Search

जर्नलिज्म: टॉप इंडियन कॉलेज और इंस्टीट्यूशन्स

यहां हम आपके लिए कुछ टॉप इंडियन जर्नलिज्म कॉलेजों और एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन्स की जानकारी पेश कर रहे हैं. ये सभी कॉलेज और एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन्स जर्नलिज्म में बेहतरीन करियर बनाने में आपकी काफी मदद कर सकते हैं.

Aug 19, 2020 20:30 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Top Journalism Colleges in India
Top Journalism Colleges in India

बेशक, देश-दुनिया में जर्नलिज्म को बेहतरीन कम्युनिकेशन के लिए एक आधार स्तंभ के तौर पर देखा जाता है. जर्नलिज्म हमारे सामने देश-दुनिया के सभी महत्त्वपूर्ण समाचार और जानकारियां 24x7 की तर्ज पर पेश करने के लिए सबसे प्रमुख जरिया है. इसी तरह, अर्नब गोस्वामी, रवीश कुमार, राजदीप सरदेशी, बरखा दत्त, शेखर गुप्ता, विनोद दुआ या सुधीर चौधरी हमारे देश की आवाज माने जाते हैं. जर्नलिज्म में दिलचस्पी रखने वाले बहुत से इंडियन यंग स्टर्स आज भी इनके जैसा ही बनना चाहते हैं. लेकिन, उन्हें यह नहीं पता कि कहां से शुरुआत करें? इसलिए, इस आर्टिकल में हम भावी जर्नलिस्ट्स के लिए टॉप इंडियन जर्नलिज्म कॉलेजों और एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन्स की जानकारी पेश कर रहे हैं. ये कॉलेज और इंस्टीट्यूशन्स जर्नलिज्म में बेहतरीन करियर बनाने में आपके लिए ‘मील का पत्थर’ साबित हो सकते हैं. कैसे??..... आइये इस आर्टिकल को पढ़कर समझते हैं:

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड न्यू मीडिया, बैंगलोर (IIJNM)

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड न्यू मीडिया, बैंगलोर की स्थापना वर्ष 2001 में की गई थी. इंस्टीट्यूट ने अपना करिकुलम कोलंबिया यूनिवर्सिटी ग्रेजुएट स्कूल ऑफ़ जर्नलिज्म, न्यू यॉर्क के सहयोग से तैयार किया है. IIJNM में विभिन्न प्रोग्राम्स में एडमिशन्स IIJNM एंट्रेंस टेस्ट के साथ ही पर्सनल इंटरव्यू के आधार पर दिया जाता है. स्टूडेंट्स प्रिंट, टेलीविज़न, रेडियो और ऑनलाइन/ मल्टीमीडिया जर्नलिज्म जैसी विशेष फ़ील्ड्स से संबद्ध जर्नलिज्म कोर्सेज कर सकते हैं.

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन (IIMC)

वर्ष 1955 में स्थापित, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन भारत के प्रमुख जर्नलिज्म और मास कम्युनिकेशन कॉलेजों में से एक है. इसे भारत सरकार द्वारा बढ़ावा और फंड दिया जाता है. इंस्टीट्यूट के 5 रीजनल क्षेत्र हैं – मणिपुर में ऐजवाल, महाराष्ट्र में अमरावती, ओडिशा में धेनकनाल, जम्मूकश्मीर में जम्मू और केरल में कोट्टयम. यह इंस्टीट्यूट विभिन्न विषयों जैसेकि, प्रिंट जर्नलिज्म, फोटो जर्नलिज्म, रेडियो जर्नलिज्म, टेलीविज़न जर्नलिज्म, डेवलपमेंट कम्युनिकेशन, कम्युनिकेशन रिसर्च, एडवरटाइजिंग एंड पब्लिक रिलेशन्स में पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्सेज ऑफर करता है. इन कोर्सेज में एडमिशन IIMC एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर दिया जाता है. 

सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन

वर्ष 1990 में स्थापित सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन, सिम्बायोसिस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी का एक हिस्सा है. एसआईएमसी कैंपस पुणे, महाराष्ट्र में स्थित है. यह इंस्टीट्यूट अपने मास्टर ऑफ़ मास कम्युनिकेशन और एमबीए के पूर्णकालिक पोस्टग्रेजुएट प्रोग्राम्स के लिए मशहूर है. यहां ऑफर किये जा रहे विभिन्न स्पेशलाइजेशन कोर्सेज में ब्रांड कम्युनिकेशन्स, पब्लिक रिलेशन्स, मार्केटिंग एवं मीडिया एनालिटिक्स, मीडिया मैनेजमेंट, जर्नलिज्म और ऑडियो-विजुअल आदि कोर्सेज शामिल हैं. इस इंस्टीट्यूट में स्टूडेंट्स को एसआईएमसी एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से विभिन्न कोर्सेज में एडमिशन दिया जाता है.

एजे किदवई मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर (AJKMCRC)

एजे किदवई मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर की स्थापना वर्ष 1982 में की गई थी और तब से यह भारत के बेहतरीन मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म कॉलेजों में से एक है. AJKMCRC देश के कुछ ऐसे इंस्टीट्यूट्स में से एक है जो जर्नलिज्म में पोस्टग्रेजुएट और डॉक्टोरल लेवल प्रोग्राम्स ऑफर करता है जबकि अधिकांश अन्य इंस्टीट्यूट्स केवल पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्सेज ही ऑफर करते हैं. यह इंस्टीट्यूट विभिन्न फ़ील्ड्स जैसेकि, मास कम्युनिकेशन, कनवर्जेंट जर्नलिज्म, डेवलपमेंट कम्युनिकेशन, विजुअल इफेक्ट्स एंड एनीमेशन में एकेडेमिक प्रोग्राम्स ऑफर करता है. इन कोर्सेज में एडमिशन JMI एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर दिया जाता है. 

एशियन कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज्म 

एशियन कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज्म की स्थापना वर्ष 1994 में बैंगलोर में की गई थी. वर्ष 2000 में यह कॉलेज चेन्नई में शिफ्ट हो गया. यह इंस्टीट्यूट जर्नलिज्म के विभिन्न विषयों में 1 वर्ष की अवधि के पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्सेज ऑफर करता है. इस इंस्टीट्यूट में विभिन्न कोर्सेज में एडमिशन इंस्टीट्यूट द्वारा आयोजित एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर दिया जाता है. स्टूडेंट्स रिपोर्टिंग, राइटिंग एंड एडिटिंग, मॉडर्न जर्नलिज्म के टूल्स, जर्नलिज्म के महत्वपूर्ण मुद्दे, मीडिया पर्सपेक्टिव्स, मीडिया, लॉ एंड सोसाइटी से संबद्ध स्पेशलाइजेशन कोर्सेज के साथ ही प्रिंट, न्यू मीडिया, टेलीविज़न और रेडियो के क्षेत्रों में भी स्पेशलाइजेशन कर सकते हैं.

इस आर्टिकल के माध्यम से आपने भारत के टॉप 5 जर्नलिज्म कॉलेजों/ एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन्स के बारे में जानकारी हासिल कर ली है जिससे आपको जर्नलिज्म में अपना करियर बनाने में काफी मदद मिल सकती है.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

ये हैं जर्नलिस्ट्स के लिए कुछ बेहतरीन फ्री ऑनलाइन कोर्सेज

ये जर्नलिज्म स्पेशलाइजेशन कोर्सेज करके पायें बेहतरीन जॉब ऑफर्स

कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए जर्नलिज्म और मास कम्युनिकेशन में है बेहतरीन करियर विकल्प

Related Stories