डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर की सरकारी नौकरी के लिए योग्यता, चयन प्रक्रिया व कहां मिलेगी नौकरी?

डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर का पद आमतौर पर विभिन्न राज्य सरकारों के महिला एवं बाल विकास विभाग में जिला स्तर पर प्रशासनिक होता है. डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर का पद ग्रुप ‘बी’ (गजटेड) स्तर का होता है. ज्यादातर मामलों में डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के पद पर उम्मीदवारों का चयन सम्बन्धित राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा किया जाता है.

Dec 14, 2018 16:42 IST
    District Programme Officer
    District Programme Officer

    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर का पद आमतौर पर विभिन्न राज्य सरकारों के महिला एवं बाल विकास विभाग में जिला स्तर पर प्रशासनिक होता है. डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर का पद ग्रुप ‘बी’ (गजटेड) स्तर का होता है. ज्यादातर मामलों में डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के पद पर उम्मीदवारों का चयन सम्बन्धित राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा किया जाता है. डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के पदों पर भर्ती राज्य के लोक सेवा आयोगों द्वारा प्रत्येक वर्ष आयोजित की जाने वाली राज्य स्तरीय सिविल सेवा परीक्षा के माध्यम की जाती है. डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के कार्यों में तैनाती के जिले में महिलाओं एवं बच्चों के विकास से जुड़ी योजनाओं  और कार्यक्रमों के लाभ को लक्षित समूहों तक पहुंच सुनिश्चित करना, योजनाओं के क्रियान्वयन की देख-रेख करना, सम्बन्धित विभागों से समन्वय स्थापित करना, पिछड़े वर्गों की जरूरतों के अनुसार योजनाओं या कार्यक्रमों को चलाना एवं उनका मूल्यांकन करना, नई योजनाओं के लिए सुझाव देना, आदि शामिल हैं.

    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के लिए कितनी होनी चाहिए योग्यता?
    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर बनने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से सोशियोलॉजी या सोशल साइंस या होम साइंस या सोशल वर्क में स्नातक डिग्री उत्तीर्ण होना चाहिए.

    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के लिए कितनी है आयु सीमा?
    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर बनने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार की आयु जिस वर्ष की परीक्षा में सम्मिलित होना चाहता है उस वर्ष की 01 जुलाई को 21 वर्ष से 40 वर्ष के बीच हो. आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को अधिकतम आयु सीमा सरकार के नियमानुसार छूट दी जाती है.

    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के लिए चयन प्रक्रिया
    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के पद पर उम्मीदवारों का चयन आमतौर पर शैक्षणिक रिकॉर्ड, लिखित परीक्षा – प्रारंभिक (ऑब्जेक्टिव टाइप एवं मल्टीपल च्वाइस), लिखित परीक्षा – मुख्य (कन्वेंशनल टाइप) और इंटरव्यू (पर्सनॉलिटी टेस्ट) के आधार पर किया जाता है. लिखित परीक्षा अनिवार्य विषयों (सामान्य हिंदी, सामान्य ज्ञान, सामान्य अंग्रेजी) और वैकल्पिक विषयों जैसे – एग्रीकल्चर, केमिस्ट्री, इंजीनियरिंग, फॉरेस्ट्री, हॉर्टिकल्चर, फिजिक्स, वेटेरिनरी, साइंस, बॉटनी, कंप्यूटर अप्लीकेशन साइंस, एन्वार्यमेंटल साइंस, जियोलॉजी, मैथमेटिक्स, स्टैटिस्टिक्स, जूलॉजी, आदि से प्रश्न पूछे जाते हैं.

    कितनी मिलती है डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर को सैलरी?
    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के पद पर छठें वेतन आयोग के पे-बैंड-3 रु.15600/- से रु.39100/- + ग्रेड पे रु. 5400/- के अनुरूप सैलरी दी जाती है. इसके अतिरिक्त विभिन्न प्रकार के भत्ते (डीए, एचआरए, आदि) देय होते हैं. वहीं, जिन राज्य सरकारों के विभागों एवं संस्थानों में साववें वेतन आयोग लागू हो चुका है वहां समकक्ष स्तर पर निर्धारित वेतनमान के अनुसार सैलरी दी जाती है.

    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर को कहां मिलेगी सरकारी नौकरी?
    डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर का पद आमतौर पर विभिन्न राज्य सरकारों के महिला एवं बाल विकास विभाग में जिला स्तर पर प्रशासनिक होता है. डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम ऑफिसर के पद के लिए उम्मीदवारों को चयन सम्बन्धित राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा के माध्यम से किया जाता है. राज्य सिविल सेवा परीक्षा के लिए विज्ञापन हर वर्ष सम्बन्धित राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा निकाला जाता है. इन विज्ञापनों के बारे में भारत सरकार के प्रकाशन विभाग से प्रकाशित होने वाले रोजगार समाचार, दैनिक समाचार पत्रों एवं सरकारी नौकरी की जानकारी देने वाले पोर्टल्स या मोबाइल अप्लीकेशन के माध्यम से अपडेट रहा जा सकता है.

    Rojgar Samachar eBook

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...