोजित होने वाली वर्कशॉप, गेस्ट लेक्चर, फील्ड विजिट छात्रों के कौशल विकास (Skill Development) में अत्यंत उपयोगी हैं।  

शिक्षण एवं अध्ययन के नवीन तरीके

शिक्षा में नवाचार यानी इनोवेशन छात्रों को कुछ नया करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। ये शिक्षा में भी सुधार करते हैं, क्योंकि ये छात्रों को जटिल समस्याओं को हल करने के लिए उच्च स्तर की सोच का उपयोग करने के लिए मजबूर करते हैं। Shri Ramswaroop Memorial University (SRMU) में प्रैक्टिकल ट्रेनिंग, लैब आधारित शिक्षण प्रणाली, अनुसंधान आधारित अध्यापन एवं सत्त परीक्षण प्रणाली द्वारा विश्वविद्यालय अपने छात्र - छात्राओं को विभिन्न शैक्षिक मापदंडों पर उत्कृष्टता की ओर अग्रसर कर रहा है। उक्त कारणों से ही विश्वविद्यालय के छात्र बड़ी संख्या में Amazon, TCS, Cognizant, SAP, Tata Steel, Bosch, JBM, Piramal, Reliance Digital, Byju's, Infosys, Nagarjuna Construction, Royal Enfield आदि अनेको प्रतिष्ठित कम्पनियों में कैंपस प्लेसमेंट पाते हैं।

शिक्षा, अनुसंधान और प्रौद्योगिकी में अग्रणी के रूप में विश्वविद्यालय एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये उच्च-स्तरीय नौकरियों के लिए व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करते हैं, साथ ही व्यक्तित्व के विकास के लिए आवश्यक शिक्षा भी प्रदान करते हैं। श्री रामस्वरूप मेमोरियल विश्वविद्यालय का ध्येय समाज के सभी वर्गों तक उच्च शिक्षा को पहुंचाना है। मेधावी छात्रों की प्रतिभा के सम्मान हेतु स्कॉलरशिप योजनाएं संचालित हो रही है। इन योजनाओं के माध्यम से छात्रों की 100%  तक ट्यूशन फीस माफ की जा रही है। इतना ही नहीं शहीदों, सैन्य कर्मियों, कोरोना वॉरियर्स आदि के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करते हुए उनके पुत्र -पुत्री को भी विशेष स्कॉलरशिप प्रदान की जा रही है।

करियर से जुड़ी अन्य जानकारी हेतु क्लिक करें  - https://srmu.ac.in/WelcomeToOnlineAddForm.aspx

अथवा कॉल करें -  18001026004

Disclaimer: The information provided in this Notification is solely by SRMU University. Jagranjosh.com bears no representations or warranties of any kind, express or implied, about the completeness, accuracy, reliability, suitability or availability with respect to the information. Individuals are therefore suggested to check the authenticity of the information.

Related Categories

Comment (0)

Post Comment

7 + 6 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.