इन पाँच टिप्स को अपनाने से हर विद्यार्थी छू पाएगा सफ़लता की ऊँचाइयों को

यहाँ इस लेख में हम बताएंगे के किस प्रकार छात्र कुछ ख़ास टिप्स व आदतें अपनाकर अपने अकादमिक जीवन ही नहीं बल्कि निजी जीवन में भी सफ़ल व्यक्ति बन सकता है और अपने हर बड़े से बड़े सपने को वास्तविकता के पंख पहना सकता हैl यहाँ बताए टिप्स की मदद से हर मंजिल तक पहुंचना सार्थक हो पाएगाl

Dec 1, 2017 17:24 IST
    Tips for students to achieve success in exams
    Tips for students to achieve success in exams

    हर इन्सान अपने जीवन में कुछ ख़ास सपने देखता है, लेकिन हर इन्सान उन सपनों को पूरा नहीं कर पाताl उसी प्रकार हर विद्यार्थी अपने अकादमिक करियर में सफ़लता की ऊँचाइयों को छूने के ख्वाब देखता है, हर विद्यार्थी कक्षा में टॉप करना चाहता है, लेकिन अपने सपनों को पंख कोई ही दे पाता हैl दरअसल कामयाबी के शिखर तक पहुँचने के लिए, आपको कुछ ख़ास आदतें अपनानी होंगी, कुछ ख़ास सिधान्तों पे चलना होगा, अपने जीवन को एक सही दिशा देनी होगीl

    सीधे तौर पर बात की जाए तो सफलता कड़ी मेहनत, लगन और अपने सपने को पूरा करने की चाहत के अलावा भी आपको कुछ ख़ास बातों या आदतों की ओर ध्यान देना होगा जो आपको सही दिशा निर्देश देते हुए आपकी मंजिल तक पहुंचा सकेंl

    जानें विद्यार्थी जीवन में क्रिटिकल थिंकिंग का ख़ास महत्त्व और इसे सीखने के आसान तरीके

    यहाँ हम 5 बहुत ही ज़रूरी टिप्स पे चर्चा करेंगे जिनकी मदद से हर विद्यार्थी अपने अकादमिक जीवन के साथ-साथ भविष्य में भी सफ़लता की ऊँचाइयों को छू सकता हैl ये टिप्स कुछ इस प्रकार हैं:

    1. मोटिवेशन की बजाए कमिटमेंट की पे ज़्यादा ध्यान दें

    कमिटमेंट (Commitment) का अर्थ है किसी चीज़ को पूरा करने के लिए खुद से किया वादाl यदि आप एक विद्यार्थी के रूप में अपनी बोर्ड परीक्षा में टॉप करना चाहते हैं तो यह आपकी कमिटमेंट हुईl आप यह कमिटमेंट किसी घटना या व्यक्ति से प्रेरित होकर ही करते हैं, जिसे हम मोटिवेशन (Motivation) बोल रहे हैंl अपने लिए एक लक्ष्य निर्धारित करने यानि कमिटमेंट करने के बाद ज़रूरी है कि आप उस कमिटमेंट के पीछे का कारण जानें और उसे पूरा करने के लिए तत्पर हो जाएंl अगर आप ख़ुद को पूरी तरह से अपने लक्ष्य की ओर committed रखते हो तो आपको मोटिवेशन निश्चित ही मिलती रहेगीl

    2. सिर्फ़ अपना ज्ञान बढ़ाएं, परिणाम अवश्य आपके हित में होगा

    अगर आप अपने भीतर ज्ञान के सागर में जाकर चीज़ों को खोजने और बेहतर बनाने की उत्तेजना व जोश पैदा कर लेते हैं तो आपके भीतर मोटिवेशन यानि प्रेरणा को मज़बूती और बढ़ावा मिलता हैl इसके विपरीत यदि आप सिर्फ़ और सिर्फ़ रिज़ल्ट यानि परिणाम के बारे में ही सोचते रहते हो तो यह प्रेरणा भविष्य में असफल होने के दर से धीरे-धीरे ख़तम होती चली जाती हैl इसलिए सिर्फ़ यह सोचें कि आगे बढ़ते हुये आप क्या-क्या सीख रहे हो और क्या और सीख सकते होl हमेशा खुद को बेहतर बनाने की ओर अग्रसर रहेंl

    अगर परीक्षा में करना चाहते हैं टॉप तो इस तरह बनाएं स्टडी नोट्स

    3. अपनी सोच को बनाएं अपनी ताकत

    सोच व्यक्ति की भावनाओं को प्रभावित करती है और भावनाएं ही आपका अपने काम ओर नजरिया तैय करती हैं यानि आप अपने काम के प्रति कितने समर्पित और तत्पर होl आपके दिमाग में कई तरह के विचार चल रहे होते हैं; एक वो जो आपके भीतर डर, दबाव या दुविधा के भाव पैदा करते हुए आपको भावनात्मक रूप से कमज़ोर बनाते हैं और दुसरे वो जो आपके भीतर उत्साह, जुनून व परिश्रम की भावना भरते हुए आपको आगे भादने के लिए प्रेरित करते हैंl अब choice आपकी है कि आप इन दोनों तरह के विचारों में से किसे अपनाना पसंद करेंगेl यहीं से आपके लक्ष्य प्राप्ति को तैय करने का सफ़र शुरू हो जाएगाl

    4. खुद से प्यार करना छोड़ दें

    जी हाँ, सुनने में यह वाकय बेशक थोड़ा अटपटा लग रहा हो लेकिन जीवन में सफ़लता प्राप्त करने का यह सबसे महत्वपूर्ण साधन हैl जब आप अपने लक्ष्य को पाने के लिए बहुत मेहनत करते हो, जैसे कि परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन के लिए आप अपनी नींद, खेल और अन्य शौक त्याग कर पढ़ाई करते हो लेकिन यदि किसी कारणवश परिणाम आपके अनुरूप नहीं आता तो आप असफ़लता के बारे में सोच कर अपनी कोशिशों को न त्याग दें और खुद के प्रति प्यार या दया भावना दिखाते हुए दोबारा उन कठिन स्थितियों में पड़ने से न रोकेंl

    याद रखें, ‘एक मकड़ी अपना जाल बुनते समय कई बार गिरती और उठती है और अंत में विजयी होती हैl’ तो सफ़ल बनना है तो सदैव कोशिश करते रहेंl

    बोर्ड परीक्षा और JEE दोनों में करोगे टॉप अगर अपनाओगे ये 5 टिप्स

    5. हर लक्ष्य के लिए सही प्लान होना है बेहद ज़रूरी

    बिना प्लान के कोई भी काम अंजाम तक पहुँचाना लगभग असंभव हैl विद्यार्थी जीवन में तो सफ़लता पाने के लिए प्लान और स्ट्रेटेजी का होना बहुत महत्त्व रखता हैl आपके पास सही रणनीति होनी चाहिए जिसके मुताबिक चलते हुए आप समय पर हर काम पूरा करते हुए अपने पूरे सिलेबस की तैयारी कर सको और परीक्षा से पहले उसका अभ्यास भी कर सको ताकि परीक्षा के लिए तैयारी करते समय आपको कोई दिक्कत ना आएl

    आपके भीतर प्रेरणा की कमी होने का मतलब यह बिलकुल नहीं है कि आप सुस्त या नाकारा होl कई बार देखा गया है कि बड़े से बड़े सफ़ल व्यक्ति भी दिशाहीन होने की वजह से अपने लक्ष्य से भटक जाते हैंl ऐसे में ज़रूरत होती है अपने भीतर ज्ञान रुपी ज्योति को उजागर करने की और अपने जीवन के मंतव को समझने की

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...