पॉज़िटिव इंडिया: सफलता की आदत बना सकती है हमें एक कामयाब इंसान  

अगर हम हमेशा अपने पॉज़िटिव या नेगेटिव रवैये का ध्यान रखते हैं, तो हम आसानी से सफलता की आदत विकसित कर सकते हैं और फिर, हम खुद-ब-खुद एक सफल व्यक्ति बन जाएंगे. आइये शिव खेरा से जानते हैं कि हम अपने जीवन में सफलता की आदत कैसे विकसित करें.    

Created On: Mar 26, 2020 14:44 IST

अपने जीवन में हर एक व्यक्ति सफलता हासिल करना चाहता है क्योंकि एक कामयाब इंसान का चहुंमुखी विकास होता है. उसे समाज में सम्मान मिलने के साथ ही सारे सुख-सुविधाएं भी मिलते हैं. लेकिन क्या हम इस बात पर भी विचार कर सकते हैं कि जीवन के किसी भी क्षेत्र में सफलता हमें यूं ही नहीं मिल जाती बल्कि सफलता हासिल करने के लिए हमें इस सफलता की आदत बनानी पड़ती है और जब यह आदत बन जाए तो हमारे लिए यह जरुरी हो जाता है कि इस सफलता की आदत को कायम रखने के लिए लगातार भरपूर प्रयास करें. आपको अपने पॉज़िटिव या नेगेटिव एटीट्यूड पर पूरा ध्यान देना होगा ताकि आप अपने जीवन में सफलता की आदत अपना लें. दरअसल, जीवन के प्रति यह हमारा पॉज़िटिव या नेगेटिव रवैया ही तो होता है जो हमारे जीवन को बदल सकता है. विश्वविख्यात मोटिवेशनल स्पीकर शिव खेड़ा ने हमें अपने जीवन में सफलता की आदत विकसित करने के कारगर टिप्स बताये हैं. अगर आप इन दिनों अपने जीवन के किसी क्षेत्र में सफल होने के लिए संघर्ष कर रहे हैं तो शिव खेड़ा के ये टिप्स आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होंगे. आइये इस आर्टिकल को आगे पढ़कर शिव खेड़ा के उन कारगर टिप्स को जानें:

हमारा पॉज़िटिव या नेगेटिव रवैया बना देता है हमें सफल या असफल

सुप्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर शिव खेड़ा ने अपनी नई किताब में इस बात को स्पष्ट किया है कि हमारा पॉज़िटिव या नेगेटिव रवैया ही हमें एक सफल या असफ़ल इंसान बनाता है. अगर हम अपने जीवन में पॉज़िटिव रवैये से अपने सारे काम करते हैं तो फिर कोई भी हमें आगे बढ़ने या प्रगति करने से नहीं रोक सकता. लेकिन, यह भी एक कड़वा सच है कि जिन लोगों का अपने जीवन के बारे में नेगेटिव रवैया होता है, उन लोगों की मदद कोई भी नहीं कर सकता है. अगर आपका अभी नेगेटिव रवैया है तो भी आप चिंता न करें क्योंकि धीरे-धीरे लगातार कोशिश करके आप जीवन के प्रति पॉज़िटिव रवैया अपना लेंगे और फिर, जीवन के किसी भी क्षेत्र में आप सफलता हासिल कर लेंगे.

विशेष काम करने से आप बन जायेंगे विशेष

अपने जीवन में अगर आप कोई महान लक्ष्य हासिल करना चाहते हैं तो आपको उस महान लक्ष्य की प्राप्ति के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी क्योंकि वास्तव में विशेष काम करने से ही आप विशेष बन सकते हैं और कभी भी एक-दो दिन की मेहनत आपको सफल या महान इंसान नहीं बना सकती.

पॉज़िटिव इंडिया: जीतने के लिए क्या है ज़रुरी – किस्मत या मेहनत?

असाधारण प्रयास से मिलेगी असाधारण सफलता

अपने चरित्र में सफलता की आदत को विकसित करने के लिए हमें शिव खेड़ा के उक्त परामर्श पर जरुर गौर करना चाहिए. शिव खेड़ा के मुताबिक अधिकतर लोग काफी पैसा कमाना चाहते हैं और अपने जीवन में असाधारण सफलता हासिल करना चाहते हैं ताकि वे असाधारण तरीके से अपना जीवन जी सकें. लेकिन, ऐसे लोग कभी अपने भीतर के जोश और समर्पण पर विचार नहीं करते हैं. उन्हें समझना होगा कि कठोर मेहनत, सम्पूर्ण समर्पण, ईमानदारी और लोगों से बेहतरीन संबंध कायम रखने के खास गुण अपनाकर ही हमें अपने जीवन में असाधारण सफलता मिल सकेगी वर्णा किसी भी व्यक्ति का असाधारण जीवन जीने का सपना कभी साकार नहीं हो सकता.

पॉज़िटिव इंडिया: आखिर क्या है सफ़लता का राज़? जानिये शिव खेड़ा से

सफलता पाने की सही परिभाषा

सुप्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर शिव खेड़ा के अनुसार, जब हम किसी सफल व्यक्ति को देखते हैं तो अक्सर बोल देते हैं कि यह व्यक्ति जरुर सही वक्त पर सही जगह होगा. लेकिन वास्तव में यह पूर्ण सच्चाई नहीं है. बेशक कुछ हद तक इस बात में सच्चाई हो सकती है लेकिन हम कभी भी उस सफल व्यक्ति की वर्षों की कठोर मेहनत और अपने लक्ष्य के प्रति पूर्ण समर्पण को नहीं देख सकते और इसी बात को सच मान लेते हैं कि ‘जरुर यह व्यक्ति सही वक्त पर सही जगह पर था’.

सफलता पाने के लिए बनें सही इंसान, करें सही काम

जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता पाने के लिए बेशक आपको सही वक्त पर सही जगह पर होना चाहिए लेकिन सबसे पहले आपको एक सही इंसान बनकर सही काम करने होंगे. तभी आप एक सफल इंसान बन सकेंगे. निस्संदेह अगर आप सही वक्त पर सही जगह तो हैं लेकिन आप एक सही इंसान नहीं हैं और सही काम नहीं करते तो आपको सफलता कभी नहीं मिल सकती. अब आपके मन में यह सवाल जरुर उठ रहा होगा कि क्या सफल इंसान गलतियां नहीं करते? सुप्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर शिव खेड़ा के मुताबिक, जरुर सफल इंसान भी गलतियां करते हैं और असफल लोग भी कभी-कभी सही काम करते हैं. लेकिन, सफलता कभी-कभी सही काम करने से नहीं मिलती, सफलता आपको तब मिलती है जब आप लगातार सही काम करते ही रहते हैं. ऐसे में, अगर आपसे कभी कोई गलती हो भी जाए तो वह गलती माफ़ हो जाती है. 

पेशेवर लोग कैसे सेल्फ-डाउट से बाहर निकलें?

बार-बार गलती करने पर आप बन सकते हैं एक असफल इंसान

यहां विश्वविख्यात मोटिवेशनल स्पीकर हमें एक बहुत अच्छा टिप दे रहे हैं कि अगर कोई व्यक्ति अपनी गलती को बार-बार दोहराता रहे तो वह एक असफल व्यक्ति बन जाता है. इसलिए, जैसे ही आपको अपनी किसी गलती का पता चले तो तुरंत उस गलती को सुधारने में जुट जायें ताकि गलती करना या फिर, उसी गलती को बार-बार दोहराते जाना आपकी आदत ही न बन जाए.

इसलिए, सुप्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर शिव खेड़ा ने हमें अपने जीवन में पॉज़िटिव रवैया अपनाने के लिए प्रेरित करते हुए अपने लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए लगातार कड़ी मेहनत करने का परामर्श दिया है. इसी तरह, जब हम सही इंसान बनकर लगातार सही काम करेंगे और अपनी किसी भी गलती को दोहराने से बचेंगे तो इसके परिणामस्वरुप हमारी सफलता की आदत विकसित हो जायेगी जिससे हम अपने प्रत्येक प्रयास में सफलता हासिल करते हुए एक कामयाब इंसान बन जायेंगे.

इस श्रृंखला में अगली बार हम शिव खेड़ा से जानेंगे कि कैसे हम अपनी सोच को बदलकर अपने जीवन की दिशा ही बदल सकते हैं और तब निश्चित रूप से हम सफलता हासिल कर लेंगे. हमारे साथ अपने विचार जरुर साझा करें. हम जल्दी लौटेंगे इस श्रृंखला की अगली कड़ी के साथ.

Related Categories

Comment (0)

Post Comment

0 + 5 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.