बहुत कम लोग जानते है किताब पढ़ने के ये अनमोल फायदे

इस लेख द्वारा हम आपको किताब पढ़ने के 7 बेहद महत्वपूर्ण फ़ायदे बतायेंगे जो कि ना सिर्फ़ छात्र जीवन बल्कि एक आम आदमी की जीवन शैली में भी परिवर्तन लाते हुए उसकी सोच व समझ को एक नया आकार देंगे और उसके व्यक्तित्व को निखारने में भी मदद करेंगे l

Created On: Jul 20, 2018 15:52 IST
 Book Fear and its solution
Book Fear and its solution

इंटरनेट व टेक्नोलॉजी के इस युग में किताब पढ़ने का शौंक मानो विद्यार्थियों में ख़तम ही होते जा रहा हैl स्कूल की पढ़ाई व दिनचर्या के अन्य कार्य समाप्त करने के बाद जैसे ही टाइम मिलता है विद्द्यार्थी तुरंत कंप्यूटर या फ़ोन पर व्यस्त हो जाते हैंl दोस्तों से चैट करना, सोशल मीडिया साइट्स जैसे कि फेसबुक, ट्विटर पर लोगों के स्टेटस देखना या इंटरनेट ब्राउज़िंग करना, ये इनके मनपसंद कार्य हैं l इससे किताबों में उनकी रूचि लगभग ना के बराबर ही होती जा रही है l शायद ये छात्र इस बात से अनजान हैं कि कोई अच्छी किताब पढ़ना उनके लिए कितना फ़ायदेमंद हो सकता है l वे नहीं जानते कि स्कूली किताबों के अलावा पढ़ी जाने वाली अन्य किताबें जैसे कि कोई अच्छा उपन्यास, किसी प्रभावशाली व्यक्ति की जीवनी, कहानियों की किताबें आदि उनकी सोच व समझ को कैसे तब्दील करते हुए उनके वव्यक्तित्व में निखार ला सकती हैं l

यहाँ इस लेख के द्वारा हम अपने सीबीएसई, उत्तर प्रदेश बोर्ड व अन्य स्कूल बोर्ड के छात्रों को किताबें पढ़ने से होने वाले ऐसे ही कुछ बेहद महत्वपूर्ण फ़ायदों के बारे में बतायेंगे जिनको जानकर शायद आपके अन्दर किताबों के प्रति एक नया सा लगाव जागृत हो जाए l

रीडिंग हैबिट यानि किताब पढ़ने के 7 विशिष्ठ फ़ायदे कुछ इस प्रकार हैं:

1. तनाव दूर करने में सबसे ज़्यादा असरदार

इम्तिहान का दबाव, रिजल्ट का दबाव या अन्य अकादमिक कार्यों के चलते विद्यार्थी जीवन में अक्सर तनाव का माहौल बना रहता  है l इस तनाव को दूर करने में किताबी पढ़ना काफी मददगार साबित हो सकता है l जब आप किसी लेखक की परिकल्पना या उपन्यास पढ़ रहे होते हैं तो आप खुद को लेखक द्वारा रचित काल्पनिक दुनिया व पत्रों के बीच खोया सा महसूस करते हैं l आप अपने निजी जीवन के चिंता व तनाव को जैसे भूल ही जाते हैं l कहानी में आने वाले नए नए मोड़ आपको और ज़्यादा रोमांचित करते हैं l इस तरह किताब पढ़ने से आपको भरपूर मनोरंजन तो मिलेगा ही साथ ही आपका दिमाग हर परेशानी, थकान, चिंता अदि को भूल जायेगा l

2. रचनात्मक सोच को दे बढ़ावा

आज कल हर तरफ़ भरपूर कॉम्पीटिशन का ज़माना है l इस प्रतिस्पर्धी विश्व में सबसे आगे रहने के लिए आपके दिमाग में हर पल नये आईडियाज़ आते रहने चाहिए l इसके लिए आपकी सोच का रचनात्मक होना ज़रूरी है जो कि तभी हो पाएगा अगर आपका दिमाग तनावग्रस्त न हो l क्यूँकि जब तक आपका दिमाग टेंशन व तनाव में होगा, वह रचनात्मक तरीके से नहीं सोच पाएगा l नतीजतन आपके पास अच्छे सुझावों की कमी होगी l इसलिए पढ़ने की आदत आपको चिंतारहित बनाते हुए आपके दिमाग की रचनात्मकता को बढ़ावा देती है l साथ ही विभिन्न तरह की रचनाएँ पढ़ने से आपके अन्दर अलग अलग स्थितियों के अनुसार सोचने की क्षमता में भी वृद्धि होगी l

3. दिमागी तंदरुस्ती व यादशक्ति के लिए दवा का करे काम  

जिस प्रकार शरीर की अन्य मस्पेशियों को तंदरुस्त व एक्टिव राल्हने के लिए शारिरिक कसरत की ज़रूरत पड़ती है ठीक उसी तरह दिमाग को भी कुशलतापूर्वक कार्य करने के लिए कसरत की जरूरत पड़ती है और ये कसरत हम रीडिंग के रूप में ही कर सकते हैं l जब आप कोई किताब पढ़ रहे होते हैं तो आपको उसमे आने वाले सभी पात्रों, कहानी के अनुसार उनकी पृष्ठभूमि, उनका मंतव व अन्य स्थितियां जिनके द्वारा वे सब एक दूसरे से जुड़े होते हैं, आदि को याद रखना पड़ता है जिसके कारन आपका दिमाग पूर्ण क्षमता का इस्तेमाल करते हुए चीज़ों को याद रखना सीखता है l

4. आपकी शब्दावली में कराए बढ़ावा

आपने अक्सर महसूस किया होगा कि दूसरों के साथ बात चीत करते हुए या कुछ लिखते समय कभी कभी आपके पास शब्दों की कमी हो जाती है l आप सोचते ही रह जाते हैं कि आपको क्या बोलना या लिखना है l यह दिक्कत भी रीडिंग हैबिट अपनाने से दूर हो जाती है l दरअसल कोई किताब पढ़ते हुए आप विभिन्न प्रकार के शब्दों को पढ़ और जान पाते हो और आपको यह भी ज्ञात होता है कि किस शब्द का इस्तेमाल किस स्तिथि में किस प्रकार किया जाए l

5. आपको बनाए एक प्रभावशाली वक्ता

विभिन्न प्रकार के लेख पढ़ने से आपके भीतर चीज़ों व स्थितियों का अन्वेषण व विश्लेषण करना अच्छे से आ जाता है l इस तरह आपके भीतर ज्ञान का विशाल स्रोत एकत्रित होते रहता है l और इस ज्ञान के द्वारा आप किसी भी मौके के अनुसार बोलना सीख जाते हैं और लोगों को अपने शब्दों के साथ जोड़ते हुए अपनी ओर आकर्षित कर पाते हैं l

6. दिमागी एकाग्रता को बढ़ाने में करे मदद

किसी लेख को पढ़ते दौरान उसका पूरा आनंद लेने के लिए आपको अपना पूरा ध्यान उसकी स्टोरी लाइन की तरफ़ एकाग्रित करके रखना पड़ता है l इस तरह बहरी दुनिया को भूलकर, एक लेखक द्वारा काल्पनिक घटनाओं में पूरी तरह खो जाने से आप अपनी एकाग्रता को मजबूत बनाना सीख पाते हो l और इससे आपकी ध्यान लगाने की अवधि में भी बढ़ावा होता है l

7. शांत व सयंमित रहने में दे आपका साथ

आज कल की भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में एक अच्छी किताब पढ़ने के अलावा शायद ही कहीं और पूर्ण शांति व सुकून मिल पाए l साइंटिफिक स्टडीज में भी यह बात सामने आई है कि आध्यात्मिक या धार्मिक पुस्तक पढ़ने से ब्लड प्रेशर कम होता है और आपमें शांति व सहजता आती है। इसलिए अगर आप भी सांसारिक गहमा गहमी से कुछ राहत पाना चाहते हैं तो अपनी मनपसंद शैली की किताब उठाएं और शान्तिप्रद तरीके से एक जगह बैठ जाएँ। अब किताब पढ़ते समय मिलने वाले दिमागी सुकून व शांति को महसूस करें। मानो आप किसी और ही गृह में चले गये हों।

इस तरह किताब पढ़ने के अनेक बहुमूल्य फ़ायदों में से उपरोक्त बताये कुछ फ़ायदे ही शायद आपको पढ़ने की आदत की महत्तता समझाने के लिए काफी हैं। इस लिए अगर आप अपने जीवन के लिए कोई ऐसा मित्र ढूंढ रहे हैं जो आपका ज़िन्दगी के हर अच्छे या बुरे वक्त में साथ दे, तो क्यूँ ना किताबों को पहल दें। अगर आज तक आप किताबों के प्रेम से परे रहे हैं तो अब कोशिश ज़रूर करें, क्यूँकि किसी अच्छी आदत को अपनाने के लिए समय महत्तव नहीं रखता, बल्कि महत्त्व रखता है तो आपकी लगन व आपका उत्साह।

You may also like to read:

परीक्षा में सर्वश्रेष्ठ परिणाम पाने के लिए कैसा हो आपका टाइम टेबल? जानें 7 ये बातें

यह 7 ट्रिक्स अपनाने से कोई भी बन सकता हैं गणित में ज़ीरो से हीरो

जानिए 7 मज़ेदार तरीके जिनसे इंग्लिश स्पेल्लिंग व ग्रामर सीखना होगा बेहद आसान

बोर्ड व इंजीनियरिंग परीक्षा में कैसे करें लॉग टेबल का प्रयोग? ये videos करेंगी आपकी मदद

Comment ()

Related Categories

Post Comment

2 + 9 =
Post

Comments