सूटेबल जॉब्स के लिए इंजीनियर्स इंडियन स्टार्ट-अप्स में भी कर सकते हैं अप्लाई

इन दिनों यंगस्टर्स इंडियन स्टार्ट-अप्स में काम करना चाहता है क्योंकि यहां काफी अच्छा सैलरी पैकेज ऑफर किया जाता है और एम्पलॉईज को अपनी क्रिएटिविटी दिखाने का भी पूरा अवसर मिलता है. इंडियन इंजिनियर्स के लिए इंडियन स्टार्टअप्स में आकर्षक जॉब ऑफर्स उपलब्ध हैं.

Created On: Jun 28, 2021 20:24 IST
Job Opportunities for Indian Engineers in Startups
Job Opportunities for Indian Engineers in Startups

दुनिया के अनेक विकसित देशों की तरह ही भारत में भी कुछ वर्षों से स्टार्ट-अप्स का ट्रेंड बड़ी तेज़ गति से लोकप्रिय हो रहा है. इसलिए, यंग इंडियन प्रोफेशनल्स उच्च शिक्षा प्राप्त करने के साथ ही अपना स्टार्ट-अप शुरू करने में अब काफी इंटरेस्ट दिखाते हैं. इंडियन स्टार्टअप्स आजकल स्व-रोज़गार का महत्वपूर्ण जरिया बन गये हैं. इन दिनों यंग प्रोफेशनल्स, इंजीनियर्स और फ्रेश ग्रेजुएट्स इन इंडियन स्टार्ट-अप्स में सूटेबल जॉब ज्वाइन करना चाहते हैं क्योंकि यहां उन्हें बेहतरीन सैलरी पैकेज ऑफर किये जाते हैं और ये यंग प्रोफेशनल्स अपने एम्पलॉईज को अपना टैलेंट और क्रिएटिविटी दिखाने का भी पूरा अवसर हासिल कर सकते हैं. लेकिन इस वर्ष रोज़गार के मुद्दे को मीडिया अटेंशन नहीं मिल पा रही है क्योंकि भारत सहित दुनिया के अधिकतर देश कोरोना महामारी के दुष्प्रभावों को झेल रहे हैं. लेकिन, टॉप इंडियन स्टार्ट-अप्स IIT और अन्य इंजीनियरिंग कॉलेजों के पासआउट स्टूडेंट्स को बेहतरीन जॉब ऑफर्स दे रहे हैं और यह इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स के लिए काफी प्रसन्नता की बात है. इसलिए, इस आर्टिकल में हम इंजीनियर्स के लिए इंडियन स्टार्टअप्स में सूटेबल जॉब्स के बारे में महत्त्वपूर्ण जानकारी पेश कर रहे हैं:

इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स के लिए उपलब्ध हैं बेहतरीन जॉब ऑफर्स  

इस साल स्टार्ट-अप्स अपनी कंपनी में आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस इंजीनियर, डाटा एनालिस्ट, यूजर-एक्सपीरियंस इंजीनियर और सॉफ्टवेयर डेवलपर जैसे पेशेवरों को जॉब के शानदार ऑफर पेश कर रहे हैं. ये स्टार्ट-अप्स इन पेशेवरों को एवरेज 10 – 15 लाख का सालाना सैलरी पैकेज भी ऑफर कर रहे हैं. पिछले कुछ वर्षों में इरकॉन, ओएनजीसी, पेटीएम और पीपरफ्राई जैसी मशहूर और स्टार्ट-अप कंपनियां भारत के विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों से बेस्ट टैलेंट को अपनी कंपनी में जॉब के बेहतरीन ऑफर पेश कर रही हैं. इन कंपनियों में इंजीनियर्स, टेक्नोलॉजिस्ट्स और डाटा एनालिस्ट्स को काफी अच्छे सैलरी पैकेज में जॉब्स ऑफर की जा रही हैं ताकि इन कंपनियों में टैलेंटेड टेक टीम्स मॉडर्न टेक्निक्स के मुताबिक कंपनी के कारोबार को लगातार प्रमोट करें.

भारत की टॉप स्टार्ट-अप कंपनियां जैसेकि ओयो रूम्स, क्योर.फिट, डिजिट इंश्योरंस और शटल आदि पिछले साल की तरह इस साल भी बेस्ट टैलेंट्स को हायर करना चाहती हैं ताकि उनका कारोबार लगातार बढ़ता रहे. पेटीएम जैसे काफी लोकप्रिय स्टार्ट-अप ने अब तक भारत के विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से कुछ बेस्ट टैलेंट्स को जॉब ऑफर्स दिए हैं. इस कंपनी में विशेष कोडिंग स्किल्स और बेहतरीन डाटा स्किल्स वाले पेशेवरों को प्रेफ्रेंस दी गई है. 

मीडियम स्टार्ट-अप्स में हैं आपके लिए आकर्षक ऑफर्स

हाल के ट्रेंड से यह पता चलता है कि मीडियम/ मध्यम आकार के स्टार्ट-अप्स हमारे देश के टॉप इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट्स से टैलेंटेड फ्रेशर्स को हायर करने के लिए विभिन्न प्लेसमेंट प्रोग्राम्स में जोर-शोर से हिस्सा ले रहे हैं. बिग डाटा के इस युग में, पिछले साल की तरह ही इस साल भी टॉप इंजीनियरिंग कॉलेजों से पास आउट इंजीनियर्स के लिए बढ़िया जॉब ऑफर्स की कोई कमी नहीं रहेगी. आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस, मोबाइल सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट, बैक-एंड और फ्रंट-एंड जॉब्स के उज्ज्वल भविष्य को देखते हुए अब हमारे देश के विभिन्न टॉप स्टार्ट-अप्स उक्त क्षेत्रों में पेशेवरों को रुपये 15 लाख – 25 लाख तक काफी अच्छे सैलरी पैकेज ऑफर कर रहे हैं. आजकल के अति तीव्र गति से होते हुए तकनीकी विकास के कारण अब ये कंपनियां अपने एम्पलॉईज का स्किल सेट ही नहीं देखती हैं बल्कि आने वाली चुनौतियों का समाधान कुशलता से करने की काबिलियत के साथ ही अपने पेशेवरों से यह भी उम्मीद रखती हैं कि ये पेशेवर अपनी फील्ड में होने वाले सभी लेटेस्ट ट्रेंड्स से अपडेटेड रहें. इसी तरह, मल्टी-टास्कर्स को ज्यादा सूटेबल जॉब कैंडिडेट माना जाता है.

ई-कॉमर्स, रिटेल मैनेजमेंट, फैशन टेक्नोलॉजी, लैदर गारमेंट्स और टूल्स एंड मशीनरी डिजाइनिंग सहित तकरीबन सभी बड़ी कंपनियां आजकल विभिन्न भारतीय संस्थानों से इंजीनियर्स को हायर करने में काफी दिलचस्पी ले रही हैं. पिछले साल की तरह ही इस साल भी हमारे देश की बड़ी कंपनियां और स्टार्ट-अप्स अपनी कंपनी में इंजीनियर्स को जॉब के काफी अच्छे ऑफर पेश कर रहे हैं.

आपके लिए सूटेबल जॉब सर्च भी है जरुरी, मिलने तक करते रहें सर्च  

अब, जब आपके पास इस साल इंजीनियरिंग, डाटा और टेक्नोलॉजी की फ़ील्ड्स में कई अवसर और बढ़िया जॉब ऑफर्स हैं तो आप अपनी पसंद, एजुकेशनल क्वालिफिकेशन और टेक्निकल स्किल सेट के मुताबिक ख़ुशी-ख़ुशी अपने लिए सूटेबल जॉब सर्च करें. अगर आप इस संबंध में हमसे कुछ कहना चाहते हैं या फिर अपना बहुमूल्य फीडबैक देना चाहते हैं तो नि:संकोच अपने कमेंट दें. आप अपने दोस्तों, कलीग्स और अन्य लोगों के साथ भी यह आर्टिकल शेयर कर सकते हैं ताकि उन्हें भी यह पता चले कि आजकल हमारे देश में स्टार्ट-अप्स किस तरह आईआईटी और अन्य रीजनल इंजीनियरिंग कॉलेजों से टैलेंटेड इंजीनियर्स को हायर कर रहे हैं. 

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

इंडियन इंजीनियर्स के लिए रिन्यूएबल एनर्जी इंजीनियरिंग में उपलब्ध हैं ये विशेष करियर्स

कंप्यूटर इंजीनियरिंग के बाद आपके लिए टॉप करियर ऑप्शन्स

इंडियन इंजीनयर्स के लिए फ्री ऑनलाइन स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग कोर्सेज

Comment ()

Post Comment

2 + 2 =
Post

Comments

  • Jayant Pratap Singh 10 hours ago
    Now it has become very clear that the chinese are behind the fire incident at SII. It is high time we provide multi layered security to SII and weed out employees having a leftist ideology and pàkistan suppoters...
    Reply
  • Arjun Singh 10 hours ago
    Now it has become very clear that the chinese are behind the fire incident at SII. It is high time we provide multi layered security to SII and weed out employees having a leftist ideology and pàkistan suppoters...
    Reply
    Replys -
    RP Singh 10 hours ago
    Now it has become very clear that the chinese are behind the fire incident at SII. It is high time we provide multi layered security to SII and weed out employees having a leftist ideology and pàkistan suppoters...
    Reply
    Pratap 10 hours ago
    Now it has become very clear that the chinese are behind the fire incident at SII. It is high time we provide multi layered security to SII and weed out employees having a leftist ideology and pàkistan suppoters...
    Reply
  • Jayant Pratap Singh 10 hours ago
    Now it has become very clear that the chinese are behind the fire incident at SII. It is high time we provide multi layered security to SII and weed out employees having a leftist ideology and pàkistan suppoters...
    Reply
  • Jayant Pratap Singh 10 hours ago
    Now it has become very clear that the chinese are behind the fire incident at SII. It is high time we provide multi layered security to SII and weed out employees having a leftist ideology and pàkistan suppoters...
    Reply
Load More