कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए समय बरबाद करने वाली आदतों से बचने के कारगर तरीके

हमारे देश के कई कॉलेज स्टूडेंट्स कई अनप्रोडक्टिव काम करते हुए अपना समय अनजाने में ही बर्बाद कर लेते हैं. इस आर्टिकल में समय बरबाद करने वाले कामों का विवरण देने के साथ ही इनसे बचने के कुछ ऐसे ही तरीके भी पेश किये जा रहे हैं.

Created On: Jan 23, 2021 13:38 IST
Time Wasting Habits of College Students
Time Wasting Habits of College Students

देश-दुनिया के कॉलेज स्टूडेंट्स अपने करियर के बारे में कई सुनहरे सपने देखते हैं और इन सपनों को पूरा करने के लिए ये स्टूडेंट्स भरपूर प्रयास भी करते हैं लेकिन, कभी-कभी अनजाने में ही ये स्टूडेंट्स अपना बहुत कीमती समय यूं ही बरबाद कर देते हैं लेकिन इस बात का एहसास उन्हें बिलकुल नहीं होता है. इसी तरह, कॉलेज स्टूडेंट्स अपनी शक्ति और क्षमता को हानि पहुंचाने वाले व्यर्थ के कामों में अपना कीमती समय बरबाद करते रहते हैं. कई बार ये स्टूडेंट्स सिर्फ पांच मिनट के ब्रेक के लिए अपनी क्लास से बाहर जाते हैं और एक घंटे के बाद ही वापिस आते हैं.

आजकल डिजिटल मीडिया और इंटरनेट के कारण हजारों ऐसे साधन, सोशल मीडिया और अनेकों सर्च ऑप्शन्स उपलब्ध हैं जो कॉलेज स्टूडेंट्स का ध्यान उनके लक्ष्य और उनकी स्टडीज़ से दूर कर देते हैं, इनके ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल से ये स्टूडेंट्स अपना समय बर्बाद करते ही रहते हैं. समय और शक्ति का दुरूपयोग करने वाले कुछ कार्यों से बचने तथा अपने एनर्जी को सही दिशा में लगाने के कुछ असरदार तरीके हम इस आर्टिकल के ऐसे ही कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए पेश कर रहे हैं. इसलिए, इस आर्टिकल को बड़े गौर से पढ़ें.

कॉलेज स्टडीज़ में ध्यान न देना

जब स्टडीज़ की बात आती है तो सिलेबस को पूरा करने के लिए हम अपने लिए बहुत बड़े लक्ष्य निर्धारित करते हैं. लेकिन ज्यादातर समयों में एक दिन के निर्धारित सिलेबस को हम अगले दिन के लिए छोड़ते चले जाते हैं और परीक्षा नजदीक आने पर लम्बी अवधि तक पढ़कर बिना ब्रेक के सिलेबस कम्प्लीट करना चाहते हैं. ऐसा करना बिलकुल सही नहीं है. याद रखे आपकी शक्ति सीमित है और आप दस दिन के सिलेबस को एक या दो दिन में पूरा नहीं कर सकते. उल्टे आप शारीरिक और मानसिक रूप से अस्वस्थ हो जायेंगे. अतः नियमित अध्ययन करें. अपने लिए आवश्यक सामग्री को अपने स्टडी टेबल के इर्द गिर्द ही रखे ताकि आवश्यकता पड़ने पर आपको ज्यादा दूर नहीं जाना पड़े. इससे आपकी एनर्जी तथा समय दोनों की बचत होगी.

बचने का तरीका

पढ़ते समय नियमित रूप से छोटा ब्रेक ले ताकि सोने और जानकारी एकत्र करने में अपका अधिक समय बर्बाद न हो सके.

कॉलेज ब्रेक को बरबाद करना

कभी कभी दो क्लास के बीच का अंतराल कुछ ज्यादा होता है. ऐसी स्थिति में हम बाहर तो नहीं जा सकते हैं क्योंकि पुनः क्लास करना मुश्किल होगा.इसलिए छात्र लॉन या कही कॉलेज कैम्पस में बैठकर गप्पे मारते हुए अपना समय बीताते हैं. इसके अतिरिक्त कैंटीन में हल्का नाश्ता करते हुए दोस्तों के साथ बाते करके  अपना बहुमूल्य समय बर्बाद करते हैं.

बचने का तरीका

इस समय आप लाइब्रेरी में जाकर कुछ नोट्स बना सकते हैं. अगर बोर हो रहे हैं तो कुछ ज्ञानवर्धक साहित्य या रुचिकर किताबें पढ़ सकते हैं.

सोशल मीडिया का जरुरत से ज्यादा इस्तेमाल

अगर आप अपने आस पास देखें तो पाएंगे कि ज्यादातर समय लगभग सभी लोग फोन पर व्यस्त रहते हैं. अपने दोस्तों और साथियों की गतिविधियों के बारे में जानना स्वाभाविक है लेकिन इसके लिए अपना 20-25 मिनट बर्बाद कर देना कहाँ तक सही है ? एक अध्ययन के अनुसार लोग यू ट्यूब  पर हर दिन 40 मिनट, फेसबुक पर 35 मिनट, स्नैपचैट पर 25 मिनट, इन्स्टाग्राम  पर 15 मिनट खर्च करते हैं. अब अगर पूरी अवधि की गड़ना की जाय तो हम अपने जीवन का आधा दशक सोशल मीडिया पर ही बिताएंगे. कितनी भयावह स्थिति है ? 

बचने का तरीका

सोशल मीडिया आज के समय की मांग है लेकिन आप इंटरनेट पर अपना कार्य करते समय टाइम का भी पूरा ख्याल रखें. बेवजह चैट में मशगुल न हों.

सिलेबस से अलग और व्यर्थ का अध्ययन

छात्र कभी कभी अपने सिलेबस से बाहर की बहुत सारी चीजों का बृहद स्तर पर अध्ययन करने लगते हैं. अनावश्यक और सिलेबस से बाहर की चीजों को पढ़ने में अपना समय बर्बाद करते चले जाते हैं. प्रोफेसर द्वारा बताये गए प्रत्येक उदाहरण को याद करने की कोशिश करते हैं. ऐसा करना समय की बर्बादी है. पाठ्यक्रम की बेहतर समझ के लिए पिछले साल का सिलेबस देखें और तदनुरूप अध्ययन करें.

बचने का तरीका

सबसे पहले यह जानने की कोशिश करें कि सिलेबस के अनुसार और परीक्षा के दृष्टिकोण से आपके लिए क्या महत्वपूर्ण है ? अपने सिलेबस के अनुरूप पढ़ाई करें. सबसे पहले उसे कम्प्लीट करने की कोशिश करें. बाद में अगर खाली समय मिले तो रूचि के अनुरूप कार्य करें.

हरेक बात को नजरंदाज करना

छात्र ज्यादातर समय बड़े बड़े असाइंमेंट बानने में व्यस्त रहते हैं और अपने स्टडी और असाइंमेंट से जुड़े छोटी छोटी आवश्यक्ताओं के प्रति लापरवाह रहते हैं. उदाहरण के लिए वे 10 घन्टे खर्च कर 100 मार्क्स का असाइंमेंट तो बनाते हैं लेकिन गलत फॉण्ट के कारण उनका 10 मार्क्स कट जाता है. अतः पूर्ण सफलता के लिए हर चीज पर गौर करना जरुरी है.

बचने का तरीका

क्लास की असाइंमेंट की जरूरतों को ठीक से समझें. पूरी तरह से कम्प्लीट हो जाने पर इसकी जाँच अपने किसी सीनियर से अवश्य करा लें.

कहते हैं न समय और लहरें किसी का इंतजार नहीं करती हैं.समय रहते जो इनका सही इस्तेमाल करना  सीख गया वह अपने  फील्ड का महारथी बन जाता है. समय एक अमूल्य चीज है. लाख कोशिश करने के बावजूद भी एक बार व्यतीत हुआ समय पुनः दुबारा नहीं आता है. अतः जाने अनजाने समय बर्बाद मत कीजिये.

ऊपर दिए गये टिप्स से आप अपने समय का सही सदुपयोग करने में सक्षम होंगे. कम से कम इतना तो अवश्य ही जान पाएंगे कि समय बर्बाद न करते हुए अपने समय का बेहतर प्रबंधन कैसे करना है? भविष्य में आप पर बहुत सारी व्यक्तिगत और सामाजिक जिम्मेदारियां आएंगी. अतः बेकार के काम में अपना अमूल्य समय बर्बाद कर अपनी जिन्दगी को अंधकारमय नहीं बनाएं.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

हेल्थ एवं फिटनेस टिप्स: इंडियन कॉलेज स्टूडेंट्स जरुर करें इन्हें फ़ॉलो  

ये 5 प्रमुख किताबें कॉलेज स्टूडेंट की दोस्ती को बनाती हैं बहुत खास

कॉलेज स्टूडेंट्स सोशल मीडिया का बेहतरीन इस्तेमाल करने के लिए आजमायें ये खास तरीके

 

 

 

Related Categories