Search

SSC GD Constable 2018-19 परीक्षा पैटर्न: कंप्यूटर आधारित परीक्षा, शारीरिक और मेडिकल परीक्षण

इस लेख में, हम SSC GD कांस्टेबल 2018 परीक्षा के परीक्षा पैटर्न पर विस्तार से चर्चा करने जा रहे हैं, जिसमें कम्प्यूटर आधारित परीक्षा (सीबीई), शारीरिक दक्षता परीक्षा (पीईटी), शारीरिक मानक परीक्षा (पीएसटी) और विस्तृत चिकित्सा परीक्षा (डीएमई) शामिल होगी।

Jun 25, 2019 13:33 IST
SSC GD Constable 2018-19 Exam Pattern

कर्मचारी चयन आयोग, सीमा सुरक्षा बल (BSF), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF), केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF), इंडो तिब्बती सीमा पुलिस (ITBP), सशस्त्र सीमा बल (SSB), राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA), सचिवालय सुरक्षा बल (SSF) और असम राइफल्स में राइफलमैन (जनरल ड्यूटी) जीडी कांस्टेबल पदों के लिए गृह मंत्रालय की भर्ती योजना के तहत एक मुक्त परीक्षा का आयोजन करेगा.उम्मीदवार अभी इस पद के लिए आवेदन कर सकते हैं क्योंकि पंजीकरण प्रक्रिया 17 अगस्त, 2018 से 17 सितंबर, 2018 तक जारी रहेगी। भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन पत्र जमा कराने की प्रक्रिया में दो भाग होंगे:

(i) वन-टाइम रजिस्ट्रेशन और

(ii) ऑनलाइन आवेदन-पत्र की प्रविष्टि

SSC ने हाल ही में कंप्यूटर आधारित परीक्षा की तिथि को घोषित किया है और यह परीक्षा 11 फरवरी 2019 से 11 मार्च 2019 तक आयोजित की जायेगी. अत: SSC GD कांस्टेबल 2018 की परीक्षा की तैयारी को तेज़ी से शुरू करने का समय आ गया हैं. आइये- SSC GD कांस्टेबल 2018 की परीक्षा के पैटर्न को विस्तार से जानते हैं-

SSC GD कांस्टेबल 2018-19: परीक्षा पैटर्न

SSC GD कांस्टेबल 2018 परीक्षा द्वारा इन पदों की भर्ती प्रक्रिया में कम्प्यूटर पद्धति पर आधारित परीक्षा (सी०बी०ई०), शारीरिक दक्षता परीक्षा (पी०ई०टी०), शारीरिक मानक परीक्षा (पी०एस०टी०९) और विस्तृत चिकित्सा परीक्षा (डी०एम०ई०) सम्मिलित हैं-

SSC GD Constable Exam Pattern

परीक्षा के यें सभी चरणों अनिवार्य हैं। शारीरिक दक्षता परीक्षा (पी०ई०टी०) / शारीरिक मानक परीक्षा (पी०एस०टी०) / विस्तृत चिकित्सा परीक्षा (डी०एम०ई०) / रिव्यू मेडिकल परीक्षा (आर०एम०ई०),  सी०ए०पी०एफ० द्वारा निर्धारित और आयोजित की जाएगी। इस सभी पेपर्स का विवरण निम्नानुसार हैं-

Strategy for SSC CGL exam

 

चरण-I: कंप्यूटर आधारित परीक्षा

कंप्यूटर आधारित परीक्षा में एक बहुविकल्पीय प्रकार का पेपर होगा, जिसमें 100 अंकों के 100 प्रश्न निम्नलिखित पैटर्न पर आधारित होंगे-

अनुभाग

विषय

प्रश्नों की संख्या

अधिकतम अंक

समय सीमा

खंड-‘क’

जनरल इंटेलिजेंस और रीजनिंग

25

25

90 मिनट

खंड-‘ख’

सामान्य ज्ञान और सामान्य जागरूकता

25

25

खंड-‘ग’

प्रारंभिक गणित

25

25

खंड-‘घ’

इंग्लिश/ हिंदी

25

25

कुल

100

100

ध्यान दें:

• सभी प्रश्न बहुविकल्पीय प्रकार के होंगे।

• प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होगा।

• परीक्षा केवल दो भाषाओँ अंग्रेजी और हिंदी में आयोजित की जाएगी।

टाई के मामलों का समाधान:

कंप्यूटर पद्धति पर आधारित परीक्षा में, कई उम्मीदवारों के प्राप्तांकों में टाई होने के मामलों का समाधान निम्नलिखित मानदंडों के आधार पर किया जाएगा:

अ.) कंप्यूटर आधारित परीक्षा में प्राप्त कुल अंक.

आ.) कंप्यूटर आधारित परीक्षा के खंड-क में प्राप्त अंक.

इ.) कंप्यूटर आधारित परीक्षा के खंड-ख में प्राप्त अंक.

ई.) जन्म की तारीख (उम्र में बड़े उम्मीदवारों को ऊपर रखा जायेगा).

उ.) नामों का वर्णमाला क्रम (पहले नाम से शुरू).

चरण-II: शारीरिक दक्षता परीक्षा (पी०ई०टी०) और शारीरिक मानक परीक्षा (पी०एस०टी०)

सी०बी०ई० में प्रदर्शन के आधार पर, उम्मीदवारों को आयोग द्वारा पी०ई०टी० / पी०एस०टी० के लिए शॉर्टलिस्ट किया जाएगा। शारीरिक क्षमता परीक्षण (पी०ई०टी०) और शारीरिक मानक परीक्षा (पी०एस०टी०),  सी०ए०पी०एफ० द्वारा अंतिम रूप रूप से दिए गए विभिन्न केंद्रों पर आयोजित की जाएगी। कोई भी उम्मीदवार इस परीक्षा में अच्छा स्कोर तब तक नहीं कर सकता, अगर वह शारीरिक और चिकित्सकीय रूप से फिट नहीं है। तो आइए नीचे दिए गए शारीरिक परीक्षणों के विभिन्न पहलुओं को देखते हैं:

शारीरिक दक्षता परीक्षा (पी०ई०टी०):

पी०ई०टी०

पुरुष उम्मीदवारों के लिए

महिला उम्मीदवारों के लिए

दौड़ (लद्दाख क्षेत्र से संबंधित सभी उम्मीदवारों को छोड़कर)

24 मिनट में 5 किमी की दौड़

8.5 मिनट में 1.6 किमी की दौड़  

दौड़ (केवल लद्दाख क्षेत्र के उम्मीदवारों के लिए)

6.5 मिनट में 1 मील की दौड़  

4 मिनट में 800 मी० की दौड़

शारीरिक मानक परीक्षा (पी०एस०टी०):

कांस्टेबल/ राइफलमैन के पद के लिए शारीरिक मानदंड निम्नलिखित हैं-

1. कद/ऊंचाई

कद/ऊंचाई

कद/ऊंचाई (से०मी० में)

पुरुष

महिला

सामान्य, एससी और ओबीसी उम्मीदवार (नीचे उल्लिखित को छोड़कर)

170

157

छूट:

अनुसूचित जनजातियों के सभी उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम ऊंचाई

162.5

150

अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम और त्रिपुरा और नक्सल / वामपंथी अतिवाद प्रभावित जिलों के उत्तर-पूर्वी राज्यों के सभी अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम ऊंचाई

160

147.5

गढ़वाल, कुमाऊँ, डोगरा, मराठों और असम, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर राज्यों के उम्मीदवारों की न्यूनतम ऊंचाई

165

155

अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम और त्रिपुरा- उत्तर पूर्वी राज्यों के उम्मीदवारों की न्यूनतम ऊंचाई

162.5

152.5

गोरखा क्षेत्रीय प्रशासन (जी०टी०ए०) के निवासी उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम ऊंचाई, जिसमें दार्जिलिंग जिले के तीन उप प्रभाग अर्थात् दार्जिलिंग, कलिम्पोंग और कुर्सियांग शामिल हैं- इन जिलों में निम्नलिखित "मौजास" उप प्रभागों भी शामिल हैं:

1. लोहारगढ़ चाय गार्डन, 2. लोहागढ़ वन, 3. रंगमोहन, 4. बराकेंगा, 5. पानीघाटा, 6. छोटा आदलपुर, 7. पहाहर, 8. सुकनाफोर्स्ट, 9. सुकना भाग -1, 10. पंतपति वन -1, 11. महानदी वन, 12. चंपसरी वन, 13. सालबारी छतपार्ट -2, 14. सीटोंग वन, 15. शिवोक हिल वन, 16. शिवोक वन, 17. छोटा चेंगा, 18. निपानिया

157

152.5

2. छाती

छाती

छाती (से०मी० में)

पुरुष

महिला

सामान्य, एससी और ओबीसी उम्मीदवार (नीचे उल्लिखित को छोड़कर)

80/5

लागू नहीं

छूट:

अनुसूचित जनजातियों के सभी उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम छाती की माप

76/5

लागू नहीं

गढ़वाल, कुमाऊँ, डोगरा, मराठों और असम, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर राज्यों के उम्मीदवारों की न्यूनतम छाती की माप

78/5

लागू नहीं

गोरखा क्षेत्रीय प्रशासन (जी०टी०ए०) के निवासी उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम छाती की माप, जिसमें दार्जिलिंग जिले के तीन उप प्रभाग अर्थात् दार्जिलिंग, कलिम्पोंग और कुर्सियांग शामिल हैं- इन जिलों में निम्नलिखित "मौजास" उप प्रभागों भी शामिल हैं:

1. लोहारगढ़ चाय गार्डन, 2. लोहागढ़ वन, 3. रंगमोहन, 4. बराकेंगा, 5. पानीघाटा, 6. छोटा आदलपुर, 7. पहाहर, 8. सुकनाफोर्स्ट, 9. सुकना भाग -1, 10. पंतपति वन -1, 11. महानदी वन, 12. चंपसरी वन, 13. सालबारी छतपार्ट -2, 14. सीटोंग वन, 15. शिवोक हिल वन, 16. शिवोक वन, 17. छोटा चेंगा, 18. निपानिया

77/5

लागू नहीं

3. भार

चिकित्सा मानकों के अनुसार, पुरुष और महिला उम्मीदवार दोनो का भार- ऊंचाई और आयु के अनुपात में होना चाहिए। भार में फिट/ अनफिट घोषित करने का अंतिम निर्णय चिकित्सा परीक्षा के समय पी०एस०टी० / पी०ई०टी० बोर्ड के चिकित्सा चार्ट (भार-आयु चार्ट) व संलग्नित दिशा-निर्देशों के अनुसार मेडिकल बोर्ड द्वारा मेडिकल टेस्ट के दिन किया जाएगा.

नोट:

  • पी०ई०टी० / पी०एस०टी० के दौरान, उम्मीदवार जो ऊंचाई मानकों पर योग्य पाए जाएंगे, वे पी०ई०टी० (दौड़) से गुजरेंगे, इसके बाद बायोमेट्रिक / प्रौद्योगिकी की सहायता से उनकी पहचान दर्ज की जायेगी।
  • पी०एस०टी० से पहले, पी०ई०टी० (दौड़) में अर्हता प्राप्त करने के बाद, उम्मीदवारों की पात्रता की जांच, आयु, ऊंचाई और छाती की माप में किसी भी छूट को, सी०ए०पी०एफ० के पी०ई०टी० / पी०एस०टी० बोर्ड द्वारा तय किया जाएगा।

चरण-III: विस्तृत मेडिकल जांच (डी०एम०ई०)

पी०ई०टी० / पी०एस०टी० में अर्हता प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों के समूह को विस्तृत चिकित्सा परीक्षा (डी०एम०ई०) के लिए शॉर्टलिस्ट किया जाएगा। चिकित्सा परीक्षा का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि चिकित्सकीय रूप से फिट उम्मीदवार ही सी०ए०पी०एफ० में स्वीकार किये जा रहे है या नहीं।

चयनित उम्मीदवारों की चिकित्सकीय जांच का आंकलन सी०ए०पी०एफ० द्वारा गठित मेडिकल बोर्ड से सुनिश्चित किये गए पैरामीटर्स के आधार पर ही होगी.

1. नेत्र-दृष्टि:

Visual Acuity Unaided

Uncorrected Visual Acuity

अपवर्तन

रंगीन दृष्टि

निकट दृष्टि

दूर दृष्टि

बेहतर नेत्र

दोषसहित नेत्र

बेहतर नेत्र

दोषसहित नेत्र

चश्मे द्वारा भी किसी भी तरह के दृश्य सुधार की अनुमति नहीं है

ISIHARA

द्वारा CP-III

N6

N9

6 / 6

6 / 9

2. चिकित्सा परीक्षा के तहत सभी उम्मीदवारों के लिए मेडिकल टेस्ट (एक्स-रे) छाती-पी०ए० व्यू, हेमोग्लोबिन, मूत्र नियमन / माइक्रोस्कोपिक परीक्षा आवश्यक हैं।

3. रक्तचाप की परीक्षा, (सामान्य रेंज सिस्टोलिक 100-140 मिमी एच०जी०, डायस्टोलिक 60 से 90 मि०मी० एच०जी०).

4. हीमोग्लोबिन: (सामान्य रेंज: पुरुष के लिए 12-16 ग्राम / डी०एल०, महिला के लिए 10-14 ग्राम / डी०एल०): 18 ग्राम / डी०एल० से अधिक हीमोग्लोबिन वाले उम्मीदवारों को अनुपयुक्त माना जाएगा। पुरुष के लिए 12 ग्राम / डी०एल० से नीचे और महिला के लिए 10 ग्राम / डी०एल० से नीचे हीमोग्लोबिन अयोग्य माना जाएगा।

5. टैटू: टैटू की अनुमति के लिए निम्नलिखित मानदंड निर्धारित किए गए हैं:

अ.) सामग्री: धार्मिक प्रतीक या रूपरेखाओं इत्यादि अन्य नामों का चित्रण करने वाले टैटू, भारतीय सेना में अनुमत है।

आ.) स्थान: शरीर के पारंपरिक स्थलों पर चिन्हित टैटू जैसे कि बाहों के अन्दर टैटू परन्तु बाएं हाथ में, ताकि सलामी देते समय टैटू न दिखे, की अनुमति है।

इ.) आकार: शरीर के विशेष भाग (कोहनी या हाथ) पर, कुल क्षेत्र के 1/4 से कम होना चाहिए;

6. अभ्यर्थी को, मुड़े हुए घुटने, फ्लैट-पैर, वैरिकाज़ नस या आंखों में स्क्विंट नहीं होना चाहिए।

विस्तृत चिकित्सा परीक्षा (डी०एम०ई०) के समय, निम्नलिखित दस्तावेजों की पुष्टि की जाएगी:

  • आयु, नाम और शैक्षिक योग्यता साबित करने के लिए मैट्रिकुलेशन / माध्यमिक परीक्षा प्रमाणपत्र
  • सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी डोमिसाइल सर्टिफिकेट / स्थायी निवासी प्रमाणपत्र (पी०आर०सी०)
  • सेवारत रक्षा कर्मियों का प्रमाणपत्र
  • पूर्व सैनिकों के सशस्त्र बलों में सेवा पूरा करने के संबंध में पत्र
  • आरक्षण / आयु छूट मांगने वाले उम्मीदवारों का जाति प्रमाण पत्र
  • उम्मीदवार, जो ऊंचाई / छाती माप में छूट का लाभ उठाना चाहते हैं, का सम्बंधित प्रमाणपत्र
  • दंगा पीड़ितों के आश्रित आवेदकों के संबंध में जिला कलेक्टर / जिला मजिस्ट्रेट से प्रमाण पत्र
  • पश्चिम पाकिस्तानी शरणार्थी का जन्म / पहचान प्रमाण पत्र

नोट: उम्मीदवारों से प्राप्त आवश्यक योग्यताओं के प्रमाण पत्र / दस्तावेजों के संग्रह और उनके सत्यापन का कार्य सी०ए०पी०एफ० द्वारा विस्तृत चिकित्सा परीक्षा (डी०एम०ई०) के समय किया जाएगा।

कंप्यूटर आधारित परीक्षा में उम्मीदवारों के प्रदर्शन के आधार पर, उनको आयोग द्वारा सेना बल में आवंटन अंतिम परिणाम के साथ घोषित किया जाएगा। शारीरिक मानक परीक्षण, शारीरिक दक्षता परीक्षण और विस्तृत चिकित्सा परीक्षा योग्यता में क्वालीफाइंग प्रकृति की होगी।

SSC GD कांस्टेबल 2018 परीक्षा के उपर्युक्त परीक्षा पैटर्न के माध्यम से जाने के बाद, आपको अब यह समझना होगा कि केवल कड़ी मेहनत से आप इस परीक्षा को उत्तीर्ण नहीं कर पाएंगे बल्कि अभ्यर्थियों को शारीरिक और चिकित्सा परीक्षणों को पास करने के लिए शारीरिक व्यायम के द्वारा शारीरिक और मानसिक रूप से भी फिट होना होगा।

यदि आपको “SSC GD कांस्टेबल 2018-19 परीक्षा पैटर्न: कंप्यूटर आधारित परीक्षा, शारीरिक और मेडिकल परीक्षण” के बारे में दी गयी जानकारी उपयोगी लगी हो तो  SSC परीक्षा 2018 के बारे में इस तरह की अधिक जानकारी के  लिए  https://www.jagranjosh.com/staff-selection-commission-ssc  पर विजिट करें.