भारत में उपलब्ध हैं कुछ ऐसे करियर्स, जो देते हैं लाखों रुपये की मासिक कमाई

भारत में कई ऐसे करियर्स हैं जो आपको लाखों रुपये की मासिक कमाई देते हैं. इस आर्टिकल में पढ़ें लाखों रुपये मासिक कमाई वाले करियर्स के बारे में अधिक जानकारी.

 

Created On: Oct 24, 2019 18:55 IST
Modified On: Oct 13, 2021 21:32 IST
Careers for Youn with Monthly Income in Lacs in India
Careers for Youn with Monthly Income in Lacs in India

हमारे जीने के लिए रोटी-कपड़ा और मकान 03 मूलभूत आवश्यकताएं हैं जिन्हें हासिल करने की कोशिश में हरेक मनुष्य दिन-रात जुटा रहता है. सदियों से मनुष्य अपने हरेक काम में नफा-नुकसान देखता है. हमारा करियर भी इस बात का अपवाद नहीं है. अक्सर हम कोई ऐसी जॉब ज्वाइन करना चाहते हैं जिसमें हमें काफी बेहतरीन कमाई हो. आजकल जब देश-दुनिया में हरेक कारोबार में कई नए करियर्स और जॉब प्रोफाइल्स लगातार उभर रहे हैं तो स्वाभाविक तौर पर हम कुछ ऐसे करियर्स और जॉब प्रोफाइल्स के बारे में जानना चाहते हैं जो हमें हर महीने लाखों रुपये की मासिक कमाई दे सकें. इसलिए, इस आर्टिकल में हम कुछ ऐसे ही करियर्स का जिक्र कर रहे हैं जो आपको लाखों रुपये मासिक कमाई हासिल करने में मददगार साबित हो सकते हैं.

भारत में उपलब्ध हैं ये हर महीने लाखों रुपये सैलरी वाले करियर्स

जी हां! यहां नीचे हम आपके लिए कुछ ऐसे जॉब प्रोफाइल्स या करियर्स की एक लिस्ट पेश कर रहे हैं जो वर्तमान भारत में हरेक पेशेवर के लिए एक ड्रीम जॉब/ करियर साबित हो सकते हैं. हमारे देश में सालाना/ मासिक सैलरी पैकेज के साथ ये टॉप करियर्स या जॉब प्रोफाइल्स हैं:

•  प्रोडक्ट मैनेजर सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 05 लाख – 15 लाख रुपये 
 सॉफ्टवेयर डेवलपर/ इंजीनियर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 05 लाख – 30 लाख रुपये
• सोशल मीडिया मैनेजर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 30 लाख – 35 लाख रुपये
• ब्लॉकचेन डेवलपर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 05 लाख – 50 लाख रुपये 
• डाटा साइंटिस्ट/ डाटा इंजीनियर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 05 लाख – 12 लाख रुपये
• आर्टिफीशल इंटेलिजेंस/ मशीन लर्निंग एक्सपर्ट - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 03 लाख – 25 लाख रुपये
• इन्वेस्टमेंट बैंकर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 10 लाख – 30 लाख रुपये
• चार्टर्ड अकाउंटेंट - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 08 लाख – 50 लाख रुपये
• एप डेवलपर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 03 लाख – 40 लाख रुपये
• कमर्शियल पायलट - सालाना सैलरी पैकेज 20 लाख रुपये
• डॉक्टर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 04 लाख – 18 लाख रुपये
• लॉयर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 05 लाख – 10 लाख रुपये
• बिजनेस एनालिस्ट - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 06 लाख – 18 लाख रुपये
• डाटाबेस आर्किटेक्ट - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 05 लाख रुपये
• आरबीआई जॉब्स - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 09 लाख रुपये + पर्क्स एंड इंसेंटिव्स 
 टेक्निकल राइटर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 05 लाख रुपये
• एसईओ एक्सपर्ट - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 04 लाख – 30 लाख रुपये
• आईटी प्रोफेशनल - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 04 लाख – 12 लाख रुपये
• क्रिकेट प्लेयर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 25 लाख – 50 लाख रुपये
• एक्टर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 05 लाख – 36 लाख रुपये
• यूनिवर्सिटी प्रोफेसर - सालाना सैलरी पैकेज एवरेज 10 लाख रुपये

भारत के कुछ टॉप जॉब प्रोफाइल्स और करियर्स पर एक महत्वपूर्ण चर्चा

  • इन्वेस्टमेंट बैंकर्स

हमारे देश में यह कम प्रसिद्ध लेकिन एक बहुत अच्छे सैलरी पैकेज वाला करियर ऑप्शन है. किसी इन्वेस्टमेंट बैंकर के तौर पर, आप वास्तव में एक शानदार भविष्य का सपना देख सकते हैं. एक सुखी और संपन्न जीवन के साथ मोटी कमाई की इच्छा हरेक व्यक्ति के दिल में होती है. हाल ही की एक फिल्म में रितिक रोशन (जो एक इन्वेस्टमेंट बैंकर का रोल प्ले कर रहे हैं) एक शानदार जीवन जीते हैं, आप भी उनकी तरह ही एक शाही जीवन जी सकते हैं. अगर आप भविष्य में खुद को किसी फाइनेंशल इंस्टीट्यूट में काम करते देख सकते हैं, जहां आप कंपनियों, गवर्नमेंट्स और अन्य एजेंसियों के लिए कैपिटल का लेन-देन करेंगे, काफी अधिक धन राशि की व्यवस्था करेंगे, बड़े लेवल के मर्जर्स और एक्वीजीशन्स (एम एंड ए) की डीलिंग करेंगे और कई अन्य संबद्ध कार्य करेंगे.

  • चार्टर्ड एकाउंटेंट्स (सीए)

हमारे देश में यह करियर टॉप करियर्स में से एक है. अगर आप किसी फाइनेंशल इशू में फंस गये हैं तो ये पेशेवर आपको इस फाइनेंशल मेस से निकलने में मदद करेंगे. चाहे वह जीएसटी रिफार्म हो या सरकार की टैक्सेशन पॉलिसी में कोई बदलाव हो, सैलरी से संबद्ध मामले हों या फिर, टैक्स मनी को बचाने के तरीके ही हों, ये पेशेवर आपको बचाने के लिए तैयार रहते हैं. सीए इकॉनमी के हरेक हिस्से में काम करते हैं, चाहे वह काम कैसा भी हो या फिर, किसी भी किस्म की इंडस्ट्री से संबद्ध हो. ये पेशेवर हमारी इकॉनमी की बैकबोन हैं और फाइनेंशल मैटर्स को मैनेज करने के लिए सलाह और फाइनेंशल एक्सपर्टाइज उपलब्ध करवाते हैं. कोई सीए एक ऐसा एक्सपर्ट होता है जो विभिन्न क्लाइंट्स जैसेकि, व्यक्ति, बिजनेस हाउसेज और मैनेजमेंट कंसल्टेंसीज को एकाउंटेंसी, ऑडिट और टैक्स सर्विसेज उपलब्ध करवाता है. इस पेशे में तरक्की की काफी संभावनाएं होती हैं.

  • बिजनेस एनालिस्ट्स

हमारे देश में एक बिजनेस एनालिस्ट के तौर पर, आपके पास लोग बार-बार अपनी बिजनेस प्रॉब्लम्स के टेक्निकल सोल्यूशन्स प्राप्त करने के लिए आयेंगे. लोग पुरानी टेक्नोलॉजी में यकीन नहीं करते हैं और बिजनेस के भावी विकास के लिए मौजूद डाटा की स्कैनिंग और छानबीन के लिए अब नए सॉफ्टवेयर सोल्यूशन्स उपलब्ध हैं. ऐसे में, आपको काफी बढ़िया सैलरी मिलती है और आपको महत्वपूर्ण रिसोर्स समझा जाता है क्योंकि आपका डाटा संबद्ध कंपनी को अपनी स्ट्रेटेजीज तथा लॉन्ग-टर्म प्लान्स बनाने में मदद करेगा. अगर आपको सोल्यूशन्स की रिसर्च और मूल्यांकन करना अच्छा लगता है तो मैनेजमेंट की फील्ड में यह एक सबसे ज्यादा वेतन वाले जॉब प्रोफाइल्स में से एक है.

  • लॉयर्स/ लीगल एक्सपर्ट्स

एक लंबे अरसे से हमारे देश में सभी छोटे बच्चे एक लॉयर या डॉक्टर बनने का सपना देखते हैं. एक लॉयर के तौर पर अपना करियर बनाने के बारे में सोचने पर आपके दो मकसद पूरे होंगे क्योंकि आप एक सोशल वर्कर के तौर पर सेवा करने के साथ ही अपने काम के लिए काफी अच्छी रकम भी कमा लेंगे. एक लॉयर के तौर पर, आपके पास कभी काम की कमी नहीं रहेगी क्योंकि लाखों मुकदमे (क्रिमिनल, सिविल, कॉर्पोरेट या अन्य किस्म के) हैं जो अभी पेंडिंग और न्यायाधीन हैं. कई बिजनेस ऐसे हैं जो अपने पर्सनल लॉयर्स हायर करते हैं और उन्हें बहुत बढ़िया सैलरी देते हैं. आख़िरकार एक लॉयर की यह नैतिक जिम्मेदारी होती है कि संबद्ध संगठन को किसी भी बाहरी खतरे से बचाने के लिए एक सुरक्षा कवच के रूप में काम करे. ऐसे युग में जहां ‘कंज्यूमर किंग’ है, लॉयर कंपनियों को क्लेम्स निपटाने में मदद करते हैं और संबद्ध ब्रांड की प्रतिष्ठा डूबने से बचाते हैं. 
इस पेशे में एक अतिरिक्त फायदा होता है लॉयर का स्टेटस जिसे काफी सम्मानजनक और प्रतिष्ठित समझा जाता है. किसी भी लीगल मामले के लिए, आप हमेशा संकटग्रस्त व्यक्ति/ पार्टी/ संगठन को बचाते हैं.

  • डॉक्टर्स/ मेडिकल प्रोफेशनल्स

दुनिया भर में जीवन के प्रत्येक क्षेत्र के व्यक्ति डॉक्टर्स को भगवान के बाद सबसे ऊंचा दर्जा देते हैं क्योंकि वे आप पर भरोसा करते हैं कि आप उनके जीवन की रक्षा करेंगे. यहां यह कहने की कोई जरूरत ही नहीं है कि इस पेशे की मांग में कभी गिरावट नहीं आएगी क्योंकि हरेक व्यक्ति के औसत जीवन में डॉक्टर के पास जाना एक रेगुलर रूटीन बन चुका है. वे लोग, जो स्वस्थ जीवन जीना चाहते हैं और जिन्हें कोई बीमारी भी नहीं है, अपनी लाइफ एक्स्पेक्टेंसी बढ़ाने के लिए किसी डॉक्टर के पास जरुर विजिट करते हैं. किसी डॉक्टर के लिए, उसके करियर की शुरूआत में, काफी ज्यादा हार्ड वर्क की जरूरत होती है. लेकिन जब आप पेशेंट्स को हैंडल करने के तरीके और उनसे जुड़ी समस्याएं भी अच्छी तरह समझ जाते हैं तो आप अपनी प्रैक्टिस भी शुरू कर सकते हैं. इसी तरह, किसी हेल्थकेयर ब्रांड से जुड़ने वाले मेडिकल प्रैक्टिशनर्स भी काफी बढ़िया कमाई कर सकते हैं. इसलिए, एक बार डॉक्टर बन जाने के बाद, आपको अपने जीवन में पीछे मुड़ कर नहीं देखना पड़ेगा. आप बीमारियों से पीड़ित सभी पेशेंट्स के लिए एक वरदान बन जाएंगे. 

  • डाटा साइंटिस्ट/ डाटा इंजीनियर:

इन पेशेवरों का काम बिग डाटा को क्लीन, मैनेज और ऑर्गनाइज करना होता है. ये क्यूरियस डाटा विज़ार्ड होते हैं जिनके पास डिस्ट्रिब्यूटेड कंप्यूटिंग, प्रिडिक्टिव मॉडलिंग, स्टोरी-टेलिंग एंड विज्युअलाइजिंग, मैथ्स, स्टैट्स और मशीन लर्निंग के स्किल्स और टैलेंट होना चाहिए. इन पेशेवरों के लिए आर, एसएएस, पाइथन, मेटलैब, एसक्यूएल, हाइव, पिग और स्पार्क लैंग्वेज स्किल्स जरुरी हैं. गूगल, माइक्रोसॉफ्ट और अबोड इन पेशेवरों को जॉब्स प्रोवाइड करते हैं. ये पेशेवर डाटाबेस और बड़े पैमाने के प्रोसेसिंग सिस्टम्स को डेवलप, कंस्ट्रक्ट, टेस्ट और मेन्टेन करते हैं. इसी तरह, कोई डाटा इंजीनियर अपनी फील्ड के हरफन मौला होते हैं जिनके पास डाटा वेयरहाउस सोल्यूशन्स, डाटाबेस सिस्टम्स, डाटा मॉडलिंग ई – ईटीएल टूल्स और डाटा एपीआईज के स्किल्स और टैलेंट होना चाहिए. इन पेशेवरों के लिए एसक्यूएल, हाइव, पिग, स्पार्क, मेटलैब, एसएएस, एसपीएसएस, पाइथन, जावा, रूबी, सी++, पर्ल लैंग्वेज स्किल्स जरुरी हैं. फेसबुक, अमेज़न और स्पॉटीफाई में इन पेशेवरों के लिए अच्छे जॉब ऑप्शन्स उपलब्ध हैं.

  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स/ सॉफ्टवेयर डेवलपर

इस डिजिटल और इंटरनेट युग में भारत के सर्विस सेक्टर में जो तेज़ी आईटी सेक्टर से आई है वह खुद इस फील्ड में करियर बनाने का सबूत पेश करती है. विश्व की टॉप मल्टीनेशनल कंपनियां भारत के आईटी सेक्टर की क्वालिटी की तारीफ करती हैं और सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स के लिए काम के काफी अवसर उपलब्ध हैं. संसार डिजिटल प्लेटफार्म की ओर बढ़ रहा है और इस इंडस्ट्री को ज्वाइन करने के लिए ‘डिजिटल इंडिया’ जैसे इनिशिएटिव्स इन पेशवरों के लिए एक अतिरिक्त वरदान हैं. एजुकेशन इंडस्ट्री, मैन्युफैक्चरिंग इंडस्ट्री में रोबोटिक्स, ई-कॉमर्स और हर जगह सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स की काफी मांग है.

महत्वपूर्ण: हमारे देश में प्रमुख करियर्स और जॉब प्रोफाइल्स के लिए ये सभी सालाना एवरेज सैलरी पैकेज दिए जा रहे हैं और हरेक पेशे या जॉब प्रोफाइल के लिए मिलने वाले सैलरी पैकेज पर पेशेवर की एजुकेशनल क्वालिफिकेशन्स, टैलेंट, वर्क एक्सपीरियंस और रिजल्ट ओरिएंटेड वर्क/ परफॉरमेंस के साथ-साथ एम्पलॉयर संगठन की इकनोमिक कंडीशन और नेशनल-इंटरनेशनल स्टेटस का भी सीधा असर पड़ता है.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

भारत में एप डेवलपर का करियर और फ्यूचर प्रॉस्पेक्ट्स

फ्रेश ग्रेजुएट्स के लिए ये हैं कुछ उम्दा जॉब ऑप्शन्स

आईटी प्रोफेशनल्स के लिए कंप्यूटर नेटवर्किंग में करियर स्कोप

 

Comment (0)

Post Comment

2 + 9 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.