Search

SSC जूनियर इंजीनियर (जे०ई०) 2019: नौकरी प्रोफाइल, वेतन संरचना और करियर ग्रोथ

कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) केंद्रीय जल आयोग, केंद्रीय लोक निर्माण विभाग, सैन्य अभियांत्रिकी सेवाएं और डाक विभाग जैसे विभागों में जूनियर इंजीनियर्स की भर्ती के लिए एक वार्षिक परीक्षा आयोजित करता है। इस परीक्षा के तहत इलेक्ट्रिकल, सिविल, मैकेनिकल, मात्रा सर्वेक्षण और अनुबंध विषयों के लिए भर्ती की जाती है

Feb 21, 2019 11:42 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
SSC Junior Engineer (JE) 2019: Salary after 7th Pay Commission, Job Profile, Vacancies & Growth
SSC Junior Engineer (JE) 2019: Salary after 7th Pay Commission, Job Profile, Vacancies & Growth

कर्मचारी चयन आयोग (SSC), जूनियर इंजीनियर्स (जे०ई०) समूह-'B 'पदों - सिविल, मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल, मात्रात्मक सर्वेक्षण और अनुबंध क्षेत्र में भर्ती के लिए वार्षिक परीक्षा आयोजित करता है। मैं और पेपर - - द्वितीय उम्मीदवारों को SSC JE की चयन प्रक्रिया में परीक्षा के दो चरणों यानी पेपर-I और II से गुजरना पड़ता हैं।

आइये- SSC जूनियर इंजीनियर की नौकरी प्रोफाइल, वेतन संरचना और करियर ग्रोथ के विवरण पर नजर डालते हैं।


SSC जूनियर इंजीनियर (जे०ई०) की नौकरी प्रोफाइल

जूनियर इंजीनियर की पोस्ट केंद्र सरकार की प्रतिष्ठित नौकरियों में से एक है जिसकी परीक्षा SSC द्वारा हर साल पूरे देश में आयोजित की जाती है। इन पदों को केन्द्र सरकार के ग्रुप 'बी' गैर-राजपत्रित श्रेणी के अंतर्गत वर्गीकृत किया जाता है।

इस नौकरी प्रोफ़ाइल के तहत, जूनियर इंजीनियर्स को उनके स्पेशलाइजेशन व प्रत्येक विभाग की आवश्यकतानुसार विभिन्न सरकारी संगठन या विभागों में क्रमशः पोस्ट कर दिया जाता हैं। उदाहरण के लिए, एक जूनियर इंजिनियर, जो कि यांत्रिकी में स्पेशलाइजेशन रखता है को केन्द्र सरकार के संबंधित संगठनों के अंतर्गत मैकेनिकल विभागो में पोस्ट कर दिया जाता है।

SSC JE 2018 के तहत पदों को विभिन्न केंद्रीय सरकारी संगठनों में निम्न सूची के अनुसार रखा जायेगा:

SSC JE Posts and Vacancies

SSC जूनियर इंजीनियर के कार्य व दायित्व (जे०ई०)

एक नए भर्ती जूनियर इंजिनियर को संबंधित आवंटित सरकारी संगठनों में किसी एक अनुभाग का प्रभार दिया जाता हैं और वह अपने-अपने विभागों में दिए गए विभिन्न कार्य के लिए जिम्मेदार होगा। इन कार्यों में सबसे पहले मजदूरों द्वारा किए गए दैनिक कार्य का पर्यवेक्षण सम्मिलित है ताकि अगले दिन के लिए कार्य का आवंटन और सुपरविज़न के योजना बनायीं जा सकें

एक जूनियर इंजीनियर की प्रमुख भूमिका और जिम्मेदारियां  संबंधित सरकारी विभागों में निम्न प्रकार से हैं-

Junior Engineer Job Responsibilities

  • कार्य का पर्यवेक्षण: शुरुआती दिनों में, यह एक इंजीनियर का मुख्य कार्य है क्योंकि यह संगठन के कार्यों को समझने का सर्वोत्तम अवसर प्रदान करता है|
  • योजना: यह हिस्सा एक छोटे स्तर से शुरू होता है- जैसे मरम्मत या नवीनीकरण कार्य की योजना का अनुमान लगाने और फिर एक कनिष्ठ अभियंता या उसके अनुभाग द्वारा फ्लैगशिप गतिविधियों के लिए संपूर्ण योजना बनायी जाती है|
  • लेखा: एक जूनियर इंजीनियर ठेकेदार द्वारा किए गए कार्य या अनुभाग द्वारा किए गए किसी भी व्यय के लिए अपने सेक्शन के स्टॉक को बनाए रखने व प्राप्त बिलों की अदायगी के लिए ज़िम्मेदार होता है|
  • योजना निष्पादन: जूनियर इंजीनियरों को हमेशा उन संगठनों में पोस्ट किया जाता, जहां विभिन्न सरकारी योजनाओ का निष्पादन इत्यादि का कार्य होता है और जूनियर इंजीनियर्स को इन योजनाओं से संबंधित कार्य के निर्बाध प्रवाह को सुनिश्चित करन होता है।
  • वरिष्ठों की सहायता करना: एक कनिष्ठ अभियंता अपने सम्बंधित अनुभाग का मालिक होता है और इसलिए, इस अनुभाग के लिए कोई भी जरूरी ब्रीफिंग जूनियर इंजीनियर से ली जाटी है। अगर उसका विभाग एक महत्वपूर्ण परियोजना के साथ काम कर रहा है, तो उसे दैनिक आधार पर उच्च प्राधिकरण को रिपोर्ट करना होगा|

SSC जूनियर इंजीनियर का वेतन संरचना (जे०ई०)

नीचे दी गई सारणी में, उम्मीदवारों को SSC जूनियर इंजीनियर के सकल वेतन, ग्रेड-पे और  इन-हैण्ड सैलरी के बारे में एक संक्षिप्त विवरण प्रदान किया गया है:

Junior Engineer Salary Structure

SSC जूनियर इंजीनियर (जे०ई०) को इन-हैण्ड वेतन सभी प्रासंगिक करों और भविष्य निधि की कटौती के बाद हो मिलता है।

7वें वेतन आयोग के बाद SSC जूनियर इंजीनियर (जे०ई०) की वेतन संरचना

7वां वेतन आयोग लागू होने पर विभिन्न सरकारी पदों की वेतन संरचना को उन्नत किया जायेगा।

7वें वेतन आयोग के अंतर्गत विभिन्न सरकारी पदों के लिए वेतन को नीचे दिए ढंग से कैलकुलेट किया जा सकता है-

नया भुगतान = (1 जनवरी 2016 का मूल वेतन  * 2.57) + पद के लिए लागू सभी भत्ते

जूनियर इंजीनियर पोस्ट का वेतन बैंड 7 वेतन आयोग के स्तर -6 के अंतर्गत आता है जोकि रु० 35400-112400 होगा व 5 जनवरी- 8 जनवरी 2018 से प्रभावी माना जाएगा। 7वें वेतन आयोग के तहत, एक जूनियर इंजिनियर की इन-हैण्ड सैलरी सभी भत्तो सहित रु० 44,000 होगी जिनमे निम्नलिखित सम्मिलत है-

  • मंहगाई भत्ता (डी०ए०)
  • मेडिकल भत्ता
  • मकान किराया भत्ता
  • यात्रा भत्ता
  • अन्य विशेष भत्ता, आदि

SSC जूनियर इंजीनियर के लिए करियर ग्रोथ

विकास के अवसर काफी सराहनीय हैं और यदि आप संबंधित विभाग द्वारा आयोजित विभिन्न विभागीय परीक्षाओं से गुजरते है तो ऐसा कोई कारण नहीं है जिससे आपकी रैंक में वृद्धि न हो। एक जूनियर इंजीनियर को दो वरिष्ठ पदों तक प्रमोशन दिया जाता है जोकि निम्न हैं:

  • वरिष्ठ खंड अभियंता
  • अधिशाषी अभियंता

Junior Engineer Hierarchy

यदि आपको जूनियर इंजीनियर (जे०ई०) 2018 की 'नौकरी प्रोफाइल, वेतन संरचना और विकास की संभावनाओं पर जानकारी उपयोगी लगी है SSC परीक्षा 2018 के बारे में अधिक जानकारी के लिए www.jagranjosh.com/staff-selection-commission-ssc पर विजिट करें.

Related Stories