क्या है SWAYAM और ये कैसे जुड़ी है NIOS से?

Jan 29, 2018 17:36 IST
  • Read in English

SWAYAM यानिकि ‘स्टडी वेब्स ऑफ़ एक्टिव लर्निंग फॉर यंग एस्पायरिंग माइंडस’ भारत सरकार की एक ऐसी सुविधा है जिसके अंतर्गत वे सभी स्टूडेंट्स जो अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर सके, ऐसे छात्र अपनी शिक्षा 9वी कक्षा से लेकर पोस्ट-ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई कर सकतें है| SWAYAM, मिनिस्ट्री ऑफ़ ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट (MHRD) और आल इंडिया काउन्सिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (AICTE) के द्वारा शुरू किया गया था| आइये SWAYAM के बारे में और जानते है और साथ ही यह कैसे NIOS से जुडी है –

क्या है NIOS SWAYAM के फ़ायदे –

1. शुल्क-मुक्त शिक्षा – NIOS SWAYAM के ज़रिये सभी भारतीय छात्रों को बिना किसी फ़ीस के शिक्षा प्राप्त करने की व्यवस्था है|

2. e-लर्निंग की सुविधा - NIOS SWAYAM से सभी छात्र आसानी से अपना स्टडी-मटेरियल ले सकते है| MHRD ने SWAYAM के द्वारा video lectures, ऑनलाइन स्टडी मटेरियल, सेल्फ-अस्सेस्मेंट के लिए क्विज टेस्ट और साथ ही MHRD ने ‘SWAYAM PRABHA’ नाम से 32 डायरेक्ट-टू-होम यानि DTH एजुकेशनल टीवी चैनल्स शुरू किये है जो 24X7 चलते है|

क्या है NIOS बोर्ड? जानिए courses और अन्य सुविधायें

3. चॉइस ऑफ़ courses एंड स्कूल – SWAYAM सभी स्टूडेंट्स को अपनी stream चॉइस के ऑप्शंस देता है जिसमे लगभग 47 courses है और साथ ही स्टूडेंट्स रेगुलर या ओपन लर्निंग फॉर सेकेंडरी एजुकेशन के ऑप्शन में से चुन सकता है| अगर स्टूडेंट्स रेगुलर स्कूलिंग में एडमिशन लेते है तो वे SWAYAM के एडिशनल ऑनलाइन सुविधा ले सकतें है| यदि छात्र ओपन स्कूलिंग में admission लेना चाहते है तो वे CBSE ओपन लर्निंग या फिर NIOS ओपन लर्निंग में एडमिशन ले सकतें है|

4. On-Demand Examination की सुविधा जो सभी छात्र अन्य रेगुलर या ओपन बोर्ड से पढ़ाई पूरी कर रहे थे और फ़ेल हो गए थे वे SWAYAM NIOS से कभी भी एग्ज़ाम देकर पास हो सकतें है| इस सुविधा से ऐसे छात्र ‘पहले आओ, पहले पाओ’ स्कीम में एग्ज़ाम दे सकते है जिसमे हफ्ते में 5 दिन ODE करवाए जाते है और साथ ही हर शनिवार को प्रैक्टिकल पेपर लिया जाता है|

ऐसे कम समय में करें सिलेबस पूरा और एग्ज़ाम में लाएं हाईएस्ट मार्क्स

NIOS से कैसे जुड़ी है SWAYAM?

NIOS भारत का एकमात्र ओपन बोर्ड ऑफ़ एजुकेशन है जहाँ ऐसे सभी छात्र जिनकी पढ़ाई किसी ना किसी कारणवश पूरी होने से रह गई थी या फिर ऐसे छात्र जिनके किसी भी अन्य बोर्ड में असफल हो जाने पर वे NIOS में एडमिशन ले कर अपनी पढ़ाई पूरी कर सकें|

  • स्कूली शिक्षा पूरी करने के लिए SWAYAM की यह सुविधा NCERT और NIOS के द्वारा ही की जा सकती है|
  • यहाँ तक की जो छात्र CBSE में एक या दो सब्जेक्ट में फ़ेल हो गए हो वे NIOS SWAYAM में एडमिशन लेकर अपनी पढाई पूरी कर सकतें है और साथ ही उनकी बाकी विषयों के मार्क्स NIOS में ‘ट्रान्सफर ऑफ़ क्रेडिट्स’ के अंडर जोड़ सकते है|
  • NIOS SWAYAM से ऐसे सभी छात्र जिन्होंने अपनी कक्षा 8 तक की पढ़ाई पूरी कर ली हो वे अपनी आगे की पढ़ाई पूरी कर सकते है जैसे – सेकेंडरी, सीनियर सेकेंडरी, अंडर-ग्रेजुएश, डिप्लोमा और पोस्ट-ग्रेजुएशन courses आदि|

स्कूल लेवल पर NIOS SWAYAM द्वारा निचे दिए गए courses है –

  1. Humanities stream जिसमे 16 courses है|
  2. Language जिसमे 2 विषय है|
  3. Science stream जिसमे 11 सब्जेक्ट्स है|
  4. मैनेजमेंट और गणित
  5. आर्ट और रिक्रिएशन
  6. e-लर्निंग एजुकेशन आदि

NIOS बोर्ड के लिए आवेदन कैसे कर सकते है? जानिए पूरा तरीका

SWAYAM और NIOS में क्या अंतर है?

यहाँ जानिए SWAYAM और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग के बीच मुख्य अंतर क्या-क्या है –

1. SWAYAM शिक्षा के लिए बिलकुल नि:शुल्क प्लेटफार्म है क्योंकि यहाँ ना ही प्रवेश शुल्क / नामांकन शुल्क है ना ही पाठ्यक्रम शुल्क है, जबकि एनआईओएस से शिक्षा के लिए छात्रों को प्रवेश शुल्क, पाठ्यक्रम शुल्क और परीक्षा शुल्क का भुगतान करने की आवश्यकता होती है।

2. SWAYAM में स्कूली शिक्षा कक्षा 9 से शुरू होती है और इसके माध्यम से छात्र पोस्ट ग्रेजुएशन तक की शिक्षा ले सकते है, और एनआईओएस के माध्यम से छात्र बुनियादी स्तर की कक्षा 1 से लेकर वरिष्ठ माध्यमिक स्तर (कक्षा 12वी) और साथ ही व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की पढ़ाई कर सकते है।

3. SWAYAM पर पाठ्यक्रम केवल ऑनलाइन माध्यम में ही उपलब्ध है जैसेकी आधिकारिक वेबसाइट पर स्टडी मटेरियल, ऑनलाइन डिस्कशन फोरम, डाउनलोड करने के लिए अध्ययन सामग्री, वीडियो टुटोरिअल आदि। एनआईओएस दोनों तरीकों से ही अध्ययन सामग्री की सुविधा देता है यानिकी ऑनलाइन और साथ ही ऑफ़लाइन भी|

4. SWAYAM ने स्टूडेंट्स के लिए अपने 32 डायरेक्ट-टू-होम टीवी चैनल की सुविधा दी है जोकी SWAYAM Prabha के नाम से केवल डीडी फ्री डिश या डिश टीवी पर उपलब्ध हैं, इसके माध्यम से SWAYAM के सभी वीडियो टुटोरिअल प्रसारित किए जाते हैं, और ऐसे छात्र जिनके पास अपने क्षेत्र में इंटरनेट की पहुंच नहीं है वे इस सुविधा से अपनी पढ़ाई पूरी करने में सहायता ले सकते है। लेकिन, एनआईओएस के लिए ऐसी कोई सुविधा नहीं है और वह केवल छात्रों के लिए स्टडी सेंटरों और क्षेत्रीय केंद्रों के माध्यम से संचालित होता है

DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

Latest Videos

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK
X

Register to view Complete PDF