SSC क्वांटिटेटिव एपटीट्युड टिप्स और ट्रिक्स: पार्टनरशिप

SSC परीक्षा में, इस अनुभाग से लगभग 1-2 सवाल पूछे जाते है। इस लेख में, हमने इस टॉपिक की परिभाषा, अवधारणाओं, सूत्रों और पूछे गए प्रश्नों के प्रकार सहित पार्टनरशिप विषय की सभी छोटी-बड़ी बातों को कवर किया हैं

SSC Aptitude tips
SSC Aptitude tips

SSC परीक्षा में, इस अनुभाग से लगभग 1-2 सवाल पूछे जाते है। इस लेख में, हमने इस टॉपिक की परिभाषा, अवधारणाओं, सूत्रों और पूछे गए प्रश्नों के प्रकार सहित पार्टनरशिप विषय की सभी छोटी-बड़ी बातों को कवर किया हैं| आइये- इसके बारे विस्तार से जानते है-

पार्टनरशिप

परिभाषा: दो या अधिक व्यक्ति परस्पर एक समझौते के तहत एक व्यापार के संचालन के लिए एक साथ पैसा निवेश करने के लिए आते हैं है, तो इस तरह के सहयोग से 'पार्टनरशिप' के रूप में जाना जाता है। दोनों शामिल दलों को"पार्टनर्स" कहा जाता है। आम तौर पर पार्टनरशिप के दो प्रकार होते हैं।

  1. एकल पार्टनरशिप:  जब सभी भागीदार किसी निश्चित अवधि के लिए अपने पैसे का निवेश करते हैं, तो इस तरह की पार्टनरशिप को "एकल पार्टनरशिप" के रूप में जाना जाता है।
  2. यौगिक पार्टनरशिप: एकल पार्टनरशिप के विपरीत, जब सभी दलों के सदस्य/ सभी सदस्य अलग अलग समय के लिए अपने धन का निवेश करते है; तो यह "यौगिक पार्टनरशिप" के रूप में जाना जाता है।
    1. सक्रिय भागीदार: साथी, जो व्यवसाय का प्रबंधन सक्रिय भागीदार या कार्यरत भागीदार के रूप में जाना जाता है।
    2. स्लीपिंग भागीदार: एक साथी, जो बस कारोबार में अपने पैसे का निवेश है, लेकिन प्रबंधन नहीं करता है स्लीपिंग पार्टनर के रूप में जाना जाता है|

पार्टनरशिप: समस्याओं के प्रकार

पार्टनरशिप अवधारणा पर आधारित समस्याओं  दो अलग-अलग प्रकार हैं।

केस 1: जब किसी अवधि के लिए सभी दलों द्वारा निवेश किया जाता है तो आपको उस धनराशि पर लाभ या हानि को पता करके उपयुक्त निवेश को उनके बीच वितरित किया जाता है |

केस 2: जब निवेश अलग अलग समय अवधि के लिए किया जाता हैं; तो प्रत्येक साझेदार के लिए पूँजी की विभिन्न तरीकों से गणना  करते है-

(कैपिटल x समय की इकाइयों की संख्या)

गणना कैसे करें?

  • x1:x2: x3 निवेश अनुपात  है और P1: P2:P3  लाभ अनुपात है। अत: समय अवधि के बीच का अनुपात होगा|

  • मान लीजिए, आपको लाभ और समय अवधि के अनुपात के बारे में जानकारी दी गयी है और आपको निवेश के अनुपात लगाना है तो फिर, यह बराबर होगा

  • P1:P2:P3 और t1:t2:t3 क्रमश: लाभ और समय अवधि का अनुपात हैं-

How to Crack SSC CHSL Exam?

 

अभ्यास प्रश्न

1. आदित्य ने 10,000 रुपये के साथ एक व्यापार शुरू किया और विनय 5,000 रुपये के प्रारंभिक निवेश के साथ 4 महीने बाद व्यापार में जुड़ता हैएक साल बाद, वे 25,000/- रुपये का लाभ अर्जित करते हैं। आदित्य और विनय के शेयरों का पता लगाएं?

उत्तर:- निम्नलिखित सूत्र को लागू करें,

आदित्य का हिस्सा: विनय की हिस्सेदारी = (10000 * 12): (5000 * 8) = 3: 1;

माना, आदित्य का हिस्सा = 3x;

तो, विनय के शेयर = x;

3x + x = 25,000; => x = 6250

इसलिए, लाभ में आदित्य का हिस्सा= 6250 * 3 = रु 18,750

लाभ में विनय का हिस्सा= रु 6,250

2.       X, Y और Z पूरे वर्ष के लिए 800 रुपये पर एक क्षेत्र  को किराये पर लेते है। X, 2 महीने के लिए 50 गायों में डालता है, Y, 5 महीने के लिए  80 गायों को और Z, 60 गायों और 30 बछड़ों को 4 महीने के लिए रखता है| तो, Z को कितना भुगतान करना होगा यदि एक गाय,  2 बछड़ों के बराबर चरती है?

उत्तर:- निम्नलिखित सूत्र लागू करें-

X का हिस्सा: Y के शेयर: Z के शेयर = (50 * 2): (80 * 5): [(60 +30/2) * 4] (जैसा कि सवाल में कहा गया है कि बछडा एक पशु के आधे के बराबर मात्रा में खाता है)

= 100: 400: 300

= 1: 4: 3

Z द्वारा राशि का भुगतान,

=300 रू।

इसलिए, इस पार्टनरशिप के लिए Z को 300 रुपये का भुगतान करना पड़ेगा।

3. अमित, विवेक और कमल 5:7:6 के अनुपात में पैसा निवेश करके एक व्यवसाय में भागीदार बनते है। अगले वर्ष, वे क्रमश: इसमें 26%, 20% और 15% की बढ़ोत्तरी करते है तो किस अनुपात में अर्जित लाभ को 2 साल में वितरित किया जाएगा ?

उत्तर:- माना, अमित का निवेश 5x है; विवेक का 7x है और कमल का 6x है।

अब, 2 साल बाद उनके निवेश का अनुपात;

=(5x का 126%): (7x का 120%): (6x का 115%)

=630: 840: 690

=21: 28: 23

आम तौर पर इस खंड से ऊपर बताये गए सवालों की तरह ही प्रश्न पूछे जाते है। आप इन के माध्यम से जाकर अवधारणाओं को स्पष्ट रूप से समझ सकते है, तो हम मान सकते हैं कि परीक्षा में इस विषय से पूछे गए प्रश्न ऊपर दिए गए प्रकारों से अलग नहीं हो सकते।

आगे की युक्तियों और प्रश्न को हल करने की ट्रिक्स को जानने के लिए www.jagranjosh.com पर आते रहें|

शुभकामनाएं!

Related Categories

    Jagran Play
    खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
    Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play

    Related Stories