त्रिशनीत अरोड़ा 9 साल में बना Cyber Security का बादशाह, जानिए सफलता की कहानी

मंजिल पर पहुंचने से पहले का रास्ता थकाने एवं हिम्मत तोड़ने वाला होता है, लेकिन हमें इससे डरना नहीं चाहिये और मेहनत करते रहना चाहिये. आज हम बात करने जा रहे है त्रिशनीत अरोड़ा के बारे में जिन्होंने 9 साल में अपनी कड़ी मेहनत एवं हौसले से साइबर सिक्योरिटी का बादशाह बन गये है.

Trishneet Arora
Trishneet Arora

त्रिशनीत अरोड़ा (Trishneet Arora) 9 साल में अपनी कड़ी मेहनत एवं हौसले से साइबर सिक्योरिटी (Cyber Security) का बादशाह बन गये है. इसे किस्मत कहे या फिर कुछ कर गुजारने की जिद, यह सच है कि त्रिशनीत अरोड़ा साइबर सिक्योरिटी का बादशाह बन गये है.

आपको बता दें कि आठवीं कक्षा की परीक्षा पास नहीं कर पाने के बाद त्रिशनीत अरोड़ा ने ऐसे क्षेत्र में कदम रखा, जिसके बारे में उन्हें कुछ पता नहीं था. बता दें वे कड़ी मेहनत की बदौलत आज साइबर सिक्योरिटी का बादशाह हैं.

मंजिल पर पहुंचने से पहले का रास्ता थकाने एवं हिम्मत तोड़ने वाला होता है, लेकिन हमें इससे डरना नहीं चाहिये और मेहनत करते रहना चाहिये. आज हम बात करने जा रहे है त्रिशनीत अरोड़ा के बारे में जिन्होंने 9 साल में अपनी कड़ी मेहनत एवं हौसले से साइबर सिक्योरिटी का बादशाह बन गये है.

जानें कौन है त्रिशनीत अरोड़ा

त्रिशनीत अरोड़ा मूल रूप से चंडीगढ़ के रहने वाले हैं. उन्होंने पढ़ाई में कुछ खास नहीं कर पाने के बाद साइबर सिक्योरिटी के क्षेत्र में कदम रखा. वे साल 2013 में लुधियाना में साइबर सिक्योरिटी कंपनी टीएस सिक्योरिटी बनाई तथा फिर सफलता की सीढ़िया चढ़ते गए. बता दें वे माने नहीं फिर 12वीं की परीक्षा के लिए डिस्टेंस एजुकेशन में आवेदन किया लेकिन शायद पढ़ाई उनकी नसीब में नहीं थी. वे इस परीक्षा में फिर फेल हो गए.

200 प्रतिभाशाली लोगों की सूची में शामिल

उन्हें द गैलेन सिम्पोजियम स्विटजरलैंड ने ‘लीडर फार टुमारोज’ के रूप में विश्व के 200 प्रतिभाशाली लोगों की सूची में शामिल किया है. त्रिशनीत अरोड़ा को इससे पहले भी अंतरराष्ट्रीय पत्रिका फार्च्यून के 100 करोड़ के बिजनेस वाली प्रभावशाली शख्सियतों की सूची में शामिल किया था. 19 साल की उम्र में काम शुरू करने वाले त्रिशनीत अरोड़ा ने आज 100 करोड़ रुपये के क्लब में खुद को शामिल कर लिया है.

सीबीआइ के लिए भी काम किया

अमेरिका के न्यूयार्क में स्थित टाइम्स स्कवायर में उनकी तस्वीर लगाई जा चुकी है. उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत के दम पर कई बड़ी कंपनियों के अतिरिक्त सीबीआइ, पंजाब पुलिस एवं गुजरात पुलिस के लिए काम शुरू किया.

त्रिशनीत अरोड़ा सफलता की बुलंदियों पर

त्रिशनीत अरोड़ा की कंपनी ने चार से पांच साल की मेहनत के बाद निवेश की दौड़ में 1000 फीसदी की बढ़ोतरी प्राप्त की. त्रिशनीत 27 साल की कम उम्र में सफलता की बुलंदियों पर हैं. उनके पास लग्जरी कारों में बीएमडब्ल्यू, आडी सहित बहुत सारे कारें हैं. उन्हें खुद के वाहन बनाने का भी रुचि है. वे अब कंपनी का विस्तार करने में लगे हुए हैं.

इस पुरस्कार से हुए सम्मानित

वे साल 2018 में एशिया के 30 सबसे प्रभावशाली लोगों में शामिल किए गए थे. वे साल 2019 में अंतरराष्ट्रीय पत्रिका फार्च्यून में 40 सबसे प्रभावशाली हस्तियों की सूची में जगह बनाई थी. त्रिशनीत अरोड़ा को पिछले साल एंटरप्रेन्योर पत्रिका की तरफ से ‘एंटरप्रेन्योर आफ द ईयर’ के खिताब से पुरस्कृत किया गया.

Related Categories

Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play

Related Stories