ये हैं कुछ ऐसी आदतें जिनसे बिगड़ता है ऑफिस का माहौल

समय के साथ कुछ ऐसी वर्क हैबिट्स विकसित हो जाती हैं जिनका असर हमारे रोज़मर्रा के ऑफिस के कामकाज पर पड़ता है. इस आर्टिकल में जानिये इन ख़राब वर्क हैबिट्स को कैसे हटायें और फिर, अपने कामकाज, जॉब और कारोबार में पॉजिटिव रवैया अपनाएं.                                       

Jan 18, 2019 12:40 IST
    Some Habits which spoil the office atmosphere
    Some Habits which spoil the office atmosphere

    यह तो हम सब अच्छी तरह जानते हैं कि अच्छी आदतें जैसेकि, डिसिप्लिन, हार्ड वर्क, ऑनेस्टी और समय की पाबंदी जैसी अच्छी आदतें हमारी पेशेवर और व्यक्तिगत सफलता का आधार होती हैं. अब, जब अच्छी आदतें हमें सफलता के शिखर पर पहुंचा सकती हैं तो यकीनन कुछ ऐसी खराब या हानिकारक आदतें भी होंगी जो हमारे करियर और व्यक्तिगत जीवन को अस्थिर बना देती हैं. आज हम आपसे कुछ ऐसी ही आदतों का जिक्र कर रहे हैं जो न सिर्फ हमारे व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन को नुकसान पहुंचाती हैं बल्कि इससे हमारे ऑफिस या आस-पास का माहौल भी बिगड़ने लगता है और अंततः ऑफिस में हमारी वर्क परफॉरमेंस को काफी नुकसान पहुंचता है. इन नेगेटिव या हानिकारक आदतों की जानकारी और पहचान करके आप इन आदतों को छोड़कर अपने व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन में संतुलन कायम करके लगातार तरक्की कर सकते हैं और खुशहाल जीवन जी सकते हैं. आइये इन हानिकारक आदतों पर विचार-विमर्श करें: 

    • आलस्य या धीमी गति से काम करना

    अगर आप अपने रोजाना के काम काफी धीमी गति से पूरे करते हैं, ऑफिस मीटिंग्स में लेट पहुंचते हैं या फिर अपने प्रोजेक्ट्स निर्धारित समय-सीमा के बाद पूरे करते हैं तो इससे आपकी इमेज ख़राब होती है और लोग आपके इस रवैये को गैर-जिम्मेदाराना मानते हैं. कभी-कभार लेट हो जाना तो सामान्य-सी बात है क्योंकि अक्सर हमें ट्रैफिक जाम्स का सामना करना पड़ता है लेकिन अगर आप अक्सर लेट होते हैं तो यह आपकी एक हानिकारक आदत है जिसका आपकी वर्क परफॉरमेंस पर बुरा असर पड़ता है.

    • नेगेटिव रवैया

    अगर हम हरेक काम में उत्साहहीनता या निराशा जाहिर करते हैं और किसी भी प्रोजेक्ट को हैंडल करने के बजाय टालमटोल करते हैं और अपना काम अपने कलीग्स को सौंपना चाहते हैं तो इसकी प्रमुख वजह हमारा नेगेटिव रवैया है जो हमारे साथ अन्य लोगों के लिए भी परेशानी का एक बड़ा कारण बन जाता है. इसलिए, हरेक इशू में शिकायत करने या टालमटोल करने के बजाय आपको हरेक काम और प्रोजेक्ट को एक चुनौती के तौर पर स्वीकार करना चाहिए.

    • मिसमैनेजमेंट

    अगर आप अपने कामकाज का ट्रैक रिकॉर्ड नहीं रखते हैं और अपने रोजाना के काम को कल पर टालते जाते हैं तो कुछ समय के बाद आप अपने कलीग्स से पीछे रह जायेंगे और इसका सीधा असर टीम वर्क पर पड़ेगा.

    • अटपटा ड्रेसिंग सेंस

    कई लोग ऑफिस जाते समय अपने कपड़ों की ज्यादा परवाह नहीं करते और एक्स्ट्रा स्मार्ट या कूल दिखने के लिए कैजुअल ड्रेस पहनकर ऑफिस आ जाते हैं जैसेकि, शॉर्ट्स, ट्रैकसूट या कुरते पाजामे में आप अगर ऑफिस आते हैं तो वह आपके अनप्रोफेशनल ड्रेसिंग सेंस को दर्शाता है.

    • मीटिंग या प्रेजेंटेशन के लिए तैयारी न करना

    अगर आप ओवर-कॉन्फिडेंस की वजह से अपनी मीटिंग या प्रेजेंटेशन की अच्छी तैयारी नहीं करते हैं तो इससे काम के प्रति आपकी लापरवाही झलकती है और आपकी वर्क परफॉरमेंस का लेवल भी काफी गिर जाता है.

    • अपनी और अपने आस-पास साफ़-सफाई न रखना

    अगर आपके नाख़ून गंदे, दांत पीले और कपड़े गंदे हैं, आप रोजाना नहाकर ऑफिस नहीं जाते हैं या फिर आप अपने आस-पास साफ़-सफाई न रखकर इधर-उधर कूड़ा-करकट जैसेकि कागज़ के टुकड़े और मूंगफली के छिलके आदि फेंक देते हैं तो आपके कलीग्स आपसे दूरी बना लेंगे और आपसे बातचीत करना भी पसंद नहीं करेंगे.

    • सोशल मीडिया एडिक्ट और नेट सर्फिंग

    अगर आप हमेशा अपने ऑफिस के टाइम पर नेट सर्फिंग करते रहेंगे, फेसबुक, इन्स्टाग्राम, वर्ड्स ऐप आदि पर बिजी रहेंगे और अपने डेस्क पर काम नहीं करेंगे तो सभी कलीग्स का ध्यान आप पर रहेगा और फिर, शायद जल्दी ही आपको एचआर डिपार्टमेंट की तरफ से चेतावनी ईमेल भी आ जाये.

    • गर्म मिज़ाज

    ऑफिस में अगर आप हमेशा अपने गुस्से, चिड़चिड़ाहट या गर्म मिज़ाज से अपने कलीग्स के साथ पेश आते हैं तो लोग आपसे दूरी बना लेते हैं और आपके बारे में नेगेटिव राय कायम कर लेते हैं.

    • स्लैंग लैंग्वेज का इस्तेमाल

    अगर आप बात-बेबात अपनी बोलचाल में स्लैंग लैंग्वेज का इस्तेमाल करते हैं तो आपके कलीग्स न सिर्फ आपसे बात करने से बचने लगते हैं बल्कि दबी जुबान में आपकी आलोचना भी करने लगते हैं.

    • देर से आना और जल्दी जाना

    अगर कर्मचारी अपने रोजाना अपनी ऑफिस टाइमिंग्स को नज़रंदाज़ करके सुबह देर से आते हैं और शाम को जल्दी घर चले जाते हैं तो भी ऑफिस में ऐसे वर्कर्स की इमेज ख़राब हो जाती है और एचआर डिपार्टमेंट से उन्हें कभी भी नोटिस मिल सकता है या फिर उनकी सैलरी कट सकती है.

    कुछ अन्य हानिकारक आदतों की एक लिस्ट आपकी जानकारी के लिए हम नीचे पेश कर रहे हैं:

    • अपने कलीग्स से मेलजोल न रखना.
    • ऑफिस पॉलिटिक्स या अफवाहों में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेना.
    • समय के पाबन्द न होना.
    • अक्सर वर्क फॉर्म होम करने की कोशिश करना.
    • ऑफिस की ड्यूटी पूरी करने के बजाय अक्सर अपने व्यक्तिगत कामकाज निपटाते रहना.
    • बिना सोचे-समझे कमेंट्स देना या ईमेल्स भेजना.
    • वर्क प्लान न करना या खराब प्लानिंग करना.
    • अपने काम में लापरवाही बरतना.
    • अपनी हेल्थ को अक्सर नज़रंदाज़ करना और बीमार होने पर भी ऑफिस अटेंड करना.
    • हमेशा ऊंची आवाज़ में बातचीत करना.
    • अपनी टीम के साथ को-ऑपरेट न करना और अपने टीम मेम्बर्स की शिकायत करना.
    • अपने ऑफिस का टाइम बरबाद करते रहना.
    • अपने व्यक्तिगत जीवन के बारे में हरेक व्यक्ति से अक्सर सभी बातें शेयर करना.
    • अपने काम को लेकर बिना वजह घबराना और नर्वस रहना. 

    कैसे इन हानिकारक आदतों से छुटकारा पायें?

    आइये अब इस बात की चर्चा करें कि हम उक्त सभी नुकसानदायक आदतों से कैसे बच सकते हैं? इसके लिए हमें क्या करना होगा? आइये महत्वपूर्ण प्वाइंट्स का जिक्र करे:

    • सबसे पहले अपनी नुकसानदायक आदतों की पहचान करें.
    • अपनी नुकसानदायक आदतों की एक लिस्ट बना लें.
    • अपनी आदतों में बदलाव लाने का दृढ निश्चय करें.
    • अपनी हानिकारक आदतों को बदलने के लिए एक वरीयता सूची बना लें.
    • अपनी हानिकारक आदतों को बदलने के लिए वर्क प्लान तैयार करें
    • एक सप्ताह तक अपनी हानिकारक आदतों को बदलने के प्रयास पर पूरी निगरानी रखें.
    • इन नुकसानदायक आदतों को जारी रखने के सभी प्रलोभनों को पूरी ईमानदारी से हटा दें.
    • इन आदतों को दूर करते समय अपनी प्रगति पर नजर रखें.
    • इन आदतों को दूर करने में लगने वाले समय को लेकर धैर्य रखें.
    • अगर आप अपनी किसी हानिकारक आदत को छोड़ देते हैं तो अपने को कुछ रिवॉर्ड जरुर दें जैसेकि, अपने लिए नई ड्रेस खरीदें, अपने लिए केक, पेस्ट्री, स्वीट्स या अपने मनपसंद इटेबल्स या फिर मोबाइल, पर्स या कुछ और खरीदें जो आपको पसंद हो.

    अगर आप उक्त हानिकारक आदतों को दृढ़ निश्चय से दूर कर लेते हैं तो समय बीतने के साथ आपके सम्मान में वृद्धि होने के साथ ही आपको अपने व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन में लगातार तरक्की और सफलता मिलती रहेगी.

    जॉब, करियर और कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...