Search

क्या दिक्कतें आ सकती हैं आपको JEE Main 2020 के कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट में और क्या हैं उनके हल?

JEE Main 2020  परीक्षा कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट माध्यम में कंडक्ट की जायेगी. आज हम इस लेख में विद्यार्थियों को कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट को अटेम्पट करते समय होने वाली परेशानियों के बारे में बताएँगे. इसके साथ-साथ हम कुछ ऐसे टिप्स भी देंगे जो विद्यार्थियों को ऑनलाइन परीक्षा में अच्छे मार्क्स लाने में सहायता करेंगे.

Aug 31, 2020 16:25 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Problems which students can face in JEE Main Computer Based Test 2020
Problems which students can face in JEE Main Computer Based Test 2020

जैसा कि हम जानते हैं कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा JEE Main 2020 की परीक्षा कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT) के माध्यम से कंडक्ट की जायेगी.  यह कहना गलत नहीं होगा कि जो विद्यार्थी पहली बार ऑनलाइन परीक्षा देंगे उनको कुछ परेशानियों का सामना कर पड़ सकता है. हम इस लेख में विद्यार्थियों को कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट को अटेम्पट करते समय होने वाली कुछ परेशानियों के बारे में बताएँगे. इसके साथ-साथ हम कुछ ऐसे टिप्स भी देंगे जो विद्यार्थियों को ऑनलाइन परीक्षा में अच्छे मार्क्स लाने में सहायता करेंगे. अगर विद्यार्थी यहाँ दिए गए टिप्स का अपनाएंगे तो JEE Main CBT 2020 में अच्छी रैंक आने की संभावना बेहतर हो सकती है.

1. आत्मविश्वास में कमी होना:

हमारी परीक्षा प्रणाली के कारण अधिकतर विद्यार्थी ऑफलाइन पेपर देने को ज्यादा आसान समझते हैं और इसका कारण है कक्षा 1 से ही ऑफलाइन तरीके से परीक्षा देना. इसलिए यक़ीनन JEE Main 2020 CBT परीक्षा को अटेम्पट करते समय विद्यार्थियों के आत्मविश्वास में कमी होगी. जैसा कि हम जानते हैं कि जब हम किसी भी चीज़ का अभ्यास करते हैं तो हमारा आत्मविश्वास अपने आप बढ़ने लगता है. इसलिए विद्यार्थियों को अधिक से अधिक ऑनलाइन टेस्ट अटेम्पट करने चाहिए जिससे वो पूरे आत्मविश्वास से परीक्षा को अटेम्पट कर अच्छा प्रदर्शन कर सकें.

जानें कब और क्यों करना चाहिए JEE Main के लिए 1 साल ड्राप?

2. ऑनलाइन पैटर्न से परिचित नहीं होना:

अधिकतर उम्मीदवार JEE Main के ऑनलाइन पैटर्न से परिचित नहीं होते. ऑनलाइन परीक्षा में विद्यार्थियों के पास Review और मार्क किये उत्तर को बदलने जैसे बहुत से विकल्प होते हैं, किन्तु विद्यार्थी इनसे परिचित नहीं होते. इसलिए विद्यार्थियों को सबसे पहले कंप्यूटर स्क्रीन पर दिये गए अनुदेशों को ध्यान से पढ़ना चाहिए, जिससे ऑनलाइन टेस्ट में मिलने वाले हर विकल्प का विद्यार्थी भरपूर प्रयोग कर सकें.

3. कंप्यूटर स्क्रीन से पढ़ने में परेशनी होना:

सभी विद्यार्थी JEE Main की तैयारी के लिए प्रतिदिन 4 से 5 घंटे तक पढ़ाई तो करते हैं, किन्तु उनके द्वारा अक्सर ऑफलाइन स्टडी मटेरियल (जैसे किताबें, hand written नोट्स) का उपयोग किया जाता है. जिससे उन्हें लम्बे समय तक कंप्यूटर स्क्रीन को देखनी की आदत नहीं हो पाती. जिसके कारण उन्हें JEE Main 2020 CBT परीक्षा में लगातार 3 घंटे कंप्यूटर स्क्रीन से प्रश्न पढ़ने में परशानी हो सकती है. इसलिए विद्यार्थियों को तैयारी के दौरान ऑफलाइन स्टडी मटेरियल के साथ-साथ ऑनलाइन स्टडी मटेरियल को भी रेफेर करना चाहिए. विद्यार्थी अपने द्वारा बनाये गये hand written नोट्स को स्कैन करवा कर उनको कंप्यूटर पर पढ़ सकते हैं.

4. माउस चलाने में परेशानी होना:

कुछ विद्यार्थी तैयारी के दौरान ऑनलाइन टेस्ट को अटेम्पट तो करते हैं, लेकिन इसके लिए वो टेबलेट (Tablet) और Mobiles का प्रयोग करते हैं, जिससे टच स्क्रीन डिस्प्ले के कारण विद्यार्थियों की माउस उपयोग करने की आदत छूट जाती है. इसलिए विद्यार्थियों को हमेशा ऑनलाइन टेस्ट कंप्यूटर पर ही अटेम्पट करना चाहिए जिससे उन्हें परीक्षा के दौरान माउस प्रयोग करने में कोई परेशानी नहीं हो.

5. स्क्रीन से गलत आंकड़े नोट करना:

JEE Main की ऑफलाइन परीक्षा में विद्यार्थी आधिकतर प्रश्न पत्र पर ही छोटी-छोटी कैलकुलेशन कर लेते थे, जिससे गलती होने की सम्भावना कम होती थी. ऑनलाइन परीक्षा में विद्यार्थियों को छोटी से छोटी कैलकुलेशन करने के लिए भी रफ़ शीट का सहारा लेना पड़ता है और इससे स्क्रीन से गलत आंकड़े लिखने की सम्भावना बहुत बढ़ जाती है. इसलिए विद्यार्थी जब भी कोई आंकडा (Value) रफ़ शीट पर लिखते हैं तो उन्हें हल करने से पहले आकड़ों को कंप्यूटर स्क्रीन से दोबारा चेक कर लेना चाहिए. ऐसा करने से उनके गलत आकड़ें लिखने की सम्भावना बिल्कुल कम हो जायेगी और प्रश्न को दोबारा करने में उनका समय भी बर्बाद नहीं होगा.

निष्कर्ष:

विद्यार्थी ऊपर दिये गए सभी बातों का ध्यान रख कर आने वाली JEE Main की ऑनलाइन परीक्षा में अच्छे मार्क्स ला सकते हैं. इस वर्ष JEE Main की परीक्षा केवल ऑनलाइन मध्यम से ही होगी, जिससे विद्यार्थियों का कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट देना अनिवार्य हो गया है.

जानिए वे कौन सी बातें हैं जो विद्यार्थियों को परीक्षा की तैयारी के दौरान भ्रमित करती हैं

Related Categories

    Related Stories