जानिए JEE Main में अच्छे मार्क्स लाने के लिए CBSE 12वीं बोर्ड परीक्षा क्यों हैं महत्वपूर्ण

प्रत्येक वर्ष लाखों विद्यार्थी बोर्ड और JEE Main की परीक्षा देते हैं. आज हम इस लेख आपको बताएँगे कि JEE Main में अच्छे मार्क्स लाने के लिए CBSE 12वीं बोर्ड परीक्षा क्यों महत्वपूर्ण होती है.

Created On: Feb 12, 2019 14:35 IST
Importance of CBSE Class 12 board exams in JEE Main 2019
Importance of CBSE Class 12 board exams in JEE Main 2019

JEE Main 2019 की अप्रैल में होने वाली परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. इस परीक्षा में बैठने के लिए विद्यार्थी jeemain.nic.in पर जाकर 7 मार्च तक ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भर सकते हैं. यह परीक्षा 7 अप्रैल से 20 अप्रैल तक पूरी तरह से कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट माध्यम से कंडक्ट की जाएगी. विद्यार्थियों के पास अब केवल 2 महीने का समय शेष रह गया है. कुछ विद्यार्थियों को मार्च में विभिन्न बोर्ड की कक्षा 12 की परीक्षाओं की में भी भाग लेना है. इससे ऐसे विद्यार्थियों के पास समय बहुत ही कम शेष रह जायेगा. आज हम इस लेख में बताएँगे कि कैसे विद्यार्थी कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षाएँ के साथ-साथ JEE Advanced के लिए आसानी से क्वालीफाई कर सकते हैं.

देश भर के विभिन्न राज्यों में अलग-अलग बोर्ड जैसे UP Board, ICSE Board, Bihar Board इत्यादि द्वारा कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड की परीक्षा कंडक्ट की जाती है. जो विद्यार्थी कक्षा 11वीं में विज्ञान स्ट्रीम में Physics, Chemistry और Mathematics विषय लेते हैं और उसके बाद अगले वर्ष कक्षा 12वीं की बोर्ड की परीक्षा में सम्मलित होते हैं, उनमें से बहुत से विद्यार्थी JEE Main की परीक्षा देते हैं.

प्रत्येक इंजीनियरिंग उम्मीदवार JEE Main की परीक्षा में टॉप 224000 विद्यार्थियों में आ कर Joint Entrance Examination (JEE) के अगले चरण अर्थात् JEE Advanced की परीक्षा देना चाहता है. जिससे वह JEE Advanced की परीक्षा में अच्छी रैंक ला कर अपने मनचाहे IITs में पसंदीदा ब्रांच ले सके, किंतु अगर किसी कारण वश ऐसा नहीं हो पाता तो विद्यार्थी JEE Main के स्कोर के आधार पर NITs, IIITs और CFTIs जैसे प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिला ले सकते हैं.

JEE Main 2019: दूसरे चरण के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, 7 मार्च तक कर सकते हैं आवेदन

आज हम इस लेख आपको बताएँगे कि JEE Main में अच्छे मार्क्स लाने के लिए CBSE 12वीं बोर्ड परीक्षा क्यों महत्वपूर्ण होती है. आइए विस्तार से जानते हैं इस बारे में

2. CBSE बोर्ड में NCERT की किताबें होती हैं:

CBSE बोर्ड में विद्यार्थियों NCERT की किताबों से पढ़ते हैं. JEE Main की परीक्षा में सभी विषयों को सम्पूर्ण सिलेबस विद्यार्थियों को NCERT की किताबों में आसानी से मिल जाता है. CBSE बोर्ड के विद्यार्थियों को JEE Main के लिए अलग से NCERT की किताबों को नहीं पढ़ना पड़ता जिससे उनका कीमती समय बच जाता है. NCERT की किताबें अनुभवी टीचर्स द्वारा लिखी जाती हैं जो हर टॉपिक की व्याख्या छात्र की मानसिक वृति के अनुसार करते हैं जिससे विद्यार्थी उस टॉपिक के मूल को समझते हुए उसको दिमाग में उतार सकें.

2. JEE Main में लगभग 55% प्रश्न कक्षा 12वीं के सिलेबस में से आते हैं:

JEE Main की परीक्षा में कक्षा 11वीं और 12वीं से क्रमश: 45 और 55 प्रतिशत प्रश्न आते हैं. इसलिए CBSE बोर्ड कक्षा 12वीं के विद्यार्थियों को JEE Main की परीक्षा के लिए बस कक्षा 11वीं का सिलेबस अतिरिक्त पढ़ता है.  

4. CBSE बोर्ड कक्षा 12वीं की Chemistry की किताब से बहुत प्रश्न आते है:

हम सभी जानते हैं कि अधिकतर विद्यार्थियों के अनुसार JEE Main की परीक्षा Mathematics और Physics विषयों की तुलना में Chemistry विषय आसान होता है. इस परीक्षा के Chemistry विषय में अधिकतर प्रश्न कक्षा 12वीं की NCERT की किताब में से आते हैं. जिससे CBSE बोर्ड कक्षा 12वीं के विद्यार्थी Chemistry विषय की सहायता से परीक्षा में ज्यादा मार्क्स हासिल कर लेते हैं.

JEE Main 2019: अप्रैल में मिलेगा छात्रों को दूसरा मौका, अच्छी रैंक लाने के लिए ऐसे करें तैयारी

Related Categories

Comment (0)

Post Comment

3 + 2 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.