Search

UPSC IAS 2019 परीक्षा में चयन की प्रक्रिया

इस लेख में, हमनें IAS परीक्षा के अन्तर्गत चयन की पूरी प्रक्रिया का विश्लेषण किया है जो कि एक IAS उम्मीदवार को IAS परीक्षा के पैटर्न और योजना को समझने के लिए मदद करेगा।

Mar 23, 2019 06:45 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
IAS Selection Process
IAS Selection Process

सिविल सेवा में अपना करियर बनाने की चाह रखने वाले IAS उम्मीदवारों को सिविल सेवा परीक्षा के तीन चरणों अर्थात प्रारंभिक, मुख्य और व्यक्तित्व परीक्षण से गुजरना पड़ेगा। हालांकि, IAS परीक्षा के प्रथम चरण (IAS प्रारंभिक परीक्षा) के मार्क्स की मुल्यांकन सिविल सेवा परीक्षा की अंतिम मेरिट लिस्ट तैयार करने में शामिल नहीं किया जाता है जबकि इसमें केवल IAS मुख्य परीक्षा और व्यक्तित्व परीक्षण (पर्सनालिटी टेस्ट) के मार्क्स को ही शामिल किया जाता है। यहां, इस लेख में, सिविल सेवा IAS परीक्षा में चयन की पूरी प्रक्रिया के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे और यह भी चर्चा करेंगे कि किसी विशेष श्रेणी के IAS उम्मीदवार UPSC द्वारा आवंटित न्युनतम प्रयासों में ही इस प्रतिष्ठित परीक्षा में सफलता कैसे प्राप्त कर सकते हैं।

IAS की तैयारी के लिए सबसे लोकप्रिय TV चैनल्स

पिछले कुछ वर्षों में सिविल सेवा IAS परीक्षा में कई बदलाव देखा गया है और IAS उम्मीदवारों के लिए IAS परीक्षा की पूरी चयन प्रक्रिया को अच्छी तरह समझना अतिआवश्यक है। यहां हमने सिविल सेवा IAS परीक्षा में चयन प्रक्रिया के कुल 7 चरणों - आवेदन करने से लेकर अंतिम कट-ऑफ मार्क्स की सूची जारी करने तक की प्रक्रिया को दर्शाया है जिससे IAS उम्मीदवारों को पूरी तरह से यह समझ में आ जाएगा कि उन्हें किस हद इस प्रतिष्ठित परीक्षा को पास करने के लिए परिश्रम करने की आवश्यकता है।

IAS परीक्षा में चयन प्रक्रिया के 7 चरण इस प्रकार हैः

  • IAS परीक्षा के लिए अधिसूचना
  • IAS परीक्षा के लिए आवेदन
  • IAS प्रारंभिक परीक्षा में उपस्थित होना
  • IAS मुख्य परीक्षा में उपस्थित होना
  • IAS साक्षात्कार में उपस्थित होना
  • IAS परीक्षा का अंतिम परिणाम
  • IAS परीक्षा का अंतिम कट-ऑफ मार्क्स

1. IAS परीक्षा के लिए अधिसूचना
आम तौर पर, IAS परीक्षा की अधिसूचना उसी वर्ष के फरवरी के महीने में जारी किया जाता है। वर्ष 2018 के लिए UPSC के कैलेंडर के अनुसार, सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2018 की अधिसूचना 7 फरवरी 2018 को प्रकाशित की जाएगी। IAS उम्मीदवार UPSC द्वारा IAS परीक्षा के लिए अधिसूचना प्रकाशित किए जाने की प्रतिक्षा बड़ी बे-सबरी से करते हैं। IAS उम्मीदवारों के समूहों में IAS परीक्षा में होने वाली संभावित बदलाव को लेकर हमेशा ही चर्चा का विषय बना रहता है। आमतौर पर IAS परीक्षा के न्यूनतम पात्रता मानदंड में बदलाव या फिर IAS परीक्षा के पैटर्न में बदलाव, UPSC सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा के लिए प्रकाशित होनी वाली अधिसूचना में हर बदलावों को वर्णित करती है। सिविल सेवा परीक्षा के लिए अधिसूचना भारत के राजपत्र और रोजगार समाचार में प्रकाशित किया जाता है। इसके अलावा IAS परीक्षा की अधिसूचना का संक्षिप्त संस्करण देश के प्रमुख 5 प्रचलित दैनिक अख़बारों तथा क्षेत्रीय भाषा के अखबारों में भी प्रकाशित किया जाता है। इसी अधिसूचना की प्रतियां सभी रोजगार एक्सचेंजों और विश्वविद्यालयों को भी भेजी जाती है।

2. IAS परीक्षा के लिए आवेदन करना
IAS उम्मीदवार केवल UPSC की वेबसाइट https://upsconline.nic.in/ के माध्यम से हीं UPSC IAS परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं क्योंकि ऑफ़लाइन मोड सरकार की सभी भर्ती प्रक्रियाओं में बंद कर दी गई है। आवेदन करने से पहले, IAS उम्मीदवारों को रिक्त पदों के बारे में स्पष्टीकरण तथा आवश्यक दस्तावेजों के बारे में जानने के लिए पूरी अधिसूचना का अध्ययन अवश्य कर लेना चाहिए। अधिसूचना जारी करने के बाद IAS उम्मीदवारों को UPSC IAS परीक्षा के लिए पंजीकरण और आवेदन करने के लिए लगभग 25 से 30 दिन तक का समय मिलता है। भारतीय लोक सेवा आयोग के कैलेंडर 2018 के अनुसार सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2018 के लिए आवेदनों की प्राप्ति की अंतिम तिथि के रूप में 6 मार्च 2018 तय किया है।

IAS परीक्षा के अंतिम प्रयास की तैयारी कैसे करें?

3. IAS प्रारंभिक परीक्षा में उपस्थित होना
IAS प्रारंभिक परीक्षा के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि के बाद IAS उम्मीदवारों को IAS प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी के लिए लगभग तीन महीने का समय मिलता है। सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2018, 6 जून 2018 (रविवार) को दो सत्रों में आयोजित की जाएगी जिसमें दो पेपर होंगे- सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 1 तथा सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 2 (सीसैट) जो दो घंटे की अवधि क्रमशः प्रातः काल तथा दोपहर सत्र में आयोजित की जाएगी। प्रातः काल के सत्र में सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 1 के अंतर्गत कुल 200 अंक के 100 प्रश्न पुछे जाऐंगे जबकि दुसरे सत्र में सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 2 के अंतर्गत कुल 200 अंक के 80 प्रश्न पुछे जाऐंगे।

सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 2 (सीसैट) को केवल क्वालीफाइंग कर दिया गया है अर्थात IAS उम्मीदवारों को इस पेपर में पास होने के लिए केवल 33% मार्क्स अर्जित करने की आवश्यकता है। सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 2 में क्वालीफाइंग मार्क्स लाना अनिवार्य है वरना सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 1 के मार्क्स का मूल्यांकन नहीं किया जाएगा। इसके अतिरिक्त IAS प्रारंभिक परीक्षा के दोनों प्रश्न-पत्रों में निगेटिव मार्किंग का प्रावधान भी है जिसके तहत प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1 / 3rd अंक को दंड के रुप में आपके सही उत्तरों से घटा दिया जाएगा। इसलिए IAS उम्मीदवारों को उत्तर-पुस्तिका में अपने उत्तर को चिन्हित करते समय काफी सचेत रहने की आवश्यकता है। IAS परीक्षा के अगले चरण, IAS मुख्य परीक्षा के लिए सफल IAS उम्मीदवारों की सूची केवल सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 1 के मार्क्स के आधार पर ही तैयार किया जाता है।

4. IAS मुख्य परीक्षा में उपस्थित होना

IAS मुख्य परीक्षा सिविल सेवा परीक्षा के सबसे कठिनतम चरणों में से एक है और IAS मुख्य परीक्षा में IAS उम्मीदवारों का बेहतर प्रदर्शन सिविल सेवा परीक्षा में उनकी सफलता का एक निर्णायक कारक हो सकता है। IAS मुख्य परीक्षा में कुल 8 पेपर्स शामिल हैं जैसे कि अनिवार्य आधुनिक भारतीय भाषा (केवल क्वालीफाइंग), निबंध पेपर, सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 1, सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 2, सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 3, सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र 4 और 2 वैकल्पिक पेपर्स (वैकल्पिक पेपर 1 और वैकल्पिक पेपर 2)। अनिवार्य आधुनिक भारतीय भाषा के मार्क्स (300 अंक) IAS परीक्षा की मेरिट सूची तैयार करते समय मान्य नहीं समझा जाता है। जबकि निबंध पेपर के मार्क्स, शेष 4 सामान्य अध्ययन पेपरों के मार्क्स तथा 2 वैकल्पिक पेपरों के मार्क्स (प्रत्येक पेपर के 250 मार्क्स) UPSC IAS परीक्षा की मेरिट सूची बनाने में मान्य समझा जाता है। पिछले कुछ सालों के IAS परीक्षा परिणाम के अनुसार, IAS उम्मीदवारो को IAS परीक्षा के टॉप 10 टॉपर्स में अपनी जगह बनाने के लिए उन्हें IAS मुख्य परीक्षा में कुल 1750 अंकों में से कम से कम 900 अंक अर्जित करना अतिआवश्यक है साथ ही साथ IAS परीक्षा के अगले चरण, व्यक्तित्व परीक्षण (IAS साक्षात्कार) में भी अच्छा प्रदर्शन करना पड़ेगा।

5. साक्षात्कार में उपस्थिति (पीटी)

UPSC द्वारा नियुक्त पैनल हीं IAS उम्मीदवारों का व्यक्तित्व परीक्षण (IAS साक्षात्कार) करते हैं जिनके पास IAS उम्मीदवारों के कैरियर का रिकॉर्ड डीएएफ (विस्तृत आवेदन पत्र) के रूप में दर्ज होता है। UPSC द्वारा नियुक्त पैनल आमतौर पर IAS उम्मीदवारों द्वारा भरी गई डीएएफ (विस्तृत आवेदन पत्र) और सामान्य हित पर आधारित मामलों से संबंधित प्रश्न हीं IAS उम्मीदवारों से पूछते हैं। IAS साक्षात्कार का मुख्य उद्देश्य न केवल IAS उम्मीदवारों की बौद्धिक गुणों का विश्लेषण करना होता है बल्कि IAS उम्मीदवारों के सामाजिक आचरण तथा लोक सेवाओं में करियर बनाने के लिए उनकी उपयुक्तता का भी विश्लेषण करना होता है। साक्षात्कार पैनल में सक्षम अधिकारियों और निष्पक्ष पर्यवेक्षको को हीं शामिल किया जाता है जो IAS उम्मीदवारों की मानसिक क्षमता का परीक्षण अच्छी तरह से कर सकें।

आईएएस की तैयारी के लिए प्रभावशाली समय सारिणी कैसे बनाएं ?

6. अंतिम परिणाम

आम तौर पर, पिछले वर्ष की UPSC IAS परीक्षा का अंतिम परिणाम वर्तमान वर्ष के मई के महीने में आता है। IAS उम्मीदवार जो अपने रिजल्ट को लेकर सकारात्मक परिणाम आने की उम्मीद नहीं करते हैं, उन्हें अगामी IAS प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी में जुट जाना चाहिए क्योंकि पिछले साल के अंतिम परिणाम को जारी करने के बाद अगले महीने (जून) में हीं उस वर्ष की IAS प्रारंभिक परीक्षा आयोजित की जाती है।

7. कट-ऑफ मार्क्स

IAS परीक्षा के तीनों चरणों के लिए कट-ऑफ मार्क्स UPSC द्वारा तय किया जाता है। यहां, हमने सिविल सेवा परीक्षा 2016 (CSE 2016) के लिए UPSC द्वारा जारी की गई कट-ऑफ मार्क्स की लिस्ट दिए हैं। यह IAS उम्मीदवारों को विभिन्न श्रेणियों के तहत कट-ऑफ मार्क्स की पैटर्न को समझने में मदद करेगा।

UPSC IAS 2016 Cut off marks

IAS बनने के लिए उपयुक्त जीवनशैली

हालांकि, IAS उम्मीदवारों का रैंक पूरी तरह से IAS मुख्य परीक्षा तथा व्यक्तित्व परीक्षण (पीटी) में प्राप्त कुल मार्क्स के आधार पर तय किया जाता है। IAS परीक्षा में बेहतर रैंकों के लिए, एक IAS उम्मीदवार को IAS परीक्षा के दोनों चरणों (IAS मुख्य परीक्षा तथा व्यक्तित्व परीक्षण (पीटी) में बेहतर प्रदर्शन करना होगा। यहां, हमने सिविल सेवा परीक्षा 2016 (CSE 2016) के रैंक 1 से 10 तक के IAS टॉपरों का IAS मुख्य परीक्षा तथा व्यक्तित्व परीक्षा (पीटी) में अर्जित किए गए मार्क्स को दर्शाया है जो IAS परीक्षा के भावी उम्मीदवारों को मार्क्स के पैटर्न को समझने में मदद करेगा।

IAS मुख्य परीक्षा IAS टॉपर्स 2017 के मार्क्स- रैंक 1-10

Rank

Names

Marks (Written Test)

1

NANDINI K R

927

2

ANMOL SHER SINGH BEDI

899

3

GOPALAKRISHNA RONANKI

936

4

SAUMYA PANDEY

911

5

ABHILASH MISHRA

908

6

KOTHAMASU DINESH KUMAR

912

7

ANAND VARDHAN

920

8

SHWETA CHAUHAN

923

9

SUMAN SOURAV MOHANTY

917

10

BILAL MOHI UD DIN BHAT

896

IAS साक्षात्कार IAS टॉपर्स 2017 के मार्क्स- रैंक 1-10

Rank

Names

Marks (Personality Test, PT)

1

NANDINI K R

193

2

ANMOL SHER SINGH BEDI

206

3

GOPALAKRISHNA RONANKI

165

4

SAUMYA PANDEY

184

5

ABHILASH MISHRA

184

6

KOTHAMASU DINESH KUMAR

179

7

ANAND VARDHAN

168

8

SHWETA CHAUHAN

165

9

SUMAN SOURAV MOHANTY

168

10

BILAL MOHI UD DIN BHAT

182

IAS Exam 2018: All you need to know

Related Stories