जाने 5 बड़े कारण जिनके वजह से कंपनियां आपको नौकरी नहीं दे रहीं हैं

इस लेख में हम आपको बतायेंगे 5 ऐसे कारण जिनकी वजह से अच्छी डिग्री होने के बावजूद भी आपको जॉब ऑफर्स नही मिलती और यहाँ हम आपको उसका निष्कर्ष भी बतायेंगे जो आपके अच्छे नौकरी पाने के लिए काफी हद तक सहायक होगा |

Created On: Dec 19, 2016 13:58 IST
Modified On: Dec 19, 2016 17:31 IST

आप नियमित रूप से अपना रिज्यूमे अपडेट कर रहे होंगे और संभव है कि आपने अच्छी संख्या में इंटरव्यू भी दिए होंगे l  आपकी तैयारी में क्या कमी है ? क्या आपकी उम्र ज्यादा हो चुकी हैं या बहुत कम उम्र के हैं, क्या अधिक योग्य हैं या आप सिर्फ दुर्भाग्यशाली हैं ? योग्य होने के बावजूद आपके पसंद की नौकरी का ऑफर नहीं मिलने की कई वजह हो सकती हैं l  वास्तव में जिन नौकरियों के लिए आप योग्य हैं, उनमें रिजेक्ट किए जाने की एक मात्र जिम्मेदारी सिर्फ आपकी है l भर्ती करने वाले प्रबंधक (हायरिंग मैनेजर्स) और रिक्रूटर्स को लोगों को रिजेक्ट करने के लिए वेतन नहीं मिलता l उनका काम रिक्तियों को भरने के लिए उचित व्यक्ति को ढूंढ़ना होता है l  इसलिए रिजेक्शन मोड को उल्टा करने के लिए आपको अपने इंटरव्यू की प्रस्तुति की विवेचना करने की जरूरत हैl  

आपको नौकरी का ऑफर क्यों नहीं मिल रहा है, यहां हम इसके 5 कारणों का जिक्र कर रहें हैं –

1. उत्साह की कमी 

प्रत्येक रिक्रूटर उम्मीदवारों में दो मुख्य कारक– जीवंतता और उत्साह देखना चाहता है क्योंकि ये दो कारक यह बताने के लिए काफी हैं कि नौकरी दिए जाने के बाद अपका रवैया कितना अच्छा होगा l  नियोक्ता अक्सर उन बेहद उत्साही उम्मीदवारों को, जिनके बारे में वे सोचते हैं कि अपनी अधिकांश ऊर्जा काम करने में लगाएंगे, को नौकरी का प्रस्ताव देंगे l  इसलिए यदि आप इंटरव्यू प्रक्रिया के शुरुआती चरणों में ही बाहर नहीं किए जाना चाहते हैं तो पैसिव (निष्क्रिए/ सुस्त) होना बंद करें l  अपने से वरिष्ठ/ सीनियर लोगों के सामने आत्मविश्वास से भरे और उनके साथ सहजता के स्तर को दिखाकर आप खुद को चुनौती भरे काम के लिए विचार किए जाने योग्य बना पाएंगे l

2. खुद को लायक (सक्षम) न सिद्ध कर पाना

वैसे उम्मीदवार जो खुद को लायक नहीं सिद्ध कर पाते, जल्दी ही बाहर कर दिए जाते हैं l  भर्ती करने वाला प्रबंधक अक्सर यही जानना चाहते हैं कि आप कंपनी के लिए क्या कर सकते हैं और इसका हिस्सा बनने के योग्य आप क्यों हैं ? यदि आप अपने जवाब में सिर्फ यह बताएं कि आपको सिर्फ 'खुद के लिए कंपनी में क्या मिल रहा है' में ही रूचि है, न कि कंपनी के लिए आप क्या करेंगें, इसमें, तो नौकरी के इस अवसर को गंवा बैठने की संभावना अधिक है l  इसलिए जैसे ही आप इंटरव्यू से बाहर निकलें, खुद से पूछें कि आपने साक्षात्कार कर्ताओं के मन पर क्या प्रभाव छोड़ा l  उदाहरण के लिए, यदि आपको कंटेंट डेवलपर के पद पर नौकरी दिया जाने वाला है तो आपको रिक्रूटर्स को यह बात समझानी चाहिए कि आप पाठकों को आकर्षित करने के लिए किस प्रकार कंटेंट को विशिष्ट और सरल बनाए रखते हुए अधिक आकर्षक बना सकते हैं ?

3. खराब वेशभूषा

आपकी खराब वेशभूषा आपके रिजेक्शन का एक मुख्य वजह हो सकता है l इस बात को ध्यान में हमेशा रखें कि भर्ती करने वाला प्रबंधन कभी भी ऐसे व्यक्ति को अपनी टीम का हिस्सा नहीं बनाएगा जो दूसरों के ध्यान को तोड़ने वाला हो l आप कैसे दिख रहे हैं, इससे उसके पहले प्रभाव पर असर पड़ेगा और नौकरी के इंटरव्यू के दौरान आपकी सफलता में मदद या बाधा पहुंचाएगा l पोशाक की पसंद, साक्षात्कार के लिए तैयार होने का तरीका, चेहरे के हाव–भाव, कमरे में आपके दाखिल होने का तरीका और हाथ मिलाने का आपका तरीका ये सभी इन्टरव्यू के दौरान चयन में योगदान करते हैं l 

ये भी पढ़ें : एग्जाम के तनाव से खुद को रखना हो दूर तो फॉलो करें ये रूल

4. अंतर्व्यैक्तिक कौशल (इंटरपर्सनल स्किल) की कमी

अंतर्व्यैक्तिक कौशल व्यक्तित्व के लक्षण, सामाजिक गौरव, संचार, भाषा, व्यक्तिगत आदतें, दोस्ताना रवैया और सकारात्मकता– जो दूसरों के साथ आपके संबंधों को बताता है, का समूह होता है l आप कागज या फोन पर बहुत प्रभावी लग सकते हैं लेकिन जब आप आमने– सामने होते हैं तब वास्तविकता का पता चलता है l  यदि आपने किसी भी तरह से ये इशारा दे दिया कि आप टीम के अन्य सदस्यों के साथ सहज नहीं हैं, तो यह आपके लिए नौकरी गंवाने की वजह बन सकता है l अंतर्व्यैक्तिक कौशल आपके तकनीकी कौशलों का पूरक होता है आपके नौकरी के प्रदर्शन में सुधार लाता है एवं दूसरों के मुकाबले आपको बढ़त प्रदान करता है l 

5. प्रासंगिक कार्यानुभव की कमी

आज के कड़ी प्रतिस्पर्धा वाली दुनिया में प्रबंधकों के पास पुराने प्रकृति  के लोगों का मेंटर बनने और उन्हें प्रशिक्षित करने का वक्त नहीं होता l  कार्यानुभव कई लाभ देता है, आपको उचित कौशल प्रदान करता है जो आपको बिना किसी की मदद के काम करने में मदद करेगा और सक्षम कर्मचारियों की कतार में ला देगा l  इसके अलावा प्रासंगिक कार्यानुभव रिक्रूटर के लिए एक सबूत होता है कि आप चुने गए करिअर को अपनाने के लिए प्रेरित हैं और आपने अपना होमवर्क किया है l  इसलिए रिक्रूटर ऐसे अनुभवी लोगों को नौकरी देना पसंद करते हैं जो संभवतः कंपनी के व्यापार को कैसे आगे बढ़ाएं, के बारे में अच्छी जानकारी रखते हैं l  

निष्कर्ष
नौकरी हासिल करना खुद में एक कठिन काम है l एक नौकरी हासिल करने के लिए आपको बस इतना करना है कि ऐसी सभी कमियों को निकाल फेंके जो आपको चयन प्रक्रिया से बाहर कर सकती हैं l  उपर उल्लिखित कारणों के अलावा यह आपकी खुद की जिम्मेदारी है कि आप अपनी क्षमताओं को कमतर बताने और अवसर को हाथ में आने से रोकने वाली ऐसी किसी भी बात से परहेज करें l

ये भी पढ़ें : कंप्यूटर के शोर्ट टर्म कोर्सेज़ जिससे मिल सकती है आसानी से जॉब