Search

परीक्षा में प्रश्न पत्र मिलने के बाद क्या करना चाहिए? ज़रूर जाने ये महत्त्वपूर्ण बातें

इस लेख में हम आपको कुछ ऐसी महत्त्वपूर्ण बातें बताने जा रहे हैं जिसको जानने के बाद छात्र को ये मालूम होजेगा कि परीक्षा में प्रश्न पत्र मिलने के बाद क्या करना चाहिए| यहाँ बताए गए महत्वपूर्ण सुझाव आपको बोर्ड परीक्षा में बेहतरीन पेपर लिखने में मददगार साबित होंगेंl

Jan 4, 2018 11:03 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Things you must do after getting  exam paper in board exams
Things you must do after getting exam paper in board exams

exam tips for student

प्रश्न : मुझे हमेशा एक उलझन होती है कि एग्जामिनेशन हॉल में प्रश्न पत्र प्राप्त मिलने के बाद क्या करना चाहिए। क्या आप मुझे कुछ सुझाव दे सकते हैं?

उत्तर : यह सभी छात्रों की एक आम समस्या है चाहे वे सीबीएसई, यूपी बोर्ड या किसी अन्य बोर्ड से परीक्षा दे रहें हों| सभी छात्र परीक्षा पत्र प्राप्त करने के बाद सबसे पहले क्या करें, इसके बारे में बहुत चिंतित हो जाते हैं। इस कारण छात्र प्रश्न पत्र को चिंता और तनाव से पढ़ते हैं जिसके वजह से उनका दिमाग उस समय सही तरीके से काम नहीं कर पता है| फलसवरूप कुछ भी सही तरीके से समझ नहीं आने के कारण छात्र 15 मिनट प्रश्न पत्र पढ़ने का समय को बर्बाद करते हैं। इस प्रकार अगर देखा जाए तो इसके लिए प्रत्येक छात्र को एक ऐसी रणनीति अपनानी चाहिए जो प्रश्नों के उत्तर को लिखने से पहले उन्हें परीक्षा कक्ष में शामिल करना चाहिए।

इस समस्या को हल करने के लिए हमनें अनुभवी परीक्षा परामर्शदाता(काउंसलर), शिक्षकों और छात्रों के साथ चर्चा करने के बाद, उन कार्यों का एक सेट एकत्र किया है जोकि छात्रों को एग्जाम में प्रश्नपत्र प्राप्त करने के तुरंत बाद अपनाना चाहिए। ये रणनीति कुछ इस प्रकार हैं :

1. अपने मस्तिष्क को बिलकुल शांत रखें, यह सोंचे की सबकुछ ठीक और सामान्य है और तनाव या चिंतित होने का कोई कारण नहीं है। यह परीक्षा भी उन परीक्षाओं की तरह है जो आप पहले भी पार कर चुके हैं।
2. अब सबसे पहले, सभी प्रश्नों को जांचें यदि सवाल अनुचित,गलत या मिसप्रिंट है तो जांचने के बाद यह जानकारी सबसे पहले परीक्षक को दें ताकि समय पर उसका समाधान हो सके|
3. इसके बाद, आपको उत्तर पुस्तिका पर पूछे गए विवरण जैसे रोल नंबर या ऐसी ही अन्य जानकारी को उपलब्ध करना चाहिए। अधिकांश छात्र तनाव और जल्दबाज़ी के कारण, उत्तर पुस्तिका पर आवश्यक जानकारी लिखना भूल जाते हैं।
4. उत्तर लिखने से पहले बोर्ड ने 15 मिनट का समय प्रश्न पत्र पढ़ने के लिए दिया है| ये 15 मिनट का मतलब प्रश्न पत्र को पूरी तरह से पढ़ना और उसी के प्रयास में रणनीति तैयार करना है। तो प्रश्न पत्र शांति से पढ़ें और अपनी रणनीति पहले ही तैयार करें की किस प्रश्न में आपको कितना समय देना है और किस प्रश्न का उत्तर आप पहले करने का सोच रहें हैं|
5. उन सवालों को प्राथमिकता दें जिनका उत्तर आपको अच्छी तरह से आता है और उन्हीं सवालों का उत्तर पहले करना शुरू करें जिसमें आप 100% कॉंफिडेंट हों| उसके बाद आप अन्य प्रश्नों को हल करने की कोशिश कर सकते हैं जो आपको मुश्किल या जटिल लगते हैं|
6. प्रश्न पत्र को हल करने के लिए आपको 3 घंटे दिए जाएंगे। इसलिए, लिखने से पहले, प्रत्येक सेक्शन को एक उपयुक्त समय आवंटित करें और उसके बाद प्रश्नों का समय सुनिश्चित करें, जिस समय अन्तराल में आप सभी विवरण और आरेखों के साथ उत्तर को पूरा कर सकते हैं यदि आवश्यक हो। ऐसा करने से आप दिए गए समय सीमाओं के भीतर अपना पूरा प्रश्न पत्र आसानी से बिना तनाव हल कर पाएंगे।
7. अंत में, सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि परीक्षा पत्र लिखने की रणनीति तैयार करते हुए, आप महत्वपूर्ण सूत्रों और समीकरणों को पहले से भी लिख सकते हैं जो आप बाद में उत्तर लिखते समय उपयोग करेंगे। कभी-कभी, जवाब लिखते समय, बहुत सी चीजें हमारे दिमाग में घूमती रहती हैं और हम जवाब में इस्तेमाल किए गए सटीक सूत्रों या शब्दों को भूल जाते हैं इस कारण आप पहले से उसे लिख कर रख सकते हैं|

इस प्रकार, प्रारंभिक कुछ मिनटों पहले परीक्षा में लिखने की तकनीक तैयार करते समय इन सभी सुझावों का पालन किया जाना काफी हद तक मददगार साबित हो सकता है और इन दिए गए सुझावों की मदद से आप अपने परीक्षा में उत्तर अधिक प्रभावी ढंग से और अच्छी  तरह से लिख सकते हैं।

CBSE और UP बोर्ड की परीक्षा में कैसे लिखें प्रश्नों के सटीक उत्तर?
बच्चों की बोर्ड की परीक्षा के दौरान माता पिता ज़रूर जाने अपनी भूमिका
UP Board कक्षा 12 जीव-विज्ञान परीक्षा में अधिकतम मार्क्स प्राप्त करने के लिए आखरी महीने की टिप्स

Related Categories

    Related Stories