Search

भारत में B.Tech. ग्रेजुएट्स के लिए उपलब्ध हैं ये खास ऑप्शन्स

टेक्नोलॉजी मॉडर्न वर्ल्ड का लेटेस्ट ट्रेंड और नई कार्य संरचना है. इसलिए, B.Tech.  की डिग्री हासिल करने के बाद आपके लिए उपलब्ध कई एजुकेशनल और करियर ऑप्शन्स के बारे में जानना आपके लिए अच्छा रहेगा. इस बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए पढ़ें यह आर्टिकल.

Oct 5, 2019 17:49 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
These Special Options are available for BTech Graduates in India
These Special Options are available for BTech Graduates in India

हमारे देश में हर साल लाखों स्टूडेंट्स अपनी ग्रेजुएशन पूरी करते हैं और फिर, उनमें से कई स्टूडेंट्स हायर स्टडीज़ के लिए एडमिशन ले लेते हैं और कई स्टूडेंट्स जॉब मार्केट और प्रोफेशनल लाइफ में अपना भाग्य आजमाते हैं. अब क्योंकि आजकल टेक्नोलॉजी का जमाना है तो अगर हम B.Tech. से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करने की बात करें तो फिर, आखिर ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करने के बाद B.Tech.  स्टूडेंट्स के पास भी आमतौर पर यही चॉइसेस होती हैं अर्थात कई स्टूडेंट्स अपने मनचाहे कोर्स में एडमिशन लेकर हायर स्टडीज़ करते हैं और बहुत से स्टूडेंट्स ऐसे भी होने हैं जो प्रोफेशनल वर्ल्ड में कदम रखते हैं. आज इस आर्टिकल में हम B.Tech. पास ग्रेजुएट्स के लिए हायर एजुकेशनल डिग्रीज़ हासिल करने के ऑप्शन के साथ-साथ प्रोफेशनल फील्ड में उपलब्ध विभिन्न जॉब ऑप्शन्स पर भी चर्चा कर रहे हैं. आइये आगे पढ़ें:

आखिर यह B.Tech. कोर्स क्या है?

हमारे देश में बैचलर ऑफ़ टेक्नोलॉजी अर्थात B.Tech. काफी बढ़िया और प्रसिद्ध अंडरग्रेजुएट इंजीनियरिंग कोर्स है. यह एक 4 वर्ष की अवधि का फुल टाइम पेशेवर इंजीनियरिंग डिग्री कोर्स भी है. आसान शब्दों में, B.Tech. एक ऐसा अंडरग्रेजुएट कोर्स है जिसे पूरा करने के बाद स्टूडेंट्स इंजीनियर बन सकते हैं. हमारे देश के कई इंस्टीट्यूशन्स में B.Tech. और BE का कोर्स करिकलम समान होता है. इसलिए स्टूडेंट्स को B.Tech. और BE डिग्री कोर्सेज के संबंध में कोई कंफ्यूजन नहीं रखना चाहिए. आमतौर पर स्टूडेंट्स B.Tech. कोर्स के तहत इलेक्ट्रॉनिक्स, कम्युनिकेशन, इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल, सिविल, पेट्रोलियम, केमिकल और एयरोस्पेस इंजीनियरिंग आदि कोर्सेज करवाए जाते हैं. भारत के टॉप इंस्टीट्यूट्स में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट्स को JEE मेन, JEE एडवांस्ड या BITSAT जैसे एंट्रेंस एग्जाम्स पास करने पड़ते हैं.

ये हैं B.Tech. ग्रेजुएट्स के लिए एजुकेशनल ऑप्शन्स

बहुत से स्टूडेंट्स अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करने के बाद भी आगे पढ़ना चाहते हैं और इसके लिए ये स्टूडेंट्स विभिन्न एंट्रेंस एग्जाम्स देकर भी भारत के किसी टॉप एजुकेशनल, मैनेजमेंट या टेक्नोलॉजिकल इंस्टीट्यूट में एडमिशन लेना चाहते हैं. यहां कुछ ऐसे पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज की चर्चा की जा रही है, जिन कोर्सेज में स्टूडेंट्स अपनी B.Tech. की डिग्री हासिल करने के बाद एडमिशन ले सकते हैं जैसेकि:

भारत में सोलर एनर्जी की फील्ड में स्टूडेंट्स के लिए ये हैं चुनिंदा करियर ऑप्शन्स

  • MTech/ ME: B.Tech. की डिग्री हासिल करने वाले स्टूडेंट्स अक्सर इस कोर्स में एडमिशन लेते हैं ताकि टेक्नोलॉजी या इंजीनियरिंग की फील्ड में हायर लेवल की डिग्री हासिल कर सकें. भारत में GATE एंट्रेंस एग्जाम पास करके स्टूडेंट्स देश के टॉप IITs, NITs और CFTIs में एडमिशन ले सकते हैं. जो स्टूडेंट्स इस फील्ड में रिसर्च की फ़ील्ड में जाना चाहते हैं या PHD की डिग्री हासिल करना चाहते हैं, वे भी अक्सर उक्त डिग्री कोर्स में ही एडमिशन लेते हैं.
  • MBA: आजकल हमारे देश के स्टूडेंट्स में किसी टॉप मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट से MBA की प्रोफेशनल डिग्री हासिल करने का काफी क्रेज है. दरअसल MBA करने के बाद प्रोफेशनल्स को कैंपस प्लेसमेंट के दौरान ही लाखों रुपये मासिक का सैलरी पैकेज ऑफर किया जाता है. CAT, MAT और XAT जैसे एंट्रेंस एग्जाम पास करके स्टूडेंट्स देश के टॉप IIMs में MBA कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं.
  • MS: अपनी B.Tech. की डिग्री हासिल करने के बाद कई स्टूडेंट्स मास्टर ऑफ़ साइंस अर्थात MS की डिग्री भी हासिल कर सकते हैं. जो स्टूडेंट्स MS की डिग्री हासिल करना चाहते हैं, वे अक्सर किसी फॉरेन यूनिवर्सिटी से यह कोर्स करना चाहते हैं.
  • विदेशी यूनिवर्सिटी में हायर स्टडी: हमारे देश से जो भी स्टूडेंट्स किसी विदेशी यूनिवर्सिटी से कोई हायर एजुकेशनल लेवल की डिग्री हासिल करना चाहते हैं, वे अमरीका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी और इंग्लैंड जैसे देशों में बेहतरीन यूनिवर्सिटीज़ में एडमिशन ले सकते हैं. किसी फॉरेन यूनिवर्सिटी से MS कोर्स में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट्स को TOEFL/ IELTS जैसे एग्जाम अपनी इंग्लिश लैंग्वेज में प्रोफिशियेंसी साबित करने के लिए पास करने होते हैं और स्कॉलरशिप हासिल करने के लिए GRE एग्जाम पास करना होता है.
  • डिप्लोमा कोर्सेज: ऐसे स्टूडेंट्स जो अपनी B.Tech. की डिग्री हासिल करने के बाद जल्दी ही कोई सूटेबल जॉब ज्वाइन करना चाहते हैं, वे एथिकल हैकिंग, मशीन डिजाइनिंग, रोबोटिक्स या एम्बेडेड टेक्नोलॉजी जैसी किसी संबंधित टेक्निकल फील्ड में 6 महीने या 1 साल के जॉब ओरिएंटेड डिप्लोमा कोर्सेज कर सकते हैं. इन डिप्लोमा कोर्सेज को पूरा करने के बाद स्टूडेंट्स कुछ एक्स्ट्रा टेक्निकल और प्रोफेशनल स्किल्स अर्जित कर लेते हैं.

ये शॉर्ट-टर्म टेक्निकल कोर्सेज दिला सकते हैं आपको तुरंत जॉब

भारत में टेक्नोलॉजी की फील्ड से संबंधित कोर्सेज करवाने वाले टॉप इंस्टीट्यूशन्स

यहां स्टूडेंट्स के लिए भारत के कुछ टॉप इंस्टीट्यूशन्स के नाम की एक लिस्ट पेश की जा रही है. इन इंस्टीट्यूशन्स से स्टूडेंट्स टेक्नोलॉजी की फील्ड में हायर लेवल की डिग्रीज़ हासिल कर सकते हैं. यह लिस्ट निम्नलिखित है:

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, मद्रास/ बॉम्बे/ खड़गपुर/ दिल्ली/ कानपूर/ रुड़की/ पटना
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी
  • इंडियन स्कूल ऑफ़ माइंस, धनबाद
  • पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी, देहरादून
  • देहरादून इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, देहरादून
  • मनिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी
  • बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी
  • SRM यूनिवर्सिटी, चेन्नई

B.Tech. ग्रेजुएट्स के लिए प्रोफेशनल फ़ील्ड्स और जॉब प्रोफाइल्स   

  • सिविल सर्विसेज में जॉब के अवसर: अक्सर यह देखा गया है कि टेक्निकल बैकग्राउंड वाले स्टूडेंट्स इंडियन सिविल सर्विसेज में काफी अच्छा प्रदर्शन करते हैं. इसलिए, Tech. ग्रेजुएट्स इंडियन सिविल सर्विस का एग्जाम क्लियर करके भारत की इस टॉप जॉब में अपने लिए जगह बना सकते हैं.
  • डिफेन्स जॉब्स: टेक्निकल बैकग्राउंड के प्रोफेशनल्स के लिए भारत के डिफेन्स सेक्टर में भी जॉब के बेहतरीन ऑप्शन्स उपलब्ध रहते हैं.
  • प्राइवेट इंस्टीट्यूशन्स में टीचिंग: ये पेशेवर विभिन्न प्राइवेट इंस्टीट्यूशन्स में टेक्निकल सब्जेक्ट्स को पढ़ाने के लिए टीचिंग जॉब्स भी कर सकते हैं.
  • राइटिंग और पब्लिशिंग की फ़ील्ड: ये पेशेवर अपनी टेक्निकल फील्ड से संबंधित आर्टिकल्स, बुक्स या टेक्निकल पेपर्स भी लिखकर पब्लिश करवा सकते हैं.
  • टेक्नीकल कंसलटेंट का जॉब प्रोफाइल: ये पेशेवर विभिन्न कंपनियों या दफ्तरों के टेक्निकल डिपार्टमेंट्स में कंसल्टेंट्स की जॉब भी कर सकते हैं. ये पेशेवर अपनी संबद्ध फील्ड में कुछ वर्ष का अनुभव हासिल करके अपनी कंसल्टेंसी सर्विसेज भी शुरू कर सकते हैं.
  • मैकेनिकल इंजीनियर सहित इंजीनियरिंग की अन्य फ़ील्ड्स: स्टूडेंट्स मैकेनिकल इंजीनियर के तौर पर अपना करियर शुरू कर सकते हैं. ये पेशेवर मशीन्स और मशीन टूल्स को डिज़ाइन, ऑपरेट और मेन्टेन करते हैं. इसके आलावा, रोबोटिक्स, न्यूक्लियर/ बायोमेडिकल, थर्मल पॉवर, सोलर एनर्जी, एयर कंडीशनिंग, ऑटोमोटिव, कंप्यूटर्स, आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस और रेफ्रिजरेशन के साथ इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की फील्ड में भी ये पेशेवर जॉब अप्लाई कर सकते हैं.  
  • कॉर्पोरेट कंपनियों में जॉब ऑप्शन्स: देश की बड़ी कॉर्पोरेट कंपनियां भी अच्छे सैलरी पैकेज पर B.Tech. ग्रेजुएट्स को एंट्री लेवल की जॉब्स ऑफर करती हैं.
  • पब्लिक सेक्टर में जॉब्स: हमारे देश में CII, ISRO और BARC जैसे PSUs B.Tech. ग्रेजुएट्स की स्क्रीनिंग के लिए अपने एग्जाम्स कंडक्ट करते हैं क्योंकि कई PSUs B.Tech. ग्रेजुएट्स को उनके GATE स्कोर के आधार पर एंट्री लेवल जॉब्स पर हायर करते हैं.
  • एंटरप्रेन्योरशिप: अगर आपने अपनी टेक्निकल फील्ड में कुछ वर्षों का कार्य अनुभव हासिल कर लिया है और आपकी आर्थिक स्थिति काफी अच्छी हैं तो आप अपना कारोबार भी शुरू कर सकते हैं. आजकल ‘मेक इंडिया’ पॉलिसी के तहत भारत सरकार यंग स्टर्स को अपना कारोबार शुरू करने के लिए लोन भी देती है.

भारत में B.Tech. ग्रेजुएट्स को जॉब ऑफर करने वाले टॉप रिक्रूटर्स

नीचे कुछ ऐसे इंस्टट्यूशन्स की लिस्ट पेश है जो हमारे देश में B.Tech.  ग्रेजुएट्स के लिए जॉब के अनेक अवसर उपलब्ध करवाते हैं जैसेकि:

  • डिफेन्स रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन (DRDO)
  • स्टील अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (SAIL)
  • भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (BHEL)
  • नेशनल थर्मल पॉवर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (NTPC)
  • टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज लिमिटेड (TCS)
  • इंटरनेशनल बिजनेस मशीन्स कॉर्पोरेशन (IBM)
  • टाटा मोटर्स
  • विप्रो
  • इन्फोसिस
  • एक्ससेंचर
  • कॉग्निजेंट
  • ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (ONGC)
  • हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HPCL)
  • चेन्नई पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (CPCL)
  • गैस अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (GAIL)

बायोइंजीनियरिंग : इंजीनियरिंग और बायोलॉजिकल साइंस का मिश्रण

भारत में B.Tech. ग्रेजुएट्स को मिलने वाला सैलरी पैकेज  

हमारे देश में इस फील्ड में फ्रेश ग्रेजुएट कैंडिडेट्स को शुरू में 20-30 हजार रुपये मासिक का सैलरी पैकेज मिलता. लेकिन कुछ वर्षों के अनुभव के बाद ये पेशेवर काफी आकर्षक सैलरी पैकेज लेते हैं. एक अनुमान के मुताबिक इन पेशेवरों को एवरेज 5 लाख – 10 लाख रुपये का सालाना सैलरी पैकेज मिलता है. इन पेशेवरों की एजुकेशनल क्वालिफिकेशन और वर्क एक्सपीरियंस के साथ-साथ रिक्रूटर इंस्टीट्यूशन की आर्थिक स्थिति और सैलरी पॉलिसी के मुताबिक ही इन पेशेवरों का सैलरी पैकेज निर्धारित होता है.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Related Stories